GLIBS
16-08-2020
Video: गलवान घाटी में शहीद गणेशराम कुंजाम के परिजनों का सम्मान

रायपुर। दुर्गा प्रसाद प्रेमा मिश्रा स्मृति सेवा संस्थान की ओर से गलवान घाटी में चीनी सैनिकों के साथ हुई झड़प में शहीद हुए बस्तर के गणेशराम कुंजाम के परिजनों को स्मृति चिन्ह सम्मान प्रदत्त किया। संस्था के अध्यक्ष सृजन मिश्रा ने बताया कि इसके पहले भी संस्था की ओर से महिलाओं को कोरोना वारीयर के रूप में सम्मानित किया गया है। उन्होंने कहा कि हमें गर्व है कि हमारे देश में ऐसे माता-पिता और ऐसे जाँबाज बेटे हैं जिनकी वजह से आज हम भारतवासी सुरक्षित महसूस करते हैं।

देश के सैनिकों पर गर्व है जो हंसते-हंसते बिना किसी बात की परवाह किए अपने देश के लिए शहीद हो जाते हैं। जिस प्रकार चीन की ओर से यहां घृणित कार्य किया गया है,जिसमें हमारे कई सैनिक घायल और शहीद हुए थे। उन्होंने भारत की मिट्टी और भारत के लोगों के लिए सुरक्षा के लिए अपनी जान दी। संस्था सभी को ससम्मान नमन करती है।

 

06-07-2020
दोनों देशों को एक दूसरे के लिए खतरा नहीं बनना चाहिए : चीनी विदेश मंत्रालय

नई दिल्ली। लद्दाख में भारत-चीन सीमा पर चल रहे विवाद के बीच चीनी सेना गलवान घाटी, गोगरा और हॉट स्प्रिंग इलाके में पीछे हटी है। इस मामले में चीनी विदेश मंत्रालय ने बयान जारी कर कहा है कि दोनों देशों को एक दूसरे के लिए खतरा नहीं बनना चाहिए। अभी जो हालात हैं, उसमें दोनों देशों को साथ मिलकर हल निकालना चाहिए। चीनी विदेश मंत्रालय ने कहा है कि,  दोनों देशों को साथ मिलकर इस संकट को दूर करने के लिए काम करना चाहिए। चीन की तरफ से जारी बयान में कहा गया है कि दोनों पक्ष से दोनों देशों के नेताओं द्वारा पहुंची गई महत्वपूर्ण सहमति का पालन करने के लिए सहमत हैं और मानते हैं कि सीमा क्षेत्र में शांति और शांति कायम रखना द्विपक्षीय संबंधों के दीर्घकालिक विकास के लिए महत्वपूर्ण है। चीन ने कहा है कि सीमा विवादों में मतभेद बढ़ने से बचने के लिए द्विपक्षीय संबंधों में उचित स्थिति में रखा जाना चाहिए।

06-07-2020
गलवान घाटी में 2 किमी पीछे हटे चीनी सैनिक

नई दिल्ली। भारत चीन सीमा पर एक सप्ताह से चल रहे तनाव के बीच बड़ी खबर सामने आई है। एक रिपोर्ट के अनुसार चीनी सेना गलवान घाटी से 2 किलोमीटर पीछे हट गई है। पूर्वी लद्दाख के एक वरिष्ठ अधिकारी ने इसकी जानकारी दी है। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक 15 जून की घटना के बाद चाइनीज पीपल्स लिब्रेशन आर्मी (पीएलए) के सैनिक उस स्थान से इधर आ गए थे,जो भारत के मुताबिक एलएसी है। भारत ने भी अपनी मौजूदगी को उसी अनुपात में बढ़ाते हुए बंकर और अस्थायी ढांचे तैयार कर लिए थे। दोनों सेनाएं आंखों में आंखें डाले खड़ी थीं।कमांडर स्तर की बातचीत में 30 जून को बनी सहमति के मुताबिक चीनी सैनिक पीछे हटे या नहीं,  इसको लेकर रविवार को एक सर्वे किया गया। अधिकारी ने बताया, चीनी सैनिक हिंसक झड़प वाले स्थान से दो किमी पीछे हट गए हैं। अस्थायी ढांचे दोनों पक्ष हटा रहे हैं। उन्होंने बताया कि बदलवा को जांचने के लिए फिजिकल वेरीफिकेशन भी किया गया है।

