GLIBS
10-06-2021
प्राथमिक और उप स्वास्थ्य केंद्रों का हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर में उन्नयन का काम इस साल पूरा करने का लक्ष्य

रायपुर। प्रदेश के लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण तथा चिकित्सा शिक्षा मंत्री टीएस सिंहदेव ने गुरुवार को वरिष्ठ विभागीय अधिकारियों के साथ स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण, राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन तथा छत्तीसगढ़ मेडिकल सर्विसेस कॉर्पोरेशन (सीजीएमएससी) के कार्यों की समीक्षा की। उन्होंने मंत्रालय (महानदी भवन) में आयोजित बैठक में प्रदेश में कोरोना संक्रमण की स्थिति को नियंत्रण में देखते हुए अस्पतालों में पूर्ण सतर्कता बरतते हुए नॉन-कोविड सेवाओं में तेजी लाने के निर्देश दिए। उन्होंने सरकारी अस्पतालों में ब्लड-बैंकों की संख्या बढ़ाने कहा। उन्होंने नवगठित गौरेला-पेंड्रा-मरवाही के जिला अस्पताल में जल्द से जल्द ब्लड-बैंक की स्थापना के भी निर्देश दिए। स्वास्थ्य विभाग के प्रमुख सचिव डॉ. आलोक शुक्ला और सचिव शहला निगार भी समीक्षा बैठक में मौजूद थीं।


स्वास्थ्य मंत्री सिंहदेव ने समीक्षा बैठक में कोरोना संक्रमण पर नियंत्रण और रोकथाम के लिए विभागीय अमले द्वारा युद्ध स्तर पर किए कार्यों की सराहना की। उन्होंने इस दौरान प्रदेश में चार नए वायरोलॉजी लैबों और ऑक्सीजन प्लांट्स की स्थापना के लिए सीजीएमएससी द्वारा किए गए त्वरित कार्यों की भी प्रशंसा की। स्वास्थ्य मंत्री ने राज्य के ऐसे सभी अस्पतालों जहां शिशु रोग विशेषज्ञ पदस्थ हैं, वहां एसएनसीयू (Special Neonatal Care Unit) स्थापित करने के निर्देश दिए। उन्होंने प्रदेश भर में कुष्ठ रोग उन्मूलन के लिए किए जा रहे कार्यों में तेजी लाने कहा। सिंहदेव ने बरसात के दिनों में पीलिया और डेंगू के खतरों को देखते हुए इनसे बचने के लिए लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग और स्थानीय नगर निगमों व नगर पालिकाओं के साथ समन्वय कर प्रभावी कार्ययोजना तैयार करने के निर्देश दिए।


स्वास्थ्य विभाग के प्रमुख सचिव डॉ. आलोक शुक्ला ने वर्तमान परिस्थितियों के आधार पर अत्यावश्यक दवाईयों की नियमित खरीदी सुनिश्चित करने के लिए ईडीएल (Essential Drug List) को संशोधित करने कहा। उन्होंने उचित दामों पर दवाईयों की आपूर्ति के लिए सीजीएमएससी द्वारा दवा निर्माता कंपनियों के साथ किए जाने वाले दर अनुबंध (Rate Contract) का भी नवीनीकरण करने कहा। स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग की संचालक डॉ. प्रियंका शुक्ला ने बैठक में बताया कि प्रदेश के स्वास्थ्य सूचकांकों में लगातार सुधार हो रहा है। प्रदेश में संस्थागत प्रसवों की संख्या बढ़कर 75 प्रतिशत से अधिक हो गई है। टीकाकरण कार्यक्रम के अंतर्गत 94 प्रतिशत बच्चों को नियमित टीके लगाए जा रहे हैं। राज्य में अभी 3100 हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर्स के माध्यम से लोगों को स्वास्थ्य सुविधाएं मुहैया कराई जा रही हैं। चालू वित्तीय वर्ष 2021-22 के अंत तक सभी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों और उप स्वास्थ्य केंद्रों का हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर के रूप में उन्नयन का कार्य पूर्ण करने का लक्ष्य रखा गया है। उत्कृष्ट स्वास्थ्य सेवाओं के लिए भारत सरकार द्वारा प्रदेश के छह जिला अस्पतालों, छह सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों और दस प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों को राष्ट्रीय गुणवत्ता आश्वासन प्रमाण पत्र प्रदान किया गया है।


