GLIBS
02-08-2020
बदमाशों ने मां-बेटी का अपहरण कर किया सामूहिक दुष्कर्म,पीड़ित परिवार बिलासपुर जिले का रहने वाला

बुरहानपुर। मध्यप्रदेश के बुरहानपुर जिले में 40 वर्षीय एक महिला एवं उसकी 12 वर्षीय बेटी का हथियारबंद छह बदमाशों ने कथित रूप से अपहरण कर दोनों के साथ सामूहिक बलात्कार किया। घटना बुरहानपुर जिला मुख्यालय से करीब 21 किलोमीटर दूर शाहपुर थानांतर्गत ग्राम बोदरली के पास शुक्रवार-शनिवार रात को घटी।खरगोन रेंज के पुलिस उपमहानिरीक्षक तिलक सिंह ने रविवार को बताया, ‘जंगल से लगे एकांत में स्थित गिट्टी के क्रेशर प्लांट पर शुक्रवार-शनिवार रात को आए   हथियारबंद छह बदमाश परिवार के मुखिया को बंधक बनाकर उसकी पत्नी और बेटी के साथ सामूहिक दुष्कर्म किया। उन्होंने कहा कि बदमाश परिवार के पास से नगद राशि और मोबाइल भी लूटकर ले गए हैं। सिंह ने बताया कि घटना के बाद सभी आरोपी मौके से फरार हो गये। उन्होंने कहा कि आरोपियों को पकड़ने के लिए दल गठित किए गए हैं। इन दलों को घटनास्थल से लगे महाराष्ट्र के बुलढाणा और जलगांव जिले के कई स्थानों पर भेजा गया है। पुलिस उपमहानिरीक्षक तिलक सिंह ने कहा कि इन बदमाशों के महाराष्ट्र की ओर भागने की आशंका है। तिलक सिंह ने बताया कि पीड़ित परिवार छत्तीसगढ़ के बिलासपुर जिले का रहने वाला है और लंबे समय से यहां रह रहा है। शाहपुर पुलिस थाना प्रभारी संजय पाठक ने बताया कि इस संबंध में शनिवार को छह अज्ञात आरोपियों के खिलाफ भादंवि की धारा 376-डी (सामूहिक बलात्कार), 347, 363 और अन्य संबंधित धाराओं के साथ-साथ पॉक्सो एक्ट के तहत मामला दर्ज किया गया है। उन्होंने कहा कि मामले की विस्तृत जांच जारी है। 

 

30-07-2020
Breaking : दो नाबालिग सगी बहनों के साथ 11 लोगों ने किया सामूहिक दुष्कर्म

रायपुर/बलौदाबाजार। जिले के पलारी थाना क्षेत्र में दो नाबालिग बहनों के साथ सामूहिक दुष्कर्म की घटना सामने आई है। घटना डेढ़ महीने पहले की है। पलारी थाने के केसला गांव की घटना बताई जा रही है। सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक पुलिस ने मामले में 10 आरोपियों की गिरफ्तारी कर ली है। डेढ़ महीने पहले दोनों सगी बहने अपने दोस्त से मिलकर वापस घर लौट रही थी। तभी रास्ते में 11 आरोपियों ने रोक कर उनके साथ सामूहिक दुष्कर्म किया और उनका वीडियो बना लिया। इसके बाद नाबालिगों ने अपने परिजनों को घटना की आपबीती बताई जिसके बाद परिजनों ने थाने पहुंचकर मामले की शिकायत दर्ज कराई।

21-03-2020
गैंगरेप के 8 दिन बाद अपराध दर्ज, एक गिरफ्तार, दुष्कर्म के बाद जंगल में छोड़कर भागे आरोपी

