GLIBS
23-11-2020
खाद्य विभाग के विशेष सचिव मनोज कुमार सोनी ने धान खरीदी की तैयारियों की बैठक लेकर जानकारी ली

रायपुर/मुंगेली। खाद्य विभाग के विशेष सचिव मनोज कुमार सोनी ने धान खरीदी की तैयारी के संबंध में समीक्षा बैठक ली। बैठक में उन्होंने पीडीएस से बारदाना कलेक्शन, मिलर से बारदाना कलेक्शन, नवीन बारदाना प्राप्त होने की जानकारी, विभिन्न टेंडर स्वीकृति की स्थिति, कोचिया बिचौलिया पर निगरानी के लिए कार्य योजना, किसान पंजीयन, चबूतरा निर्माण की प्रगति, नए केंद्रों में चबूतरा की स्वीकृति, धान उपार्जन केंद्र एवं संग्रहण केंद्र में आवश्यक व्यवस्था, ड्रेनेज की व्यवस्था के साथ ही किसानों के लिए प्राथमिक चिकित्सा किट, नाका बैरियर का निर्माण एवं ड्यूटी, विगत वर्ष की गई कार्रवाई आदि के संबंध में विस्तार पूर्वक चर्चा की। सचिव सोनी ने कहा कि धान खरीदी प्रारंभ होने से पहले सभी केंद्रों में बारदाने की उपलब्धता सुनिश्चित होनी चाहिए। पिछले वर्ष जिन धान खरीदी केंद्रों में गड़बड़ियां पाई गई थी, वहां कड़ी निगरानी रखी जाए। उन्होंने कहा कि इस वर्ष फसल के अनुरूप मौसम होने से अधिक धान खरीदी की संभावना है। धान पंजीयन में किसानों की संख्या बढ़ी है, जिससे खेती का रकबा भी बढ़ा है। 

कलेक्टर पीएस एल्मा ने बताया कि जिले में इस वर्ष 3 नए धान उपार्जन केन्द्र सहित 92 धान उपार्जन केन्द्रों में धान खरीदी की जाएगी। जहां धान खरीदी व्यवस्था बनाए रखने के लिए सभी तहसीलदारों की ड्यूटी लगाई गई है। उन्होंने बताया कि सभी धान खरीदी केन्द्रों के लिए स्थान का चयन कर लिया गया है। धन खरीदी से पहले सभी धान खरीदी केंद्रों में साफ-सफाई, फेसिंग  की व्यवस्था, विद्युत जनरेटर, कंप्यूटर सेट, प्रिंटर, इंटरनेट कनेक्शन, बारदाने की व्यवस्था, आद्रतामापी, उपार्जन केंद्रों में तौल बांट व्यवस्था एवं उनका सत्यापन के निर्देश दिए गए है। धान खरीदी केंद्रों में किसानों के लिए प्राथमिक चिकित्सा कीट, पीने के पानी की व्यवस्था की गई है। इस वर्ष नवीन चबूतरों में धान खरीदी की जाएगी था तथा धान खरीदी के बाद धान के स्टैकिंग में ड्रेनेज की व्यवस्था को प्राथमिकता के साथ ध्यान देने के निर्देश दिए। इस अवसर पर सभी अनुविभागीय अधिकारी राजस्व, सभी तहसीलदार, खाद्य अधिकारी सहित संबंधित अधिकारी उपस्थित थे।

