GLIBS
21-02-2020
इंडिया /न्यूजीलैंड टेस्ट सीरीज: बारिश की वजह से बीच में रुका मैच, भारत का स्कोर 122-5

 

नई दिल्ली। भारत और न्यूजीलैंड के बीच पहले दिन का खेल खत्म हो गया है। बारिश की वजह से टी-ब्रेक के बाद का खेल नहीं शुरू हो पाया। टीम इंडिया ने पांच विकेट खोकर 122 रन बना लिए हैं। खेल खत्म होने तक अजिंक्य रहाणे 38 जबकि ऋषभ पंत 10 रन बनाकर नाबाद लौटे। बता दें कि भारत और न्यूजीलैंड के बीच दो मैचों की सीरीज का पहला टेस्ट मैच वेलिंगटन के बेसिन रिजर्व मैदान पर खेला जा रहा है। न्यूजीलैंड ने टॉस जीता और कप्तान केन विलियमसन ने भारत को बल्लेबाजी का न्योता दिया। टी-ब्रेक तक भारत का स्कोर 122-5 था और इसके बाद बारिश के कारण खेल शुरू नहीं हो सका और अंपायरों ने पहले दिन का खेल खत्म करने का फैसला किया, क्योंकि बारिश के बाद मैदान काफी गीला हो गया था। अजिंक्य रहाणे और ऋषभ पंत नॉटआउट लौटे हैं। अब मैच के दूसरे दिन खेल आधे घंटे जल्दी शुरू होगा। न्यूजीलैंड के लिए पहला मैच खेलल रहे तेज गेंदबाज काइल जैमीसन ने 38 रन देकर तीन विकेट लिए।

11-02-2020
तीसरे वन डे में हारा भारत, न्यूजीलैंड ने किया क्लीनस्वीप

नई दिल्ली। न्यूजीलैंड ने तीसरे और सीरीज के अंतिम वनडे मैच में टॉस जीतने के बाद पहले गेंदबाजी करने का फैसला किया है। इसके चलते टीम इंडिया ने न्यूज़ीलैंड को 297 रन का लक्ष्य दिया है। भारत और न्यूजीलैंड के बीच बेओवल, माउंट माउंगानुई में खेले गए तीसरे वनडे मैच को मेजबानों ने 5 विकेट से जीतकर भारत का सूपड़ा साफ कर दिया है। 39 साल बाद न्यूजीलैंड की टीम भारत पर वाइट वॉश करने में कामयाब हो पाई है,वहीं वनडे क्रिकेट में 14 साल बाद किसी टीम ने भारत पर वाइटवॉश किया है। 297 रनों का पीछा करने उतरी न्यूजीलैंड की टीम की ओर से सलामी बल्लेबाज निकोल्स (80) और गप्टिल (66) के अलावा कॉलिन डी ग्रैंडहोम (58) ने अर्धशतकीय पारी खेली, वहीं भारत की ओर से चहल ने सबसे अधिक तीन विकेट चटकाए।

 

05-02-2020
न्यूजीलैंड ने दी पहले वन डे मैच में भारत को मात, 4 विकेट से हराया

नई दिल्ली। वनडे सीरीज के पहले मैच में भारत को 4 विकेट से हराकर 3 मैचों की सीरीज में 1-0 से बढ़त बना ली है। भारत ने 347 रन बनाए थे लेकिन जवाब में कीवियों ने रोस टेलर के शानदार शतक की बताैलत 11 गेंद रहते मैच अपने नाम कर लिया। टेलर ने 84 गेंदों में नाबद 109 रन बनाए। कुलदीप यादव ने 10 ओवर में 84 रन देकर 2 विकेट लिए। न्यूजीलैंड के लिए मार्टिन गुप्टिल व हैनरी निकोलस ने ओपनिंग करते हुए टीम को अच्छी शुरूआत दिलाई। दोनों के बीच पहले विकेट के लिए 85 रनों की साझेदारी हुई। गुप्टिल ने 32, हैनरी ने 78 रनों की पारी खेली। टाॅम ब्लंडर ने 9, टाॅम लाथम ने 48 गेंदों में 69 रनों की पारी खेल जीत में अहम भूमिका निभाई।