रायपुर। शादी समारोह में शामिल होने पहुंची किशोरी से सामूहिक दुष्कर्म का मामला सामने आया है। पुलिस ने वारदात के 8 दिन बाद आरोपियों के खिलाफ अपराध दर्ज करते हुए एक आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। यहीं नहीं गांव में पंचायत का आयोजन कर मामले को रफादफा करने की कोशिश का आरोप भी लगाया जा रहा है। हालांकि ग्रामीणों के आरोप की अधिकारिक पुष्टि नहीं हो पाई है। मिली जानकारी के मुताबिक वारदात पंडरापाठ चौकी क्षेत्र की है। एक गांव में 12 मार्च को एक विवाह समारोह का आयोजन किया गया था। विवाह के कार्यक्रम में शामिल होने के लिए परिवार समेत पहुंची किशोरी के साथ रात को कार्यक्रम के दौरान मौका मिलते ही अपहरण कर उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म किया। वारदात के बाद आरोपियों ने किशोरी को विवाह स्थल से कुछ दूर जंगल में छोड़ कर फरार हो गए। पीड़िता की शिकायत पर पंडरापाठ चौकी ने छह आरोपियों के खिलाफ अपराध कायम कर लिया है, वहीं पुलिस ने एक आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है।  

05-03-2020
4 दोस्तों ने मिलकर महिला से किया दुष्कर्म, वीडियो बनाकर कर रहे थे ब्लैकमेल

महासमुन्द। सिटी कोतवाली थाना क्षेत्र में अनुसूचित जाति की महिला से 4 लोगों के द्वारा सामूहिक दुष्कर्म का मामला प्रकाश में आया है। मिली जानकारी के अनुसार गैंग रेप कर आरोपियों ने महिला का अश्लील वीडियो बना लिया। इसके बाद आरोपी महिला को वीडियो दिखा कर लगातार उसका शोषण कर रहे थे। मामले में बताया जा रहा है कि महिला से सामूहिक दुष्कर्म करने वालो में एक पुलिस, एक शिक्षक और एक भू अभिलेख शाखा में सहायक ग्रेड 3 के पद पर पदस्थ होना बताया जा रहा हैं। मामले में शिकायत होने के बाद सिटी कोतवाली पुलिस जांच कर रही है।

05-03-2020
छात्रा से सामूहिक दुष्कर्म, दो आरोपी गिरफ्तार

रायपुर। मध्य प्रदेश के कोतमा क्षेत्र की नवमीं कक्षा की छात्रा को अगवा कर जंगल में सामूहिक दुष्कर्म करने का मामला सामने आया है। पुलिस ने मामले की शिकायत पर अपराध दर्ज कर आरोपित युवक व किशोर को गिरफ्तार कर लिया है। मिली जानकारी के अनुसार घटना गौरेला-पेंड्रा-मरवाही जिले के मरवाही थाना क्षेत्र के गांव की है। मध्यप्रदेश के अनूपपुर जिले के कोतमा क्षेत्र की किशोरी नवमीं कक्षा में पढ़ती है। वह मरवाही के पास गांव में अपने रिश्तेदार के यहां शादी समारोह में शामिल होने पहुंची थी साथ में उसके माता-पिता भी थे। मंगलवार की शाम किशोरी मोहल्ले में अपनी सहेली के साथ खेल रही थी। तभी वहां ग्राम जल्दा निवासी हेमंत सिंह गोड़ व उसका नाबालिग दोस्त पहुंचकर किशोरी को जबरिया उठाकर जंगल की तरफ ले गए। आरोपितों की गतिविधि देखकर अपहृत छात्रा की सहेली डर गई।

उसने तत्काल घर जाकर घटना की सूचना दी। इससे हैरान परिजन गायब छात्रा की पतासाजी करने जंगल की तरफ पहुंचे। वहां किशोरी बदहवास हालत में पड़ी थी। रोते हुए हुए छात्रा ने परिजनों को दोनों आरोपियों द्वारा दुष्कर्म करने की जानकारी दी। जिसके बाद किशोरी को लेकर परिजन थाने पहुंचकर घटना की रिपोर्ट किए। मरवाही टीआइ ने तत्काल एसपी सूरज सिंह परिहार को सूचना दी। एसपी के निर्देश पर पुलिस ने तत्काल आरोपियों के खिलाफ धारा 341, 376 (ख), 376 (च) व पाक्सो एक्ट के तहत अपराध दर्ज किया। इसके साथ ही पुलिस ने आरोपियों की तलाश शुरू कर दी। पुलिस ने आरोपित हेमंत सिंह गोंड को पकड़ लिया। पूछताछ के बाद दूसरे आरोपी को भी गिरफ्तार कर लिया है।  

