GLIBS
16-06-2020
छत्तीसगढ़ को सम्हालने की जिम्मेदारी निभाने में कांग्रेस की प्रदेश सरकार विफल रही : डॉ. रमन सिंह

रायपुर। पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने लॉकडाउन में फँसे प्रदेश के प्रवासी श्रमिकों की चिंता नहीं करने पर प्रदेश सरकार की आलोचना की है। डॉ. रमन सिंह ने कहा कि केंद्र सरकार ने 4500 ट्रेनों से देशभर में फँसे लगभग 56 लाख और बसों से 45 लाख प्रवासी श्रमिकों को उनके घरों तक पहुँचाने का काम किया लेकिन प्रदेश सरकार ने अपने ही प्रदेश के प्रवासी मजदूरों की वापसी की चिंता तक नहीं की। उनके ट्रेन भाड़े को लेकर केंद्र से उलझने में लगी रही। डॉ. सिंह जिला जनसंवाद कार्यक्रम के तहत रायगढ़ की वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग सभा को संबोधित कर रहे थे।  डॉ. रमन सिंह ने कहा कि छत्तीसगढ़ को सम्हालने की जिम्मेदारी निभाने में कांग्रेस की प्रदेश सरकार विफल रही। वह प्रदेश के लोगों की वेदना को महसूस नहीं करती। देश के दीगर राज्यों ने अपने प्रवासी श्रमिकों के खातों में आर्थिक सहायता के रूप में पर्याप्त राशि जमा कराई लेकिन छत्तीसगढ़ की कांग्रेस सरकार ने अपने ढाई लाख प्रवासी श्रमिकों के खाते में ढाई रुपए तक जमा नहीं कराए। प्रदेश के किसानों के साथ छल-कपट किया, शराबबंदी के वादे से मुकर रही है। शराब के धंधे में करोड़ों की हेराफेरी हो रही है। शराब की तस्करी में पुलिस के लोग पकड़े जा रहे हैं। कोरोना के मोर्चे पर प्रदेश सरकार को विफल बताते हुए डॉ. सिंह ने कहा कि टेस्टिंग सुविधा नहीं बढ़ाए जाने के कारण जाँच रिपोर्ट का काम पेंडिंग पड़ा है और क्वारेंटाइन सेंटर्स यातना गृह बनकर रह गए हैं। केंद्र की राशि से संचालित मनरेगा को छोड़कर प्रदेश में कहीं कोई काम यह सरकार नहीं कर रही है। डॉ. सिंह ने भाजपा कार्यकर्ताओं से मोदी सरकार की सारी उपलब्धियों और प्रदेश की कांग्रेस सरकार की नाकामियों को प्रदेश के हर घर तक पहुँचाने की अपील की।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804