GLIBS
13-09-2020
घर में उपचार ले रहे 798 मरीज स्वस्थ, होम आइसोलेशन समाप्ति पर सीएमएचओ कार्यालय से दिया जाएगा प्रमाण पत्र

रायपुर। होम आइसोलेशन में रहकर इलाज ले रहे कोविड-19 के मरीजों को अवधि पूरी होने पर उनके स्वास्थ्य की स्थिति के आधार पर मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी कार्यालय की ओर से होम आइसोलेशन की समाप्ति के संबंध में प्रमाण पत्र जारी किया जाएगा। मरीज के स्वास्थ्य की निगरानी कर रहे डॉक्टर की ओर से होम आइसोलेशन की अवधि पूरी होने और मरीज के ठीक होने की जानकारी कंट्रोल रूम को देने के बाद सीएमएचओ कार्यालय से होम आइसोलेशन की समाप्ति के लिए प्रमाण पत्र जारी करने की कार्यवाही की जाएगी। प्रदेश में होम आइसोलेशन में उपचार ले रहे 798 मरीज स्वस्थ हो चुके हैं।

 स्वास्थ्य विभाग की ओर से होम आइसोलेशन में मरीजों के इलाज के संबंध में जारी दिशा-निर्देशों के अनुसार दस दिनों के होम आइसोलेशन की अवधि पूरी करने के बाद मरीज को अगले सात दिनों तक ऐहतियातन पूरी सावधानी बरतते हुए घर पर ही रहना है। मरीज की निगरानी कर रहे डॉक्टर द्वारा 17 दिनों के बाद कंट्रोल रूम को उसके स्वास्थ्य के बारे में जानकारी देने के बाद मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी कार्यालय द्वारा होम आइसोलेशन की समाप्ति के संबंध में कार्यवाही की जाएगी।

 

03-09-2020
यूरिया खाद बांटने में गड़बड़ी, एक सहकारी समिति और 7 निजी विक्रेताओं का पंजीयन प्रमाण पत्र निलंबित

जांजगीर-चांपा। कलेक्टर यशवंत कुमार के मार्गनिर्देशन मे यूरिया खाद बांटने वाले सहकारी समिति एवं निजी विक्रेताओं की जांच की गई। जांच में गड़बड़ी पाये जाने पर एक सहकारी समिति और सात निजी विक्रेताओं के पंजीयन प्रमाण पत्र को निलंबित कर दिया गया है। उपसंचालक कृषि एम.आर. तिग्गा ने बताया कि केन्द्र सरकार ने जिले के टॉप 20 यूरिया विक्रेताओं के संस्थानो की जांच के निर्देश दिए गए थे। कलेक्टर के निर्देश पर जांच के लिए जांजगीर, पामगढ़ और सक्ती के अनुविभागीय अधिकारी कृषि की टीम बनाकर जांच की गई। इसमें सहकारी समिति बिर्रा, बंसल ट्रेडर्स सक्ती, योगेश कुमार अग्रवाल फगुरम, जिन्दल सेल्स बाराद्वार, प्रकाश खाद भण्डार बाराद्वार, दिशा सेल्स चांपा, उदित नारायण विश्वनाथ सुलतानिया शिवरीनारायण और आर के ट्रेडर्स अकलतरा की जांच में अनियमितता पाए जाने पर कारण बताओ सूचना जारी कर जवाब प्राप्त किया गया। जांच के दौरान भूमिहीन किसानों, कम रकबा वाले किसानों तथा निजी स्टाक के नाम पर खाद वितरण की जानकारी पोर्टल पर अपडेट की गई थी। जवाब संतोषप्रद नही होने पर उक्त प्रतिष्ठानो के उर्वरक पंजीयन प्रमाण पत्र को निलंबित कर दिया गया है। इन प्रतिष्ठानों में उर्वरक व्यवसाय प्रतिबंधित किया गया है।

28-08-2020
निशक्तजन चिकित्सा परीक्षण शिविर में दिव्यांगजनों को दिए गए सहायक उपकरण