 

02-03-2020
निर्भया केस: दोषी पवन गुप्ता की याचिका सुप्रीम कोर्ट से खारिज, आरोपियों को कल होगी फांसी

नई दिल्ली। निर्भया सामूहिक दुष्कर्म और हत्या मामले में सुप्रीम कोर्ट ने सुनवाई करते हुए एक दोषी पवन गुप्ता की क्यूरेटिव पिटीशन को खारिज कर दी है। साथ ही फांसी की सजा पर रोक लगाने से भी इनकार किया है। हालांकि उसके पास अब भी राष्ट्रपति के पास दया याचिका दायर करने का विकल्प बचा हुआ है। दरअसल दोषी पवन कुमार ने शुक्रवार को सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की और मौत की सजा को उम्रकैद में बदलने की मांग की थी। इस पर सुप्रीम कोर्ट ने सोमवार को सुनवाई करते हुए दोषी पवन की याचिका खारिज कर दी है। बता दें कि पवन समेत तीन अन्य दोषियों को तीन मार्च को फांसी होने वाली है।

24-02-2020
आईजी ने टीआई को किया लाईन अटैच, दुष्कर्म की रिपोर्ट लिखने में की देरी

रायपुर। किशोरी को अगवा कर उससे सामूहिक दुष्कर्म के मामले में देरी से अपराध दर्ज करना बलरामपुर थाना प्रभारी को महंगा पड़ गया। मिली जानकारी के मुताबिक अंबिकापुर जिले के बलरामपुर थाना क्षेत्र के एक गांव में किशोरी को अगवा कर उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म का मामला सामने आया था। मामला दर्ज करने को संवेदनहीनता मानते हुए आईजी रतनलाल डांगी ने बलरामपुर थाना प्रभारी उमेश बघेल को लाइन अटैच कर दिया है। बुधवार की रात बलरामपुर थाना क्षेत्र के एक गांव से प्रवचन देकर लौट रही दो किशोरियों को तीन आरोपियों ने अगवा करने की कोशिश की थी। एक किशोरी दांत से आरोपी का हाथ काट कर भाग निकली थी। वहीं दूसरी किशोरी का आरोपियों ने अपहरण कर लिया था और उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म की वारदात को अंजाम दिया। सरगुजा आईजी रतनलाल डांगी को मामले की सूचना मिलते ही उन्होंने कहा है कि पुलिस टीम जांच में लगी थी। मामला गंभीर और संवेदनशील था। शिकायत मिलते ही कम से कम मामला कायम कर लेना चाहिए था, बाद में उसमें धाराएं जोड़ी जा सकती थी।
 

19-02-2020
मुंबई के आश्रम से लेकर सक्ती तक होती रही दुष्कर्म का शिकार, पुलिस जुटी नरपिशाचों की तलाश में

जांजगीर चांपा। जिले में एक नाबालिग लड़की के साथ सामूहिक दुष्कर्म का मामला सामने आया है। पीड़िता ने थाने पहुंचकर पुलिस को अपनी आपबीती सुनाई। इसके बाद धारा 376 और 6 पॉक्सो एक्ट के तहत अपराध पंजीबद्ध कर पुलिस ने विवेचना शुरू कर दी है।

