GLIBS
01-08-2020
राज्यपाल की भेजी राखी स्वीकार कर मुख्यमंत्री बघेल ने दी रक्षाबंधन की शुभकामनाएं

रायपुर। राज्यपाल अनुसुईया उइके ने रक्षाबंधन के पावन पर्व पर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को राखी और मिठाई भेजकर रक्षाबंधन की शुभकामनाएं दी। राज्यपाल ने ईश्वर से मुख्यमंत्री की यशस्वी, दीघार्यु और स्वस्थ जीवन प्रदान करने की कामना की। उन्होंने कहा है कि मुझे विश्वास है कि आपके नेतृत्व में प्रदेश सरकार छत्तीसगढ़ को निरंतर प्रगति के पथ पर अग्रसर होता रहेगा।राज्यपाल की भेजी राखी को स्वीकार कर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने भी उन्हें शुभकामनाएं दीं। भूपेश बघेल ने कहा कि रक्षा बंधन और भुजलिया पर्व के अवसर पर आपने मुझे स्नेह आशीर्वाद और राखी भेजकर जो विश्वास व्यक्त किया है वह मेरे लिए अत्यंत प्रसन्नता तथा सम्मान का विषय है। रक्षाबंधन का यह पर्व हमारे पारिवारिक संबंधों को नए शिखर पर पहुंचाने का माध्यम बना है। उन्होंने कहा है कि यह पावन पर्व हमारी संस्कृति के गरिमामय उत्कर्ष का प्रतीक भी है, जो बहनों के प्रति भाईयों के उत्तरदायित्वों के संकल्पों को सदृढ़ बनाता है।

 

19-07-2020
भूपेश बघेल रायपुर और दुर्ग जिले में गोधन न्याय योजना की करेंगे शुरुआत,मुख्यमंत्री निवास में होगी हरेली पूजा

रायपुर। छत्तीसगढ़ के पारंपरिक हरेली पर्व से प्रदेश सरकार की महत्वाकांक्षी गोधन न्याय योजना का प्रदेशव्यापी शुभारंभ होने जा रहा है। योजना के शुभारंभ की तैयारियां पूरी कर ली गई हैं। 20 जुलाई को राज्य के सभी जिलों के गौठानों में कार्यक्रम आयोजित होंगे। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, मंत्री, संसदीय सचिव,विधायक और स्थानीय जनप्रतिनिधि कार्यक्रम में शामिल होकर योजना की विधिवत शुरुआत करेंगे। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल सुबह 10 बजे मुख्यमंत्री निवास में हरेली पूजा के साथ गोधन न्याय योजना का शुभारंभ करेंगे। मुख्यमंत्री इसके बाद पूर्वान्ह 11 बजे रायपुर जिले के आरंग विकासखंड के आदर्श गौठान बैहार में और इसके बाद दुर्ग जिले के पाटन में आयोजित कार्यक्रमों में भाग लेकर गोधन न्याय योजना का शुभारंभ करेंगे। राज्य के सभी जिलों में गोधन न्याय योजना का शुभारंभ कार्यक्रम आयोजित किया जाएगा।

गोधन न्याय योजना ग्रामीणों, किसानों एवं पशुपालकों को लाभ पहुंचाने की एक अभिनव योजना है। किसानों और पशुपालकों से दो रुपए किलो की दर से गोबर की खरीदी की जाएगी, जिसके जरिए गौठानों में बड़े पैमाने पर वर्मी कम्पोस्ट खाद का निर्माण एवं अन्य उत्पाद तैयार किए जाएंगे। इससे गांव में लोगों को रोजगार एवं आर्थिक लाभ प्राप्त होगा। राज्य में जैविक खेती को बढ़ावा मिलेगा। गोधन न्याय योजना के तहत प्रदेश में प्रथम चरण में ग्रामीण क्षेत्रों के 2408 और शहरी क्षेत्रों के 377 गौठानों में गोबर की खरीदी प्रारंभ की जाएगी। चरणबद्ध रूप से सभी 11 हजार 630 ग्राम पंचायतों में गौठान का निर्माण पूरा होने इस योजना के तहत वहां भी गोबर खरीदी की जाएगी।

 

Advertise, Call Now - +91 76111 07804