17-09-2020
टायर दुकान के सेल्समेन ने किया 28 लाख का गबन,मामला दर्ज

रायपुर। सेल्समेन ब्रिकी किए गए टायर-ट्यूब का कलेक्शन राशि वसूली कर 28 लाख रुपए का गबन कर लिया। घटना की रिपोर्ट देवेन्द्रनगर थाने में दर्ज की गई है। पुलिस से प्राप्त जानकारी के अनुसार फाफाडीह रायपुर निवासी भगवान सिंह 50 वर्ष ने रिपोर्ट दर्ज कराई कि उसकी टायर-ट्यूब की होलसेल दुकान है। पिछले 10 वर्षो से सुपेला निवासी पवन शर्मा आयु 36 वर्ष सेल्समेन का काम करता है व ब्रिकी किए गए टायर-ट्यूब की बकाया राशि की वूसली का करता है। दो वर्ष पूर्व पवन शर्मा ने अलग-अलग जिलों में बेचे गये टायर-ट्यूब की बकाया राशि 28 लाख रुपए वसूली कर अपने पास रख गबन कर लिया था। इसके बाद घटना के संबंध में आरोपी से पूछताछ करने पर वह माफी मांगने लगा व जमीन बेचकर वापस लौटाने का वादा कर एक कागज में लिखकर प्रार्थी को दिया। पुराना कर्मचारी होने के चलते आरोपी पर रुपए लौटाने का भरोसा कर उसे मोहलत दी गई। लेकिन करीब दो वर्ष बीत जाने के बाद भी वह रुपए वापस नहीं किया। पिछले 8 दिनों से उसका कुछ अता-पता नहीं है और आरोपी के द्वारा दिये गये मोबाइल नंबर भी वह रिसीव नहीं कर रहा है। घटना की रिपोर्ट पर पुलिस ने आरोपी के खिलाफ धारा 408 के तहत अपराध कायम कर मामला दर्ज कर लिया है। 

 

04-09-2020
स्वास्थ्य विभाग ने किया तय : प्रदेश में रोजाना 22 हजार सैंपल कलेक्शन और जांच का लक्ष्य, रायपुर में करीब 2500

रायपुर। स्वास्थ्य विभाग ने प्रदेश में प्रतिदिन 22 हजार सैंपल कलेक्शन और जांच का लक्ष्य रखा है। कोविड-19 के बढ़ते मामलों पर नियंत्रण के लिए ज्यादा से ज्यादा लोगों की जांच के लिए सभी जिलों के लिए लक्ष्य तय किए गए हैं। आरटीपीसीआर और ट्रू-नाट मशीन से जांच के लिए सभी जिलों में सैंपल संकलित किए जा रहे हैं। रैपिड एंटीजन किट से भी सभी जिलों में कोरोना संक्रमण के संभावित मरीजों की जांच की जा रही है। स्वास्थ्य विभाग ने सभी जिलों के मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारियों को परिपत्र जारी कर प्रतिदिन तय लक्ष्य के अनुसार सैंपल कलेक्शन और जांच तय करने के निर्देश दिए हैं। विभाग ने जिले के सभी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों में रैपिड एंटीजन किट से जांच के भी निर्देश दिए हैं। आरटीपीसीआर और टू-नाट विधि से जांच के लिए सैंपल कलेक्शन के लिए प्रशिक्षित स्टॉफ नर्स, एएनएम, एमपीडब्लू. फॉर्मासिस्ट, नेत्र सहायक, दंत सहायक इत्यादि की सहायता लेने कहा गया है।

स्वास्थ्य विभाग ने रोजाना रायपुर जिले के लिए 2440, गरियाबंद के लिए 500, धमतरी, महासमुंद, कबीरधाम और बालोद के लिए 630-630, दुर्ग के लिए 1510, बेमेतरा के लिए 580, बलौदाबाजार-भाटापारा के लिए 670, रायगढ़ के लिए 1280, कोरबा और जांजगीर-चांपा के लिए 970-970, जशपुर के लिए 500, बस्तर, कांकेर और कोंडागांव के लिए 605-605, दंतेवाड़ा के लिए 590, सुकमा के लिए 490, नारायणपुर के लिए 480, बीजापुर के लिए 410, सूरजपुर और बलरामपुर-रामानुजगंज के लिए 530-530, कोरिया के लिए 570, सरगुजा के लिए 940, मुंगेली के लिए 600, गौरेला-पेंड्रा-मरवाही के लिए 350, बिलासपुर के लिए 1540 तथा राजनांदगांव के लिए 1340 सैंपल कलेक्शन एवं जांच का लक्ष्य रखा है। प्रदेश भर में प्रतिदिन आरटीपीसीआर जांच के लिए 5405 और ट्रू-नाट विधि से जांच के लिए 3520 सैंपल संकलित किए जाएंगे। वहीं रैपिड एंटीजन किट से रोज 13 हजार से अधिक सैंपलों की जांच की जाएगी। स्वास्थ्य विभाग ने जिला अस्पतालों, सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों, शहरी व ग्रामीण प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों के लिए भी जिला स्तर पर प्रतिदिन रैपिड एंटीजन किट से जांच के लिए लक्ष्य निर्धारित किया है।

