GLIBS
18-08-2020
मंत्री भगत ने मैनपाट में किया पौधरोपण,जरूरतमंदों को 4 लाख 55 हजार रूपए स्वेच्छानुदान राशि का चेक दिया

रायपुर। छत्तीसगढ़ के खाद्य एवं संस्कृति मंत्री अमरजीत भगत ने मंगलवार को मैनपाट विकासखण्ड के विभिन्न ग्रामों में पौधरोपण किया। उन्होंने ललैया चाय बगान में चाय के पौधे का रोपण किया। इसके साथ ही वन विभाग के विश्राम गृह में मैनपाट विकासखण्ड के 45 हितग्राहियों को 4 लाख 55 हजार रूपए स्वेच्छानुदान राशि का चेक वितरित किया। भगत ने गांववासियों की मांग पर सुगम सड़क योजना के तहत जनपद पंचायत मैनपाट में अमगांव से ढोंढागांव के आंगनबाड़ी तक तथा पंचायत भवन से ठुढ़ीपानी तक पक्की सड़क बनाने के निर्देश संबंधित अधिकारियों को दिए। मंत्री भगत ने ग्राम पंचायत अमगांव में पौधरोपण किया। ग्राम पंचायत बिसरपानी के नागाडांड़ में भूमिपूजन के साथ पौधरोपण की शुरुवात की। ग्राम पंचायत कमलेश्वरपुर के आश्रित ग्राम मुड़ापार में फलदार पौधों का रोपण किया। इस दौरान मंत्री भगत ने पेड़ों की सुरक्षा के लिए फेंसिंग तथा आवश्यकतानुसार ट्री गार्ड की व्यवस्था करने के निर्देश अधिकारियों को दिए। उन्होंने सड़क के किनारे पर्यटकों के बैठने के लिए छायादार वृक्ष तथा सड़क के दोनों तरफ सिमेंटेड कुर्सी लगाने के निर्देश दिए। साथ ही वन महोत्सव में पौधरोपण की स्मारिका बनाने कहा। ग्राम पंचायत ललैया में चाय बागान के निरीक्षण किया। चाय बागान की तारीफ करते हुए उन्होंने कहा कि आने वाले समय मे यह लोगों की आर्थिक सहायता में मददगार साबित होगा। मंत्री भगत ने कुनिया गोठान में मशरूम तथा बटेर पालन का निरीक्षण किया। इसके बाद वे माटीघाट रोपणी का भी निरीक्षण किया और अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिए। वन विभाग के अधिकारियों ने बताया कि आज करीब 2000 पौधों का रोपण किया गया।

 

11-08-2020
Video: गुरुप्रीत सिंह बाबरा ने कहा,जरूरतमंदों तक खाद्य सेवाएं बेहतर रूप से पहुंचे इस पर मेरी नजर रहेगी

अंबिकापुर। राज्य खाद्य आयोग का अध्यक्ष बनने के बाद गुरुप्रीत सिंह बाबरा पहली बार सरगुजा पहुंचे। इस दौरान उन्होंने कहा कि मुझे छत्तीसगढ़ सरकार ने एक बड़ी जिम्मेदारी सौंपी है और उसका में ईमानदारी से निर्वहन करुंगा। उन्होंने कहा कि जरूरतमंदों तक खाद्य सेवाएं बेहतर रूप से पहुंचे इस पर भी मेरी नजर होगी। कोरोना काल में इस विभाग की सबसे बड़ी जिम्मेदारी रही है। इसको देखते हुए इस पर और ध्यान दिया जा रहा है। साथ ही कहा कि इस खाद्द आयोग के पास राशन दुकान या खाद्य विभाग की कोई भी शिकायत आती है तो उसे तत्काल संज्ञान में लिया जाएगा और कार्यवाही भी की जाएगी। खाद्य विभाग की अनियमिता को लेकर मीडिया में  खबर आयगी तो उस पर भी संज्ञान लेकर कार्यवाह की जाएगी।

06-08-2020
प्रदेशभर में आज 12 हजार 802 जरूरतमंदों को मिला नि:शुल्क भोजन

रायपुर। छत्तीसगढ़ के सभी जिलों में गरीबों और निराश्रित लोगों को नि:शुल्क भोजन व खाद्यान्न पैकेट उपलब्ध कराए जाने का सिलसिला जारी है। कोरोना संक्रमण के समय सहायता के तौर पर आज 12 हजार 802 जरूरतमंद लोगों को मास्क, सेनिटाइजर एवं दैनिक जरूरत का सामान जिला प्रशासन, स्वयंसेवी संस्थाओं के सहयोग से मुहैया कराया गया। जिलों से प्राप्त रिपोर्ट के अनुसार स्वयंसेवी संस्थाओं की मदद से मास्क एवं सेनिटाइजर, साबुन आदि का वितरण भी जरूरतमंदों को किया गया है। उल्लेखनीय है कि जिलों में प्रशासन की ओर से समाजसेवी संस्थाओं के सहयोग से छत्तीसगढ़ राज्य में अब तक 1 करोड़ 14 लाख 32 हजार 50 लोगों को नि:शुल्क भोजन और खाद्यान्न पैकेट उपलब्ध कराया गया है। स्वयंसेवी संस्थाओं के सहयोग से कोरोना संक्रमण के बचाव के लिए अब तक 50 लाख 24 हजार 274 मास्क सेनिटाइजर एवं अन्य सामग्री का नि:शुल्क वितरण किया गया है।

