GLIBS
01-08-2020
कोरोना संक्रमण की रोकथाम के नाम पर सरकार सिर्फ ड्रामेबाजी कर जनस्वास्थ्य के साथ कर रही खिलवाड़ : भाजपा

रायपुर। भारतीय जनता पार्टी ने छत्तीसगढ़ में कोरोना संक्रमितों की संख्या में लगातार तेजी से हो रहे इजाफे पर चिंता व्यक्त की है। प्रदेश प्रवक्ता श्रीचंद सुंदरानी ने कहा कि कांग्रेस सरकार शुरू से इस महामारी को लेकर लापरवाह रही है। घर-घर तक पहुँच रहे कोरोना संक्रमण की रोकथाम के नाम पर सिर्फ ड्रामेबाजी कर जनस्वास्थ्य के साथ क्रूर खिलवाड़ कर रही है। सुंदरानी ने कहा कि अब बढ़ रहे कोरोना संक्रमण के लिए अनलॉक के दौरान लोगों द्वारा सावधानी और बचाव के उपाय नहीं अपनाने की बात कहकर मुख्यमंत्री बघेल अपनी विफलता का ठीकरा लोगों के सिर फोड़ने पर आमादा हैं। भाजपा प्रवक्ता ने सवाल किया कि कांग्रेस के नेताओं और सैंपल देकर कायदा-कानून ताक पर रख घूम रहे कांग्रेस के जनप्रतिनिधियों से जो संक्रमण का खतरा ज्यादा बढ़ रहा है, मुख्यमंत्री इस पर संज्ञान कब लेंगे?

सुंदरानी ने कहा कि प्रदेश में कोरोना संक्रमण को लेकर सरकार की ओर से घोषित सख़्त लॉक डाउन पूरी तरह ध्वस्त हो चुका है और सरकार को यह सूझ ही नहीं रहा है कि इस संक्रमण की रोकथाम के लिए किस तरह के उपाय किए जाएँ? उन्होंने कहा कि अफसरशाही पूरे प्रदेश में कोरोना के नाम पर अव्यावहारिक फैसले लेकर अपना राज चला रहे हैं, वहीं नित-नए फैसलों के चलते बाजार में जो हुजूम उमड़ रहा है, उससे संक्रमण फैलने की बढ़ती आशंका के लिए प्रदेश सरकार अपनी जिम्मेदारी से पल्ला कैसे झाड़ सकती है? यह स्थिति प्रदेश सरकार की नेतृत्वहीनता और भटकन को रेखांकित कर रही है। प्रदेश में अब भी टेस्टिंग लैब की कमी के चलते जाँच का काम धीमी गति से चल रहा है, क्वारेंटाइन सेंटर्स के बाद अब कोविड-19 सेंटर्स भी बदइंतजामी और बदहाली के चलते नरकीय यंत्रणा के केंद्र बन चुके हैं, जमीनी सच यह भी है कि प्रदेश में अब संदेही लोगों की जांच के लिये सैंपल भी नहीं लिए जा रहे हैं, जिसके चलते परिस्थितियां और चिंताजनक बनती जा रही हैं। तो, प्रदेश सरकार क्या अपनी इस नाकामी के लिए भी शर्म महसूस नहीं करेगी?

Advertise, Call Now - +91 76111 07804