GLIBS
01-08-2020
एक सदस्य के कोरोना संक्रमित पाए जाने पर जांजगीर जा रहे परिवार को बोड़ला में रोका

कवर्धा। भोपाल से जांजगीर वापस हो रहे एक ही परिवार के 11 सदस्यों को बोड़ला में रोका गया। परिवार शादी के लिए जांजगीर से भोपाल गया हुआ था,जहाँ एक सदस्य की हार्टअटैक से मृत्यु हो गई। इसके बाद परिवार अपने गृह निवास जांजगीर वापस हो रहे थे,जिनमें से एक सदस्य कोरोना से संक्रमित पाया गया है। इसके चलते शव और परिवार को बोड़ला प्रशासन ने बोड़ला सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में रोक दिया।यहां परिवारवाले जिला प्रशासन कबीरधाम और जांजगीर कलेक्टर से मदद की गुहार लगा रहे हैं। मगर परिवार के एक सदस्य की रिपोर्ट पॉजिटिव आने के चलते जांजगीर जाने से उन्हें रोका जा रहा है।बोड़ला थाना प्रभारी संतराम सोनी का कहना है कि कोरोना के चपेट में आने के चलते इन्हे यहीं रोका गया है। जिला प्रशासन कबीरधाम और जांजगीर कलेक्टर के बीच जो भी निर्णय लिए जाएंगे उस हिसाब ही पुलिस कार्रवाई करेगी।

अभी फिलहाल इन्हें यहीं बोड़ला सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में रखा गया है।पूरे मामले में जांजगीर कलेक्टर यशवंत कुमार का कहना है उनको जांजगीर आने की अनुमति नहीं दी जा सकती। अगर उनको दाह संस्कार का कार्यक्रम करना है तो परिवार वाले कवर्धा या भोपाल जहाँ परिवार वाले गए हुए थे वहां जाकर मृत शव का दाह संस्कार कर सकते हैं। कलेक्टर का यह भी कहना है कि कोरोना पॉजिटिव होने कि जानकारी के बावजूद इन्होंने लापरवाही कि है और पॉजिटिव मरीज को साथ लेकर चल रहे हैं। पॉजिटिव मरीज के प्राइमरी कांटेक्ट में परिवार के अन्य सभी सदस्य भी आए हुए। इससे कि जांजगीर में दाह संस्कार करेंगे तो स्वाभाविक बात यहाँ पॉजिटिव सदस्यों के प्राइमरी कांटेक्ट में आये हुए लोगों से अन्य लोगों को भी खतरा होने कि संभावनाएं है। इससे उन्हें जहाँ है वहीँ दाह संस्कार कर देनी चाहिए।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804