 

27-04-2020
कचरा कलेक्शन के लिए ई-रिक्शा दिखने लगेंगे सड़कों पर,महापौर ने हरी झंडी दिखाकर किया रवाना

भिलाई। नगर पालिक निगम भिलाई क्षेत्र अंतर्गत सफाई व्यवस्था की गतिविधियों को संचालित करने के लिए महापौर देवेंद्र यादव के प्रयास से 61 ई रिक्शा निगम भिलाई में पहुंच चुके हैं। इसे भिलाई निगम के बस डिपो रखा गया था। ई-रिक्शा को बेहतर तरीके से संचालन करने के लिए लगभग डेढ़ माह स्वच्छता कर्मचारियों को प्रशिक्षण दिया गया है। सोमवार को महापौर एवं भिलाई नगर विधायक देवेंद्र यादव एवं स्वच्छता विभाग के प्रभारी लक्ष्मीपति राजू ने हरी झंडी दिखाकर इस रिक्शा को रवाना किया। इस रिक्शे में सूखा कचरा एवं गीले कचरे के लिए पृथक पृथक डिब्बा बनाया गया है। ई रिक्शा के संचालन से स्वच्छता में एक नई कड़ी जुड़ जाएगी, समय की बचत होगी और अधिक से अधिक कचरा संग्रहण का कार्य होगा। स्वच्छता के आयाम में यह रिक्शा बहुउपयोगी साबित होगा! यह रिक्शा ध्वनि प्रदूषण से रहित है। डोर टू डोर कचरा संग्रहण के कार्य के लिए ई रिक्शा के सफलतापूर्वक संचालन एवं व्यवस्था के लिए आयुक्त ऋतुराज रघुवंशी ने समस्त जोन आयुक्तों को जिम्मा दिया हुआ है। इसके तहत जोन क्रमांक 1 को 15 ई रिक्शा, जोन  क्रमांक 2 को 12 ई रिक्शा, जोन क्रमांक 3 को 8 ई-रिक्शा, जोन क्रमांक 4 को 16 ई रिक्शा प्रदाय किया गया है। इसके अलावा रिसाली को भी 10 ई-रिक्शा प्रदान किया जाएगा। ई-रिक्शा को सुरक्षित एवं बेहतर संचालित करने के लिए बैटरी चार्जिंग पॉइंट एवं अन्य व्यवस्था जोन स्तर से की जाएगी। 

 

03-04-2020
अब मोबाइल एंबुलेंस के जरिए होगा सैंपल कलेक्शन, कोरोना संभावितों के घर पहुंचेंगी एंबुलेंस

रायपुर। छत्तीसगढ़ राज्य में कोरोना के सभी संभावित लोगों को तेजी से टेस्ट सुनिश्चित करने के उद्देश्य से एक नई रणनीति अमल में लाई जाएगी। इसके तहत सभी संभावितों का सैंपल उनके घर पहुंचकर लिया जाएगा। सैंपल कलेक्शन के लिए मोबाइल एम्बुलेंस में सभी सुविधाओं एवं आवश्यक सामग्री के साथ सैंपल कलेक्शन विशेषज्ञ मौजूद रहेंगे। यह निर्णय शुक्रवार को राज्य स्तरीय कमांड एंड कन्ट्रोल सेन्टर में स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग की सचिव निहारिका बारिक सिंह की मौजूदगी में आयोजित बैठक में लिया गया। सैंपल कलेक्शन की इस व्यवस्था से उपलब्ध संसाधनों का उचित उपयोग तथा टेस्टिंग में तेजी आएगी। बैठक में स्वास्थ्य सचिव सिंह ने सैंपल कलेक्शन की इस नई व्यवस्था के संबंध में सभी कलेक्टरों को पत्र प्रेषित कर इसकी व्यवस्था सुनिश्चित करने के निर्देश दिए है। मोबाइल एम्बुलेंस संग्रहण के लिए संभावित मरीजों के घर के सामने पहुंचेंगी और उसमें मौजूद लैब टेक्नीशियन पीपीई किट,एन-95 मास्क एवं अन्य सुरक्षा उपकरण पहनकर एम्बुलेंस के पिछले हिस्से में एक-एक कर सभी कोरोना संभावितों का सैंपल कलेक्शन करेंगे। सचिव ने कहा कि प्रत्येक संभावित व्यक्ति का सैंपल कलेक्शन करते समय लैब टेक्नीशियन सिर्फ अपने हैण्डग्लब्स चेंज करेगा। पूरा पीपीई किट बदलने की आवश्यकता नहीं होगी। मोबाइल एम्बुलेंस के माध्यम से एक दिन में ही कई घरों में जाकर संभावितों का सैंपल कलेक्शन किया जा सकेगा।