सीजीएमएससी के प्रबंध संचालक कार्तिकेय गोयल ने बताया कि कॉर्पोरेशन द्वारा दवा कंपनियों को नए ऑनलाइन सिस्टम से भुगतान किया जा रहा है। इससे भुगतान त्वरित गति से हो रहा है। सीजीएमएससी द्वारा स्वास्थ्य विभाग के लिए निर्माणाधीन विभिन्न भवनों के काम गुणवत्ता सुनिश्चित करते हुए तेजी से पूर्ण किए जा रहे हैं। स्वास्थ्य विभाग के आयुक्त डॉ. सीआर प्रसन्ना, संचालक स्वास्थ्य सेवाएं नीरज बंसोड़, चिकित्सा शिक्षा विभाग के संचालक डॉ. आरके सिंह, खाद्य एवं औषधि प्रशासन विभाग के नियंत्रक केडी कुंजाम और संचालक महामारी डॉ.सुभाष मिश्रा भी बैठक में उपस्थित थे।

 

20-05-2021
विश्व मधुमक्खी दिवस पर कृषि विज्ञान केंद्रों में हुए कार्यक्रम,पालन और संरक्षण पर वैज्ञानिकों ने दिया जोर

रायपुर। विश्व मधुमक्खी दिवस पर गुरुवार को कृषि विज्ञान केंद्रों में वर्चुअल कार्यक्रम हुआ। कार्यक्रम में वैज्ञानिकों ने छत्तीसगढ़ में मधुमक्खी पालन के लिए किसानों को प्रोत्साहित करने पर बल दिया। कृषि वैज्ञानिकों ने बताया कि जैव विविधता एवं पारिस्थितिक तंत्र के संतुलन के लिए मधुमक्खियों और अन्य परागणकों के महत्व, योगदान और उनके संरक्षण के प्रति किसानों और लोगो में जागरुकता लाना चाहिए। विश्व मधुमक्खी दिवस पर कृषि विज्ञान केन्द्र कांकेर में वर्चुअल कार्यक्रम का आयोजन किया गया। वर्चुअल कार्यक्रम में केन्द्र के कृषि वैज्ञानिकों की ओर से मधुमक्खी पालनकर्ताओं द्वारा अपनाए गए आजीविका का समर्थन करने और अच्छी गुणवत्ता वाले उत्पादों को वितरित करने के लिए अपनाई गई मधुमक्खी उत्पादन और उससे संबंधित उच्च तकनीकों पर ध्यान देने विशेष जोर दिया गया। गौरतलब है कि पारिस्थितिक तंत्र के लिए मधुमक्खियों और अन्य परागणकों के महत्व, योगदान और उनके संरक्षण के बारे में जागरुकता बढ़ाना विश्व मधुमक्खी दिवस मनाने का प्रमुख उद्देश्य है। उल्लेखनीय है कि दुनिया के खाद्य उत्पादन का लगभग 33 प्रतिशत मधुमक्खियों पर निर्भर करता है। जैव-विविधता के संरक्षण, प्रकृति में पारिस्थितिक संतुलन और प्रदूषण को कम करने में सहायक भी है।

 

18-05-2021
जिले के 105 केंद्रों में कोविड टीकाकारण जारी,लोग स्वप्रेरणा से लगवा रहे टीका

जांजगीर-चांपा। जिले में कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए पात्र हितग्राहियों को कोविड-19 का टीका लगाया जा रहा है। जिले के 105 केंद्रों में 18 प्लस और 45 प्लस के लोग टीका स्वप्ररेणा और उत्साह से लगवा रहे हैं।  राज्य सरकार द्वारा टीकाकरण के लिए हितग्राहियों की सुविधा को ध्यान में रखते हुए सीजी टीका पोर्टल का शुभारंभ किया गया है। इसमें शेड्यूल की भी सुविधा दी गई है। हितग्राही पंजीयन के साथ ही अपने निकटतम टीकाकरण केंद्र का चयन कर निर्धारित समय में उपस्थित होकर टीका लगवा सकेंगे। इससे टीकाकरण केंद्रों में लंबी लाइन नहीं लगेगी। अब श्रेणी के अनुसार अलग-अलग वैक्सीन सेंटर नहीं बनाए जाएंगे। चयन किए गए किसी भी टीकाकरण केंद्र में जाकर टीका लगवाने की सुविधा होगी। जिले के सभी सीएससी (चाइस सेंटर) में निशुल्क पंजीयन सुविधा उपलब्ध कराई गई है।