बीजापुर। जिले के दिव्यांगजनों को सहायक उपकरण प्रदान करने सहित अन्य योजनाओं से लाभान्वित किए जाने के लिए ब्लाकों के प्रमुख बसाहटों में क्लस्टरवार निशक्तजन चिकित्सा परीक्षण शिविर आयोजित किया जा रहा है। इसी कड़ी में विगत दिवस बीजापुर ब्लाक के मुरकीनार,नुकनपाल और पुसगुड़ी के कुल 90 निशक्तजनों का चिकित्सा जांच कर उन्हें दिव्यांग प्रमाण पत्र एवं यूडीआईडी (UDID) कार्ड बनवाया गया एवं 9 निशक्तजनों को सहायक उपकरण वितरण किया गया।

उक्त संबंध में उप संचालक समाज कल्याण विभाग अरविंद गेडाम ने बताया कि हरेक ब्लाक अंतर्गत प्रत्येक सप्ताह दो-दो दिन शिविरों का आयोजन कर सभी दिव्यांगजनों का चिकित्सा परीक्षण कर उन्हे दिव्यांग प्रमाणपत्र प्रदान किया जा रहा है एवं दिव्यांगजनों का यूडीआईडी कार्ड बनाया जायेगा साथ ही चिन्हित निशक्तजनों को उनकी आवश्यकता के अनुरूप सहायक उपकरण प्रदान किये जा रहे हैं। 29 अगस्त से ग्राम पंचायत जैतालूर, ईटपाल, बोरजे एवं धनोरा में भी शिविर का आयोजन कर दिव्यांग प्रमाण पत्र यूडीआईडी बनाया जायेगा साथ ही आवश्यकतानुसार सहायक उपकरण प्रदान किया जायेगा।

 

24-08-2020
जिलेे में जन्म,मृत्यु की राष्ट्रीय पोर्टल पर ऑनलाइन पंजीयन की प्रक्रिया शुरू

जांजगीर चांपा। जिले के नगरीय निकाय और ग्रामीण क्षेत्रों अर्थात ग्राम पंचायतों के अंतर्गत सभी स्वास्थ्य केंद्रों में घटित होने वाली जन्म,मृत्यु के पंजीकरण कार्य राष्ट्रीय पोर्टल पर ऑनलाइन किए जाने की प्रक्रिया आरंभ की गई है।
जिला रजिस्टर जन्म मृत्यु ने बताया कि प्रथम चरण में समस्त नगरीय निकायों, जिला चिकित्सालय, सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र एवं प्राथमिक चिकित्सा केंद्रों में घटित होने वाली घटनाओं का पंजीयन पूर्व से ही राष्ट्रीय पोर्टल पर करने के लिए कलेक्टर की ओर से निर्देश जारी किए जा चुके हैं। ऑनलाइन पंजीयन का प्रमाण पत्र प्रदान किया जा रहा है।उल्लेखनीय है कि जांजगीर-चांपा जिले वर्तमान में 203 इकाइयों में ऑनलाइन पंजीयन व्यवस्था प्रारंभ कर राज्य में प्रथम स्थान पर बना हुआ है। इनमें 15 नगरीय निकाय एवं शेष स्वास्थ्य विभाग के उप स्वास्थ्य केंद्र स्तर तक के स्वास्थ्य केंद्र सम्मिलित हैं।

इसके लिए जिले के मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी से विशेष सहयोग प्राप्त हो रहा है। जिले के समस्त नगरीय क्षेत्र में इस स्थित निजी चिकित्सालय में भी ऑनलाइन पंजीयन प्रारंभ कराया जा रहा है। इसकी मॉनिटरिंग संबंधित निकाय के मुख्य नगर पालिका अधिकारी द्वारा की जा रही है। चांपा एवं अकलतरा नगरीय क्षेत्रों के अधिकांश निजी चिकित्सा केंद्रों में यह कार्य पूर्ण कर लिया गया है। जांजगीर नगर के निजी चिकित्सालयों में यह कार्य अभी जारी है। इसे भी शीघ्र ही पूर्ण कराया जा रहा है। इसी परिप्रेक्ष्य में अब अंतिम चरण में जिले की समस्त ग्राम पंचायतों में भी आगामी 1 सितंबर से यह व्यवस्था लागू की जा रही है। इसके अंतर्गत कार्यालय आदेश एवं मार्गदर्शक समस्त जनपद पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारियों को भेज दिए गए हैं। मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद स्तर पर अतिरिक्त जिला रजिस्ट्रार जन्म,मृत्यु के पदेन दायित्वों का निर्वहन कर रहे हैं।