सचिव सिंह ने विभागीय अधिकारियों को कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए किए जा रहे प्रयासों के साथ ही स्वास्थ्य विभाग की अन्य सेवाओं का भी बेहतर क्रियान्वयन सुनिश्चित के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि जिला चिकित्सालय सहित सभी स्वास्थ्य केन्द्रों में आपातकालीन स्वास्थ्य सेवाएं, टीकाकरण, संस्थागत प्रसव, गैरसंचारी एवं संचारी रोगों की रोकथाम तथा अन्य स्वास्थ्य कार्यक्रमों का लाभ लोगों को समुचित रूप से मिलना चाहिए। बैठक में कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों के ईलाज के लिए सभी जिला चिकित्सालयों में कोरोना आईसोलेशन वार्ड की स्थापना के संबंध में विस्तार से चर्चा की गई। सचिव निहारिका सिंह ने कोरोना आईसोलेशन वार्ड को चिकित्सालयों के अन्य वार्डों से पर्याप्त दूरी एवं अलग रखने को कहा, ताकि जिला चिकित्सालय में आने वाले मरीजों को इससे कोई परेशानी न हो। बैठक में माना रायपुर, मेडिकल कॉलेज राजनांदगांव, मेडिकल कॉलेज जगदलपुर, अम्बिकापुर तथा बिलासपुर में कोविड अस्पताल की तैयारियों की भी समीक्षा की गई। बैठक में संयुक्त सचिव स्वास्थ्य डॉ.सीआर प्रसन्ना, संचालक स्वास्थ्य नीरज बंसोड़,संचालक राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन डॉ.प्रियंका शुक्ला सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

15-03-2020
'बागी 3' पर कोरोना वायरस का पड़ा असर, फिल्म की कमाई में तेजी से आई गिरावट

मुंबई। फिल्म 'बागी 3' अहमद खान द्वारा निर्देशित भारतीय एक्शन ड्रामा फिल्म 6 मार्च को रिलीज हुई है। बॉलीवुड एक्टर टाइगर श्रॉफ,रितेश देशमुख और श्रद्धा कपूर फिल्म के मुख्य किरदार में है। फिल्म रिलीज हुए पूरे 10 दिन हो चुके हैं। कोरोना वायरस के चलते फिल्म की कमाई में तेजी से गिरावट आई है। शुरुआत में शानदार कमाई करने वाली 'बागी 3' ने 9वें दिन केवल 1.75 करोड़ रुपए का ही कलेक्शन किया। नौ दिनों में टाइगर श्रॉफ की 'बागी 3' ने 91 करोड़ रुपए की ही कमाई की है। 'बागी 3'ने पहले दिन 17.50 करोड़ रुपए, दूसरे दिन 16.03 रुपए, तीसरे दिन 20.30 करोड़ रुपए, चौथे दिन 9.06 करोड़ रुपए, पांचवें दिन 14.05 रुपए, छठे दिन 8.04 करोड़ रुपए, सातवें दिन 5.40 करोड़ रुपए और आठवें दिन 4 करोड़ रुपए का कलेक्शन किया था। लेकिन धीरे-धीरे फिल्म की कमाई में कमी देखने को मिली है।

 

Advertise, Call Now - +91 76111 07804