 

14-05-2021
45 आयु वर्ग से अधिक आयु के नागरिकों के लिए 70 टीकाकरण केंद्रों के माध्यम से टीका लगाने का कार्य जारी रहेगा

रायपुर। जिले में आज 15 मई को  बीपीएल और अंत्योदय वर्ग के 18 प्लस आयु वर्ग हितग्राहियों के लिए 18 निर्धारित वैक्सीन सेन्टरों में वैक्सीनेशन का कार्य जारी रहेगा। रायपुर जिले में इस आयु वर्ग के लिए 30 हजार कोविशील्ड वैक्सीन प्राप्त हुई है। निर्धारित पात्रता के अनुसार एपीएल श्रेणी के 4,820 और फंटलाइन श्रेणी के 6,078 नागरिकों को कोराना वैक्सीन का प्रथम डोज लगाया जा चुका है। अतः वर्तमान में इन वर्गों के लिए वैक्सिनेशन कार्य को नए वैक्सीन प्राप्त होते तक के लिए रोका गया है। कलेक्टर रायपुर ने बताया कि भविष्य में वैक्सीन के नए डोज प्राप्त होने पर एपीएल तथा फ्रंटलाईन वारियर हेतु वैक्सीनेशन का कार्य फिर से प्रारंभ किया। वर्तमान में अंत्योदय और बीपीएल वर्ग के 18  से 44 आयु वर्ग के नागरिकों के वैक्सीनेशन का कार्य निर्धारित टीकाकरण केंद्रों में जारी रहेगा जायेगा। उल्लेखनीय है कि रायपुर जिले में 45 आयु वर्ग से अधिक आयु के नागरिकों के लिए 70 टीकाकरण केंद्रों के माध्यम से टीका लगाने का कार्य किया जा रहा है। 45 वर्ष से अधिक आयु के सभी वर्ग के नागरिकों को  निर्धारित टीकाकरण केंद्रों में आज 15 मई को भी टीका लगाया जाएगा।

10-05-2021
कलेक्टर ने कोरोना टीकाकरण केंद्रों का अवलोकन कर संख्या बढ़ाई, अब 18 केंद्र

रायपुर। कलेक्टर डॉ.एस.भारतीदासन ने अनेक टीकाकरण केंद्रों में पहुंचकर यहां की व्यवस्थाओं का अवलोकन किया। उन्होंने शासकीय कला एवं वाणिज्य कन्या महाविद्यालय देवेन्द्र नगर, डिग्री गर्ल्स कॉलेज रायपुर, शासकीय माध्यमिक शाला पुरैना और शासकीय मातृसदन बालक उच्चतर माध्यमिक विद्यालय ,मंदिर हसौद के टीकाकरण कार्य का अवलोकन किया। उल्लेखनीय है कि रायपुर जिले में 18 से 44 आयु वर्ग के नागरिकों के कोरोना र्टीकाकरण के लिए केंद्रों की संख्या 8 से बढ़ाकर 18 की गई है। रायपुर जिले में इसी तरह मारुति मंगलम गुढियारी, जिला शिक्षा एवं प्रशिक्षण संस्थान (बीटीआई) परिसर अभ्यास पूर्व मा.एवं प्रा. शाला शंकरनगर, सांस्कृतिक भवन चंगोराभाठा, पं.दीनदयाल उपाध्याय आडिटोरियम,सामुदायिक भवन कबीरनगर, अडवानी आलिकान उच्चतर माध्यमिक शाला बीरगांव, शासकीय उच्च माध्यमिक शाला सरोरा,दाऊ पोषणलाल चंद्रवंशी शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय परसतराई धरसींवा, पूर्व माध्यमिक शाला बरबंदा धरसींवा,सांस्कृतिक भवन, वार्ड क्रमांक 18, तिल्दा, भारत देवांगन शा.उ.मा. विद्यालय खरोरा, शासकीय कन्या उच्चतर विद्यालय, अभनपुर, शासकीय हरिहर उच्चतर माध्यमिक विद्यालय नवापारा और बद्री प्रसाद लोधी स्नातकोत्तर महाविद्यालय आरंग में टीकाकरण केंद्र बनाए गए हैं। इन टीकाकरण केंद्रों में 4 काउंटर बनाए गए हैं,जो अंत्योदय राशन कार्डधारियों, बीपीएल राशन कार्डधारियों,एपीएल के साथ-साथ फ्रंटलाइन वर्गों के लिए है।

