GLIBS
13-11-2020
नक्सल मोर्चे पर तैनात जवानों को छत्तीसगढ़ वॉरियर प्रशस्ति पत्र से नवाजा जाएगा, रूबरू हुए डीजीपी

 रायपुर। पुलिस महानिदेशक डीएम अवस्थी ने गुरुवार को अभिनव पहल की। उन्होंने बस्तर के सभी जिलों में स्थित कैम्पों में पदस्थ जवानों से वर्चुअल माध्यम बात की। उन्होंने कहा कि नक्सल मोर्चे पर तैनात असाधारण कार्य के लिए जवानों को पुलिस मुख्यालय की तरफ से छत्तीसगढ़ वॉरियर के प्रशस्ति पत्र से नवाजा जाएगा। डीजीपी ने कहा कि जवानों की वीरता और साहस का कोई मोल नहीं है। नक्सल मोर्चे पर तैनात जवानों को उल्लेखनीय कार्यों के लिए आउट ऑफ टर्न प्रमोशन एवं अन्य सम्मान मिल जाते हैं, लेकिन कई ऐसे जवान हैं जिन्हें यह सम्मान नहीं मिल पाता है। ऐसे में पुलिस मुख्यालय की ओर से असाधारण वीरता का प्रदर्शन करने वाले जवानों को प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया जाएगा। पुलिस के जवान हर दिन , हर पल लड़ाई लड़ते हैं। सभी दिवाली के त्यौहार पर अपने परिवार से दूर नक्सल मोर्चे पर मुस्तैदी से तैनात हैं। उन्होंने कहा कि दीपावली के बाद मैं प्रत्येक कैम्प में आकर सभी से मुलाकात करूंगा और हर समस्या का तत्काल हल किया जाएगा।

यह पहला अवसर है जब डीजीपी से अपनी बात सुदूर वनांचल स्थित नक्सल प्रभावित इलाकों से जुड़े करीब एक हजार जवानों ने अपनी बात रखी। दिवाली से पहले अपने मुखिया से रूबरू होकर और समस्याओं का तत्काल निराकरण होने पर जवानों में जबरदस्त उत्साह देखने को मिला। वर्चुअली मुलाकात में सुकमा के फुलबागड़ी कैंप, दंतेवाड़ा के पालनार कैंप, पुलिस लाइन, बीजापुर के गुदमा कैंप, बस्तर के तिरिया कैंप, बास्तानार कैंप, कोंडागांव के मर्दापाल कैंप, कांकेर के अरगूर कैंप, नारायणपुर के एसपी ऑफिस और राजनांदगाव के मानपुर थाना, गातापार थाना से जवानों ने अपनी बात रखी। इस दौरान डीजीपी अवस्थी ने नक्सल प्रभावित इलाकों में तैनात जवानों के त्याग और कर्तव्यनिष्ठा को सलाम किया। उन्होंने कहा कि नक्सल मोर्चे पर महिला कमांडो भी उल्लेखनीय कार्य कर रही हैं। डीजीपी के समक्ष जवानों ने आवास, स्थानान्तरण, अग्रिम राशि और अन्य मांगे रखीं, जिनका तत्काल निराकरण किया गया।

01-11-2020
रिटायर्ड पुलिस अफसर सुशील डेविड को मुख्यमंत्री सुरक्षा में किया गया पदस्थ, आदेश जारी 

रायपुर। राज्य शासन ने सेवानिवृत्त अधिकारी सुशील डेविड को संविदा नियुक्ति पर पदस्थ किया है। सुशील डेविड को अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक के रिक्त पद पर मुख्यमंत्री सुरक्षा में पदस्थ किया गया हैै। इस संबंध में छत्तीसगढ़ शासन गृह (पुलिस) विभाग के अवर सचिव मनोज श्रीवास्तव ने रविवार को आदेश जारी कर दिया है।


 

27-10-2020
Breaking : कलेक्टर ने तहसीलदार मनीष देव साहू को धरसींवा में किया पदस्थ, आदेश जारी 