इस कार्य व्यवस्था को लागू करने के लिए प्रत्येक ग्राम पंचायतों में पदस्थ ग्राम पंचायत सचिवों की रजिस्ट्रार (जन्म/मृत्यु) के रूप में कार्य करते हैं । जो राष्ट्रीय पोर्टल पर कार्य करने के लिए लॉगिन आईडी एवं पासवर्ड प्रदान किया गया है। इसकी सहायता से सचिव पोर्टल पर लॉगइन कर संबंधित घटना का विवरण दर्ज कर प्रमाण पत्र प्राप्त कर सकते हैं। पोर्टल पर बच्चों के नामकरण के बाद नाम दर्ज करने पूर्व पंजीकृत घटनाओं के रजिस्टर में नाम ढूंढने, नाम संशोधन, प्रमाण पत्रों की अतिरिक्त प्रतिया प्राप्त करना, मासिक,त्रैमासिक रिपोर्ट देखने जैसी समस्त सुविधाएं उपलब्ध है। पूर्व में लोक सेवा केंद्रों के माध्यम से जन्म,मृत्यु पंजीयन की व्यवस्था राज्य के मुख्य पंचायत जन्म,मृत्यु कार्यालय के निर्देश पर समाप्त कर दी गई है।जन्म/मृत्यु पंजीयन की नई व्यवस्था के आरंभ होने से डाटा की एकरूपता एवं उच्च गुणवत्ता सुनिश्चित की जा सकेगी।

जिला स्तर पर प्रत्येक केंद्र से प्रतिमाह डाटा संलग्न पश्चात एंट्री की आवश्यकता नहीं रह जाएगी। इससे जहां राज्य एवं केंद्र शासन को त्वरित गति से गुणवत्तापूर्ण एवं एकरूपता उपलब्ध हो सकेगा। वहीं प्रत्येक वर्ष इस डाटा के आधार पर स्वास्थ्य सुविधाओं के विस्तार हेतु तैयार किए जाने वाले विभिन्न प्रतिवेदनों एवं प्रकाशनों को अधिक शीघ्रता से तैयार किया जा सकेगा।जिला प्रशासन एवं जिला रजिस्ट्रार जन्म,मृत्यु कार्यालय से प्राप्त जानकारी के अनुसार ग्राम सचिवों को इस संबंध में दक्ष करने के लिए विभागीय अधिकारियों द्वारा विकासखंड स्तर पर शीघ्र ही प्रशिक्षण का आयोजन किया जा रहा है। इसमें खंड स्तर पर पदस्थ जन्म,मृत्यु के प्रभारी कार्य सहायक को भी सम्मिलित किया जावेगा।  सभी ग्राम पंचायत सचिव वकासखंड स्तर पर पदस्थ कार्य विकासखंड स्तर पर सहायक से अपने लॉगइन आईडी एवं पासवर्ड प्राप्त कर सकते हैं।

10-08-2020
बालक की आयु 21 वर्ष से कम होने पर बाल विवाह रोका गया

जांजगीर-चांपा। जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के अध्यक्ष एवं कलेक्टर के निर्देश पर जिला कार्यक्रम अधिकारी एवं जिला महिला एवं बाल विकास अधिकारी के मार्गदर्शन में बाल विवाह संबंधी सूचना मिलने पर तत्काल विवाह रोकने की कार्यवाई की गई।प्राप्त जानकारी के अनुसार जिला बाल संरक्षण अधिकारी गजेन्द्र सिंह जायसवाल ने टीम तैयार कर पुलिस विभाग से समन्वय करते हुए भातमाहुल में बालक के घर जाकर उसके अंकसूची की जांच की। प्रमाण पत्र के आनुसार बालक की उम्र 20 वर्ष होना पाया गया। विभाग के अधिकारी कर्मचारी द्वारा बालक तथा बालक के माता-पिता एवं स्थानीय लोगों को बाल विवाह के दुष्परिणामों से अवगत कराया एवं समझाईश दी गई। स्थानीय लोगों की उपस्थिति में बालिका के माता-पिता की सहमति से बालिका का विवाह रोका गया। कार्यवाही में तालुका विधिक सेवा प्राधिकरण जैजैपुर मंजु लता सिंह, पर्यवेक्षक जैजैपुर अशोक बाई शामिल थे।