इससे पहले न्यूजीलैंड ने टाॅस जीतकर भारत को बल्लेबाजी करने का न्याैता दिया। भारतीय क्रिकेट टीम ने श्रेयस अय्यर और विकेटकीपर केएल राहुल की तूफानी पारी के दम पर न्यूजीलैंड के सामने 4 विकेट खोकर 348 रनों का विशाल लक्ष्य रख दिया। अय्यर ने अपने वनडे करियर का पहला शतक लगाते हुए 107 गेंदों में 103 रनों की पारी खेली। वहीं लोकेश राहुल ने 64 गेंदों में नाबाद 88 रन बनाए। टिम साउदी की एक बार फिर जमकर धुनाई हुई। साउदी ने 2 विकेट तो लिए लेकिन 10 ओवर में 85 रन खर्च कर डाले। भारत के लिए पृथ्वी शाॅ के साथ मयंक अग्रवाल ओपनिंग करने आए। दोनों ने पहले विकेट के लिए 8 ओवर में 50 रन जोड़े। शाॅ ने 20 जबकि मयंक ने 32 रन बनाए। तीसरे नंबर पर आए कप्तान विराट कोहली ने 63 गेंदों में 51 रन बनाए। यह उनका 58वां अर्धशतक रहा। अंत में केदार जाधव ने 15 गेंदों में नाबाद 26 रन बनाए। 

 

 

03-02-2020
चोट के कारण रोहित शर्मा नहीं खेल पाएंगे न्यूजीलैंड के खिलाफ वन डे और टेस्ट सीरीज

नई दिल्ली। न्यूजीलैंड के खिलाफ टीम इंडिया के हिटमैन रोहित शर्मा वनडे और टेस्ट दोनों सीरीज से बाहर हो गए हैं। उन्हें न्यूजीलैंड के खिलाफ टी-20 सीरीज के आखिरी मुकाबले में पिंडली में खिंचाव आ गया था। इसके बाद वह 60 रनों के निजी स्कोर पर रिटायर्ड हर्ट भी हो गए थे। बीसीसीआई के सूत्र ने बताया,‘वह दौरे से बाहर हो गए हैं।’ बता दें कि भारत के कार्यवाहक कप्तान रोहित शर्मा रविवार न्यूजीलैंड के खिलाफ बल्लेबाजी करते हुए पिंडली में चोट लगने के कारण क्षेत्ररक्षण के लिए नहीं उतरे थे। भारत और न्यूजीलैंड के बीच तीन मैचों की एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय सीरीज का पहला मैच बुधवार को खेला जाएगा।

 

02-02-2020
भारतीय टीम ने न्यूजीलैंड की धरती पर रचा इतिहास, टी-20 सीरीज में किया क्लीन स्वीप

नई दिल्ली। भारत और न्यूजीलैंड के बीच पांच टी-20 मैचों की सीरीज का आखिरी मुकाबला  माउंट माउंगानुई में खेला गया। भारतीय टीम ने इतिहास रचते हुए न्यूजीलैंड के खिलाफ पहली बार 5 मैचों की टी-20 सीरीज में न्यूजीलैंड का व्हाइटवॉश कर दिया है। इस तरह इंडिया क्रिकेट टीम ने न्यूजीलैंड को उसके घर में करारी मात दी। टीम इंडिया ने इसी के साथ 5-0 से सीरीज क्लीन स्वीप करते हुए इतिहास रच दिया है। भारतीय टीम पांच मैचों की द्विपक्षीय टी-20 सीरीज में क्लीनस्वीप करने वाली पहली टीम बन गई है। विराट और रोहित की गैरमौजूदगी में राहुल की कप्तानी में खेल रही टीम इंडिया ने रोमांचक मुकाबले में दमदार खेल दिखाते हुए न्यूजीलैंड को चारों खाने चित कर दिया है। माउंट मॉनगनुई में खेले गए मुकाबले में भारत ने पहले बल्लेबाजी करते हुए रोहित के अर्धशतकीय पारी की बदौलत 163 रन बनाए, जवाब में न्यूजीलैंड की टीम टेलर के अर्धशतकीय पारी के बावजूद लक्ष्य को हासिल नहीं कर पाई और सात रन से मैच हार गई। 

 

 

21-01-2020
भारतीय टीम न्यूजीलैंड रवाना, खेलेगी पांच टी-20, तीन वनडे और दो टेस्ट मैच

