GLIBS
30-06-2020
पत्नी, प्रेमी और दोस्त ने की थी पति की हत्या, अनुकंपा नौकरी और पैसों के लालच में बनाया था प्लान, अब सलाखों के पीेछे

रायपुर/सूरजपुर। जिले के भटगांव थाना क्षेत्र में सेवानिवृत्ति से तीन दिन पहले एसईसीएल कर्मी की हत्या के मामले का पुलिस ने रहस्य का खुलासा कर दिया है। कॉलरीकर्मी की हत्या उससे 20 साल छोटी तीसरी पत्नी ने प्रेमी व उसके दोस्त से करा दी थी। हत्या का कारण मृत्यु उपरांत मिले रुपयों व अनुकंपा नौकरी से दोनों आगे की जिंदगी पत्नी व उसके प्रेमी ने साजिश की थी। पुलिस ने आरोपी पत्नी और उसके प्रेमी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। वहीं प्रेमी का दोस्त फरार बताया जा रहा है। बता दें कि सूरजपुर के भटगांव थाना क्षेत्र अंतर्गत ग्राम बंशीपुर निवासी बाबूलाल शिवानी खदान में पंप ऑपरेटर के पद पर पदस्थ था। वह अपनी तीसरी पत्नी सागरमती 40 वर्ष व 2 बेटों के साथ रहता था।

उसकी तीसरी पत्नी उससे 20 साल छोटी थी। उसने घर के सामने वाले हिस्से में ढाबा भी खोल रखा था जिसे बच्चों के सहयोग से पत्नी चलाती थी। बाबूलाल 31 मार्च को सेवानिवृत्त होने वाला था। इसी बीच 28 मार्च की सुबह घर से कुछ दूर नहर के पास उसकी संदिग्ध अवस्था में लाश मिली थी। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में हत्या की पुष्टि होने के बाद पुलिस ने मामले की जांच शुरू की। एसपी राजेश कुकरेजा के नेतृत्व में पुलिस जांच में पता चला कि पत्नी के प्रेमी मणिरंजन मिश्रा उर्फ पिंटू मिश्रा ने दोस्त सीताराम यादव के साथ मिलकर बाबूलाल की गमछे से गला व मुंह दबाकर हत्या की थी और शव को नहर के पास फेेंक दिया था। इस मामले में पुलिस ने पत्नी सागरमती व प्रेमी मणिरंजन उर्फ पिंटू मिश्रा को गिरफ्तार कर धारा 302, 201, 120बी व 34 के तहत जेल भेज दिया।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804