GLIBS
19-09-2020
इटालियन ओपन टेनिस टूर्नामेंट के सेमीफाइनल में पहुंचीं सिमोना हालेप

नई दिल्ली। शीर्ष वरीयता प्राप्त रोमानिया की सिमोना हालेप ने अपनी प्रतिद्वंद्वी यूलिया पुतिनसेवा के पीठ की चोट के कारण शनिवार को रिटायर हो जाने से पांचवीं बार इटालियन टेनिस टूर्नामेंट के सेमीफाइनल में प्रवेश कर लिया। विम्बलडन चैंपियन हालेप क्वॉर्टरफाइनल मुकाबले में 47 मिनट में 6-2, 2-0 से आगे हो चुकी थीं कि तभी पुतिनसेवा ने पीठ के निचले हिस्से में दर्द के कारण मैच छोड़ने का फैसला किया।सिमोना हालेप यहां 2013 और 2015 में सेमीफाइनल में पहुंची थीं जबकि 2017 और 2018 में वह उपविजेता रही थीं। तीसरी बार फाइनल में पहुंचने के लिए हालेप का मुकाबला नौंवीं  सीड स्पेन की गरबाइन मुगुरुजा और यूएस ओपन की उपविजेता बेलारूस विक्टोरिया अजारेंका से होगा।

जोकोविच और नडाल क्वॉर्टरफाइनल में

विश्व के नंबर एक खिलाड़ी और शीर्ष वरीयता प्राप्त सर्बिया के नोवाक जोकोविच तथा गत चैंपियन स्पेन के राफेल नडाल ने लगातार सेटों में अपने-अपने मुकाबले इटालियन ओपन टेनिस टूर्नामेंट के क्वॉर्टरफाइनल में प्रवेश कर लिया। जोकोविच ने अपने हमवतन फिलिप क्राजिनोविक को 7-6 (7), 6-3 से हराया जबकि नडाल ने भी सर्बिया के ही खिलाड़ी दुसान लाजोविच को 6-1,6-3 से हराकर अंतिम आठ में जगह बनाई। जोकोविच ने लगातार 14वें वर्ष इस टूर्नामेंट के क्वॉर्टरफाइनल में प्रवेश किया है। 

 

 

18-09-2020
शासकीय औद्योगिक प्रशिक्षण केंद्र बिल्हा में प्रवेश के लिए आवेदन आमंत्रित

रायपुर/बिलासपुर। शासकीय औद्योगिक प्रशिक्षण संस्था बिल्हा में प्रवेश सत्र 2020-21 एवं सत्र 2020-22 में प्रवेश के लिए इच्छुक अभ्यर्थियों से पूर्व में ऑनलाइन आवेदन पत्र आमंत्रित कर प्रवेश की कार्यवाही की गई। लेकिन ऐसे अभ्यर्थी, जो किन्ही कारणों से ऑनलाइन आवेदन रजिस्ट्रेशन नहीं कर पाये थे अथवा जिनका पूर्व में ऑनलाइन आवेदन के पश्चात प्रवेश का अवसर समाप्त हो चुका हो वे शेष रिक्त सीटों के लिए वेबसाइट www.cgiti.cgstate.gov.in में 23 सितम्बर 2020 तक पुनः ऑनलाइन आवेदन कर रजिस्ट्रेशन करा सकते हैं। नए आवेदन एवं पूर्व में प्राप्त आवेदनों को मिलाकर संयुक्त प्राविण्य सूची तैयार की जायेगी और इसके आधार पर प्रवेश की कार्यवाही की जायेगी।

 

16-09-2020
सूर्य करेंगे राशि परिवर्तन, कन्या राशि में प्रवेश कहलाती है कन्या संक्रांति, जानिए क्या फल देंगे सूर्यदेव