 

07-05-2021
रायपुर जिले में 8 मई से युवा वर्ग को लगाई जाएगी वैक्सीन,टीकाकरण केंद्रों में सुबह 8 बजे से होगा पंजीयन

रायपुर। छत्तीसगढ़ शासन के स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग से प्राप्त दिशानिर्देश के अनुसार 8 मई से 18-44 आयु वर्ग के व्यक्तियों को वैक्सीन लगाई जाएगी। शासकीय व्यवस्था के तहत अन्त्योदय, बीपीएल और एपीएल श्रेणी के हितग्राहियों को एक तिहाई के अनुपात में समान प्राथमिकता देते हुए टीकाकरण कार्य कराया जाएगा। इसके लिए रायपुर जिले में 8 केन्द्र बनाए गए हैं। इनमें अन्त्योदय, बीपीएल और  एपीएल श्रेणी के हितग्राहियों के लिए 3 पृथक काउंटर/सत्र की व्यवस्था रहेगी। कलेक्टर एवं जिला दंडाधिकारी डॉ.एस. भारतीदासन ने इन केंद्रों में टीकाकरण कार्य व्यवस्थित व निर्विघ्न रूप से कराने के लिए जिले के विभिन्न विभागों के वरिष्ठ अधिकारियों को केन्द्र नोडल अधिकारी बनाया है। उन्होंने इसी तरह इन केंद्रों में सहायक नोडल अधिकारी के रूप में खाद्य विभाग के अधिकारियों को नियुक्त किया है।

कानून व्यवस्था सहित सम्पूर्ण व्यवस्था के प्रभारी के रूप में कार्यपालक मजिस्ट्रेटों को नियुक्त किया है। इसी तरह पुलिस विभाग के वरिष्ठ अधिकारियों की ड्यूटी भी टीकाकरण केंद्रों में लगाई गई है। इनमें रायपुर नगर निगम में तीन, नगर निगम बीरगांव में 1 और सभी विकासखंडों में 1-1 बनाए गए हैं । रायपुर शहर में ये केंद्र सांस्कृतिक भवन चंगोराभाठा, पं.दीनदयाल उपाध्याय आडिटोरियम और जिला शिक्षा एवं प्रशिक्षण संस्थान (बीटीआई) परिसर अभ्यास पूर्व मा. व प्रा. शाला शंकरनगर। बीरगांव नगर निगम क्षेत्र में अडवानी आलिकान उच्चतर माध्यमिक शाला बीरगांव को केंद्र बनाया गया है। इसी तरह दाऊ पोषण लाल चंद्रवंशी शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय परसतराई धरसींवा, कन्या उच्चतर माध्यमिक विद्यालय अभनपुर, सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र, आरंग और संस्कृतिक भवन, वार्ड कमांक 18, तिल्दा में केंद्र बनाया गया है। इन केंद्रों में सुबह 8:00 बजे से पंजीयन का कार्य प्रारंभ हो जाएगा। 9 बजे से टीकाकरण का कार्य शुरू होगा। अन्त्योदय और बीपीएल श्रेणी के लिए हितग्राहियों को निर्धारित आईडी/दस्तावेज के साथ-साथ राशन कार्ड भी दिखाना होगा ,जबकि एपीएल श्रेणी के लिए निर्धारित पहचान पत्र आईडी जैसे आधार कार्ड, पेन कार्ड या अन्य मान्य दस्तावेज में से कोई एक दिखाना होगा।

