GLIBS
23-05-2020
भाजपा नेताओं को विरोध करना ही है तो पहले खाते में आए पैसे लौटाएं : आरपी सिंह

रायपुर। कांग्रेस संचार विभाग के सदस्य आरपी सिंह ने कहा है कि आखिर यह कैसा विरोध है? अपने खाते में आए हुए पैसे आप चुपचाप ग्रहण कर लेते हैं और शेष किसानों को गुमराह करने का प्रयास करते हैं? अगर राजीव गांधी किसान न्याय योजना के तहत मिले हुए पैसों से भारतीय जनता पार्टी की सहमति नहीं है, तो कृपया भाजपा के तमाम नेता योजना के तहत मिली हुई राशि को तत्काल मुख्यमंत्री सहायता कोष में जमा कर दें। यह राशि प्रदेश में फैल रहे कोरोना संक्रमण से लड़ने के काम आ सके।

नैतिकता का उच्च मानदंड तो यही कहता है कि आप इस योजना का विरोध तभी करें, जब राज्य शासन से मिले हुए पैसे वापस कर दें। इस योजना के प्रारंभ होने से किसानों के मन में यह बात स्थाई तौर पर बैठ गई है कि "भूपेश है तो भरोसा है" हमारी सरकार ने जो भी वादे प्रदेश की जनता से किए हैं, उन्हें हम हर हाल में पूरा करेंगे। भारतीय जनता पार्टी चाहे जितने कुचक्र रच ले, हमारी सरकार को जनहित के कार्यों से विमुख नहीं कर पाएगी। इस बयान के साथ आरपी सिंह ने एक सूची जारी करके यह बताया है कि भारतीय जनता पार्टी के किन बड़े नेताओं को इस योजना से कितनी आर्थिक मदद मिली है।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804