19-02-2020
युवती से सामूहिक दुष्कर्म, तीन आरोपी गिरफ्तार

रायपुर। कवर्धा जिले के दलदली में एक आदिवासी युवती के साथ सामूहिक दुष्कर्म की घटना सामने आई है। हालांकि पुलिस ने मामले के बाद तीनों आरोपियों को गिरफ्तार कर रिमांड में ले लिया है। मध्यप्रदेश के एक शव वाहन में युवती को जबरदस्ती खींचकर बैठा लिया और वाहन के अंदर तीनों आरोपियों ने उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म किया। वारदात के बाद युवती को सुनसान जंगल के मध्य छोड़कर आरोपी फरार हो गए। डर से खौफ युवती ने जैसे-तैसे वारदात की पूरी जानकारी परिजनों को दी। इसके बाद परिजनों ने तरेगांव थाना पहुंचकर तीनों आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज करवाया। पुलिस ने तीनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। मुख्य आरोपी आलोक और आदित्य पंचराम, रामजी, राजाराम बैगा भोरमदेव से गिरफ्तार कर लिया गया है।

 

18-02-2020
बैगा युवती से सामूहिक दुष्कर्म, आरोपी गिरफ्तार

कवर्धा। तरेगांव जंगल थाना क्षेत्र में बैगा युवती से सामूहिक दुष्कर्म का मामला समाने आया है। मामला दलदली गांव का है। पुलिस ने मंगलवार को तीनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। मिली जानकारी के अनुसार मुक्तांजली वाहन में आरोपियों ने युवती के साथ दुष्कर्म को अंजाम दिया। फिलहाल पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज कर उनसे पूछताछ कर रही है। पुलिस ने बताया कि युवती से दुष्कर्म के बाद आरोपियों ने जंगल में ही छोड़ दिया था। वहां से जैसे-तैसे युवती वापस आई और तरेगांव थाना में मामला दर्ज करवाया। इसके बाद पुलिस ने तत्काल कार्रवाई करते हुए आरोपियों को गिरफ्तार किया।

 

20-01-2020
निर्भया केस : आरोपी पवन गुप्ता की याचिका पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई आज

नई दिल्ली। निर्भया सामूहिक दुष्कर्म और हत्या मामले में फांसी की सजा से बचने के लिए गुनहगार पवन गुप्ता ने नया हथकंडा अपनाते हुए याचिका दायर की है। दरअसल पवन गुप्ता का दावा है कि वारदात के वक्त वह नाबालिग था। सुप्रीम कोर्ट उसके दावे की सच्चाई की जांच करने के लिए उसकी याचिका पर सोमवार को सुनवाई करेगा। जस्टिस आर भानुमति, जस्टिस अशोक भूषण और जस्टिस एएस बोपन्ना की पीठ के समक्ष पवन ने हाईकोर्ट के उस फैसले को चुनौती दी है, जिसमें वारदात के वक्त उसके नाबालिग होने की दलील को खारिज कर दिया गया था। दोषी ने अपनी याचिका में कहा है कि 16 दिसंबर, 2012 को अपराध के वक्त वह नाबालिग था। उसने हाईकोर्ट में गुहार लगाई थी, लेकिन उसे राहत नहीं मिली और याचिका खारिज कर दी गई। पवन ने दलील दी है कि उम्र का पता लगाने के लिए अधिकारियों ने उसकी हड्डियों की जांच नहीं की थी। उसने शीर्ष अदालत से अनुरोध किया है कि उसका मामला किशोर न्यायालय में चलाया जाए। साथ ही पवन ने याचिका में एक फरवरी के लिए जारी डेथ वारंट पर भी रोक लगाने की मांग की है। मालूम हो कि पवन और अक्षय ने अब तक क्यूरेटिव पिटीशन नहीं दायर की है। जबकि विनय और मुकेश की क्यूरेटिव याचिकाएं खारिज हो चुकी है। मुकेश की तो दया याचिका भी खारिज हो चुकी है।

पवन को नाबालिग साबित करने के चक्कर में फंसे दोषी के वकील एपी सिंह

निर्भया के गुनहगार पवन को नाबालिग साबित करने की हर जुगत लगा रहे वकील एपी सिंह को दिल्ली बार काउंसिल ने नोटिस जारी किया है। पवन की 2012 में वारदात के वक्त नाबालिग होने की याचिका दिल्ली हाईकोर्ट के जज सुरेश कुमार कैत ने खारिज कर दी थी। उस वक्त कोर्ट ने यह भी ध्यान दिलाया था कि अदालत के बार-बार समन देने के बावजूद एपी सिंह कोर्ट में उपस्थित नहीं हुए। इस पर कोर्ट ने दिल्ली बार काउंसिल को एपी सिंह के खिलाफ आवश्यक कार्रवाई करने के निर्देश दिए और साथ ही उन पर 25 हजार रुपये जुर्माना भी लगाया। बार काउंसिल ने उनसे दो हफ्ते के भीतर जवाब मांगा है।
 