एपीएल श्रेणी के लिए राशन कार्ड दिखाने की आवश्यकता नहीं होगी। कलेक्टर के निर्देशानुसार नोडल अधिकारी और प्रभारी कार्यपालक मजिस्ट्रेट इन केन्द्र में स्वयं उपस्थित रहेंगे। यह तय करेगें कि टीकाकरण के लिए के लिए  उपस्थित सभी व्यक्ति मास्क धारण करें और फिजिकल डिस्टेंसिंग के नियम का कड़ाई से पालन करें। अधिकारी यह भी तय करेंगे कि  केन्द्र में टीकाकरण के लिए उपस्थित होने वाले व्यक्तियों को कोई असुविधा न हो। संबंधित जोन कमिश्नर/मुख्य नगर पालिका अधिकारी/ मुख्य कार्यपालन अधिकारी, जनपद पंचायत हितग्राहियों के लिए पेयजल एवं धूप से सुरक्षा के लिए शेड/पंडाल की व्यवस्था और  काउंटर स्थापना/पंजीयन के लिए आवश्यक सहयोग उपलब्ध कराएंगे। टीकाकरण अभियान के लिए नियुक्त जिला स्तर नोडल अधिकारी संदीप कुमार अग्रवाल, संयुक्त कलेक्टर आवश्यक समन्वय करते हुये यह कार्य तय  करेंगे।

18-04-2021
भिलाई के टीकाकरण केंद्रों में 94564 लोग लगवा चुके हैं कोविड का टीका

भिलाई । कोरोना वायरस संक्रमण के रोकथाम के लिए टीकाकरण अभियान निरंतर जारी है, कोविड का टीका लगाने लोग अपने क्षेत्र के नजदीकी केन्द्रों में पहुंच रहे है। अधिक से अधिक लोगों को टीका लगाने पूरा निगम प्रशासन एवं स्वास्थ्य विभाग का अमला लगा हुआ है। कोरोना संक्रमण की रोकथाम करने हर संभव प्रयास किया जा रहा है, पिछले कुछ दिनों में अभियान चलाकर 94564 लोगों को कोविड का टीका लगाया जा चुका है।  विशेष अभियान के तहत टीकाकरण के लिए अब तक कई सारे केन्द्र बनाए जा चुके है, जहां महिला स्वास्थ्य कार्यकर्ता सुरक्षित तरीके से टीका लगा रही है। टीकाकरण केन्द्रों में निगम क्षेत्र के पूरे वार्डों के नागरिक पहुंच रहे है और बेझिझक टीका लगवाकर अपने आपको सुरक्षित महसूस कर रहे हैं। निगम का अमला टीकाकरण की पूरी प्रक्रिया में अपना सहयोग कर रहे है ताकि टीका लगवाने आए लोगों को बिना कोई देरी किए शीघ्रता से टीका लग जाए। सभी टीकाकरण केन्द्रों का कंट्रोल रूम से निगम आयुक्त एवं अधिकारी लगातार मॉनिटरिंग करते हुए फीडबैक ले रहे है ताकि केन्द्रों में कोई परेशानी न आए और टीकाकरण कार्य सुचारू रूप से संचालित होता रहे। लॉकडाउन के बावजूद प्रशासनिक अमला टीकाकरण केंद्रों में जुटे हुए है, ताकि लोगों को टीका लगाया जा सके। निगम क्षेत्र के नागरिक अपने-अपने क्षेत्र के नजदीकी टीकाकरण केंद्र में पहुंचकर टीका लगवा रहे हैं। अभियान के तहत 94564 लोगों को टीका लगाया जा चुका है। भिलाई के टीकाकरण केन्द्रों में विशेष टीकाकरण के लिये लोगों को प्रेरित करने आंगनबाड़ी कार्यकताओं एवं निगम कर्मचारी घर-घर सम्पर्क कर रहे है। कई केन्द्रों में कोविड का टीका लगवाने वालों का हौसला बढ़ाने सेल्फी पाइंट भी बनाए गए है। टीकाकरण के लिए सामाजिक सहयोग लगातार प्राप्त हो रहा है, हर वर्ग टीकाकरण के लिए प्रोत्साहित कर रहा है! भिलाई शहर वासियों की जागरूकता से टीकाकरण में तेजी आई है!