07-07-2020
लोक सेवा गारंटी अधिनियम के तहत लोगों के काम हो रहे निर्धारित समय सीमा में

रायपुर। लोक सेवा गारंटी अधिनियम के तहत विभिन्न विभागों के अंतर्गत लोगों का काम निर्धारित समय-सीमा पर हो रहा है। इस अधिनियम के दायरे में अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति एवं अन्य पिछड़ा वर्ग प्रमाण पत्र, आय प्रमाण पत्र, मूल निवास प्रमाण पत्र, भुईंया से नकल, जन्म पंजीकरण और मृत्यु पंजीकरण प्रमाण पत्र, विधवा पेंशन योजना, नल कनेक्शन, दुकान एवं स्थापना पंजीयन प्रमाण पत्र, जन्म व मृत्यु प्रमाण पत्र में सुधार, विवाह प्रमाण पत्र में सुधार, संपत्ति नामांतरण नगर पालिका क्षेत्र और विभिन्न राजस्व सेवाएं सहित विभिन्न सेवाओं को लोक सेवा गारंटी अधिनियम के तहत सम्मलित किया गया है। इन सेवाओं का लाभ लेने के लिए लोक सेवा केंद्रों के माध्यम से आवेदन किया जा सकता है। साथ ही ई-डिस्ट्रिक्ट डॉट सीजी स्टेट डॉट जीओवी डॉट इन पर लॉग-इन करके भी आवश्यक जानकारी व आवेदन किया जा सकता है।

छत्तीसगढ़ लोक सेवा गारंटी अधिनियम 2011 लागू किया गया है। इस अधिनियम के तहत लोक सेवा प्रदान करने संबंधित अधिकारियों की जिम्मेदारी तय की गई है। इसके साथ ही नियत समय पर लोक सेवा पर कार्रवाई नहीं करने पर प्रत्येक विलंबित दिवस के लिए जिम्मेदार अधिकारी ने आवेदक को क्षतिपूर्ति भुगतान का प्रावधान भी किया है। उल्लेखनीय है कि लोक सेवा गारंटी अधिनियम के तहत नागरिकों को विभिन्न योजनाओं और सेवाओं के माध्यम से समय सीमा में लाभ दिलाना राज्य सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता है।

 

23-04-2020
प्रदेश के सभी निजी स्कूलों के संचालक लॉक डाउन तक फीस नहीं लेने का देंगे सर्टिफिकेट 

रायपुर। छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा प्रदेश में संचालित सभी निजी स्कूलों को लॉक डाउन अवधि में अध्ययनरत विद्यार्थियों से फीस वसूली के लिए अनावश्यक दबाव नहीं बनाने के निर्देश दिए गए हैं। स्कूल शिक्षा विभाग ने अब सभी जिला शिक्षा अधिकारियों को निर्देशित किया है कि सभी निजी स्कूलों से यह प्रमाण पत्र लिया जाए कि शाला प्रबंधकों के द्वारा पालकों से फीस नहीं मांगी गई है।

गौरतलब है कि लॉक डाउन की अवधि में स्कूल फीस वसूली स्थगित रखने के निर्देश राज्य शासन द्वारा दिए गए हैं, जिससे पालकों और बच्चों को अनावश्यक परेशानी न हो। परंतु कई निजी शालाओं द्वारा लॉक डाउन की अवधि में भी स्कूल फीस जमा करने संबंधी संदेश पालकों को लगातर भेजे जा रहे है। इस पर कड़ा रूख अपनाते हुए स्कूल शिक्षा विभाग ने अब सभी निजी स्कूलों से यह प्रमाण पत्र मांगा है कि शाला प्रबंधकों के द्वारा पालकों से फीस नहीं मांगी गई है। संचालक लोक शिक्षण संचालनालय द्वारा इस संबंध में सभी जिला शिक्षा अधिकारियों को निर्देशित किया है कि संचालनालय को कल शाम तक इस आशय का प्रमाण पत्र प्रस्तुत करें।

20-04-2020
 छात्रों को 12वीं के प्रमाण पत्र के साथ मिले आईटीआई का प्रमाण पत्र, भूपेश बघेल ने दिए यह निर्देश...