नई दिल्ली। भारतीय टीम ने साल 2020 की शुरुआत घर में लगातार दो सीरीज में जीत दर्ज कर की है। पहले श्रीलंका को टी-20 सीरीज में हराया और फिर ऑस्ट्रेलिया को वनडे में 2-1 से हराकर सीरीज पर कब्ज़ा किया। ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ जीत से भारतीय टीम का आत्मविश्वास बढ़ा हुआ है। हालांकि साल के पहले कठिन विदेशी दौरे के लिए भारतीय टीम कोई कसर नहीं छोड़ना चाहती है और इसीलिए पूरी तैयारी के साथ न्यूजीलैंड दौरे में भारतीय टीम को शुरुआत में पांच टी-20 मुकाबले खेलने हैं जिसके लिए टीम का चयन पहले ही हो चुका है। इसके बाद वनडे और टेस्ट टीम का चयन होगा जिसमें नए खिलाड़ियों को मौका मिल सकता है। टीम के लिए शिखर धवन, ऋषभ पंत के साथ इशांत शर्मा की चोट भी चिंता का विषय बनी हुई है। ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ आखिरी वन-डे में अपना कंधा चोटिल करा बैठे शिखर धवन न्यूजीलैंड दौरे की टी-20 और वन-डे टीम से बाहर हो गए हैं।

 

 

17-01-2020
कुछ देर में भारत-आस्ट्रेलिया के बीच शुरू होगा मुकाबला, टीम इंडिया करेगी पहले बल्लेबाजी

रायपुर। राजकोट के मैदान में कुछ ही देर में भारतीय टीम पहले बल्लेबाजी करने उतरेगी। तीन मैचों की एकदिवसीय श्रृंखला का दूसरा मैच आज खेला जाएगा, भारत के लिए सीरीज बचाने के लिए आज जीत जरूरी है। आस्ट्रेलिया के कप्तान एरोन फिंच ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करने का फैसला लिया है। आज के मैच के लिए भारतीय टीम में चोटिल रिषभ पंत की जगह प्लेइंग इलेवन में मनीष पांडे को शामिल किया गया है जबकि शार्दुल ठाकुर को बाहर कर नवदीप सैनी को टीम में जगह दी गई है। सीरीज का आखिरी मैच बेंगलुरु में रविवार 19 जनवरी को खेला जाएगा।

भारत का प्लेइंग इलेवन

रोहित शर्मा, शिखर धवन, केएल राहुल, विराट कोहली (कप्तान), श्रेयस अय्यर, मनीष पांडे, रवींद्र जडेजा, कुलदीप यादव, जसप्रीत बुमराह, मोहम्मद शमी, नवदीप सैनी

आॅस्ट्रेलिया का प्लेइंग इलेवन

डेविड वार्नर, एरोन फिंच (कप्तान), मार्नस लाबुशाने, स्टीव स्मिथ, एश्टन टर्नर, एलेक्स कैरी (विकेटकीपर), एश्टन एगर, पैट कमिंस, मिशेल स्टार्क, केन रिचर्ड्सन, एडम जाम्पा

 

10-01-2020
सीरीज के अंतिम मैच से पहले दुविधा में टीम प्रबंधन, आखिर किसे दे मौका

नई दिल्ली। भारतीय टीम श्रीलंका के खिलाफ सीरीज जीत की दहलीज पर खड़ी है। बावजूद इसके टीम प्रबंधन दुविधा में है कि शुक्रवार को पुणे में होने मुकाबले में विजयी एकादश को ही उतारा जाए या संजू सैमसन और मनीष पांडे को इस सीरीज में एक मैच दिया जाए। इस साल अक्टूबर-नवंबर में होने वाले टी-20 विश्व कप के चलते टीम इंडिया प्रयोग कर रही है लेकिन इन दो खिलाड़ियों को अभी नहीं परखा गया है। इंदौर में खेले गए पिछले मुकाबले में कम अनुभवी श्रीलंका के सामने भारतीय टीम का पलड़ा भारी रहा था। टीम ने 15 गेंद शेष रहते सात विकेट से जीत हासिल की थी। ऐसे में सैमसन और मनीष को उतारे जाने पर विचार हो भी रहा है। पांडे ने मौजूदा सीरीज सहित तीन सीरीजों में सिर्फ एक मैच खेला है। जबकि नवंबर में बांग्लादेश के खिलाफ सीरीज से वापसी करने वाले सैमसन को एक मैच भी नहीं मिला है।