रायपुर। छत्तीसगढ़ शासन राजस्व एवं आपदा प्रबंधन विभाग के आदेशानुसार मनीषदेव साहू तहसीलदार की पदस्थापना रायपुर जिले में की गई है। आदेश के पालन में कलेक्टर डॉ. एस. भारतीदासन ने मनीषदेव साहू को अतिरिक्त तहसीलदार धरसींवा के पद पर पदस्थ किया है। प्रमोद कुमार नायब तहसीलदार को तहसीलदार नजूल के पद पर पदस्थ किया है। इस संबंध में कलेक्टर कार्यालय रायपुर से 26 अक्टूबर को आदेश जारी किया गया है। यह आदेश जारी होने के दिनांक से तत्काल प्रभावशील हो गया है।

19-10-2020
कानपुर में पदस्थ आइटीबीपी जवान की मौत, ग्राम परसतराई में शोक की लहर

धमतरी। जिले के ग्राम परसतराई के जवान की मौत हो गई है। अपने गांव के बेटे को अंतिम विदाई देने ग्रामीण व आसपास के लोग उमड़ पड़े और नम आंखों से विदाई दी। आइटीबीपी में पदस्थ जवान डेमन लाल साहू की 17 अक्टूबर को कानपुर में मौत हो गई थी, सोमवार सुबह शव के गांव पहुंचने पर अंतिम दर्शन के लिए लोग उमड़ पड़े। विधि विधान से अंतिम संस्कार किया गया। अंतिम संस्कार स्थल पर आईटीबीपी के जवानों ने गार्ड ऑफ ऑनर दिया। इस दौरान अर्जुनी थाना प्रभारी उमेंद्र टंडन सहित पुलिस कर्मचारी भी मौजूद रहे।

 

31-08-2020
अपहृत एएसआई की नक्सलियों ने की हत्या

रायपुर/बीजापुर। जिले के कुटरू थाने में पदस्थ एक एएसआई नागैया कोरसा का अपह्रण रविवार की दोपहर को नक्सलियों ने कर लिया था, जिनकी बाइक सड़क के किनारे मंगापेटा के पास लावारिस हालत में पड़ी हुई मिली थी। सोमवार को अपहृत एएसआई नागैया कोरसा की नक्सलियों ने बेरहमी से हत्या कर दी। उनका शव कुटरू-बीजापुर मार्ग पर केतुलनार के नजदीक सड़क पर मिला है। पुलिस के अनुसार प्रथम दृष्टया जवान की हत्या नक्सलियों द्वारा किये जाने की लगती है, पुलिस मामले की जांच कर यह पता लगााने का प्रयास कर रही है कि इसमें कौन शामिल था। मृतक नागैया कोरसा कुटरू थाने में पदस्थ थे। बस्तर आईजी सुदरराज पी. ने इसकी पुष्टि की है। उन्होंने बताया कि जिस जगह से जवान का अपह्रण किया गया था, वहीं से कुछ दूरी पर देर रात्रि में जवान का शव मिला है।

 

30-08-2020
छुट्टी पर निकले एसआई लापता,लावारिस हालत में मिली बाइक

बीजापुर। छुट्टी पर निकले एक एसआई के लापता होने की खबर प्रकाश में आ रही है। एसआई का नाम नागैय्या कोरसा है और वो कुटरू थाने में पदस्थ है। रविवार को एसआई की बाइक मंगापेट्टा के पास लावारिस हालत में मिली है। एसआई बीजापुर के चेरामंगी गांव का निवासी है। पुलिस मामले की जांच में जुटी। बीजापुर के एसपी कमलोचन कश्यप ने माओवादियों द्वारा अपहरण की आशंका जताई है। 

 