वहीं एक रिपोर्ट के मुताबिक जिस गलवान घाटी पर अपना दावा जताकर चीन भारत के खिलाफ मोर्चाबंदी कर रहा है, उसी गलवान नदी के तट पर अब चीनी सेना की मुश्किलें बढ़ गईंं हैं। गलवान नदी के किनारे चीन की तैनाती नहीं हो पा रही है, क्योंकि नदी का जल स्तर तेज गति से बढ़ने के कारण गलवान के किनारों पर लगे चीनी सेना के कैम्प बह गए हैंं।ड्रोन की तस्वीरों से पता चलता है कि चीनी पीएलए के टेंट गलवान के बर्फीले बढ़ते पानी में पांच किलोमीटर गहराई में बह गए हैंं। काफी तेजी से बर्फ पिघलने के कारण नदी के तट पर इस समय स्थिति खतरनाक है। चीन यहां से पीछे हटने के बाद अधिक से अधिक नई तैनाती करने में जुट गया है लेकिन गलवान, गोगरा, हॉट स्प्रिंग्स और पैंगोंग झील में मौजूदा स्थिति के चलते चीनी सेना की तैनाती लंबे समय के लिए अस्थिर हो गई है।

26-06-2020
महिला कांग्रेस ने गलवान घाटी के शहीद जवानों को दी श्रद्धांजलि, उठाए सवाल...

रायपुर। शहर जिला महिला कांग्रेस ने शुक्रवार को टाउन हॉल परिसर में महात्मा गांधी की प्रतिमा के पास गलवान घाटी में शहीद हुए देश के वीर जवानों को मौन श्रद्धांजलि अर्पित की। महिला कांग्रेस ने जवानों के सर्वोच्च बलिदान को नमन किया। इस दौरान महिला कांग्रेस के ब्लॉक एवं शहर पदाधिकारी मौजूद थीं। महिला कांग्रेस ने सवाल उठाए हैं कि क्या कारण है कि हमारे सैनिकों को बिना हथियार के बॉर्डर पर भेजा गया क्यों?  प्रधानमंत्री मौन क्यों हैं? क्या गृह मंत्रालय कमजोर था? पिछले 65 वर्षों में चीन और नेपाल ने भारत के सीमा पर कभी नजर उठाकर भी नहीं देखा पर अभी क्यों? प्रधानमंत्री चीन को क्लीन चिट  क्यों दे रहे हैं? उन्होंने ऐसा क्यों कहा कि किसी ने हमारे इलाके में घुसपैठ नहीं की ?

26-06-2020
 कांग्रेस ने गलवान घाटी में शहीद जवानों को दी श्रद्धांजलि

अम्बिकापुर। कांग्रेसजनों ने भारत-चीन सीमा पर गलवान घाटी की रक्षा में शहीद कर्नल बी. सन्तोष बाबू सहित जवानों को श्रद्धांजलि अर्पित की। जिला कांग्रेस कार्यालय कोठीघर में आयोजित कार्यक्रम "शहीदों को सलाम" के माध्यम से लद्दाख के गलवान घाटी में 16वीं बिहार रेजिमेंट के जवानों को उनके सर्वोच्च बलिदान पर नमन किया गया। उनके छायाचित्र पर पुष्पांजलि अर्पित कर दो मिनट मौन धारण किया गया। भारत चीन सीमा पर उपजे तनाव और केंद्र सरकार द्वारा परिस्थितियों को सम्भाल पाने में नाकामी पर चर्चा की गई। इस दौरान पूर्व प्रदेश उपाध्यक्ष बालकृष्ण पाठक, महापौर डॉ.अजय तिर्की,जिला अध्यक्ष राकेश गुप्ता,प्रदेश महासचिव द्वितेंद्र मिश्रा,ब्लाक कांग्रेस अध्यक्ष हेमंत सिन्हा, मो.इस्लाम, मदन जायसवाल,प्रमोद चौधरी,आशीष वर्मा,सैय्यद अख्तर हुसैन,प्रभात रंजन सिन्हा, पापिन्दर सिंह,दिलीप धर,चन्द्र प्रकाश सिंह,गुरप्रीत सिद्धू,बाबू सोनी, केशव दीक्षित,अमित तिवारी,हरभजन सिंह, अमित वर्मा,आलोक गुप्ता,रजनीश सिंह सहित कांग्रेस कार्यकर्ता व पदाधिकारी उपस्थित थे।