युवा गेंदबाजों ने दिखाया दम

दूसरी ओर सीनियर तेज गेंदबाजों की अनुपस्थिति में शार्दुल ठाकुर और नवदीप सैनी को मौका मिला है और वह प्रभावित करने में सफल रहे हैं। इंदौर में दोनों गेंदबाजों ने मिलकर पांच विकेट लिए थे। ठाकुर डेथ ओवरों में अच्छे थे तो सैनी ने अपनी रफ्तार और उछाल से बल्लेबाजों को परेशान किया। वाशिंगटन सुंदर और शिवम दुबे जो ऑलराउंडर हार्दिक पंड्या को अपनी क्षमता दिखाने के पर्याप्त मौके मिले हैं। इंदौर में जीत के बाद कप्तान विराट कोहली ने कहा था कि उनकी टीम हर मैच के बाद बेहतर हो रही है। उन्होंने संकेत दिया कि टी-20 विश्व कप में प्रसिद्ध कृष्णा सरप्राइज पैकेज हो सकते हैं। सैमसन और पांडे बेंच पर बैठे रहने से थोड़े निराश होंगे लेकिन शुक्रवार को उन्हें मौका मिल सकता है।

हालांकि इस बात से भी इनकार नहीं किया जा सकता कि टीम प्रबंधन सीरीज जीतने के इरादे से ही अंतिम एकादश का चयन करेगा। ध्यान शिखर धवन पर भी लगा होगा जो लोकेश राहुल के साथ दूसरे सलामी बल्लेबाज के स्थान की दौड़ में हैं।

हालांकि इस समय राहुल ऑस्ट्रेलिया में रोहित शर्मा के जोड़ीदार की दौड़ में उनसे आगे दिखते हैं। जसप्रीत बुमराह हालांकि मंगलवार को वापसी मैच में अच्छा नहीं कर सके लेकिन वह अंतिम मैच में शानदार प्रदर्शन करना चाहेंगे।

चहल और जडेजा बैठ सकते हैं बाहर

पंड्या के एक्शन में वापसी के बाद अगर दुबे टीम में अपना स्थान कायम रखना है तो बल्लेबाजी का मौका मिलने पर उन्हें बेहतरीन प्रदर्शन करना होगा। श्रीलंकाई टीम में काफी बाएं हाथ के बल्लेबाज हैं तो स्पिनर कुलदीप यादव और वॉशिंगटन सुंदर के टीम में अपना स्थान बरकरार रखने की उम्मीद है जिसका मतलब है कि रवींद्र जडेजा और युजवेंद्र चहल को बाहर बैठना होगा।

एंजेलो को मौका दे सकती है श्रीलंका

श्रीलंकाई टीम को अगर घरेलू टीम को परेशानी में डालना है तो उन्हें काफी काम करना होगा। बल्लेबाजों को अच्छी शुरुआत हासिल करने के बाद लंबी पारी खेलनी होगी जो दूसरे टी-20 में ऐसा नहीं कर सके। ऑलराउंडर इसुरू उडाना का चोटिल होना भी टीम के लिए करारा झटका हे जो इंदौर में अभ्यास के दौरान चोटिल हो गए थे।

इससे उनके मुख्य गेंदबाज ने इंदौर में गेंदबाजी नहीं की। श्रीलंकाई टीम हालांकि बल्लेबाजी विभाग में अनुभव का फायदा उठा सकती है। 16 महीने बाद टी-20 में वापसी करने वाले एंजेलो मैथ्यूज को लगातार दो मैचों में नहीं चुना गया। लेकिन वह शुक्रवार को अंतिम एकादश में हो सकते हैं।

टीमें इस प्रकार हैं

भारत: विराट कोहली (कप्तान), शिखर धवन, लोकेश राहुल, श्रेयस अय्यर, मनीष पांडे, संजू सैमसन, ऋषभ पंत (विकेटकीपर), शिवम दुबे, युजवेंद्र चहल, कुलदीप यादव, रवींद्र जडेजा, जसप्रीत बुमराह, शार्दुल ठाकुर, नवदीप सैनी और वॉशिंगटन सुंदर।

श्रीलंका: लसिथ मलिंगा (कप्तान), धनुष्का गुणतिलका, अविष्का फर्नांडो, एंजेलो मैथ्यूज, दासुन शनाका, कुसल परेरा, निरोशन डिकवेला, धनंजय डि सिल्वा, भानुका राजपक्षे, ओशदा फर्नांडो, वानिंदु हसरंगा, लाहिरु कुमारा, कुसल मेंडिस, लक्षण संदाकन और कसुन राजिता।

