GLIBS
06-08-2020
Video: कोरोना मरीज ने फांसी लगाकर की आत्महत्या

जांजगीर-चाम्पा। जिले के कोविड केयर सेंटर में गुरुवार को कोरोना मरीज ने फांसी लगा ली। मालखरौदा क्षेत्र के जमगहन गांव के युवक को कोरोना पॉजिटिव मिलने पर 4 अगस्त को कोविड अस्पताल में भर्ती किया गया था। यह युवक गुजरात से आया था,जिसके बाद उसकी कोरोना जांच हुई थी। रिपोर्ट पॉजिटिव आने पर उसे कोविड केयर सेंटर जांजगीर में भर्ती किया गया था। इस दौरान मरीज युवक ने शौचालय में फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली। घटना की वजह का फिलहाल खुलासा नहीं हुआ है मगर साथी मरीज कहते हैं कि उसकी स्थिति डिप्रेशन जैसी थी।  घटना की सूचना के बाद प्रशासनिक अधिकारी मौके पर पहुंचे। जांजगीर के अधिकारी जितेंद्र चंद्राकर ने बताया कि मामले में जांच की जा रही है। पुलिस मौके पर पहुंची है। दिव्यांग कोविड केयर सेंटर के प्रभारी डॉ.अनिल जगत ने बताया कि सुबह ही घटना की जानकारी उन्हें मिली है।

 

06-08-2020
बुधवार को मिले 295 मरीज, रायपुर और दुर्ग से सबसे अधिक, 258 पहुंचे घर और 2 की मौत

रायपुर। छत्तीसगढ़ में बुधवार को 295 कोरोना पॉज़िटिव केस सामने आए हैं। यह आंकड़ा देर रात 90 नए मरीजों की पहचान के बाद पहुंचा। स्वास्थ्य विभाग ने रात 11 बजे की स्थिति में अपडेटेड मेडिकल बुलेटिन जारी कर जानकारी दी। इसके मुताबिक नए 90 मरीजों में रायपुर जिले के 59, दुर्ग के 17,महासमुंद के 6,बलौदाबाजार के 5,रायगढ़,कोरबा व कोरिया के 1-1 मरीज शामिल हैं। इसी तरह देर शाम जारी मेडिकल बुलेटिन में 205 पॉजिटिव केस की पहचान होने की जानकारी दी गई थी। इनमें रायपुर से 83, दुर्ग से 32, बस्तर से 18, राजनांदगांव से 16, महासमुंद से 13, रायगढ़ और बलौदाबाजार से 9-9, जशपुर से 5, सरगुजा और नारायणपुर से 4-4, जांजगीर चांपा, कांकेर और अन्य राज्य से 2-2, बेमेतरा, कबीरधाम, गरियाबंद, बिलासपुर, सूरजपुर और कोंडागांव से 1-1 मरीज मिले थे। 258 मरीजों को स्वस्थ होने पर डिस्चार्ज किया गया।  2 कोरोना संक्रमित मरीजों की मौत हुई । इस तरह दोनों बुलेटिन के आंकड़ों पर गौर करें तो सबसे अधिक 142 मरीज रायपुर जिले से और 49 मरीज दुर्ग जिले से सामने आए। इसी तरह कुल आंकड़ों पर गौर करें तो प्रदेश में अब तक कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा 10497 पहुंच चुका है। इनमें 7871 मरीज स्वस्थ होकर घर लौट चुके हैं। अब तक कुल 71 मरीजों की मौत हो चुकी है। इस तरह से प्रदेश में एक्टिव केस का आंकड़ा 2555 हो चुका है।

03-08-2020
कोविड-19 हॉस्पिटल में भावुक हो गया मंजर,कोरोना मरीजों को पीपीई किट पहनीं नर्स बहनों ने बांधी राखियां

गरियाबंद। जिले के लाइवलीहुड कॉलेज में संचालित डेडिकेटेड कोविड-19 अस्पताल में आज माहौल उस वक्त भावुक हो गया,जब अस्पताल में कोरोना मरीजों की देखभाल करने वाली महिला मेडिकल स्टाफ पीपीटी पहन कर हाथों में राखी,मिठाई की थाली सजाकर अचानक वार्ड में पहुंची। सभी नर्सों ने अस्पताल में भर्ती कोरोना पॉजिटिव मरीजों की कलाइयों पर रक्षा सूत्र बांधे और मिठाई खिलाकर मुंह मीठा कराया तथा उनके जल्द स्वस्थ होने की ईश्वर से कामना की।  सिस्टर मिथिलेश ध्रुव, सिस्टर मालती ने अस्पताल में मौजूद सभी कोरोना मरीजों को रक्षाबंधन पर बहनों की कमी महसूस नहीं होने दी। कोविड अस्पताल के मेडिकल स्टाफ ने बताया कि सभी ने अस्पताल में भर्ती मरीजों से बातचीत के दौरान ही इस रक्षाबंधन पर अपने घर नहीं जा पाने और बहनों से राखियां नहीं बंधवा पाने के दर्द को पहले ही महसूस कर लिया था। मरीजों की भावनाओं और इस पर्व पर बहनों को बहुत मिस करने की बात जानकर कॉविड अस्पताल के इंचार्ज ने अस्पताल में ही रक्षाबंधन मनाकर भर्ती मरीजों को कोरोना के इस संक्रमण काल में सरप्राइज देने की योजना बनाई। सभी ने खुशी -खुशी अपनी कलाइयां आगे कर नर्सों से राखियां बँधवाई, अपनी बहनों को याद किया। कोविड-19 हॉस्पिटल के इस पहल पर वहां भर्ती मरीज ने बताया कि रक्षाबंधन के दिन अस्पताल में हाथों की कलाइयां राखियों से भरी होने पर उन्हें बहुत मानसिक संतोष मिला है। कोविड अस्पताल में काम करने वाली नर्सों ने बताया कि वे भी अपनी ड्यूटी के कारण रक्षा बंधन पर भाइयों को राखी बांधने घर नहीं जा पा रही हैं। साल भर के त्यौहार पर घर ना जा पाना और भाइयों को राखी नहीं बांध पाने का मलाल उनके भी मन में था। कोविड हॉस्पिटल प्रबंधन की इस नेक पहल की पूरे जिले में प्रशंसा हो रही है।

