GLIBS
03-03-2021
वन विभाग के दो अधिकारियों को शो काज नोटिस जारी, जवाब नहीं देने पर होगी कार्रवाई 

रायपुर। प्रधान मुख्य वन संरक्षक एवं वन बल प्रमुख राकेश चतुर्वेदी ने कटघोरा वनमंडल के अंतर्गत उप वनमंडलाधिकारी एके तिवारी और वनक्षेत्रपाल मोहर सिंह मरकाम को कार्य में लापरवाही बरतने के कारण शो काज नोटिस जारी किया है। नोटिस का जवाब निर्धारित समय-सीमा देने के निर्देश दिए गए हैं। अन्यथा संबंधित के खिलाफ एकतरफा कार्रवाई की जाएगी। बताया गया कि दोनों अधिकारियों ने कटघोरा वनमंडल के अंतर्गत कैम्पा योजना में स्वीकृत राशि से जटगा परिक्षेत्र के स्टापडेम क्रमांक-1 टेटी नाला, स्टापडेम क्रमांक-3 सोढ़ीनाला व स्टापडेम क्रमांक-5 के निर्माण कार्य में लापरवाही बरती है।

10-11-2020
35 मीटर की लंबाई में बनेगा टोंड़ापाल का स्टापडेम

जगदलपुर। जनपद पंचायत क्षेत्र के अंतिम छोर में बसे टोंड़ापाल के नवागुड़ा में संसदीय सचिव रेखचंद जैन ने पंचायत के मांझी-मुखिया व पुजारी-पटेल की उपस्थिति में सनातन धर्म के अनुसार पूजा अर्चना कर स्टापडेम निर्माण कार्य की सौगात दी है। 50 हेक्टेयर में सिंचाई कार्य किया जायेगा। इस दौरान संसदीय सचिव रेखचंद जैन ने कहा कि क्षेत्र के किसानों के साथ ही सभी लोगों को इसका लाभ होगा। किसानों के साथ -साथ अन्य ग्रामीणों को भी निस्तारी के लिए फायदा मिलेगा। दीपपर्व की अग्रिम शुभकामनाएं देते हुए नवागुड़ा में सिंचाई सुविधाओं के विस्तार के लिए बधाई दी । संसदीय सचिव रेखचंद जैन ने कहा कि किसान हितैषी सरकार सिंचाई रकबे में विस्तार कर रही है तथा पहाड़ी नालों के पानी को रोकने के लिए छोटे- छोटे स्टापडेम का निर्माण किया जा रहा है।

इस दौरान शहर अध्यक्ष राजीव शर्मा, जिला महामंत्री अनवर खां,हेमु उपाध्याय, आईटी सेल प्रदेश महासचिव योगेश पानीग्राही, नानगुर ब्लॉक के जोन अध्यक्ष सुनील दास, वरिष्ठ कांग्रेसी राधामोहन दास, सरपंच धनमती नाग, मनधर नाग ,किसान कामेश्वर पानीग्राही,दीपक पानीग्राही, लक्ष्मीनारायण पानीग्राही, शैलेंद्र जोशी, हरे कृष्ण पानीग्राहीही वेद प्रकाश , धनमती नाग, कमलोचन नाग, जगदीश , सुखदेव बघेल, रामसाय, धरमुराम, ईश्वर कश्यप,मंगलु राम,कमलसाय,हाड़ीराम, चेरो,मेहतरीन ,रतनी बाई व अन्य उपस्थित थे।

27-10-2020
कैम्पा के मद से राज्य के वन क्षेत्रों के नालों में साढ़े 12 लाख से ज्यादा सरंचनाओं का काम तेजी से हो रहा

रायपुर। राज्य के वन क्षेत्रों के नालों में कैम्पा मद की वार्षिक कार्ययोजना 2019-20 के तहत 12 लाख 56 हजार 990 संरचनाओं का निर्माण तीव्र गति से जारी है। इनमें से अब तक 10 लाख 77 हजार 382 संरचनाओं का निर्माण पूर्ण हो चुका है। वन मंत्री मो. अकबर ने बताया कि लगभग 160 करोड़ रुपए की राशि से 137 नालों में निर्माण हो रहे इन संरचनाओं के पूर्ण होने पर 4 लाख 25 हजार हेक्टेयर भूमि उपचारित होगी। इसमें वन क्षेत्रों के नालों में भू-जल संरक्षण कार्य के लिए लूज बोल्डर चेकडेम, बोल्डर चेकडेम, ब्रशवुड चेकडेम, कंटूर ट्रेंच, परलोकेशन ट्रेन्च, अर्दन डेम, चेकडेम,एनीकट, स्टापडेम तथा गेबियन आदि संरचनाओं का काफी तादाद में निर्माण किया जा रहा है। इससे एक ओर वन भूमि के क्षरण को रोका जा सकेगा, वहीं दूसरी ओर जल भंडार में वृद्धि की जा सकेगी। वन क्षेत्रों में जल भंडार की पर्याप्त उपलब्धता से वन्य जीवों को उनके रहवास क्षेत्र में ही चारा-पानी उपलब्ध होगा, जिससे वे आबादी क्षेत्रों की ओर आकर्षित नहीं होंगे। इसके साथ ही वनों के आसपास के ग्रामीणों तथा कृषकों को पेयजल तथा सिंचाई के साधन विकसित करने में मदद मिलेगी।

इस संबंध में कैम्पा के मुख्य कार्यपालन अधिकारी व्ही.श्रीनिवास राव ने बताया कि कैम्पा की वार्षिक कार्ययोजना 2019-20 के तहत राज्य के वन क्षेत्रों में स्थित नालों में निर्माणाधीन 12.57 लाख संरचनाओं में से अब तक स्टॉपडेम, कंटूर ट्रेन्च, बीजीपी तथा वाटरहोल्स निर्माण के कार्य को शत्-प्रतिशत पूर्ण किया जा चुका है। इसके तहत 549 स्टॉपडेम, 8 हजार 214 कंटूर ट्रेन्च, 15 बी.जी.पी. और 34 वाटरहोल्स का निर्माण विभिन्न नालों में किया गया है। उन्होंने बताया कि इसके अलावा 8 हजार 388 ब्रशवुड चेकडेम में से 5 हजार 438 तथा 2 हजार 684 अर्दन गली प्लग (ई.जी.पी.) में से 861 और 30 हजार 569 लूज बोल्डर चेकडेम में से 23 हजार 399 का निर्माण पूर्ण कर लिया गया है। इसी तरह एक हजार 806 गेबियन संरचना में से 699 व  667 चेकडेम में से 117 और 229 अर्दन डेम में से 132 अर्दन डेम का निर्माण पूर्ण कर लिया गया है। अब तक 43 डाइक में से 25 तथा 148 परकोलेशन टैंक में से 122 और 168 डबरी में से 104 डबरी का निर्माण पूर्ण हो चुका है। इसके अलावा 11 लाख 77 हजार 937 सीसीटी में से 10 लाख 37 हजार 210 तथा 116 वाटर एब्जार्पशन टेन्क में से 27 और 396 नग 30-40 मॉडल में से 391 मॉडल का निर्माण पूर्ण हो चुका है।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804