GLIBS
13-08-2019
क्रिकेट: 16 अगस्त को होगा नए कोच का इंटरव्यू, इन 6 दिग्गजों में रहेगी जंग 

नई दिल्ली। भारतीय क्रिकेट टीम के मुख्य कोच पद के लिए 16 अगस्त को इंटरव्यू होगा। बीसीसीआई से जुड़े एक सूत्र ने बताया कि जिन प्रतिभागियों का इंटरव्यू होना है उनकी संख्या मात्र 6 है, जो मुख्य कोच बनने की रेस में बने हुए हैं। इन सभी का इंटरव्यू एक दिन में ही हो जाएगा। कुछ कागजी काम अभी भी बचे हुए हैं, जिसे सीएसी को इंटरव्यू के पहले पूरा करने हैं। अब ये प्रक्रिया 15 अगस्त से पहले नहीं होगी। बता दें कि इससे पहले कोच पद के इंटरव्यू 13-14 तारीख तक होने की आशंका थी लेकिन अब इसके लिए 16 तारीख तय की गई है। माैजूदा समय में रवि शास्त्री टीम के कोच बने हुए हैं। हालांकि विश्व कप दाैरान उनका कार्यकाल समाप्त हो चुका था लेकिन विंडीज दाैरे को देखते हुए उनका कार्यकाल 45 दिन के लिए बढ़ा दिया गया। अब विंडीज दाैरे के समाप्त होती ही उनका शास्त्री का कार्यकाल खत्म हो जाएगा। कोच पद के लिए इंटरव्यू दाैरान 6 दिग्गजों में जंग रहेगी। हालांकि शास्त्री के फिर से कोच बनने की उम्मीद है लेकिन उन्हें 5 अन्य दावेदारों से चुनाैती मिलेगी। इसमें टाॅम मूडी, लालचंद राजपूत, राॅबिन सिंह, माइक हेसन और फिल सिमंस। भारतीय टीम के मुख्य कोच का इंटरव्यू सीएसी लेगी। इसके सदस्य विश्व कप विजेता कप्तान कपिल देव, अंशुमन गायकवाड़ और शांता रंगास्वामी शामिल है। सितंबर में दक्षिण अफ्रीका दौरे से पहले भारतीय टीम को उनका नया कोच मिल जाने की उम्मीद है।

 

07-06-2019
ये है दुनिया की अनोखी जॉब जहां डिग्री नहीं 'कॉफी मग' डिसाइड करता है कि नौकरी मिलेगी या नहीं

नई दिल्ली। दुनिया भर में कहीं भी लोग नौकरी के लिए जाते हैं, उन्हें अलग-अलग तरह के टेस्ट से गुजरना पड़ता है। जहां कभी केंडिडेट्स से अलग-अलग तरह के प्रश्न पूछे जाते हैं तो कभी उनके बात करने और दिमागी स्तर का परीक्षण किया जाता है। लेकिन, हाल ही में सोशल मीडिया पर एक कंपनी का अलग ही तरह का टेस्ट काफी तेजी से वायरल हो रहा है। जिसमें किसी भी केंडिडेट की नौकरी एक कप कॉफी पर डिपेंड करती है। जी हां, सही सुन रहे हैं आप। सोशल मीडिया पर इन दिनों 'कॉफी कप टेस्ट' काफी तेजी से वायरल हो रहा है। हर तरफ लोग इसी अजीबो-गरीब टेस्ट की बात कर रहे हैं।

दरअसल, जेरो ऑस्ट्रेलिया नाम की कंपनी के बॉस ट्रेंट इन्नेस ने नई हायरिंग्स के लिए एक नया कॉन्सेप्ट निकाला है। जहां वह केंडिडेट्स को इंटरव्यू के दौरान अपने साथ किचेन की तरफ ले जाते हैं, जहां वह उन्हें कॉफी मग देते हैं और फिर बात करते हुए किचेन से बाहर निकल आते हैं। ऐसे में इंटरव्यू खत्म होने पर वह यह देखते हैं कि उसने खाली मग किचेन में वापस रखा या नहीं। अगर केंडिडेट खाली मग को किचेन में वापस रख देता है तो वह इस टेस्ट को पास कर लेता है और अगर वह मग को जहां खड़ा या बैठा होता है वहीं रखकर छोड़ देता है तो वह टेस्ट में फेल माना जाता है।

20-05-2019
तो साजिश थी सीजी, एमपी और राजस्थान में कांग्रेस की जीत...