रायपुर। कन्या राशि में सूर्यदेव का प्रवेश कन्या संक्रांति के नाम से जाना जाता है। हिंदू मान्यता के अनुसार 12 राशियां हैं और जब भी सूर्यदेव एक राशि से दूसरी राशि में जाते हैं तो उस राशि की संक्रांति आरंभ हो जाती है। संक्रांति का पुण्यकाल बेहद विशेष माना जाता है। सूर्य का प्रत्येक माह राशि में परिवर्तन करना संक्रांति कहलाता है और इस संक्रांति को स्नान, दान और पितरों के तर्पण आदि के लिए शुभ माना जाता है। आज सूर्य सिंह राशि से निकलकर कन्या राशि में प्रवेश कर रहे हैं। ज्योतिष में सूर्य की इस घटना को कन्या संक्रांति के नाम से जाना जाता है।

कन्या संक्रांति भी अपने आप में विशेष है। कन्या संक्रांति के अवसर पर भगवान विश्वकर्मा की उपासना की जाती है। भगवान विश्वकर्मा की उपासना से कार्यक्षमता में वृद्धि होती है। कार्यक्षेत्र और व्यापार में आने वाली परेशानियां दूर हो जाती है। अगर किसी व्यक्ति को सूर्य देव का आशीर्वाद प्राप्त हो जाए तो उसे समाज में मान-सम्मान, पद-प्रतिष्ठा और सरकारी नौकरी आदि प्राप्त होती है।

31-08-2020
आईटीआई की प्रवेश प्रक्रिया पाॅलिटेक्निक भवन में,प्रथम सूची में चयनित अभ्यर्थी 9 सितंबर तक ले सकेंगें प्रवेश

जांजगीर-चांपा। संचालनालय रोजगार एवं प्रशिक्षण द्वारा शासकीय आईटीआई में प्रवेश की प्रक्रिया राज्य स्तर से की जा रही है। प्रथम सूची में चयनित अभ्यर्थियों की सूची 30 अगस्त को जारी की गई। शासकीय आईटीआई जांजगीर के प्राचार्य से प्राप्त जानकारी के अनुसार प्रथम सूची में चयनित अभ्यर्थी 9 सितम्बर तक प्रवेश ले सकते हैं। चयन की सूचना चयनित अभ्यर्थियों को उनके मोबाइल नंबर पर भेजी गई है। जांजगीर कुलीपोटा के आईटीआई भवन को कोविड-19 केयर सेन्टर बनाया गया है। जांजगीर शासकीय आईटीआई के लिए चयनित अभ्यर्थी जांजगीर पेण्ड्री स्थित शासकीय पाॅलिटेक्निक भवन के सभागार में उपस्थित होकर प्रवेश ले सकते हैं।

11-08-2020
कलेक्टोरेट में भी कोरोना का प्रवेश, शिकायत शाखा का बाबू निकला पॉजिटिव

कवर्धा। अब जिला कार्यालय कलेक्टोरेट का बाबू भी कोरोना पॉजिटिव निकल गया। जिला कार्यालय (कलेक्टर) शिकायत शाखा में पदस्थ बाबू की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। बताया गया कि बाबू त्यौहार पर दुर्ग गया था। कवर्धा आने के बाद कोरोना टेस्ट के लिए सैम्पल लिया गया था। सैम्पल जांच में रिपोर्ट पॉजिटिव आई है।