 

 

04-08-2020
छत्तीसगढ़ में आज 10 हजार 54 जरूरतमंदों को मिला नि:शुल्क भोजन और खाद्यान्न पैकेट

रायपुर। राज्य के सभी जिलों में गरीबों एवं निराश्रित लोगों को नि:शुल्क भोजन और खाद्यान्न पैकेट उपलब्ध कराए जाने का सिलसिला जारी है। कोरोना संक्रमण के समय सहायता के तौर पर मंगलवार को 10 हजार 54 जरूरतमंद लोगों को मास्क, सेनेटाइजर और दैनिक जरूरत का सामान जिला प्रशासन तथा स्वयंसेवी संस्थाओं की सहयोग से मुहैया कराया गया। जिलों से प्राप्त रिपोर्ट के अनुसार स्वयंसेवी संस्थाओं की मदद से 805 मास्क एवं सेनेटाइजर, साबुन आदि का वितरण भी जरूरतमंदों को किया गया है। उल्लेखनीय है कि जिलों में प्रशासन की ओर से समाजसेवी संस्थाओं के सहयोग से छत्तीसगढ़ राज्य में अब तक 1 करोड़ 14 लाख 18 हजार 651 लोगों को नि:शुल्क भोजन एवं खाद्यान्न पैकेट उपलब्ध कराया गया है। स्वयंसेवी संस्थाओं के सहयोग से कोरोना संक्रमण के बचाव के लिए अब तक 50 लाख 24 हजार 654 मास्क सेनेटाइजर एवं अन्य सामग्री का नि:शुल्क वितरण किया गया है।

 

04-08-2020
अय्युब खान बने लायंस क्लब 3233सी के डिस्ट्रिक्ट चेयरपर्सन

दुर्ग। लायंस क्लब छत्तीसगढ़ और मध्य प्रदेश कि ईकाई डिस्ट्रिक्ट 3233 सी के गवर्नर लायंस जयप्रकाश अग्रवाल ने अपने  सत्र 2020-2021 की कार्यकारणी का विस्तार किया है। इसमें दुर्ग जिले के लायंस क्लब के सदस्य अय्युब खान की समाजिक सेवा और सक्रियता से कोरोना काल में कार्य करते हुये देख कर डिस्ट्रिक्ट 3233 सी महत्वपूर्ण जिम्मेदारी देते हुए लायंस क्लब का डिस्ट्रिक्ट चेयरपर्सन नियुक्त किया गया है। लायन अय्युब खान ने कहा कि लायंस क्लब की शाखा या इकाई दुनिया के हर देश और उनके शहरों में है। और लगातार समाज की सेवा, गरीबों और जरूरतमंद लोगों को मदद करते हैं। इसमें छत्तीसगढ़ और मध्य प्रदेश के लग भग 98 क्लब हैं।

03-08-2020
प्रदेश में जरूरतमंदों को मिल रहा नि:शुल्क भोजन और खाद्यान्न पैकेट


रायपुर। छत्तीसगढ़ के सभी जिलों में गरीबों एवं निराश्रित लोगों को नि:शुल्क भोजन व खाद्यान्न पैकेट उपलब्ध कराए जाने का सिलसिला जारी है। कोरोना संक्रमण के समय सहायता के तौर पर 9 हजार 89 जरूरतमंद लोगों को मास्क, सैनिटाइजर एवं दैनिक जरूरत का सामान जिला प्रशासन और स्वयंसेवी संस्थाओं की सहयोग से मुहैया कराया गया। जिलों से प्राप्त रिपोर्ट के अनुसार स्वयंसेवी संस्थाओं की मदद से 669 मास्क और सैनिटाइजर, साबुन आदि का वितरण भी जरूरतमंदों को किया गया है।

यह उल्लेखनीय है कि जिलों में प्रशासन द्वारा समाजसेवी संस्थाओं के सहयोग से छत्तीसगढ़ राज्य में अब तक 1 करोड़ 14 लाख 17 हजार 822 लोगों को नि:शुल्क भोजन और खाद्यान्न पैकेट उपलब्ध कराया गया है। स्वयंसेवी संस्थाओं के सहयोग से कोरोना संक्रमण के बचाव के लिए अब तक 50 लाख 24 हजार 518 मास्क सैनिटाइजर एवं अन्य सामग्री का नि:शुल्क वितरण किया गया है।

