GLIBS
27-07-2020
मध्यप्रदेश बोर्ड ने जारी किए 12वीं के परीक्षा परिणाम, कुल रिजल्ट 68.81 प्रतिशत रहा

भोपाल। माध्यमिक शिक्षा मंडल मध्यप्रदेश ने सोमवार को 12वीं का रिजल्ट जारी कर दिया है।छात्र अपना परिणाम आधिकारिक वेबसाइट mpbse.nic.in और mpresults.nic.in पर चेक कर सकते हैं। इस बार कुल रिजल्ट 68.81 प्रतिशत रहा। इसमें 64.66 प्रतिशत छात्र और 73.40 छात्राएं सफल रहीं। इस बार भी लड़कियों ने बाजी मारी। इस साल कला संकाय में रीवा की खुशी सिंह 486 अंकों के साथ टॉपर रहीं। विज्ञान-गणित संकाय में मंदसौर की प्रिया और रिंकू बथरा 495 अंकों के साथ टॉप किया। वाणिज्य संकाय में नीमच के मुफद्दल अरवीवाला 487 अंकों के साथ सर्वाधिक अंक अर्जित किए। कृषि संकाय में शिवपुरी के गौरव ओझा और पन्ना के सत्यम लोधी 483 अंकों के साथ टॉप किया। ललित कला संकाय, गृह विज्ञान में छतरपुर की शुभांशी मिश्रा ने 444 अंकों के साथ सर्वाधिक अंक हासिल किए। जीव विज्ञान संकाय में शिवपुरी की अनुष्का गुप्ता 490 अंक अर्जित किए और टॉप पर रहीं। मध्यप्रदेश बोर्ड 12वीं की 2019 में आयोजित परीक्षा का परिणाम 72.37 फीसदी रहा था। बता दें कि एमपी बोर्ड पहले ही 10वीं का रिजल्ट चार जुलाई को जारी कर चुका था। 

 

04-07-2020
मध्यप्रदेश: 10वीं बोर्ड परीक्षा में 15 छात्रों को मिले 300 में से पूरे 300 अंक

भोपाल। माध्यमिक शिक्षा मंडल मध्यप्रदेश ने दसवीं कक्षा के परिणाम जारी किए। प्रदेश में इस बार दसवीं में 62.84 फीसदी छात्र पास हुए हैं। बोर्ड परीक्षा में छात्राओं ने बाजी मारी। कुल 60.59 फीसदी छात्र पास हुए, जबकि छात्राओं के पास होने में ये प्रतिशत 65.87 दर्ज किया गया। इस साल 15 छात्रों ने इस परीक्षा में टॉप किया है, इन सभी को पहला स्थान मिला है। इन सभी छात्रों को 100 फीसदी अंक मिला है। भोपाल के सेमरा कला की रहने वाली कर्णिका मिश्रा ने दसवीं बोर्ड परीक्षा में 300 में से 300 अंक हासिल कर टॉप किया है। वो प्रदेश के उन 15 बच्चों में से एक हैं,जिन्होंने दसवीं बोर्ड की परीक्षा में टॉप किया है। कर्णिका के पिता नहीं हैं और मां प्राइवेट नौकरी करती हैं। इंदौर की महुआ घोष को प्रदेश में तीसरा स्थान मिला है। महुआ को 300 में से 299 अंक मिले हैं। जबलपुर की जिज्ञासा जैन को पांचवा स्थान मिला है।जिज्ञासा ने 300 में से 298 अंक प्राप्त किए हैं।जिलावार प्रदर्शन में नीमच में दसवीं का रिजल्ट 79.13 प्रतिशत रहा, जबकि दूसरे नंबर पर देवास का   रिजल्ट 78 प्रतिशत रहा। मंदसौर 75.53 प्रतिशत के साथ तीसरे, शाजापुर 73.02 फीसदी के साथ चौथे और उज्जैन 71.16 प्रतिशत के साथ पांचवें नंबर पर रहा।

 

 

Advertise, Call Now - +91 76111 07804