GLIBS
16-09-2020
छोटे-छोटे मामलों पर ट्वीट करने वाले भाजपा नेता आदिवासी की हत्या के मामले में मौन हैं : कांग्रेस  

रायपुर। प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता सुशील आनंद शुक्ला ने कहा है कि, भारतीय जनता पार्टी का आदिवासी विरोधी चेहरा एक बार फिर खुल कर सामने आया है। शुक्ला ने सवाल किया है कि मध्यप्रदेश पुलिस की ओर से कवर्धा के निर्दोष आदिवासी की हत्या पर राज्य के भाजपा नेता क्यों चुप है? कवर्धा में दो आदिवासियों पर मध्यप्रदेश पुलिस ने गोलियां चलाई, जिसमें एक कि मृत्यु हो गई, दूसरा बाल बाल बच गया। इन दोनों ही आदिवासियों को नक्सली होने का झूठा आरोप मढ़ने की कोशिश भी मध्यप्रदेश पुलिस ने की । छत्तीसगढ़ के वन मंत्री मो.अकबर ने इस मामले में दोषियों पर कड़ी कार्यवाही करने के लिए मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री को दो पत्र भी लिखा। इसके बाद भी मध्यप्रदेश सरकार ने दोषी पुलिस वालों के खिलाफ कोई कार्यवाही नहीं की। इस मामले में मप्र मानव अधिकार आयोग के भी संज्ञान लिए जाने की खबरें आ रही हैं।

इसके बावजूद मध्यप्रदेश की भाजपा सरकार की ओर से कोई  कार्यवाही नहीं करना इस बात का प्रमाण है कि, भाजपा सरकार दोषियों को बचाना चाह रही है। प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता ने छत्तीसगढ़ भाजपा से पूछा है कि, इस मामले में उसका क्या रुख है? राज्य के आदिवासियों को भाजपा शासन वाली पड़ोसी राज्य की पुलिस जबरिया गोलियों से मार डालती है, छत्तीसगढ़ भाजपा के वरिष्ठ नेता संदेहास्पद चुप्पी क्यों साधे हुए हैं? छोटे-छोटे मसलो में ट्वीट करने वाले रमन सिंह ,धर्मलाल कौशिक ,बृजमोहन अग्रवाल और अजय चंद्राकर जैसे नेताओं की बोलती अब क्यों बंद है? क्या राज्य के गरीब आदिवासी की जिंदगी का भाजपा नेताओं की निगाह में कोई महत्व नही है? छत्तीसगढ़ भाजपा के नेताओं के लिए दलीय प्रतिबद्धता राज्य के एक आदिवासी के जीवन से भी बढ़ कर हो गई है।

 

Advertise, Call Now - +91 76111 07804