26-06-2020
गलवान घाटी में शहीद जवानों और प्रधान आरक्षक के निधन पर कांग्रेस ने दी श्रद्धांजलि

धमतरी। प्रदेश कांग्रेस कमेटी के निर्देशानुसार एवं जिला कांग्रेस कमेटी धमतरी के आदेशानुसार धमतरी जिला के समस्त ब्लॉक संगठनों के द्वारा पूर्वी लद्दाख के गलवान घाटी में शहीद हुए हमारे देश के बहादुर जवानों को श्रद्धांजलि अर्पित किया गया। इसी के तहत ब्लॉक कांग्रेस कमेटी शहर के द्वारा सलाम सहीद दिवस के रूप में मनाया गया। इस कार्यक्रम के माध्यम से शहीद कर्नल बी.संतोष बाबू और सर्वोच्च बलिदान के लिए 16 बिहार रेजीमेंट के हमारे 20 शहिद बहादुर जवानों को श्रद्धांजलि अर्पित की गई। इस दौरान जिला कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष शरद लोहाना ने कहा की चीन के द्वारा यह एक कायराना हरकत है,जिसका मुहतोड़ जवाब हमारे देश के वीर जवानों सेना के द्वारा अवश्य ही दिया जाएगा। ब्लॉक अध्यक्ष नरेश जसूजा, योगेश लाल ने केंद्र में बैठे मोदी सरकार पर सवाल उठाते हुए कहां की हमारे वीर जवानों को युद्ध के मैदान में निहत्थे भेजना कहां तक उचित है।

इस प्रकार देश के प्रधानमंत्री के द्वारा इन को क्लीन चिट देना कहां तक सही है। देश के प्रधानमंत्री को चाहिए कि वो देश को गुमराह करने के बजाए चीन को मुंहतोड़ जवाब दें हम सभी देशवासी उनके साथ हैं कार्यक्रम के दौरान शरद लोहाना,हर्षद मेहता,मोहन लालवानी,विजय देवांगन,अनुराग मसीह,अरविंद दोषी, नूर मोहम्मद मेमन,आनंद पवार,राजेश पांडे ,गुड्डा पेंदारिया,विक्रांत शर्मा,केंद्र कुमार ,राजेश पांडेय, सोमेश मेश्राम ,कमलेश सोनकर, निखिलेश देवान ,तनवीर कुरेशी अवधेश पांडेय, मधुकांत राठौर, विक्रांत पवार,रेहान वीरानी,विशु देवांगन,प्रीतम सिन्हा, कुशल देवांगन, तारिक रजा कादरी ,राजेश ठाकुर, दीपक सोनकर, शिव ओम बैगा नाग, सूरज गहरवार, ममता शर्मा ,कमलेश सोनकर ,नीलू पवार,ज्योति बाल्मीकि, शिवम राय,संकेत गुप्ता ,अंबर चंद्राकर ,आशीष बंगानी सहित बड़ी संख्या में कांग्रेस उपस्थित रहे। कार्यक्रम का संचालन ब्लॉक कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष नरेश जसूजा के द्वारा किया गया।तत्पश्चात थाना सिटी कोतवाली धमतरी में पदस्थ प्रधान आरक्षक जगदीश मिर्धा के निधन पर कांग्रेसजनों एवं सिटी कोतवाली स्टाफ के द्वारा मौन सभा का आयोजन कर श्रद्धांजलि अर्पित की गई।

25-06-2020
कांग्रेस शहीदों को मौन रहकर देगी श्रद्धांजलि, 29 जून को सभी जिला मुख्यालयों में धरना प्रदर्शन

 

रायपुर। छत्तीसगढ़ कांग्रेस 26 जून को सुबह 11 बजे से दोपहर 12 बजे तक पूरी तरह से मौन रहकर गलवान घाटी में शहीद हुए जवानों को श्रद्धांजलि अर्पित करेगी। स्पीक अप फार मार्टियर्स कार्यक्रम में सभी कांग्रेसी शहीदों को नमन करेंगे। मोदी सरकार की सीमा में अतिक्रमण रोक पाने में विफलताओं पर भी लाइव चर्चा होगी। प्रदेश कांग्रेस संचार विभाग के प्रमुख शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा कि सोमवार 29 जून को सभी जिला मुख्यालयों में 10 बजे से 12 बजे तक पेट्रोल-डीजल के दामों में वृद्धि के खिलाफ धरना होगा। राष्ट्रपति के नाम ज्ञापन सौंपा जाएगा। स्पीक अप आन पेट्रोलियम प्राइजेस का कार्यक्रम जिला कांग्रेस कमेटी,ब्लॉक कमेटी, विधानसभा कमेटियों की ओर से व्यापक रूप से चलाया जाएगा। सोशल मीडिया में पेट्रोल-डीजल की मूल्य वृद्धि से उबेर ओला ड्राइवर, ट्रक ड्राइवर आम आदमी के विडियो पोस्ट किए जाएंगे।  पेट्रोलियम पदार्थों की मूल्य वृद्धि के कारण बढ़ती मंहगाई से आम आदमी की तकलीफ को इस कार्यक्रम में पुरजोर तरीके से कांग्रेस उठाएगी।