22-07-2020
गांव में घुसा जंगली सूअर, पांच लोगों पर किया हमला

राजनांदगांव। जंगली सुअर ने गांव में प्रवेश कर लोगों पर हमला किया। मिली जानकारी अनुसार जंगली सूअर ग्राम हैदलकोड़ो में पहले एक व्यक्ति को घायल किया फिर जंगल व खेत होते हुए वह ग्राम पुर्रामटोला पहुंचा। यहां खेती किसानी कार्य में लगी हुई महिला पर हमला कर घायल किया और फिर गांव के अंदर घुस कर वहां तीन लोगों को घायल कर दिया। ग्रामवासी के द्वारा उसे भगाया गया। एक की हालत गंभीर होने के कारण गांव से जिला अस्पताल रिफर किया गया। वही चार घायलों को 112 की मदद से छुरिया सामुदायिक अस्पताल लाया गया डिप्टी रेंजर ने बताया की वह जंगल खुज्जि क्षेत्र में पड़ता है और वहां कर्मचारी पहुंच कर जगह का मुआयना कर पंचनामा बना रहे हैं। छुरिया स्टाफ से अस्पताल में एक दो कर्मचारियों को भेजा गया है।  घायलों में बसंती बाई को ज्यादा गंभीर स्थिति में राजनांदगांव ले जाया गया है। घायल पुनाराम, खुमेश कुमार, किशन लाल व हंसराम का इलाज जारी है।

 

15-07-2020
आरटीई के तहत निजी स्कूलों में प्रवेश के लिए 18 हजार 488 बच्चों का चयन

 रायपुर। शिक्षा का अधिकार अधिनियम (आरटीई) के तहत निजी स्कूलों में बीपीएल परिवार के बच्चों को निःशुल्क शिक्षा उपलब्ध कराने के लिए आज पहली लॉटरी निकाली गई। इस लॉटरी के माध्यम से 18 हजार 488 बच्चे स्कूलों में दाखिले के लिए चयनित हुए। दाखिले के लिए पहली लॉटरी राज्य के 14 जिलों के 2190 स्कूलों में आरटीई के तहत बच्चों को प्रवेश देने के लिए सभी विकल्पों के आधार पर निकाली गई। संचालक लोक शिक्षण संचालनालय द्वारा चयनित बच्चों को प्रवेश दिलाने  के लिए उनके पालकों को एसएमएस के माध्यम से सूचना भेजी दी गई है।
   
    लोक शिक्षण संचालनालय से प्राप्त जानकारी के अनुसार पहली लॉटरी के लिए 14 जिलों के 2 हजार 190 स्कूलों के लिए आरटीई के तहत प्रवेश के लिए 26 हजार 468 सीटें थी। इन सीटों के लिए कुल 27 हजार 894 आवेदन प्राप्त हुए। प्राप्त आवेदनों में से 704 रद्द हुए और 7 हजार 115 का आबंटन नहीं हुआ। अपूर्ण स्थिति की 25 और 1562 मिलती-जुलती स्थिति के आवेदन थे।

    पहली लॉटरी में जिलेवार स्कूलों में बच्चों के प्रवेश की स्थिति इस प्रकार है। प्रदेश के जिला दुर्ग में 552 स्कूलों के लिए 4 हजार 350 बच्चों का चयन प्रवेश के लिए किया गया है। इसी प्रकार कोरबा जिले के 288 स्कूलों के लिए 3 हजार 911 बच्चे, बस्तर जिले के 121 स्कूलों के लिए एक हजार 566 बच्चे, कोरिया जिले के 205 स्कूलों के लिए एक हजार 461 बच्चे, धमतरी जिले के 205 स्कूलों के लिए एक हजार 384 बच्चे, कवर्धा जिले के 177 स्कूलों के लिए एक हजार 305 बच्चे, बलरामपुर जिले के 150 स्कूलों के लिए एक हजार 247 बच्चे, बेमेतरा जिले के 161 स्कूलों के लिए एक हजार 99 बच्चे, बालोद जिले के 164 स्कूलों के लिए 994 बच्चे, कोण्डागांव जिले के 84 स्कूलों के लिए 647 बच्चे, बीजापुर जिले के 33 स्कूलों के लिए 192 बच्चे, दंतेवाड़ा जिले के 21 स्कूलों के लिए 129 बच्चे, सुकमा जिले के 15 स्कूलों के लिए 120 बच्चे और नारायणपुर जिले के 14 स्कूलों के लिए 83 बच्चे प्रवेश के लिए चयनित हुए हैं।

 

14-07-2020
शासकीय उत्कृष्ट अंग्रेजी माध्यम विद्यालय में प्रवेश के लिए लॉटरी 15 जुलाई को