16-04-2021
जिले को मिली लगभग 25 हजार वैक्सीन की खेप, शनिवार से टीकाकरण केंद्रों में शुरू होगा वैक्सिनेशन

धमतरी। वैश्विक महामारी कोविड-19 के संक्रमण से बचाव के लिए प्रदेश सहित जिले में भी टीकाकरण अभियान चलाया जा रहा है। इसी तारतम्य में आज जिले को शासन से 24 हजार 840 वायल टीका की खेप प्राप्त हुई, जिसमें 20 हजार कोविशिल्ड के और 4 हजार 840 डोज कोवैक्सिन के मिले हैं। जिला टीकाकरण अधिकारी डॉ.बीके साहू ने बताया कि आज जिले के लिए कुल 24 हजार 840 डोज टीके का भंडारण मिला है। इसमें धमतरी ग्रामीण (गुजरा) को 5 हजार, कुरूद को 4 हजार 5 सौ, नगरी को 4 हजार 5 सौ, मगरलोड को 3 हजार 5 सौ तथा धमतरी शहरी स्वास्थ्य केंद्र को 2 हजार डोज भेजे गए हैं। शहर के शिव सिंह वर्मा स्कूल,सिविल लाइन्स स्कूल, शोभा राम देवांगन स्कूल,बठेना स्कूल,जिला अस्पताल में वैक्सीन का सत्र लगेगा। डॉ.बीके साहू ने बताया कि शनिवार 17 अप्रैल से पुनः जिले के सभी टीककरण केंद्रों में वैक्सिनेशन का कार्य सुचारू ढंग से शुरू हो जायेगा। साथ ही उन्होंने 45 साल से ऊपर सभी लोगों से टीका अनिवार्य रूप से लगाने की अपील की है।

 

07-04-2021
8 अप्रैल से कोविड-19 का टीका 65 केंद्रों में पुनः लगाया जाएगा : सीएमएचओ

जांजगीर-चांपा। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ.एसआर बंजारे ने बताया कि जिले के 65 केंन्द्रों में पूर्व की तरह कोविड-19,का टीकाकरण 8 अप्रेल से पुनः प्रारंभ किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि कोविशील्ड का प्रथम टीका लगे हितग्राहियों को दूसरा टीका- 6 से 8 सप्ताह के बीच लगाया जाएगा। इसी प्रकार  को-वैक्सीन का पहला टीका लगे हितग्राहियों को दूसरा टीका-28 दिन पर लगाया जाएगा। राज्य शासन से आज जांजगीर-चांपा जिले को 47 हजार कोविड के टीके प्राप्त हुए हैं। 8 अप्रैल को जिन टीकाकरण केंद्रों में वैक्सीन लगाया जाएगा, उनमें जिला चिकित्सालय डीईआईसी भवन जिला चिकित्सालय परिसर जांजगीर, बीडीएम अस्पताल चांपा, गांधी भवन चांपा, शासकीय हायर सेकेंडरी बरपाली स्कूल चांपा, संस्कृति भवन जांजगीर, गट्टानी स्कूल जांजगीर, सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र अकलतरा, सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र बलौदा, सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र बम्हनीडीह, सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र डभरा, सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र जैजैपुर, सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र मालखरौदा, सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र नवागढ़, सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पामगढ़, सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र सक्ती, बालिका हॉस्टल कापन, शासकीय बालक हाई स्कूल हसौद, शासकीय हाई स्कूल देवरी, शासकीय हाई स्कूल नगरदा, शासकीय हाई स्कूल ठठारी, शासकीय हाई स्कूल लवसरा, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र भैंसो, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र बिर्रा, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र देवरघटा, घोघरी, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र कोटमी, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र सलखन, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र टुण्ड्री, संधिपनी महाविद्यालय राहौद, एसटी बालक हॉस्टल चंद्रपुर, सिविल डिस्पेंसरी बाराद्वार, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र भोथिया, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र बरपाली कला,एस टी बालक हास्टल मनसिया कला, बालिका हॉस्टल तिलाई, सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र खरौद, शासकीय हाई सेकेंडरी स्कूल अड़भार, शासकीय हाई स्कूल पोरथा, एस पी एस इन्द्रा आवास बारगांव, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र धुरकोट, यूपीएचसी जांजगीर, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पहरिया, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पंतोरा, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र गतवा, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र जर्वे ब, शासकीय हाई स्कूल ससहा, सिविल डिस्पेंसरी शिवरीनारायण, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र नरियरा, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र कोटमीसोनार, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र दलहा पोड़ी, शासकीय प्राइमरी स्कूल दारंग, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र चोरियां, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र सोंठी, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र सारागांव, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र सपोस, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र फगूराम, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पिरदा, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र सिंगरा, शासकीय हाई स्कूल सरखों, शासकीय हाई सेकेंण्डरी स्कूल सिवनी, शासकीय मिडिल स्कूल केरा, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र मूलमुला, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र जर्वे, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र रायपुरा और शासकीय मिडिल स्कूल नैला में 8 अप्रैल को कोविड-19, का टीका लगाया जाएगा।