 

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि छत्तीसगढ़ में रोजगारोन्मुखी शिक्षा को बढ़ावा देने के लिए आईटीआई और हायर सेकेण्डरी स्कूलों में समन्वय कर कक्षा 11वीं और 12 वीं में व्यवसायिक शिक्षा की व्यवस्था की जाए। इससे छात्र को कक्षा 12 वीं के छत्तीसगढ़ माध्यमिक शिक्षा मण्डल के प्रमाण पत्र के साथ आईटीआई का प्रमाण पत्र भी प्राप्त हो सके, जिससे 12 वीं उत्तीर्ण करने के बाद उन्हें रोजगार मिलने में आसानी हो। मुख्यमंत्री ने इस दिशा में एक बड़ी पहल करते हुए छत्तीसगढ़ के स्कूलों में कक्षा 11वीं और 12वीं के विद्यार्थियों के लिए आईटीआई (औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान) के समन्वय से व्यावसायिक शिक्षा पाठ्यक्रम की पढ़ाई के लिए योजना तैयार करने के निर्देश स्कूल शिक्षा विभाग और तकनीकी शिक्षा विभाग को दिए हैं। दोनों विभागों को संयुक्त रूप से योजना तैयार कर जल्द प्रस्तुत करने के निर्देश दिए हैं।


भूपेश बघेल ने जारी निर्देशों में कहा कि शिक्षा के वोकेशनेलाइजेशन करने की बात देश में लम्बे समय से की जा रही है, व्यावसायिक शिक्षा को पाठ्यक्रम में भी शामिल किया गया है, किन्तु अभी तक अपेक्षित परिणाम हासिल नहीं किए जा सके हैं। वर्षों की औपचारिक शिक्षा पूर्ण करने के बाद भी छात्रों को रोजगार प्राप्त नहीं हो पाता। जिसका मुख्य कारण शालाओं में वर्कशॉप एवं कुशल प्रशिक्षकों का अभाव है। छत्तीसगढ़ में रोजगारोन्मुखी शिक्षा को बढ़ावा देने के लिए आईटीआई तथा हायर सेकेण्डरी स्कूलों में समन्वय स्थापित करके कक्षा 11 वीं एवं 12 वीं में व्यावसायिक शिक्षा की व्यवस्था करना आवश्यक प्रतीत होता है।

28-02-2020
जिले के 3 विकासखंडों में ब्लड डोनेशन कैंप का आयोजन 5 से 7 मार्च तक

कोरिया। रेडक्रास सोसायटी एवं जिला प्रशासन के संयुक्त तत्वाधान में जिले के 3 विकासखंडों में ब्लड डोनेशन कैंप का आयोजन किया गया है। विकासखंड मनेन्द्रगढ में 5 मार्च, भरतपुर में 6 मार्च एवं बैकुण्ठपुर में 7 मार्च को प्रातः 10 बजे से शाम 4 बजे तक ब्लड डोनेट किया जा सकता है। ब्लड डोनेशन कैंप में प्रत्येक रक्तदाता को प्रमाण पत्र दिया जायेगा तथा 25 से अधिक बार रक्तदान कर चुके व्यक्तियों का सम्मान भी किया जायेगा। ब्लड डोनेशन कैंप जिला चिकित्सालय बैकुण्ठपुर सहित मनेन्द्रगढ एवं जनकपुर के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों में आयोजित होगा।

14-02-2020
कांग्रेस और भाजपा नेताओं के बीच हुई धक्का-मुक्की, प्रत्याशी चुन्नी पैकरा के देरी से पहुंचने पर हुआ विवाद  

