GLIBS
07-08-2020
जांजगीर-चांपा एसडीएम को हाईकोर्ट ने नोटिस जारी कर मांगा जवाब...

रायपुर/बिलासपुर। हाईकोर्ट ने महिला स्व सहायता समूह की याचिका पर सुनवाई करते हुए जांजगीर-चांपा एसडीएम को नोटिस जारी कर जवाब मांगा है। याचिकाकर्ता स्व सहायता समूह ने एसडीएम पर एकतरफा कार्रवाई का आरोप लगाया है। ग्राम अमोरा निवासी व जय संवरिन दाई महिला स्व सहायता समूह की अध्यक्ष रंजीता यादव ने वकील अब्दुल वहाब खान के माध्यम से हाईकोर्ट में याचिका दायर कर कहा है कि ग्राम अमोरा में स्व सहायता समूह को उचित मूल्य दुकान का लाइसेंस जारी किया गया है। दुकान के जरिए बीपीएल व एपीएल कार्डधारकों को शासन की योजना के अनुसार प्रति महीने खाद्यान्न का वितरण किया जा रहा है।

याचिका के अनुसार पंचायत चुनाव के बाद से गांव की गुटबाजी और राजनीतिक विद्वेषवश कुछ लोगों ने झूठी शिकायत दर्ज कराई। शिकायत में शक्कर व मिट्टी तेल के आवंटन के एवज में शासन द्वारा निर्धारित राशि से अतिरिक्त राशि लेने की बात कही गई थी। शिकायत के आधार पर जांजगीर-चांपा के एसडीएम ने राशन दुकान का लाइसेंस निलंबित कर दिया। इसके बाद दो जुलाई 2020 को एक एसडीएम कार्यालय ने एक आदेश जारी कर दुकान का लाइसेंस निरस्त कर दिया है। याचिकाकर्ता ने कहा है कि पंचायत चुनाव की रंजिश के कारण ग्रामीणों ने झूठी शिकायत की। शिकायत के आधार पर एसडीएम ने एकतरफा कार्रवाई कर दी है। याचिका के अनुसार आदेश जारी करने से पहले एसडीएम ने सुनवाई का अवसर भी नहीं दिया है। मामले की सुनवाई जस्टिस आरसीएस सामंत के एकल पीठ में हुई। जस्टिस सामंत ने जांजगीर-चांपा के एसडीएम को नोटिस जारी कर जवाब मांगा है।

29-02-2020
सांसद रामविचार नेताम के बयान पर कांग्रेस ने किया पलटवार

रायपुर। वरिष्ठ भाजपा नेता एवं राज्यसभा सांसद रामविचार नेताम के बयान पर कांग्रेस ने कड़ी प्रतिक्रिया व्यक्त की है। प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने कहा कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की सरकार के खिलाफ भाजपा लगातार मनगढ़ंत बेबुनियाद तथ्यहिन आरोप लगाकर राजनीति करने की कुचेष्ठा किया जो असफल रहा। दो विधानसभा उपचुनाव, नगरीय निकाय चुनाव एवं त्रि-स्तरीय पंचायत चुनाव में भाजपा की करारी हार हुई। कांग्रेस को मिल रहे व्यापक जनसमर्थन से भाजपा भयभीत है। धनंजय सिंह ठाकुर ने कहा कि मोदी-शाह में दम है तो रमन सरकार के 15 साल के शासनकाल के काले कारनामे भ्रष्टाचार, घोटाला का रोज पर्दाफाश हो रहा है। केंद्रीय एजेंसियों को रमन सिंह, राजेश मूणत, अमर अग्रवाल सहित तमाम भाजपा के भ्रष्ट नेताओं के यहाँ भेजे। 15 साल के रमन शासनकाल में ऐसा कोई विभाग नहीं था, ऐसा कोई काम नहीं था, जिसमें भाजपा की कमीशनखोरी, भ्रष्टाचार ना हो, छत्तीसगढ़ की ढाई करोड़ जनता भाजपा के काले कारनामे घोटालों से वाकिफ हो गई है। भाजपा को छत्तीसगढ़ की जनता ने नकार दिया है। 