 

05-01-2020
भारतीय टीम श्रीलंका के खिलाफ आज खेलेगी पहला टी-20, ऐसी हो सकती है प्लेइंग इलेवन
गुवाहाटी। भारत और श्रीलंका के बीच 3 मैचों की सीरीज का पहला टी-20 मैच गुवाहाटी में खेला जाएगा। दोनों टीमें रविवार को बासपारा स्टेडियम में आमने-सामने होंगी। दूसरा टी-20 इंदौर और तीसरा मैच पुणे में खेला जाएगा। श्रीलंका के खिलाफ टी-20 सीरीज से भारत नए साल की शुरुआत कर रहा है, जो ऑस्ट्रेलिया में होने वाले आईसीसी टी-20 वर्ल्ड कप की तैयारियों का हिस्सा हैं। भारत ने हाल ही में बांग्लादेश और वेस्टइंडीज को सीरीज में मात दी है और अब श्रीलंका के खिलाफ भी टीम इंडिया ऐसा ही प्रदर्शन जारी रखना चाहेगी। श्रीलंका के खिलाफ भारत का रिकॉर्ड काफी अच्छा रहा है। भारत ने श्रीलंका के खिलाफ अब तक 16 मैच खेले हैं, जिसमें से उसने 11 मैच जीते हैं और पांच मैच हारे हैं। भारत गुवाहाटी में होने वाले टी-20 मैच को जीतकर साल का आगाज शानदार तरीके से करना चाहेगा। श्रीलंका के खिलाफ भारतीय टीम में रोहित शर्मा, भुवनेश्वर कुमार, दीपक चाहर और मोहम्मद शमी नहीं हैं। वहीं, दूसरी तरफ टीम में जसप्रीत बुमराह और शिखर धवन की वापसी हो गई है। कुछ खास खिलाड़ियों के टीम में नहीं होने पर कप्तान विराट कोहली के लिए प्लेइंग इलेवन का चुनाव काफी मुश्किल होगा।


आइए देखते हैं श्रीलंका के खिलाफ पहले टी-20 मैच में भारत का संभावित प्लेइंग इलेवन कैसा हो सकता है।

शिखर धवन - शिखर धवन सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी के मैच के दौरान चोटिल हो गए थे, जिसके कारण उनके घुटने पर 25 टांके लगाने पड़े थे। चोट की वजह से शिखर धवन वेस्टइंडीज के खिलाफ वनडे और टी-20 टीम का हिस्सा नहीं था, लेकिन श्रीलंका के खिलाफ अब उनकी टीम इंडिया में वापसी हो गई है।  सैयद अली ट्रॉफी में चोटिल होने से पहले शिखर धवन ने 0, 9, 19, 35 और 24 रन बनाए थे। उनकी बल्लेबाजी को लेकर काफी आलोचना हो रही थी, लेकिन रणजी ट्रॉफी मैच में 103 रनों की धमाकेदार पारी खेलकर शिखर ने अपनी फिटनेस और फॉर्म में वापस आने का इशारा दिया है।

केएल राहुल - रोहित शर्मा को श्रीलंका के खिलाफ टी-20 सीरीज में आराम दिया गया है। रोहित की गैरमौजूदगी में केएल राहुल, शिखर धवन के साथ ओपनिंग करेंगे। केएल राहुल ने शिखर धवन की गैरमौजूदगी में रोहित शर्मा के साथ मिलकर ना केवल टीम को अच्छी ओपनिंग दी बल्कि शानदार पारियां भी खेली। राहुल ने पिछले 3 टी-20 मैचों में 130 के स्ट्राइक रेट के साथ 62, 11 और 91 रन की पारियां खेली हैं।

विराट कोहली - वेस्टइंडीज के खिलाफ कप्तान विराट कोहली का परफॉर्मेंस शानदार रहा है। विंडीज के खिलाफ तीन मैचों में विराट ने नाबाद 94, 19 और नबाद 70 रनों की पारियां खेलीं। विराट कोहली की नजरें शानदार परफॉर्मेंस साथ-साथ टी-20 इंटरनेशनल में सबसे ज्यादा रन बनाने पर भी रहेगी। फिलहाल टी-20 में विराट कोहली और रोहित शर्मा रन बनाने के मामले में बराबरी पर चल रहे हैं। लेकिन इस सीरीज में विराट कोहली एक रन बनाते ही रोहित शर्मा से आगे निकल जाएंगे।