कोरिया। शासकीय उत्कृष्ट अंग्रेजी माध्यम विद्यालय महलपारा में कक्षा 1 ली से 12वीं तक के प्रवेश के लिए आवेदन पत्र आमंत्रित किए गए थे। प्रत्येक कक्षा में 40 सीट निर्धारित हैं, जिस पर प्रवेश के लिए दिए गए नियम व शर्तों के अनुसार प्रवेश के बाद  शेष बची सीटों पर लॉटरी के माध्यम से प्रवेश दिया जाना है। इसके लिए 15 जुलाई को सुबह 11 बजे से शासकीय रामानुज उच्चतर माध्यमिक विद्यालय बैकुण्ठपुर के सभाकक्ष में लाटरी का कार्यक्रम होगा। इसमें कोविड 19 से बचाव  के निर्देशों का पालन करते हुए मास्क और सेनेटाइजर के साथ संबंधित व्यक्ति उपस्थित हो सकते हैं।

08-07-2020
प्रयास आवासीय विद्यालय में कक्षा 9 में प्रवेश के लिए 14 जुलाई को होगी चयन परीक्षा

रायपुर/कांकेर। प्रयास आवासीय विद्यालय में कक्षा 9वीं में प्रवेश के लिए 14 जुलाई मंगलवार को सुबह 10.30 बजे से दोपहर 1 बजे तक चयन परीक्षा आयोजित की जाएगी। कलेक्टर केएल चौहान ने नोवल कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव और सावधानी को दृष्टिगत रखते हुए चयन परीक्षा को संपन्न कराने के लिए केन्द्राध्यक्षों को निर्देशित किया है। उन्होंने कहा कि परीक्षार्थियों की संख्या के आधार पर आवश्यकतानुसार परीक्षा कक्ष की व्यवस्था की जाये। यदि परीक्षा केन्द्र स्थल कन्टेमेंट जोन में आता है तो वैकल्पिक व्यवस्था के तहत् शासकीय हाईस्कूल मांझापारा और महर्षि दयानंद आंग्लवैदिक उच्चतर माध्यमिक विद्यालय को परीक्षा केन्द्र बनाये गये हैं।

कलेक्टर चौहान ने केन्द्राध्यक्षों को निर्देशित करते हुए कहा कि केन्द्राध्यक्ष, पर्यवेक्षक, निरीक्षणकर्ता वपरीक्षार्थी परीक्षा केन्द्र में मास्क लगाकर ही प्रवेश करेंगे। केन्द्राध्यक्षों को निर्देशित करते हुए उन्होंने कहा कि परीक्षा कक्ष में दो परीक्षार्थियों के मध्य फिजिकल डिस्टेसिंग में 6 फीट की दूरी रखी जाये। परीक्षा केन्द्रों पर शौचालय आदि की साफ-सफाई सुनिश्चित किया जावे, परीक्षा केन्द्र के कक्षों में सेनेटाईजर की व्यवस्था किया जाये और  किसी भी परीक्षार्थी के स्वास्थ्य खराब होने पर उनकी बैठक व्यवस्था पृथक से किया जाये।

26-06-2020
आम नागरिकों अपनाएं सोशल डिस्टेसिंग, मास्क लगाकर ही कार्यालय में करें प्रवेश: कलेक्टर