14-02-2020
बुरी तरह दरका है कांग्रेस का जनाधार : भाजपा

रायपुर। नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक ने पंचायत चुनाव में बड़ी संख्या में भाजपा समर्थित प्रत्याशियों की जीत पर संतोष व्यक्त किया है। कौशिक ने कहा कि हर तरह की कांग्रेसी कुनीतियों और सत्ता के दुरुपयोग का अपना ही सारा कांग्रेसी रिकार्ड तोड़ देने के बावजूद जिला एवं जनपद पंचायतों में लगभग आधे सीटों पर कब्जा करने में भाजपा समर्थित प्रत्याशी सफल रहे हैं। उन्होंने कहा कि वास्तव में यह कांग्रेस के लिए शर्मनाक स्थिति है। कौशिक ने कहा कि जिला पंचायतों में न केवल 170 से अधिक सीटों पर भाजपा समर्थित प्रत्याशी जीते हैं। बल्कि जनपद पंचायतों में भी लगभग 13 सौ से अधिक क्षेत्रों में भाजपा समर्थित सदस्य निर्वाचित हुए है। कौशिक ने कहा कि कांग्रेस ने जिस तरह सत्ता का दुरुपयोग किया है, जैसे तमाम लोकतांत्रिक प्रक्रियाओं का धता बताकर डरा धमकाकर, प्रशासनिक दुरुपयोग कर अध्यक्षों का चुनाव किया उसके बावजूद सात जिला पंचायतों में भी भाजपा के कार्यकर्ता जीतने में सफल रहे हैं। नेता प्रतिपक्ष कौशिक ने कहा कि प्रदेश के किसानों के साथ जिस तरह खासकर विश्वासघात किया गया है,उससे प्रदेश भर में भयंकर आक्रोश है। उन्होंने कहा कि जनाधार बुरी तरह दरकने के बावजूद कांग्रेस झूठ और दुष्प्रचार कर अपनी इकतरफा जीत का दावा कर रही है, यह हास्यास्पद है। उन्होंने दुष्प्रचार के बजाय कांग्रेस को अपने वादे पूरा करने काम पर ध्यान देने का आग्रह किया है।

 

13-02-2020
370 हटने के बाद जम्मू-कश्मीर में होगा पहला पंचायत चुनाव, 1 हजार से अधिक सीटें  है खाली

नई दिल्ली। जम्मू-कश्मीर से आर्टिकल 370 हटाए जाने के बाद से पहली बार राज्य में होने वाले पंचायत चुनावों की तारीखों का एलान हो गया है। जम्मू-कश्मीर के मुख्य निर्वाचन अधिकारी शैलेन्द्र कुमार ने गुरुवार को इसकी घोषणा की। जम्मू-कश्मीर के हर ब्लॉक में खाली पड़े पदों के लिए पंचायत चुनाव कराए जाएंगे। इस पंचायत चुनाव में बैलेट बॉक्स का इस्तेमाल किया जाएगा। जम्मू-कश्मीर में पंचायत चुनाव 5 मार्च से 20 मार्च तक कराए जाएंगे। जम्मू-कश्मीर में इस पंचायत चुनाव को 8 चरणों में संपन्न कराया जाएगा। बता दें कि कश्मीर के कुछ इलाकों में चुनाव नहीं कराए जा सके थे। ये चुनाव उन्हीं इलाकों में होंगे। आयोग ने बताया कि प्रदेश में सरपंच की 1011 सीटें खाली हैं। इन पदों को भरने के लिए लंबे समय से चुनाव की अटकलें लगाई जा रही थीं, जिस पर अब विराम लग गया है। 

 

08-02-2020
चुनाव में हारे प्रत्याशी के सिर सजा जीत का सेहरा, जानिए क्या है पूरा मामला...

रायपुर। छत्तीसगढ़ प्रदेश के बालोद जिले में गत दिनों संपन्न हुए पंचायत चुनाव में गुरुर क्षेत्र में आने वाले ग्राम कंवर में पंचायत चुनाव में एक ही वार्ड से दो प्रत्याशी पंच के चुनाव में मैदान में थे। 31 जनवरी को मतदान के बाद वार्ड क्रमांक 13 में जितेंद्र कुमार लहरे और केशवराम बंधु को  124 मतों में एक मत रद्द होने के बाद जितेंद्र को 53 वोट मिले। वहीं केशवराम बंधु को 70 वोट मिले। मतों के अनुसार केशवराम 17 मतों से विजयी हुए। लेकिन रिटर्निंग ऑफिसर ने जितेंद्र को प्रमाण पत्र थमा दिया।