 

23-06-2020
लद्दाख पहुँचे सेना प्रमुख, चीन के साथ झड़प में घायल जवानों से की मुलाकात

नई दिल्ली। सेना प्रमुख जनरल एमएम नरवणे पूर्वी लद्दाख के दो दिन के दौरे के क्रम में आज लेह पहुँचे। यहाँ उन्होंने गलवान घाटी में पिछले दिनों घायल जवानों से मुलाकात की। लद्दाख की गलवान घाटी में चीनी और भारतीय सेना के बीच हुई झड़प के बाद सेना प्रमुख का यह दूसरा लद्दाख दौरा है। इन दो दिनों में वह वास्तविक नियंत्रण रेखा पर मौजूदा स्थिति का जायजा लेंगे तथा सीमा पर तैनात वरिष्ठ अधिकारियों से बात करेंगे।दौरे के पहले दिन उन्होंने सेना के अस्पताल जाकर झड़प में घायल सैनिकों से बात की। सूत्रों ने बताया कि गत 15 जून की घटना में घायल सैनिकों के स्वास्थ्य की जानकारी लेने के साथ ही उस रात की घटना के बारे में भी उनसे बात की।

घायल जवानों से मिलने के बाद सेना प्रमुख सीमा पर तैनात वरिष्ठ अधिकारियों से बात करेंगे। वह चीनी सेना के साथ सोमवार को हुई कोर कमांडर स्तर की वार्ता के बारे में भी पूरी जानकारी हासिल करेंगे। सूत्रों के अनुसार, दोनों सेनाओं के बीच पूर्वी लद्दाख में वास्तविक नियंत्रण रेखा के मसले पर “सौहार्दपूर्ण, सकारात्मक एवं रचनात्मक माहौल” में हुई बातचीत में दोनों पक्ष पीछे हटने पर राजी हो गये हैं। उन्होंने बताया कि पूर्वी लद्दाख में टकराव वाले सभी क्षेत्रों से सेनाओं के पीछे हटने के तौर-तरीकों पर भी चर्चा हुई और दोनों पक्ष उन पर अमल करेंगे।

 

 

20-06-2020
विदेश मंत्रालय ने कहा, झूठे दावे करने के प्रयास नहीं करेंगे स्वीकार,गलवान पर चीनी दांवों को नकारा

नई दिल्ली। विदेश मंत्रालय ने गलवान घाटी इलाके पर चीन के संप्रभुता के दावे को खारिज करते हुए कहा कि इस इलाके के संबंध में स्थिति ऐतिहासिक रूप से स्पष्ट है। मंत्रालय के मुताबिक, गलवान घाटी में एलएसी को लेकर चीनी पक्ष की ओर से बढ़ा-चढाकर और झूठे दावे करने के प्रयास स्वीकार नहीं है। गलवान पर चीन का दावा अतीत की चीन की स्थिति के अनुरूप नहीं है।भारत ने आगे कहा, भारतीय सेनाएं गलवान घाटी समेत भारत-चीन सीमा क्षेत्रों के सभी सेक्टरों में एलएसी के संरेखण से पूरी तरह परिचित हैं। विदेश मंत्रालय ने गलवान घाटी को लेकर कहा कि भारत ने वास्तविक नियंत्रण रेखा के पार किसी तरह की कोई कार्रवाई नहीं की।गलवान को लेकर चीन के दावे पर विदेश मंत्रालय ने कहा कि मई की शुरुआत से, चीनी पक्ष इस क्षेत्र में भारत की सामान्य गश्त प्रक्रिया में बाधा डाल रहा है। गलवान घाटी पर विदेश मंत्रालय ने कहा, चीनी पक्ष द्वारा अतिक्रमण की गतिविधियों का हमेशा हमारी ओर से उचित जवाब दिया गया है।बता दें कि भारत और चीन के बीच लद्दाख सीमा पर तनाव बढ़ता ही जा रहा है। इस बीच चीन ने गलवान घाटी पर अपना दावा ठोका है। हालांकि, भारत सरकार ने भी बिना देर करते हुए चीन को चेतावनी दे दी है। केंद्र ने बयान जारी कर कहा है कि वह चीन की लाइन ऑफ एक्चुअल कंट्रोल (एलएसी) को बदलने की एकतरफा कोशिश को सफल नहीं होने देगा। 