19-08-2020
एसडीएम कार्यालय के दो कर्मचारी कोरोना पॉजिटिव

जांजगीर-चांपा। चांपा एसडीएम कार्यालय में पदस्थ एक स्टेनो और एक क्लर्क कोरोना पॉजिटिव पाया गया है। दोनों कर्मचारी बिलासपुर जिले से आना जाना भी किया करते थे। दोनों में सिम्टम्स पाए जाने पर, दोनों का एन्टीजन टेस्ट किया गया तो कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव मिली। तत्काल दोनों को ईलाज के लिए जांजगीर के कोविड केयर सेन्टर में भर्ती किया गया है। दो कर्मचारियों की रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद एसडीएम कार्यालय के कर्मचारियों में हड़कंप मचा हुआ है। स्वास्थ्य विभाग द्वारा कार्यालय में पदस्थ सभी अधिकारी कर्मचारियों का एन्टीजन टेस्ट कर परीक्षण किया जा रहा है।

11-08-2020
Breaking: 6 डॉक्टरों को नए स्थानों पर किया गया पदस्थ,स्वास्थ्य विभाग ने जारी किया आदेश  

रायपुर। छत्तीसगढ़ शासन ने 6 डॉक्टरों को नए स्थानों पर पदस्थ किया है। इस संबंध में स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग के अवर सचिव राजेन्द्र सिंह गौर ने आदेश जारी किया है। आदेश के मुताबिक माह जून 2020 में चिकित्सा स्नातक एमबीबीएस पाठ्यक्रम उत्तीर्ण करने के बाद इंटर्नशिप पूर्ण कर चुके चिकित्सकों (अनुबंधित), जो चिकित्सा स्नातक प्रवेश नियमानुसार 2 वर्ष की अनिवार्य ग्रामीण सेवा करने के लिए बाध्य हैं। इनको निष्पादित अनुबंध अनुसार 2 वर्ष की संविदा सेवा का अवसर प्रदान करते हुए अस्थाई रूप से आगामी आदेश तक  पदस्थ किया गया है।

 

 

28-05-2020
आईएएस जे.पी मौर्य ने धमतरी जिले के 16वें कलेक्टर के तौर पर अपना पदभार किया ग्रहण...

 धमतरी। जिले के 16वें कलेक्टर के रूप में 2010 बैच के आईएएस अधिकारी जय प्रकाश मौर्य ने कार्यभार ग्रहण किया। इससे पहले वे कलेक्टर राजनांदगांव के रूप में पदस्थ थे। ज्ञात हो कि उन्होंने आज प्रभारी कलेक्टर नम्रता गांधी से चार्ज लिया।

09-05-2020
नगर पालिका कटघोरा में पदस्थ उप अभियंता ने पेश की मिसाल, डटे हैं कर्तव्य पथ पर

कोरबा। जिले के कटघोरा शहर में कोऱोना वायरस ने अपना प्रकोप दिखाया था। इससे प्रशासनिक अमले की नींद उड़ गई थी। बावजूद नगर प्रसाशन व जिला प्रशासन पूरी मुस्तैदी से इस महामारी की रोकथाम में लगा रहा और सफलता के साथ इस भयंकर वायरस की रफ्तार पर ब्रेक लगाया। इस अभियान में कटघोरा नगर पालिका के एक अधिकारी की भूमिका भी बहुत महत्वपूर्ण रही। कटघोरा नगर पालिका में पदस्थ उप अभियंता चंद्रप्रकाश जायसवाल जो कि लॉक डाउन होने के बाद से लगातार अपनी ड्यूटी ईमानदारी पूर्वक निभा रहे हैं।

कटघोरा नगर पालिका परिषद के अंतर्गत 15 वार्ड शामिल है और जायसवाल के कंधों पर 15 वार्डो में पेयजल, राशन, बेरिकेड्स लगवाने की जिम्मेदारी थी। इन्होंने कोरोना वायरस की परवाह ना करते हुए अपनी सेवा को अहम समझा औऱ लगातार सभी वार्डो में सघन दौरा करते रहे एवं समस्याओं का त्वरित निराकरण भी करते रहे। इस दौरान 1 माह से ऊपर का समय बीत गया और जायसवाल अपने घर भी नहीं गए हैं। नगर पालिका कटघोरा में पदस्थ ऐसे अधिकारियों की वजह से ही आज नगर का गौरव बढ़ा है और आज इनकी मेहनत का ही नतीजा है जो कोरोना जैसी भयंकर महामारी की रोकथाम में सफलता मिली हैं।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804