राजनांदगांव। कलेक्टर टोपेश्वर वर्मा ने जिले में कोविड-19 के लगातार बढ़ते पॉजिटिव प्रकरणों को देखते हुए शासकीय कार्यालयों में सैनिटाइज किए जाने,सोशल डिस्टेसिंग का कड़ाई से पालन करने और मास्क का उपयोग करने के निर्देश दिए हैं। इस संबंध में शुक्रवार जारी आदेश में कहा गया है कि सभी कार्यालयों का नियमित सैनिटाइजेशन किया जाए। विशेषकर ऐसे स्थानों जो लगातार लोगों के हाथों के संपर्क में आते हों जैसे सीढिय़ों की रेलिंग, कुर्सी के हत्थे आदि का दिन में एक से अधिक बार सैनिटाइजेशन किए जाने की आवश्यकता है। कार्यालयों में अधिकारी-कर्मचारी सोशल डिस्टेसिंग के सिद्धांत का कड़ाई से पालन करें। सभी अधिकारी-कर्मचारी मास्क का उपयोग करना सुनिश्चित करें। साथ ही समय-समय पर हाथों को सैनिटाइज करना अथवा साबुन से धोना सुनिश्चित करेंगे। कार्यालयों में आने वाले आम नागरिकों को मास्क लगाए रहने पर ही प्रवेश की अनुमति दी जाए तथा सोशल डिस्टेसिंग का पालन करें।

15-06-2020
स्कूल में प्रवेश के लिए 28 जून से 5 जुलाई तक होगी काउंसलिंग

धमतरी। बठेना स्थित शासकीय उच्चतर माध्यमिक शाला में इस शिक्षा का सत्र से इंग्लिश मीडियम स्कूल भी संचालित होगा। कलेक्टर जय प्रकाश मौर्य ने इस स्कूल में विद्यार्थियों की 5 जुलाई तक काउंसलिंग कर भर्ती प्रक्रिया पूरी करने कहा है। कलेक्टर सोमवार सुबह 11 बजे इस स्कूल में अधोसरंचना सहित अन्य सुविधाओं, आवश्यकताओं का जायजा लेने अधिकारियों के साथ पहुंचे थे। उन्होंने कक्षा 5 तक उन बच्चों को इंग्लिश मीडियम स्कूल में प्रवेश देने के लिए प्राथमिकता देने कहा जो पहले से वहां अध्ययनरत हैं। इसी तरह 6-12 तक भाषा बदलने से होने वाली दिक्कतों को देखते हुए उन बच्चों को प्राथमिकता दी जाएगी जो पहले से इंग्लिश मीडियम में पढ़ रहे हों। जिला शिक्षा अधिकारी द्वारा मौके पर बताया गया कि प्रवेश के लिए आवेदन लिए जा रहे हैं। अधिक से अधिक लोगों को स्कूल में प्रवेश शुरू होने सम्बन्धी जानकारी देने निगम आयुक्त आशीष टिकरिहा को माइक से अनाउंस कराने कलेक्टर ने मौके पर निर्देश दिए ।

इसके अलावा कलेक्टर ने 25 जून तक आवेदन लेने के बाद यहां 28 जून से 5 जुलाई तक बच्चों और अभिभावकों की काउंसलिंग करने कहा ताकि उन्हें आगे कोई दिक्कत ना हो। साफ तौर पर कलेक्टर ने निर्देश दिए हैं कि इस स्कूल में पढ़ने वाले बच्चों को भाषा सम्बन्धी परेशानी ना हो इसके लिए रोज एक घंटे की कक्षाएं लगाई जाएं। कक्षा लगाने के लिए स्थल चयन करने जिला शिक्षा अधिकारी को कहा गया है, जहां क्षमता विकास के साथ, इंग्लिश में ग्रामर, स्पोकन इंग्लिश, सहित अन्य बातों को बारीकी से छात्रों को एक्सपर्ट्स द्वारा समझाया जाए। ज्ञात हो कि यहां हिंदी मीडियम में स्कूल संचालित होता रहा है।

