GLIBS
23-09-2020
चिटफण्ड जमाकर्ताओं के धन वापसी के लिए मोंगरापाल की सम्पति हुई कुर्क

रायपुर/जगदलपुर। कलेक्टर रजत बंसल ने जिला बस्तर के तहसील व राजस्व निरीक्षक मंडल बकावण्ड, ग्राम मोंगरापाल प.ह.नं. 19 में अनमोल इंडिया एग्रो फार्मिक डेरिज कंपनी के नाम पर स्थित खसरा नंबर 538 रकबा 1.250, खसरा नंबर 552 रकबा 2.000 हेक्टेयर में कुल रकबा 3.250 हेक्टेयर सम्पति को छत्तीसगढ़ के निक्षेपकों के हितों का संरक्षण अधिनियम 2005 के अन्तर्गत जमाकर्ताओं के धन वापसी हेतु सम्पति कुर्क घोषित किया है। प्राप्त जानकारी के अनुसार कलेक्टर जिला सरगुजा के साथ जिला सरगुजा पुलिस अधीक्षक के द्वारा लेख किया गया था कि आवेदक महाजन दास ने अनमोल इंडिया एग्रो फार्मिक डेरिज कंपनी के विरूद्ध आवेदन प्रस्तुत की गई। इसकी जांच कर थाना धौरपुर में अपराध व छग निक्षेपकों के हितों का संरक्षण अधिनियम की धारा 10 ईनाम चिटफण्ड पर पाबंदी अधिनियम के तहत अपराध पंजीबद्ध किया गया है। इसके डायरेक्टर मोहम्मद जावेद मेमन, जुनैद मेमन, खालिद मेमन, निलफौर बानो, नदिया बानो, सुपरा मेमन और हाजी उमर मेमन हैं।

विवेचना के दौरान अनमोल इंडिया एग्रो फार्मिक डेरिज कंपनी के नाम जिला बस्तर के ग्राम मोंगरापाल में संपत्ति खसरा नंबर 538 रकबा 1.250, खसरा नंबर 552 रकबा 2.000 हेक्टेयर होना पाया गया है। छत्तीसगढ़ निक्षेपकों के हितों का संरक्षण अधिनियम की धारा 07 के प्रावधानों के तहत उपरोक्त कंपनी व व्यक्तियों (डायरेक्टर्स) के नाम की संपत्ति को कुर्क किया जाना था। इसी परिपेक्ष में जिला दण्डाधिकारी बस्तर के द्वारा कार्यवाही की गई है।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804