05-02-2020
पंचायत चुनाव में गड़बड़ी का आरोप, एसडीएम ने कहा मतपेटी सुरक्षित

अंबिकापुर। विकासखंड के ग्राम पंचायत केपी के ग्रामीणों ने पंचायत चुनाव में गड़बड़ी का आरोप लगाया है। ग्रामीण हारे प्रत्याशी को जिताने का आरोप लगा रहे हैं। ग्रामीण विरोध जताते हुए एसडीएम कार्यालय परिसर में धरना प्रदर्शन कर रहे हैं। ग्रामीणों का कहना है कि दबंगों के द्वारा मत पेटी की चोरी कर उसमें मतपत्रों की हेराफेरी की गई है। ग्रामीणों ने दोबारा चुनाव कराने की मांग की है। एसडीएम अजय त्रिपाठी ने ग्रामीणों के आरोपों को दरकिनार करते हुए कहा कि चुनाव के बाद मत पेटी सुरक्षित रूप से स्ट्रांग रूम में रखा गया था। मत पेटी की चोरी नहीं हुई है। उन्होंने ग्रामीणों को समझाइश दी है कि यदि वे परिणाम से संतुष्ट नहीं हैं तो पुन: मतगणना के लिए आवेदन लगाया जा सकता है।

03-02-2020
तीसरे और अंतिम चरण का मतदान जारी, बढ़-चढ़ कर हिस्सा ले रहे ग्रामीण

कोरबा। पंचायत चुनाव के तृतीय व अंतिम चरण का मतदान सोमवार सुबह 7:00 बजे प्रारंभ हो गया। तीसरे चरण में जिले के कटघोरा व पाली विकासखंड में मतदान जारी है, ग्राम सरकार चुनने के लिए मतदाताओं में काफी उत्साह देखा गया। लोग सुबह से ही मतदान केंद्र पहुंचकर अपने मत का प्रयोग करने उत्सुक नजर आ रहे हैं। तीसरे चरण के चुनाव के लिए जिला प्रशासन द्वारा पूरी तैयारी कर ली गई थी। सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए हैं। कटघोरा के 53 ग्राम पंचायतों में 148 पोलिंग बूथ के जरिए मतदाता अपने मत का प्रयोग कर रहे हैं। बढ़चढ़ कर हिस्सा लेकर लोकतंत्र में अपनी सहभागिता सुनिश्चित करेंगे।

 

01-02-2020
राजीव भवन में अमरजीत भगत ने लोगों से की मुलाकात, कही ये बात...

रायपुर। मिलिये मंत्री से कार्यक्रम में शनिवार को मंत्री अमरजीत भगत राजीव भवन पहुंचे। इस दौरान खाद्य नागरिक आपूर्ति, उपभोक्ता संरक्षण, संस्कृति, योजना, आर्थिक एवं सांख्यिकी विभाग मंत्री अमरजीत भगत ने कांग्रेस के कार्यकर्ताओं, पदाधिकारियों और जनसामान्य से मुलाकात की। उन्होंने अपने विभाग से संबंधित समस्याओं, शिकायत और सुझाव पर आवश्यक कार्यवाही की। मीडिया से चर्चा के दौरान उन्होंने कहा कि आज राजीव भवन में मिलिये मंत्री से कार्यक्रम में लोगों ने आवेदन दिया, अपनी बात रखी। आवेदनों का मौके पर निराकरण किया गया। जैसे माघी पुन्नी मेला में लोग कार्यक्रम की मांग कर रहे हैं। कई जगहों पर बाबा गुरु घासीदास जयंती पर कार्यक्रम की मांग की गई है। कलाकारों का मानदेय बढ़ाने की मांग की गई है। कुछ शिकायत भी प्राप्त हुई है, उसके लिए विभाग को निर्देशित किया गया है। जो भी आवेदन प्राप्त हुए थे, सभी विभागों में कार्यवाही के लिए भेजा गया। मंत्री अमरजीत भगत ने कहा कि अभी पंचायत चुनाव का माहौल है। सभी अपने-अपने क्षेत्र में व्यस्त हैं, इस कारण लोगों की पहुंचने की संख्या कम है, जो भी आ रहे हैं उनके आवेदनों का निराकरण किया जा रहा है।

 