 

20-06-2020
सुरक्षा में लगा जवान पॉजिटिव निकला तो घर व इलाके को करा दिया सील,भूपेश बघेल ने बता दिया वे खास नही आम है

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल अपनी सादगी के लिए अलग पहचान बना चुके हैं। वे खास होकर भी आम आदमी बने रहने में विश्वास रखते हैं और इस बात को उन्होंने हर मौके पर साबित भी किया है। कल उनके निवास के बाहर सुरक्षा ड्यूटी पर लगे जवान को जब कोरोना पॉजिटिव घोषित किया गया तो उन्होंने अपने निवास व आसपास के इलाके को कंटेनमेंट सील कराने में जरा भी देरी नहीं की। उन्होंने यह साबित कर दिया कि वे भी आम आदमी की तरह रह रहे हैं और यदि आम आदमी के घर और उसके इलाके को जोन घोषित किया जा सकता है तो सीएम हाउस अपवाद नहीं है। सीएम भूपेश बघेल ने हाल ही में गलवान घाटी में शहीद हुए गणेश के शव को कांधा दिया था। सम्भवतयः श्रद्धांजलि में पुष्प चक्र अर्पित करने की अपचारिक्त निभाने वाले नेताओं की फौज से अलग वे पहले जनप्रतिनिधि होंगे,जिन्होंने एक जवान के शव को कांधा देकर पूरे प्रदेश की जनता का दिल जीत लिया। उन्होंने साबित कर दिया कि प्रदेश की जनता उनकी रिश्तेदार है और वे मुखिया होने के नाते उनके साथ हैं। भूपेश बघेल की यही सादगी उन्हें अन्य राजनेताओं से बिल्कुल अलग पहचान देती है। आम आदमी से आम आदमी की तरह बात करने का अंदाज़ भी उन्हें बेहद खास बना देता है इसीलिए सब कहते हैं सीएम हो तो भूपेश बघेल जैसा।

 

18-06-2020
कैंडल जलाकर शहीद जवानों को कांग्रेस ने दी श्रद्धांजलि,सभी ब्लॉकों में हुए कार्यक्रम

रायपुर। गलवान घाटी में शहीद हुए देश के 20 जवानों को गुरुवार शाम शहर जिला कांग्रेस कमेटी ने श्रद्धांजलि दी। शहर के अंतर्गत आने वाले समस्त ब्लाकों में श्रद्धांजलि कार्यक्रम का आयोजन किया गया। शहीद भगत सिंह चौक पर प्रभारी महामंत्री चंद्रशेखर शुक्ला, शहर अध्यक्ष गिरीश दुबे,सभापति प्रमोद दुबे सहित कांग्रेस नेताओं ने कैंडल जलाकर वीर शहीद जवानों को श्रद्धांजलि दी। शहीद जवान अमर रहे के नारे लगाए गए। शहर प्रवक्ता बंशी कन्नौजे ने चीन को मुंहतोड़ जवाब देने बात कही, ताकि शहीद जवानों का बलिदान व्यर्थ ना जाए। इस मौके पर किरणमयी नायक,ब्लाक अध्यक्ष सुनिता शर्मा, प्रशांत ठेंगड़ी, नवीन चंद्राकर, अरुण जंघेल, सुमित दास, कामरान अंसारी, सुनील भुवाल, देवकुमार साहू,माधो साहू,सहदेव व्यवहार,अशोक ठाकुर, दाऊलाल साहू,जी.श्रीनिवास, दिलीप चौहान, मिलिंद गौतम, राजू नायक, पुष्पराज वेद ,राजेश यदु,गौतम यादव, शंकर सेन, सुयश शर्मा, अम्बे बाघमार, प्रशांत यादव सहित कार्यकर्ता मौजूद थे।

 

Advertise, Call Now - +91 76111 07804