30-07-2020
राज्य में 10 हजार 917 जरूरतमंदों को मिला निशुल्क भोजन और खाद्यान्न पैकेट

रायपुर। छत्तीसगढ़ के सभी जिलों में गरीबों और निराश्रित लोगों को निशुल्क भोजन व खाद्यान्न पैकेट उपलब्ध कराए जाने का सिलसिला जारी है। कोरोना संक्रमण के चलते जरूरतमंदों 30 जुलाई को 10 हजार 917 कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए मास्क, सैनिटाइजर और दैनिक जरूरत का सामान भी जिला प्रशासन और स्वयंसेवी संस्थाओं की सहयोग से जरूरतमंदों को लगातार मुहैया कराया जा रहा हैं। जिलों से प्राप्त रिपोर्ट के अनुसार 30 जुलाई को स्वयंसेवी संस्थाओं की मदद से 681 मास्क एवं सेनेटाईजर, साबुन आदि का वितरण जरूरतमंदों को किया गया है। जिलों में प्रशासन की ओर से समाजसेवी संस्थाओं के सहयोग से छत्तीसगढ़ राज्य में अब तक एक करोड़ 13 लाख 89 हजार 711 लोगों को निशुल्क भोजन और खाद्यान्न पैकेट उपलब्ध कराया गया है। स्वयंसेवी संस्थाओं के सहयोग से कोरोना संक्रमण के बचाव के लिए अब तक 50 लाख 22 हजार 474 मास्क सैनिटाइजर और अन्य सामग्री का निशुल्क वितरण किया गया है।

 

25-07-2020
छत्तीसगढ़ में आज 16 हजार 122 जरूरतमंदों को मिला निशुल्क भोजन और खाद्यान्न पैकेट

रायपुर। राज्य के सभी जिलों में गरीबों और निराश्रित लोगों को निशुल्क भोजन व खाद्यान्न पैकेट उपलब्ध कराए जाने का सिलसिला जारी है। कोरोना संक्रमण के चलते जरूरतमंदों 25 जुलाई को 16 हजार 122 जरूरतमंदों और निराश्रितों को निशुल्क भोजन और खाद्यान्न पैकेट उपलब्ध कराया गया। कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए मास्क,सैनिटाइजर और दैनिक जरूरत का सामान भी जिला प्रशासन और स्वयंसेवी संस्थाओं की सहयोग से जरूरतमंदों को लगातार मुहैया कराया जा रहा हैं। जिलों से प्राप्त रिपोर्ट के अनुसार 25 जुलाई को स्वयंसेवी संस्थाओं की मदद से 892 मास्क एवं सैनिटाइजर, साबुन आदि का वितरण जरूरतमंदों को किया गया है। उल्लेखनीय है कि जिलों में प्रशासन की ओर से समाजसेवी संस्थाओं के सहयोग से छत्तीसगढ़ राज्य में अब तक एक करोड़ 13 लाख 31 हजार 750 लोगों को निशुल्क भोजन और खाद्यान्न पैकेट उपलब्ध कराया गया है। स्वयंसेवी संस्थाओं के सहयोग से कोरोना संक्रमण के बचाव के लिए अब तक 50 लाख 18 हजार 505 मास्क सैनिटाइजर एवं अन्य सामग्री का निशुल्क वितरण किया गया है।

16-07-2020
वैश्विक महामारी कोरोना संक्रमण काल में जरूरतमंदों को मिल रही सहायता, अब तक 423 की समस्याओं का निराकरण

रायपुर/नारायणपुर। वैश्विक महा​मारी कोरोना वायरस (कोविड-19) को राष्ट्रीय आपदा घोषित किए जाने के बाद सीएम भूपेश बघेल ने प्रदेश के साथ-साथ सभी जिलों में नियंत्रण कक्ष स्थापित किया है, जिससे एक ओर संक्रमण को फैलने से रोका जा सके। वहीं प्रवासी मजदूर, छात्र, किसान और छत्तीसगढ़ सहित दूसरे राज्यों में रह रहे जरूरतमंद रहवासियों की मदद की जा रही है। जिला प्रशासन द्वारा जिला मुख्यालय पर जिला स्तरीय कोरोना नियंत्रण कक्ष स्थापित किया गया। कलेक्टर अभिजीत सिंह ने इस नियंत्रण कक्ष के सुचारू संचालन हेतु प्रभारी अधिकारी एवं अन्य अधिकारी-कर्मचारियों की नामजद ड्यूटी लगाई है। यह नियंत्रण कक्ष 24 घण्टे तीन पालियों में कार्य कर रहा है।