कोरिया। जिला पंचायत के अध्यक्ष पद के लिए चुनाव के पहले ही भाजपा और कांग्रेसी कार्यकर्ताओं में जमकर घमासान हुआ। दरअसल 10 सदस्यों वाली जिला पंचायत में समय अवधि तक केवल 7 सदस्य ही अंदर पहुंचे थे, जिसमें से भाजपा समर्थित प्रत्याशी और अध्यक्ष पद की दावेदार चुन्नी पैकरा नहीं पहुंची थी। उनके पति ओमप्रकाश पैकरा ने बताया कि वह निर्वाचन का प्रमाण पत्र लेने गई थी, उसी में लेट हो गई। इसके बाद कांग्रेसी कार्यकर्ताओं ने चुन्नी पैकरा को  अंदर जाने से रोकने लगे उसके बाद जमकर हंगामा किया और भाजपा के खिलाफ नारेबाजी की कांग्रेस विधायक विनय जायसवाल एवं गुलाब कमरों भाजपा के  पूर्व तीनों विधायक भैया राजवाड़े, चंपा देवी पावले, श्याम बिहारी जसवाल भी मौजूद थे। उसके बाद कांग्रेसी एवं भाजपा कार्यकर्ताओं के साथ धक्का-मुक्की भी हुई यह सिलसिला तब तक चला जब तक चुन्नी पैकरा अंदर गई। वही पूर्व विधायक चंपा देवी पावले ने कहा कि कांग्रेस खिसियानी बिल्ली खंबा नोचे की तर्ज पर काम कर रही है। भाजपा यह चुनाव जीत रही है। इसी कारण  कांग्रेसी इस तरह कार्य कर रहे हैं। हमारे सभी जिला पंचायत सदस्य वोटिंग के पूर्व आ गए हैं।

 

12-02-2020
जिला स्तरीय युवा संसद की स्पर्धा में प्रेमनगर के प्रतिभागियों ने दी प्रस्तुति

कोरिया। सूरजपुर जिले के दूरस्थ ब्लॉक प्रेमनगर के युवा संसद की टीम जिला स्तरीय युवा संसद प्रतियोगिता में शामिल हुई। इसका उद्देश्य युवा पीढ़ी में लोकतंत्र की बुनियाद विकसित करने के लिए मंत्रालय की ओर से विद्यालयों और महाविद्यालयों/विश्वविद्यालयों की विभिन्न श्रेणियों में युवा संसद प्रतिस्पर्धा का आयोजन किया जाता है। युवा संसद योजना को सर्व प्रथम 1966-67 में दिल्ली के विद्यालयों में आरंभ किया गया था। जिला स्तरीय इस कार्यक्रम में प्रेमनगर से ब्लॉक युवा संसद की टीम ने शानदार प्रस्तुति दी,जिसको तैयार करने में बीईओ आलोक सिंह, बीपीओ रमेश जायसवाल,कन्या प्राचार्य जीआर बघेल,व्याख्याता कृष्ण कुमार ध्रुव,रमेश साहू का सराहनीय योगदान रहा। इसके कारण प्रेमनगर की युवा संसद टीम जिला में बेहतरीन प्रस्तुति दी। इस कार्यक्रम के प्रभारी शिक्षक कृष्ण कुमार ध्रुव,रमेश साहू, कविता पाल और बी.कंवर उपस्थित थे,जिसके नेतृत्व में पूरे संसद की कैबिनेट ने भाग लिया।

इस युवा संसद की कैबिनेट में लोकसभा अध्यक्ष ज्योति राजवाड़े, प्रधानमंत्री रितिका तिवारी,गृहमंत्री अनामिका तिवारी, रक्षा मंत्री दीप्ति, वित्त मंत्री मायावती, विदेश मंत्री अनिता सिंह, श्रम मंत्री प्रमिला सिंह, संचार मंत्री सीताराम, लघुउद्योग मंत्री बालेश्वर, कृषि मंत्री परमेश्वर, वस्त्रालय मंत्री पवन दास, आदिम जाति कल्याण मंत्री गजेंद्र तिवारी, दिनेश साहू रेल मंत्री, देवेंद्र खेल मंत्री, राजकुमार उद्योग मंत्री, चैतलाल पर्यावरण मंत्री, लीलावती पेट्रोलियम मंत्री, राहुल परिवहन मंत्री, संतोष स्वास्थ्य मंत्री एवं अम्बिकेश्वर शिक्षा मंत्री, मार्शल के रूप में श्रीराम सिंह एवं आरजू जगत शामिल थे। इस कार्यक्रम में प्रेमनगर की टीम पहली बार भाग लिए है,जिससे छात्रों को बहुत कुछ सीखने को मिला है। सभी छात्रों ने कहा आगे जब भी ऐसी प्रतियोगिता होगी उसमें हम और अच्छे तैयारी के साथ अपना प्रस्तुति देंगे। इस प्रतियोगिता में अनामिका तिवारी को बेस्ट पक्ष की भूमिका निभाने के प्रमाण पत्र मिला। प्रेमनगर बच्चों की युवा संसद की प्रस्तुति पर बीईओ आलोक सिंह ने कहा कि हमारे बच्चे बहुत अच्छा प्रस्तुति दिए है, जिसकी सभी ने सराहना किया है, आगे आने वाले समय में हम और बेहतर प्रस्तुति करेंगे। इस प्रतियोगिता से बच्चे संसद की पूरी प्रक्रियाओं से अवगत हुए, नए बिल पास पर विस्तृत चर्चा किये,शपथ, मौन, अनुपूरक बजट जैसे अन्य मुद्दों को अपने युवा संसद की कैबिनेट में रखा।