विशेषज्ञों की राय : पीड़िता के परिवार वालों की माफी देने या न देने के नजरिए की कानूनी अहमियत नहीं

इंदिरा जयसिंह की माफी देने की सलाह पर बहस छिड़ गई है। कानून के जानकारों का कहना है कि पीड़िता के परिवार वालों की माफी देने या न देने के उनके नजरिए की कोई कानूनी अहमियत नहीं है। वरिष्ठ वकील राकेश द्विवेदी और विकास सिंह ने बताया कि आपराधिक मुकदमे हमेशा सरकार के खिलाफ होते हैं। सुप्रीम कोर्ट बार एसोसिएशन के पूर्व अध्यक्ष विकास सिंह के मुताबिक, पीड़िता के परिवारवालों की राय कोई कानूनी अहमियत नहीं रखती है। हालांकि, उन्होंने यह भी कहा कि दोषी दया याचिका में इस तरह की राय रखते हैं।

10-01-2020
नाबालिग से दुष्कर्म, शिकायत पर आरोपियों पर पास्को एक्ट के तहत मामला दर्ज

कांकेर। जिले के लोहत्तर थानांतर्गत ग्राम पिड़चोड़ में नाबालिग छात्रा के साथ दो बार अलग अलग दुष्कर्म के दो मामले सामने आए हैं। पीड़िता से पहली घटना में एक आरोपी और दूसरी घटना में तीन नकाबपोश आरोपियों ने सामूहिक दुष्कर्म की घटना को अंजाम दिया है। नाबालिग को दो माह का गर्भ ठहर जाने के बाद मामला उजागर होते ही पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज कर जांच में लिया है। पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार लोहत्तर थानांतर्गत नाबालिग छात्रा खेलकूद स्पर्धा देखकर वापस लौट रही थी। उसी दौरान रास्ते में छात्रा को रोककर आरोपी युवक परप जाड़े ने दुष्कर्म किया। घटना के बारे में किसी को बताने पर जान से मारने की धमकी दी। डरी सहमी छात्रा ने मामले की जानकारी किसी को नहीं दी। लेकिन अचानक छात्रा की तबीयत बिगड़ने के बाद जांच रिपोर्ट में छात्रा के गर्भवती होने की जानकारी मिलते ही छात्रा परिजन के थाने में शिकायत दर्ज कराने पहुंचे। यहां छात्रा ने आपबीती सुनाते हुए एक और खुलासा करते हुए कहा कि उसके साथ दो बार दुष्कर्म की घटना हुई है। पहली घटना 16 नवम्बर 2019 को हुई,जो कि आरोपी युवक परप जाड़े ने की थी। इसके चार दिन बाद 20 नवम्बर को स्कूल से लौटने के दौरान ग्राम पिड़चोड़ के पास बाइक सवार तीन नकाबपोश युवकों ने सामूहिक दुष्कर्म किया। पीड़ित से मामले की जानकारी होते ही पुलिस ने इस गंभीर मामले में देरी ना करते हुए दोनों घटनाओं में शामिल सभी चार आरोपियों के खिलाफ भादवि की धारा 376,376 डी, 341, 506 पास्को एक्ट के तहत मामला दर्ज कर जांच में लिया है।
 

वर्जन
पीड़ित छात्रा ने अपने साथ हुई घटना की शिकायत दर्ज कराई है,जिसमें सामूहिक दुष्कर्म का भी मामला शामिल है। शिकायत के आधार पर पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच में लिया है।
भोजराज भोई, थाना प्रभारी लोहत्तर

 

Advertise, Call Now - +91 76111 07804