गौरतलब है कि प्रदेश स्तरीय नियंत्रण कक्ष के सम्पर्क नम्बर 104 पर आने वाले शिकायतों पर त्वरित कार्यवाही की जा रही है। इसके अलावा जिला स्तरीय कन्ट्रोल रूम के दूरभाष क्रमांक 07781-252214 पर प्रवासी मजदूरों द्वारा अपनी जानकारी दी जा रही है। इन नम्बरों पर दी जा रही जानकारी पर त्वरित कार्यवाही कर प्रवासी एवं स्थानीय लोगों की समस्याओं का निराकरण किया जा रहा है। जिले के अन्य राज्यों के विभिन्न जिलों में रह रहे श्रमिकों के भोजन, चिकित्सा, क्वारंटाइन सेंटर की व्यवस्था एवं अन्य सुविधाओं के लिए निरंतर संबंधित राज्य एवं जिलों के अधिकारियों से विभिन्न संचार माध्यमों से सम्पर्क कर उनकी सहायता भी की जा रही है और उन्हें अपने जिले में सुरक्षित लाने में भी भूमिका निभा रही हैै।

कोरोना महामारी के संकट से निपटने के साथ ही जरूरतमंदों को राहत पहुँचाने के लिए सीएम भूपेश बघेल के नेतृत्व में छत्तीसगढ़ सरकार ने जो मुस्तैदी दिखाई है। उसने लोगों में कोरोना के विरूद्ध युद्ध में लड़ने की न केवल क्षमता विकसित की है बल्कि उनके हौसले भी बुलंद हुए हैं। जिला स्तरीय कोरोना नियंत्रण कक्ष में अब तक 423 लोगों ने फोन कर अपनी समस्या से अवगत कराया। इसका निराकरण नियंत्रण कक्ष के माध्यम से किया गया है और यह प्रक्रिया निरंतर जारी है। जिला प्रशासन इस बात का विषेष ध्यान रख रहा है कि उन्हें किसी तरह की कठिनाई अथवा घर वापसी आने में कठिनाई का सामना न करना पड़े। जिला प्रशासन अपेक्षा करता है कि किसी भी प्रकार की समस्या आने पर जिला कोरोना कन्ट्रोल रूम में दूरभाष के माध्यम से सम्पर्क कर जानकारी दें। इससे श्रमिकों को हरसंभव सहयोग दिया जा सके। इस नियंत्रण कक्ष में काम करने वाले अधिकारी कर्मचारी द्वारा पूरी ईमानदारी और संवेदनशीलता के साथ अपने दायित्वों का निर्वहन किया जा रहा है।

15-07-2020
राज्य में आज 25 हजार से अधिक जरूरतमंदों को मिला निःशुल्क भोजन व खाद्यान्न पैकेट  

रायपुर। कोरोना संक्रमण और लॉकडाउन की वजह से उत्पन्न परिस्थिति को देखते हुए छत्तीसगढ़ राज्य में गरीबों, श्रमिकों और निराश्रित लोगों को निःशुल्क भोजन व खाद्यान्न पैकेट उपलब्ध कराए जाने का सिलसिला जारी है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की मंशानुरूप जरूरतमंदों की मदद के लिए जिलों में संचालित क्वारेंटाइन सेन्टर एवं राहत शिविरों में 15 जुलाई को 25 हजार 286 जरूरतमंदों, श्रमिकों और निराश्रितों को निःशुल्क भोजन एवं खाद्यान्न पैकेट उपलब्ध कराया गया। जिला प्रशासन एवं स्वयंसेवी संस्थाओं द्वारा कोरोना संक्रमण के फैलाव को रोकने के लिए जरूरतमंद लोगों को मॉस्क, सैनिटाइजर एवं अन्य उपयोगी सामग्री का वितरण भी किया जा रहा है। प्रशासन एवं स्वयंसेवी संस्थाओं की मदद से आज 15 जुलाई को 1344 मास्क, सैनिटाइजर और साबुन आदि का वितरण किया गया। उल्लेखनीय है कि लॉकडाउन शुरू होने से लेकर अब तक जिलों में प्रशासन द्वारा समाजसेवी संस्थाओं के सहयोग से संचालित राहत शिविरों के माध्यम से छत्तीसगढ़ राज्य में एक करोड़ 11 लाख 48 हजार 383 लोगों को निःशुल्क भोजन एवं खाद्यान्न पैकेट उपलब्ध कराया गया है। स्वयंसेवी संस्थाओं के सहयोग से कोरोना संक्रमण के बचाव के लिए अब तक 50 लाख 6 हजार 820 मास्क सैनिटाइजर और अन्य सामग्री का निःशुल्क वितरण जन सामान्य को किया गया है।

 

Advertise, Call Now - +91 76111 07804