श्रेयस अय्यर - श्रेयस अय्यर के टीम इंडिया में आने के बाद से नंबर 4 की डिबेट पर विराम लग गया है। वेस्टइंडीज के खिलाफ भी उनका प्रदर्शन काबिले-तारीफ रहा है। श्रेयस अय्यर अपनी इसी परफॉर्मेंस को जारी रख आईसीसी टी-20 वर्ल्ड कप 2020 में अपनी जगह पक्की करना चाहेंगे।

ऋषभ पंत - वेस्टइंडीज के खिलाफ वनडे सीरीज में ऋषभ पंत ने अपनी बल्लेबाजी से सभी का ध्यान अपनी तरफ खींचा। इस युवा विकेटकीपर-बल्लेबाज ने पिछले तीन टी-20 मैचों में 33*, 18 और 0 रन बनाए। लेकिन वेस्टइंडीज के खिलाफ 3 मैचों की वनडे सीरीज में उन्होंने 71, 39 और 0 रन की पारियां खेली। हालांकि, विकेटकीपिंग को लेकर उनकी काफी आलोचना हुई। ऋषभ पंत को महेंद्र सिंह धोनी का उत्तराधिकारी कहा जा रहा है। ऐसे में आसीसी टी-20 वर्ल्ड कप 2020 में अपनी जगह पक्की करने के लिए उन्हें विकेटकीपिंग और बल्लेबाजी दोनों से ही प्रभावित करना होगा।

शिवम दुबे - बहुत कम वक्त में ऑलराउंडर शिवम दुबे ने अपने परफॉर्मेंस से सभी को प्रभावित किया। इंटरनेशन क्रिकेट की बात करें तो शिवम ने 3 टी-20 और 3 वनडे मैच ही खेले हैं। 5 मौकों पर उन्होंने अपनी बल्लेबाजी से बहुत कम ओवरों में ही अपना इंप्रेशन छोड़ा है। अपनी शानदार छक्के जड़ने की काबिलियत के दम उन्होंने वेस्टइंडीज के खिलाफ दूसरे टी-20 मैच में 30 गेंदों में 54 रनों की शानदार पारी खेली। उनकी इस पारी के बाद विराट कोहली ने उन्हें नंबर 3 पर बल्लेबाजी के लिए उतार दिया था। अब देखना होगा कि श्रीलंका के खिलाफ विराट कोहली शिवम दुबे को लेकर किस तरह के रिस्क लेते हैं।

रवींद्र जडेजा - हार्दिक पांड्या की गैरमौजूदगी में रवींद्र जडेजा विराट कोहली के लिए टीम के ऑलराउंडर की भूमिका निभा रहे हैं। बल्ले और बॉल के साथ-साथ शानदार फील्डिंग के दम पर वह श्रीलंका के खिलाफ पहले टी-20 मैच में प्लेइंग इलेवन में जगह बनाने में कामयाब रह सकते हैं।

वाशिंगटन सुंदर - वेस्टइंडीज के खिलाफ दूसरे टी-20 मैच में सभी बॉलर संघर्ष करते हुए नजर आए। लेंडल सिमंस और निकोलस पूरन की शानदार बल्लेबाजी के सामने भारतीय गेंदबाज बेबस नजर आ रहे थे। मैच में सुंदर ने 4 ओवर में सिर्फ 26 रन दिए। वाशिंगटन सुंदर की पावरप्ले में रन गति पर रोक लगाने की काबिलियत उनके लिए प्लेइंग इलेवन के रास्ते खोलती है। उंगलियों का स्पिनर होने की वजह से ओस होने पर वह अहम भूमिका निभा सकते हैं।

युजवेंद्र चहल - युजवेंद्र चहल और कुलदीप यादव में से किसी एक को प्लेइंग इलेवन में चुनना भारत के लिए हमेशा से मुश्किल रहा है। लेकिन अगर पिछले 12 महीनों के आंकड़ों पर नजर डालें तो चहल ज्यादा प्रभावित करते हैं। गुवाहाटी टी-20 में उन्हें भारतीय प्लेइंग इलेवन में शामिल करना ही टीम इंडिया के लिए सही ऑप्शन होगा।