 

 

02-02-2020
गणित की लोकप्रियता बढ़ाने विभिन्न कार्यक्रम आयोजित

महासमुन्द। छत्तीसगढ़ विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी परिषद् द्वारा विज्ञान एवं गणित की लोकप्रियता बढ़ाने के लिये महान गणितज्ञ श्रीनिवास रामानुजन एवं प्रख्यात वैज्ञानिक डॉ. चन्द्रशेखर वेंकट रमन की जीवनी पर आधारित पहेली (गणित/विज्ञान), पोस्टर, रंगोली, भाषण, निबंध प्रतियोगिता का जिला स्तरीय आयोजन किया गया। विद्यालय एवं महाविद्यालय स्तर पर शासकीय आशीबाई गोलछा उच्चतर माध्यमिक विद्यालय महासमुन्द में कलेक्टर सुनील कुमार जैन के मार्गदर्शन में किया गया। समापन कार्यक्रम की मुख्य अतिथि डिप्टी कलेक्टर डॉ. नेहा कपूर थींं प्रतियोगिता में चयनित प्रतिभागियों को पुरस्कार एवं प्रमाण पत्र प्रदान किया गया। मुख्य अतिथि द्वारा विद्यालय एवं महाविद्यालय स्तर पर विद्यार्थियों को विज्ञान एवं गणित विषय के प्रति अभिरूचि जागृत कर नये नये नवाचार प्रस्तुत करने के लिए प्रेरित किया। जिला स्तरीय प्रतियोगिता से पूर्व यह सभी प्रतियोगिताए विद्यालय एवं महाविद्यालय स्तर पर की गई। चयनित प्रतिभागी 24 जनवरी को विकासखण्ड स्तरीय प्रतियोगिता में भाग लिये। विकासखण्ड से चयनित 2-2 प्रतिभागियों को जिला स्तर के इस आयोजन में भाग लेने का मौका मिला।

विज्ञान परिषद् के मार्गदर्शक आरके श्रीवास्तव ने महान गणितज्ञ एवं प्रख्यात वैज्ञानिक के जीवन परिचय एवं इनके द्वारा किये गये शोध तथा गणितीय विश्लेषण संबंधी जानकारी दी  तथा हेमेन्द्र आचार्य ने रमन इफेक्ट एवं गणितीय प्रमेय संबंधी जानकारी दी।
जिला उद्यमिता विकास अंतर्गत जिला स्तरीय प्रतियोगिता भारत सरकार सूक्ष्म लघु एवं मध्यम उद्यम मंत्रालय, एमएसएमई -विकास संस्थान, रायपुर द्वारा उद्योगों के प्रचार प्रसार के लिये निबंध व चित्रकारी प्रतियोगिता भी आयोजित की गई। इसमें जिला स्तर पर चयनित छात्र छात्राओं को प्रथम पुरस्कार 10,000,द्वितीय पुरस्कार 7500 एवं तृतीय पुरस्कार 5000 डीबीटी माध्यम से प्रदान किया गया। इस अवसर पर कार्यक्रम प्रभारी योगेश कुमार उपस्थित थे। विद्यालय स्तर के कक्षा 9वीं से 12वीं की विभिन्न प्रतियोगिता और महाविद्यालय स्तर में प्रथम, द्वितीय एवं तृतीय स्थान प्राप्त करने वाले प्रतिभागी छात्र, छात्राओं को पुरस्कार वितरण एवं प्रमाण पत्र प्रदान किया गया। जिला स्तर पर चयनित प्रतिभागियों को राज्य स्तर में प्रतिनिधित्व का मौका मिलेेगा।  

Advertise, Call Now - +91 76111 07804