GLIBS
24-06-2020
लखोली बैगापारा को किया गया सैनिटाइज, सभी प्रभावित क्षेत्रों में होगा दवा का छिड़काव

राजनांदगांव। कोरोना संक्रमण के मरीज लखोली क्षेत्र में बढ़ते जा रहे हैं। इसे देखते हुए लखोली क्षेत्र को सैनिटाइज करने का काम शुरू हो गया है। इसके लिए मेयर हेमा देशमुख ने विशेष पहल की है। रोड किनारे स्थित दुकान व घरों के बाहर कैमिकल का छिड़काव किया गया। पार्षद ने बताया कि पूरे लखोली क्षेत्र को सैनिटाइज नगर निगम द्वारा किया जाएगा। इसकी शुरुआत हो गई है। शेड्यूल के मुताबिक राजीवनगर और ब्रम्हदेव चौक क्षेत्र का भी सैनिटाइज कराया जाएगा। मंगलवार को स्वास्थ्य विभाग के डायरेक्टर बंसोड़ भी लखोली क्षेत्र पहुंचे थे। उन्होंने कहा था कि रोज प्रभावित क्षेत्रों को सैनिटाइज किया जाए। लखोली बैगपारा को सैनिटाइज किया गया है। मेयर हेमा देशमुख ने आश्वास्त किया है कि सभी प्रभावित क्षेत्रों में सैनिटाइज़िंग का काम शीघ्र होगा। लोग प्रोटोकाल नियमों का पालन करें।

31-05-2020
जिले में पहुंचा टिड्डियों का दल, अग्निशमन वाहन से हो रहा दवा का छिड़काव

कोरिया। छत्तीसगढ़ की सीमावर्ती कोरिया जिले के भरतपुर में टिड्डियों दल के पहुंचने पर प्रशासन ने कमर कस ली है। मौके की नजाकत भांपते हुए नवपदस्थ कलेक्टर सत्यनारायण राठौर अलसुबह ही मौके पर पहुंच गए। कोरिया जिले में पहली बार टिड्डियों का दल कल शाम को ही देखा गया। सुबह जवारीटोला और ग्राम पूंजी के बीच के जंगल में बड़ी मात्रा में इन्हें देख ग्रामीणों ने उन्हें आवाज करके भागने का प्रयास किया। इसके पहले कलेक्टर के निर्देश पर कृषि और उद्यान विभाग पहले से टिड्डियों की आने को लेकर सजग था। सुबह मनेन्द्रगढ़ से पहुंची अग्निशमन वाहन ने दवा का छिड़काव करना शुरू किया, जिससे काफी संख्या में टिड्डियों का नाश हो सके। लेकिन उनकी संख्या को देखते हुए लगातार छिड़काव किया जा रहा है।

घेरा बना कर भागने का प्रयास :

टिड्डियों का दल कल शाम को ही ग्रामीणों के द्वारा लगाई सब्जी को चट करना शुरू कर दिया था। इसके बाद ग्रामीणों ने बड़ा घेरा बनाकर उन्हें हांकने की रणनीति बनाई। वहीं अग्निशमन वाहन से दवा के छिड़काव से टिड्डियों के दल को भगाने का प्रयास जारी रखा गया है। कलेक्टर सत्यनारायण राठौर सुबह बैकुंठपुर से 160 किमी दूर जनकपुर पहुंचे। वहां से काफी दूर स्थित सीधी बॉर्डर होते हुए जवारीटोला पहुंच कर टिड्डियों के नियंत्रण का जायजा लेने के लिए वहीं ठहरे थे। उनके साथ पूरा राजस्व अमला और मनेन्द्रगढ़ डीएफओ झा और उनका पूरा अमला के साथ कृषि, उद्यान विभाग के अधिकारी कर्मचारी उपस्थित रहे। बीते कई घंटे से कलेक्टर सत्य नारायण राठौर वहीं डटे हुए है और ग्रामीणों का हौसला बढ़ा रहे हैं।

11-05-2020
बूढातालाब को जलकुंभी मुक्त करने 35 मछुआरों सहित निगम की फौज जुटी, ड्रोन से होगा दवा का छिड़काव

रायपुर। राजधानी के ऐतिहासिक बूढ़ातालाब को जलकुंभी मुक्त करने महाअभियान का शंखनाद हो चुका है। महापौर एजाज ढेबर ने 14वीं सदी के इस  ऐतिहासिक तालाब स्वामी विवेकानंद सरोवर को शत प्रतिशत जलकुंभी से मुक्त करने के निर्देश दिए हैं। इस महाभियान का शुभारंभ कर महापौर ने फावड़ा चलाकर श्रमदान किया। इस महाभियान में नगर निगम मुख्यालय स्वास्थ्य विभाग गैंग सहित महापौर स्वास्थ्य हेल्प लाईन गैंग को मिलाकर 85 सफाई मित्र शमूल हैं। साथ ही जलकुंभी तालाब से निकालने के 35 विशेषज्ञ मछुआरों की सहायता ली गई है। तेजी के साथ जलकुंभी बूढातालाब से बाहर निकालने एक साथ 2 पोकलेन मशीनों को  सफाई अभियान में लगाया गया है।

इसके अलावा कृषि विश्वविद्यालय के विषय विशेषज्ञ से निरंतर सुझाव लिया जा रहा है। सुझावों के अनुरूप जलकुंभी दोबारा फैलने से रोकने इसे गलाने का कार्य ड्रोन से केमिकल दवा का छिड़काव करने की तैयारी की जा रही है। 2-3 दिन में जलकुंभी की पूरी तरह सफाई करने के बाद ड्रोन से केमिकल दवा का छिड़काव किया जाएगा। सोमवार को सफाई श्रमदान के साथ आवश्यक निर्देश महापौर ढेबर ने जोन 7 कमिश्नर पाण्डेय को दिए। महापौर के साथ महाभियान का प्रारंभ करने के दौरान निगम एमआईसी सदस्य सुरेश चन्नावार, पूर्व पार्षद मनोज कंदोई, जोन 7 कमिश्नर विनोद पाण्डेय सहित निगम अधिकारियों, कर्मचारियों ने भी श्रमदान किया।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804