GLIBS
01-08-2020
जानिए राज्यपाल ने किन्हें भेजी गोबर और बांस से बनी राखी,त्यौहार पर विशेष सावधानी बरतने की अपील

रायपुर। राज्यपाल अनुसुईया उइके शनिवार को लोक संस्कृति मंच राष्ट्रगाथा संस्था की ओर से आयोजित स्नेह बंधन त्यौहार और संस्कृति-स्वास्थ्य-स्वरक्षा विषय पर आयोजित वेबिनार में शामिल हुई। उन्होंने कहा कि, रक्षा बंधन का पर्व भाई और बहन के मध्य प्रेम का प्रतीक है। इस अवसर पर भाई बहन की रक्षा का संकल्प लेता है। इस कोरोना के संक्रमण के समय यह पवित्र त्यौहार आया है। यह प्रयास करना है कि, उत्साह में कोई कमी न आएं, पर हम त्यौहार मनाते समय विशेष सावधानी रखें। साथ ही कोरोना वायरस से रक्षा करने का संकल्प लें। राज्यपाल ने सभी को रक्षा बंधन की शुभकामनाएं भी दी। 

राज्यपाल उइके ने कहा कि, उन्होंने राष्ट्रपति, उपराष्ट्रपति और प्रधानमंत्री को गोबर और बांस से बनी राखी भेजी है। स्थानीय उत्पादों और स्वरोजगार को बढ़ावा देने के लिए आदिवासी और ग्रामीण महिलाओं ने यह राखियां बनाई है। प्रधानमंत्री ने आत्मनिर्भर भारत बनाने के संकल्प लेने का आह्वान किया है। इस कोरोना काल में हमें स्थानीय स्तर पर बनाए गए उत्पादों को बढ़ावा देना चाहिए, ताकि हमारी अर्थव्यवस्था सशक्त हो सके। राज्यपाल ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी ने कहा है कि, जान है तो जहान है। हम सबको कोरोना वायरस के संक्रमण से सावधान रहने की आवश्यकता है। राज्यपाल ने कहा कि, रक्षाबंधन हमारे प्रमुख त्यौहारों में से एक है। यह स्नेह का, प्यार का आशीर्वाद का, रक्षा के वादे का बंधन है। हमारी संस्कृति ही वसुधैव कुटुम्बकम की है। सर्वे भवन्तु सुखिन: की है। हमारी परम्परा हमें सिखाती है कि सभी कल्याण हो और सभी स्वस्थ और सुखी रहें। उन्होंने कहा कि,आज पूरा विश्व कोरोना के वायरस के संक्रमण से जुझ रहा है। यह त्यौहार रक्षा का त्यौहार है अत: हम इस अवसर पर कोरोना वायरस से रक्षा करने का संकल्प लें। कोशिश करें भीड़ वाली जगह पर ना जाए और आपस में मिलते समय मास्क का जरूर उपयोग करें। हमारे डॉक्टर्स, पुलिस कर्मचारी, प्रशासन के लोग, सैनिक सभी बहुत मेहनत से सबकी सुरक्षा के लिए काम कर रहे हैं। हमारी थोड़ी भी लापरवाही हमें कई मुसीबतों का सामना कराएगी। राज्यपाल से सभी से प्रसन्न, स्वस्थ, सुरक्षित रहने की अपील की है। कोरोना रूपी अदृश्य वायरस से बचाव के सभी उपाय अपनाकर जीतने की अपील की है। इस दौरान पूर्व राज्यपाल मृदुला सिन्हा, सांसद शंकर लालवानी, गायिका मालिनी अवस्थी ने भी अपना संबोधन दिया। इस मौके पर मंजुषा राजस जोहरी और अन्य नागरिक उपस्थित थे।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804