GLIBS
09-07-2019
बीजेपी नेता ने नवजोत सिंह सिद्धू को बताया 'सरकारी खजाने पर बोझ'

नई दिल्ली। पंजाब में नवजोत सिंह सिद्धू एक बार फिर अपनी ही सरकार के लिए किरकिरी का कारण बन सकते हैं। दरअसल उनके खिलाफ बीजेपी नेता तरूण चुग ने राज्यपाल को चिट्ठी लिखकर शिकायक की है उन्होंने मंत्री पद की शपथ तो ले ली है लेकिन उन्होंने अभी तक कार्यभार नहीं संभाला है फिर भी वह मंत्री के रूप में मिलने वाली सैलरी और भत्तों का पूरा मजा ले रहे हैं। चिट्ठी में लिखा गया है कि सिद्धू और सीएम के बीच विवाद ने संवैधानिक संकट पैदा कर दिया है। तरुण चुग ने आगे कहा कि उन्होंने राज्यपाल से अपील की है कि अगर पंजाब के हित में कोई फैसला करें, अगर मंत्री काम नहीं करना चाहते हैं तो कोई और उनकी जगह पर विभाग देखे। इसके साथ ही अगर वह बिना काम के सैलरी उठा रहे हैं तो उनके खिलाफ कार्रवाई होनी चाहिए। आपको बता दें कि नवजोत सिंह सिद्धू इस समय मंत्रालय बदले जाने से काफी नाराज हैं। बीते छह जून को मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने सिद्धू से शहरी निकाय के साथ पर्यटन एवं सांस्कृतिक मामले विभाग वापस ले लिए थे और उन्हें ऊर्जा एवं नवीकरणीय ऊर्जा विभाग का प्रभार सौंपा था।

 

20-05-2019
पश्चिम बंगाल के भाटापारा में धारा 144 लागू

 

कोलकाता। चुनाव बाद किसी भी तरह की हिंसक घटना से बचने के लिए पश्चिम बंगाल के भाटापारा में धारा-144 लगा दी गई है। बता दें कि लोकसभा चुनावों के साथ ही भाटापारा में विधानसभा के लिए उपचुनाव हुए थे। इस दौरान तृणमूल कांग्रेस के उम्मीदवार मदन मित्रा का एक वीडियो वायरल हो रहा था जिसमें वे केंद्रीय बल के एक जवान से बहस करते हुए दिखाई दे रहे थे। इस सीट पर उनका मुकाबला बीजेपी के नेता पवन सिंह से था। रविवार को हुए चुनाव के एक दिन पहले यहां काफी हिंसा हुई थी। बता दें कि पूरे लोकसभा चुनाव के दौरान पूरे बंगाल में लगातार हिंसा की खबरें आती रही थीं। सातवें चरण में चुनाव वाले दिन जादवपुर से बीजेपी नेता अनुपम हाजरा और डायमंड हार्बर सीट पर  निलंजन रॉय की कार पर हमले हुए थे। इसके अलावा कई जगहों पर बूथों पर बम फेंकने और हिंसा की भी खबरें आईं थीं।

30-10-2018
Naxalites : खाना खाते वक्त अचानक हुआ नक्सलियों का हमला

रायपुर। दंतेवाड़ा के बीजेपी नेता और जिला पंचायत सदस्य नंदलाल मुडामी पर रविवार रात को नक्सलियों ने उस वक्त जानलेवा हमला किया था जब नंदलाल का परिवार खाना खाने बैठा था। यह जानकारी नंदलाल मुडामी की पत्नी मालती मुंडामी ने दी है। उन्होंने कहा कि रात को वह और उनके पति खाना खा रहे थे तभी अचानक नक्सली घर में घुस आए और पूरा कमरा कब्जे में ले लिया। नक्सलियों ने घुसते ही नंदलाल को लात-घुसों से मारना शुरू कर दिया। मालती ने आगे कहा कि उनके विरोध करने पर नक्सलियों ने उनके बाल पकड़कर गला दबा दिया। वह सिर्फ मत मारो-मत मारो चिल्लाने के सिवाए कुछ न कर सकी। नक्सलियों के जाते ही वह और उनके देवर ने नंदलाल को लहूलुहान हालत में लेकर दंतेवाड़ा अस्पताल पहुंचे। नंदलाल के साथ आए परिजन सुमित भदौरिया ने बताया कि दंतेवाड़ा से प्राथमिक इलाज के बाद एयर लिफ्ट के माध्यम से नंदलाल को रायपुर लाया गया है। कुछ दिनों तक अस्पताल में रखकर उन्हें छुट्टी दे दी जाएगी।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804