01-02-2020
लोकतंत्र में हिस्सेदारी जताने बुलेट ने किया बैलेट के आगे आत्मसमर्पण

रायपुर। नक्सल प्रभावित बस्तर के अंदरूनी इलाकों से लोकतंत्र की खूबसूरत तस्वीरें नक्सली इरादों पर भारी पड़ने लगी हैं। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के निर्देश पर छत्तीसगढ़ पुलिस द्वारा चलाये जा रहे नक्सल विरोधी अभियान में नक्सलियों को बैकफुट पर ला दिया है। इसी का नतीजा है कि पंचायत चुनाव के दौरान सुकमा जिले के कोंटा के धर्मापेंटा गांव में चुनावी सभा के दौरान बड़ी संख्या में ग्रामीणों की उपस्थित देखने को मिली। ग्रामीणों के अनुसार इस क्षेत्र में पिछले 30 साल से कोई सभा नहीं हुई थी। नक्सल प्रभावित इलाकों के नागरिकों का विश्वास लोकतंत्र और पुलिस के प्रति बढ़ा है। वहीं उनके मन से नक्सलियों का भय खत्म हो रहा है। धर्मापेंटा एक ऐसा इलाका है जहॉं नक्सलियों द्वारा लगातार भय दिखाकर ग्रामीणों को चुनावी सभाओं और मतदान से दूर रखा जाता था। लेकिन पुलिस फोर्स की मौजूदगी से पिछले वर्षों की तुलना में यहॉं के माहौल में बड़ा परिवर्तन आया है। किसी चुनावी सभा में 300 से ज्यादा ग्रामीणों की उपस्थिति लोकतंत्र के लिये शुभ संकेत है साथ ही नक्सलियों के पॉंव उखड़ने की ओर इशारा भी करती है।

वहीं दूसरी तस्वीर दक्षिण बस्तर जिले की है जहॉं पर बुलेट ने बैलेट के आगे आत्मसमर्पण कर दिया। अतिसंवेदनशील मतदान केन्द्र सुरनार में ईनामी माओवादी डीएकेएमएस अध्यक्ष सहित 12 माओवादियों ने अधिकारियों के समक्ष आत्मसमर्पण किया। आत्मसमर्पण के बाद इन्होंने मुख्यधारा में शामिल होकर मतदान भी किया। इस बार पंचायत चुनाव में नक्सल प्रभावित इलाकों में पिछली बार की तुलना में दोगुणा से ज्यादा मतदान हुआ है। डीजीपी डीएम अवस्थी ने कहा है कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के निर्देश पर हमारे जवानों द्वारा लगातार नक्सलियों के विरूद्ध कार्यवाही की जा रही है। छत्तीसगढ़ पुलिस द्वारा सुदूर ग्रामीण अंचल मे रहने वाले ग्रामीणों का दिल जीतने की कोशिश की जा रही है। यही वजह है कि बस्तर में लोकतंत्र के प्रति विश्वास बढ़ रहा है और नक्सली दहशत खत्म हो रही है।

 

31-01-2020
दूसरे चरण का मतदान आज, 769 प्रत्याशियों के भाग्य का फैसला करेंगे मतदाता

बीजापुर। त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के दूसरे चरण के लिए शुक्रवार को मतदान होना है। उसूर और भोपालपटनम ब्लाक के 61973 मतदाता आज अपने मताधिकार का उपयोग करेंगे। 769 प्रत्याशियों के भाग्य का होगा फैसला आज होगा। मतदान के लिए 141 मतदान केंद्र बनाए गए हैं। अति संवेदनशील 72 मतदान केंद्रों को सुरक्षित जगह शिफ्ट किया गया है। 13 मतदान दलों को हेलीकाप्टर के माध्यम से भेजा गया है। 845 मतदान कर्मियों की चुनाव ड्यूटी लगाई गई। करीब 6500 सुरक्षाबल के जवान सुरक्षा में लगे है।

 

30-01-2020
पंचायत चनुाव में शासकीय कार्य में बाधा पहुंचाने और मतदान कर्मियों को बंधक बनाने वालों पर मामला दर्ज

रायपुर। शहर के मंदिर हसौद क्षेत्र के सोनपैरी में पंचायत चुनाव के वक्त मतपत्र फाड़ने और मतदान दल को बंधक बनाने वालों के खिलाफ पुलिस ने अपराध दर्ज कर लिया है। पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार ग्राम सोनपैरी में मतदान के बाद मतगणना जारी थी। उक्त समय गांव के राजेंद्र जांगड़े, गुलाब जांगड़े, गौरी शंकर, छगनलाल इत्यादि पहुंच गए और हंगामा करते हुए मतदान दल के कर्मचारियों को ही बंधक बना लिया। उन्होंने मतपत्रों को फाड़ते हुए तोड़फोड़ किया। घटना की शिकायत पर मौके पर पहुंची मंदिर हसौद पुलिस आरोपियों के खिलाफ बलवा, शासकीय कार्य में बाधा पहुंचाने सहित कई अन्य धाराओं के तहत अपराध कायम कर लिया है। 

Advertise, Call Now - +91 76111 07804