अब  पहली से 12 कक्षा तक इंग्लिश मीडियम की स्कूल दूसरी पाली में सुबह 11.50 से 5 बजे तक लगाई जाएंगी। पहली पाली 7.30 से 11.30 तक हिंदी मीडियम में लगेंगी। आज मौके पर स्कूल परिसर का मुआयना कर कलेक्टर ने सभी कक्षों में पर्याप्त रौशनी, ब्लैक बोर्ड की स्थिति ठीक करने पर जोर दिया। हर कक्षा में आवश्यक फर्नीचर, पूरे कक्षाओं में कोटा स्टोन लगाने भी कहा। प्राइमरी स्कूल के लिए एक कक्ष बनाने के साथ ही, फिजिक्स, केमिस्ट्री, बायोलॉजी लैब भी बनाना है। इसके अलावा विद्यार्थियों के लिए पर्याप्त शौचालय बनाए जाएंगे। कलेक्टर ने लोक निर्माण विभाग को उक्त सभी अधोसंचनात्मक कार्य जल्द से जल्द पूरा करने के निर्देश मौके पर दिए। अधोसंरचना के अलावा इंग्लिश मीडियम स्कूल में शिक्षकों की नियुक्ति प्रक्रिया को भी जल्द पूरा करने जिला शिक्षा अधिकारी को निर्देशित किया गया। इस मौके पर सीईओ जिला पंचायत नम्रता गांधी, एस डी एम धमतरी  सहित अन्य अधिकारी मौजूद रहे।

30-05-2020
प्रवासी मजदूरों के बच्चों को मिलेगा स्कूलों में मिलेगा प्रवेश, पढ़े खबर..

रायपुर। छत्तीसगढ़ में कोविड-19 के संक्रमण के कारण प्रवासी मजदूरों को क्वारेंटाइन सेंटर में रखा गया है। इनके साथ केन्द्रों में उनके बच्चे भी रह रहे हैं। राज्य सरकार ने इन प्रवासी मजदूरों के बच्चों की नियमित शिक्षा की व्यवस्था के लिए उन्हें स्कूलों में प्रवेश दिलाने का निर्णय लिया है। स्कूल शिक्षा विभाग के प्रमुख सचिव डॉ.आलोक शुक्ला ने इस संबंध में कार्यवाही के लिए जिला कलेक्टरों को निर्देशित किया है।प्रमुख सचिव स्कूल शिक्षा ने जिला कलेक्टरों से कहा है कि प्रवासी मजदूरों के बच्चों के नियमित शिक्षा के लिए उनकी जानकारी निर्धारित प्रपत्र में एकत्रित किया जाना आवश्यक है। इस प्रपत्र में बच्चे का नाम, आयु, जन्मतिथि, लिंग, पिता का नाम, माता का नाम, कहां से छत्तीसगढ़ वापस आए हैं, निवास  स्थान का पूरा पता। ग्रामीण क्षेत्र के लिए - गांव, पंचायत, विकासखण्ड,जिला तथा शहरी क्षेत्र के लिए मकान नंबर, मोहल्ला, वार्ड, शहर, जिला, बच्चा कितने वर्ष का और किस कक्षा में पढ़ता है, इस वर्ष किस कक्षा में प्रवेश लेना है, माता-पिता छत्तीसगढ़ में रहेंगे अथवा काम के लिए बाहर जाएंगे, बच्चा छत्तीसगढ़ में रहेगा अथवा माता-पिता के साथ बाहर जाएगा कि जानकारी एकत्र की जाए। जिला कलेक्टरों से कहा गया है कि क्वारेंटाइन सेंटर छोड़ने के पूर्व प्रत्येक क्वारेंटाइन सेंटर में प्रपत्र अनुसार जानकारी एकत्र करा ली जाए। स्कूल शिक्षा विभाग द्वारा शीघ्र ही इस जानकारी की ऑनलाइन एन्ट्री के लिए साफ्टवेयर उपलब्ध कराया जाएगा। तब तक यह जानकारी प्रत्येक क्वारेंटाइन सेंटर में एक पंजी में तैयार कराएं। जिला कलेक्टरों से कहा गया है कि यह सुनिश्चित करें कि सभी की जानकारी तैयार हो जाए। इससे कोई भी बच्चा स्कूल में प्रवेश से वंचित न रह जाए। इस संबंध में जिला शिक्षा अधिकारियों को भी आवश्यक कार्यवाही करने के निर्देश दिए गए हैं।

 

Advertise, Call Now - +91 76111 07804