नई दिल्ली। लोकसभा चुनाव के नतीजों से पहले एग्जिट पोल के जो नतीजे सामने आए हैं उसको लेकर समूचे विपक्ष में खलबली मच गई है। कांग्रेस नेता राशिद अल्वी ने इस पर बड़ा बयान दिया है कि अगर एग्जिट पोल के नतीजे सही साबित होते हैं तो इसका मतलब साफ है कि इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीनों में धांधली हुई है। उन्होंने कहा कि सभी एग्जिट पोल एकतरफा नतीजे दिखा रहे हैं, इसलिए हम उसपर भरोसा नहीं कर रहे हैं। एक इंटरव्यू में राशिद अल्वी ने कहा कि अगर एग्जिट पोल जैसे रिजल्ट आते हैं तो हमारा मानना है कि पिछले दिनों तीन राज्यों छत्तीसगढ़, मध्यप्रदेश और राजस्थान के चुनाव में कांग्रेस जीती है वह एक साजिश थी।

उन्होंने कहा कि तीन राज्यों में कांग्रेस की जीत के साथ ये भरोसा दिलाया गया कि ईवीएम सही है। इससे उन्होंने यह भी साबित करने की कोशिश की कि चुनाव आयोग पर सरकार का कोई दखल नहीं है। इसी के साथ राशिद अल्वी ने एग्जिट पोल करने वाली कंपनियों पर भी सवाल खड़ा किया है। कांग्रेस नेता ने कहा कि पिछले दिनों इनमें से कई कंपनियों पर स्टिंग ऑपरेशन हुए थे जिससे यह साबित हुआ कि यह न्यूट्रल नहीं हैं। बता दें कि अभी तक जितने भी एग्जिट पोल सामने आए हैं, उनमें एक तरफा एनडीए को बहुमत मिलता दिख रहा है। कुछ एग्जिट पोल में तो भाजपा का गठबंधन 300 के आंकड़े को भी छू सकता है।

24-04-2019
चौकीदार अमीरों के होते हैं, गरीबों के नहीं : प्रियंका गांधी

फतेहपुर। कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी ने बुधवार को खागा कस्बे में एक जनसभा को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर हमला करते हुए कहा कि वे जनता को नहीं समझते। वे हमेशा विदेश में दिखाई देते हैं। इतना ही नहीं बड़े-बड़े अभिनेताओं के साथ इंटरव्यू भी करवाते हैं। प्रियंका गांधी ने कहा कि आज जनता के लिए नहीं, उद्योगपतियों को आगे बढ़ाने के लिए नीतियां बनाई जा रही हैं।

प्रियंका ने कहा कि वे बनारस गई तो पता चला कि प्रधानमंत्री गांव नहीं जाते हैं। इस सरकार ने रोजगार घटाने का काम किया है। सरकार ने मनरेगा को पूरी तरह से बंद कर दिया है। आवारा पशुओं की समस्या के समाधान के लिए सरकार ने कुछ नहीं किया। प्रियंका गांधी ने कहा कि नेता को जनता की बात समझनी चाहिए। इसके लिए जरूरी है कि नेता जनता के बीच जाए। लेकिन प्रधानमंत्री हमेशा विदेशों में दिखाई देते हैं। बड़े-बड़े अभिनेताओं के साथ इंटरव्यू करवाते हैं।

प्रियंका गांधी ने प्रधानमंत्री के मैं भी चौकीदार कैंपेन पर भी निशाना साधा। उन्होंने कहा कि चौकीदार अमीरों के होते हैं, गरीबों के नहीं। दरअसल, आज ही सभी मीडिया चैनलों पर फिल्म स्टार अक्षय कुमार के साथ नरेंद्र मोदी की बातचीत का प्रसारण हुआ है। लिहाजा प्रियंका ने मोदी को इस बात पर भी घेरा। उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी 'न्याय' की बात करती है। उनकी सरकार आई तो सभी को 72 हजार मिलेंगे। बता दें प्रियंका गांधी राष्ट्रीय महासचिव बनने के बाद दूसरी बार प्रत्याशी राकेश सचान के समर्थन में फतेहपुर पहुंची थीं। इससे पहले वे यहां रोड शो कर चुकी हैं। राकेश सचान सपा छोड़कर कांग्रेस के टिकट पर चुनाव लड़ रहे हैं। उनका मुकाबला बीजेपी की मौजूदा सांसद साध्वी निरंजन ज्योति से है।

17-04-2019
महिला विरोधी बयान पर रक्षामंत्री निर्मला सीतारमण की दो टूक, जानिए क्या कहा... 

नई दिल्ली। रामपुर से भाजपा की लोकसभा प्रत्याशी जयाप्रदा पर सपा नेता आजम खान के विवादित बयान पर बुधवार को भाजपा की वरिष्ठ नेता और रक्षामंत्री निर्मला सीतारमण ने अपना मत रखा। उन्होंने कहा कि नेताओं को महिला से जुड़े मुद्दों पर बात करने से पहले अपने दिमाग का इस्तेमाल कर लेना चाहिए।

एक इंटरव्यू  के दौरान उन्होंने कहा कि सौ फीसदी सत्य है कि महिलाओं पर निशाना साधना हमेशा से आसान रहा है। महिलाओं पर व्यक्तिगत टिप्पणी, जो उस बातचीत का हिस्सा ही नहीं है मुझे लगता है ये चीजें आसानी से बिना सोचे समझे कर ली जाती हैं। उन्होंने आगे कहा कि मुझे लगता है कि हम सभी को कुछ बोलने से पहले अपने सोच विचार कर लेना चाहिए। कम से कम सार्वजनिक स्थल पर ऐसी बात करने से पहले अपने दिमाग का इस्तेमाल कर लेना चाहिए। 

Advertise, Call Now - +91 76111 07804