 

23-03-2021
कोविड टीकाकरण केंद्रों में बुजुर्गों को नहीं रहना पड़ेगा खड़ा,निगम आयुक्त ने दिए कुर्सियां लगाना का आदेश

भिलाई। निगमायुक्त ऋतुराज रघुवंशी ने मंगलवार को कोरोना वैक्सीन सेंटर का निरीक्षण किया! सर्वप्रथम निगम आयुक्त सुपेला शास्त्री अस्पताल पहुंचे वहां उन्होंने कोरोना जांच कराने आए लोगों से बात की। पर्ची प्राप्त करने के सिस्टम के बारे में जानकारी ली। डॉ.नागदेवे से चर्चा करते हुए उन्होंने कहा कि सीनियर सिटीजन जो ज्यादा देर तक लाइन में खड़े नहीं रह सकते उनके लिए कुर्सियों की व्यवस्था करें। कोरोना जांच किट की उपलब्धता की उन्होंने जानकारी ली! कोरोना जांच के लिए ज्यादा भीड़ बढ़ने पर मोबाइल टीम को कोरोना जांच के लिए लगाने के निर्देश दिए, इसके लिए उन्होंने सीएचएमओ से चर्चा की। कोरोना जांच की पर्ची लोगों को शीघ्र मिल सके इसके लिए ओपीडी में निर्धारित समय में स्टॉफ उपस्थित रहने सुनिश्चित करने कहा। निगमायुक्त ने अस्पताल के प्रथम तल पर वैक्सीनेशन लगाने आए लोगों से बात की।
ऋतुराज रघुवंशी ने कोहका एवं कोसानगर के प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र के वैक्सीनेशन सेंटर का निरीक्षण किया। उन्होंने जोन आयुक्त सुनील अग्रहरि को निर्देश दिए कि कोरोना रोकथाम के लिए अधिक से अधिक वैक्सीनेशन को बढ़ावा दें। उन्होंने वैक्सीनेशन लगाने वालों की प्रतिदिन की संख्या के रिकॉर्ड का अवलोकन किया।

 

25-02-2021
हैदराबाद के यूनिसेफ टीम ने गांव के सीख केंद्रों का किया निरीक्षण

कुरूद। जिले के कुरुद विकासखण्ड के ग्राम जोरातरई अवरी, सिंगदेही तथा चर्रा के सीख केंद्रों का हैदराबाद यूनिसेफ टीम ने गुरुवार को निरीक्षण किया। मिली जानकारी के अनुसार सीख केंद्रों के निरीक्षण के दौरान यूनिसेफ टीम ने पालकों, स्थानीय जनसमुदाय तथा वालेंटियर्स से चर्चा की। साथ ही कोरोना संक्रमण के चलते वालेंटियर्स द्वारा बच्चों को कैसे सीखाया जा रहा उसको भी निरीक्षण किया। कोरोना के दौरान सीखने सिखाने की प्रक्रिया को जारी रखने के लिए सीख टीम द्वारा कुरुद ब्लाक को पायलेट प्रोजेक्ट के रूप में चुना गया था। वही इस कार्यक्रम में जिला शिक्षा अधिकारी रजनी नेल्सन, डीएमसी देशमुख, अमित तिवारी,सीके साहू,राजेश पाण्डेय,शिक्षक एवं पालक उपस्थित थे।

दीपक साहू की रिपोर्ट

 

Advertise, Call Now - +91 76111 07804