जसप्रीत बुमराह - प्रतिष्ठित विजडन की दशक की सर्वश्रेष्ठ टी-20 अंतरराष्ट्रीय टीम में विराट के साथ अन्य भारतीय के रूप में स्थान बनाने वाले बुमराह वर्तमान में भारतीय टीम के बेहतरीन तेज गेंदबाजों में गिने जाते हैं जिनका लोहा सबसे अधिक डेथ ओवरों में माना जाता है। 26 साल के बुमराह अक्टूबर 2019 में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ सीरीज की शुरुआत से ही टीम से बाहर हैं। उन्होंने पिछले काफी समय से टी-20 क्रिकेट नहीं खेला है, लेकिन श्रीलंका के खिलाफ सीरीज़ से पहले नेट पर जमकर अभ्यास किया है और उनके प्रदर्शन पर सभी की निगाह रहेगी।

नवदीप सैनी - नवदीप सैनी अब पूरी तरह से फिट हैं और खेलने को भी तैयार है। भुवनेश्वर कुमार और दीपक चाहर की गैरमौजूदगी में नवदीप सैनी के पास टीम इंडिया में अपनी जगह पक्की करने का शानदार मौका होगा।

 

   

 

20-05-2019
भारतीय हॉकी टीम ने कोरिया को 2-1 से पीटा

जिनचियोन। महिला हॉकी टीम की स्ट्राइकर लालरेमसियामी और नवनीत कौर के शानदार गोल की मदद से भारत ने अपने दक्षिण कोरिया दौरे का आगाज मेजबान टीम को 2-1 से हराकर किया।  भारतीय टीम का यह दौरा आगामी एफआईएच महिला सीरीज फाइनल हिरोशिमा 2019 की तैयारी का हिस्सा है। टीम का मुख्य उद्देश्य सीरीज फाइनल हिरोशिमा 2019 से पहले अपनी तैयारियों की समीक्षा करना हैं जो 15 जून से 23 जून तक चलेगा। भारतीय टीम ने इससे पहले वर्ष के शुरूआत में स्पेन का दौरा किया था और मेजबान देश स्पेन तथा आयरलैंड के खिलाफ मुकाबले खेले थे। टीम ने दौरे पर दो मुकाबलों में जीत हासिल की थी और तीन मुकाबले ड्रॉ रहे थे जबकि एक में उसे हार का सामना करना पड़ा था। टीम ने अप्रैल में मलेशिया का दौरा भी किया था जहां टीम ने शानदार प्रदर्शन करते हुए एक भी मुकाबला नहीं हारा था। मुकाबले में भारत को पहले ही क्वार्टर में मिले पेनल्टी कार्नर को गोल में तब्दील करने से चूकीं स्ट्राइकर लालरेमसियामी ने 10वें मिनट में शानदार गोल कर टीम को 1-0 से बढ़त दिला दी थी। इसके बाद मैच का दूसरा गोल भी भारतीय टीम की तरफ से 40वें मिनट में नवनीत कौर ने किया। नवनीत के इस गोल के बाद भारत ने कोरिया पर दबाव बनाते हुए 2-0 की बढ़त हासिल कर ली थी। मेजबान टीम को मुकाबले में पांच पेनल्टी कार्नर मिले जिसमें आखिरी पेनल्टी कार्नर में शिन हयेजेओंग 48वें मिनट में गोल करने में कामयाब हो गयीं। भारतीय टीम की गोलकीपर सविता ने पूरे मैच में विपक्षी टीम के कई शानदार अटैक रोके जिसके वजह से टीम की बढ़त कायम रह सकी। भारत के प्रदर्शन को लेकर टीम के कोच शुअर्ड मरीन ने कहा, यह दौरे का पहला मुकाबला था। नतीजे अच्छे रहे लेकिन मेरा मानना है कि प्रदर्शन में ओर अधिक सुधार किया जा सकता है। हमने कुछ नयी योजनाएं बनाई थी और उन्हें नियंत्रण करना बेहद दिलचस्प था। अगले मुकाबले में हमारी प्राथमिकता टेक्निकल खेल में अच्छा प्रदर्शन करने कि होगी ताकि हम मुकाबले को तेज गति से खेल सके। उल्लेखनीय है कि टीम शनिवार को तीन मैचों की सीरीज के लिए दक्षिण कोरिया के दौरे पर रवाना हुई थी। टीम का अगला मुकाबला 22 मई को हैं।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804