 

01-08-2020
Breaking : रायपुर जिले में 360 एक्टिव कंटेनमेंट जोन, जिला प्रशासन ने जारी की सूची

रायपुर। राजधानी रायपुर कोरोना का नया हॉटस्पॉट बनकर उभरा है। रोजाना बड़ी संख्या में कोरोना मरीजों की पहचान हो रही है। शुक्रवार तक के जारी आंकड़ों के मुताबिक रायपुर जिले में कुल 2947 मरीज संक्रमित हुए हैं। इनमें 1460 मरीज स्वस्थ होकर डिस्चार्ज किए गए हैं। रायपुर में 25 मौत दर्ज की गई है। इनमें 4 मरीज सीधे तौर पर कोरोना के कारण और 21 मरीज अन्य बीमारियों से भी पीड़ित मिले थे। शुक्रवार को रायपुर जिले में 184 मरीजों की पहचान हुई है। 122 लोगों को डिस्चार्ज किया गया है। 2 मरीजों की मौत हुई है।

रायपुर में जितने तेजी से कोरोना के मरीज मिल रहे हैं, उतने ही तेजी से जिला प्रशासन कंटेनमेंट जोनों की घोषणा कर रहा है। 29 जुलाई की स्थिति में रायपुर जिले में कुल 360 एक्टिव कंटेनमेंट जोन है। बता दें कि कंटेनमेंट जोनों में लोगों का घरों से बाहर तक निकलना बैन रहता है। सभी दुकानें, ऑफिस और अन्य वाणिज्यिक प्रतिष्ठान पूर्णत: बंद रहते हैं। होम डिलीवरी के माध्यम से आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति की जाती है। सभी प्रकार के वाहनों के आवागमन पर प्रतिबंध होता है। मेडिकल इमरजेंसी को छोड़कर अन्य किन्हीं भी कारण से लोग कंटेनमेंट जोन या मकान के बाहर  तक नहीं निकल सकते हैं। कंटेनमेंट जोनों की सूची देखने क्लिक करें...

 

01-08-2020
प्रदेश में जिलेवार कल देर रात तक मिले कोरोना मरीजों की संख्या...

रायपुर। प्रदेश में बीते कल कुल 336 नए मरीजों की पुष्टि हुई है। वहीं,309 मरीजों को स्वस्थ होने के बाद डिस्चार्ज किया गया है और 3 कोरोना संक्रमित की मौत हो गई।

जिलेवार ये आंकड़े : रायपुर-184, कोंडागांव-23, दुर्ग-19, राजनांदगांव-31, महासमुंद-9, कोरबा-6, बलरामपुर-4, बस्तर-4, बलौदाबाजार-4, बिलासपुर-7, जांजगीर-2, बालोद-2, कोरिया-2, दंतेवाड़ा-1, जशपुर-1, सूरजपुर-1, सरगुजा-1, गरियाबंद-1 और कांकेर में 1 मिले है।

30-07-2020
Breaking : छत्तीसगढ़ में 2884 एक्टिव केस,दिनभर में मिले 256 कोरोना मरीजों में 81 नए

रायपुर। अभी-अभी 81 नए कोरोना मरीजों की पहचान हुई है। इनमें जांजगीर-चांपा से 17, कवर्धा से 16, कोरिया से 11 और रायपुर से 11, सरगुजा से 7, रायगढ़ 5, बिलासपुर से 4, सूरजपुर से 4, दुर्ग से 2, महासमुंद से 2,कोरबा से 1, जशपुर से 1 मरीजों की पहचान हुई है। यह जानकारी स्वास्थ्य विभाग ने रात 11 बजे तक की स्थिति में मेडिकल बुलेटिन जारी कर दी है। राहत की बात है कि विगत दिनों से कम केस आज दिनभर में अब तक सामने आए हैं। इससे पहले देर शाम जारी मेडिकल बुलेटिन में प्रदेश में 175 कोरोना मरीजों की पहचान होने की जानकारी दी गई थी। राज्य में आज 285 मरीजों को स्वस्थ होने के बाद डिस्चार्ज किया गया है। कोरोना पॉजिटिव 45 वर्षीय व्यक्ति की मौत हुई है। बताया गया कि वह डायबीटिज और कनवल्सिव डिसआॅर्डर से पीड़ित था। 175 मरीजों में रायपुर से 93, राजनांदगांव से 21, दुर्ग से 13, कोंडागांव से 9, बिलासपुर से 8, जांजगीर चांपा और बलौदाबाजार से 4-4, कांकेर और नारायणपुर से 3-3, मुंगेली, कोरिया, सूरजपुर, बस्तर और दंतेवाड़ा से 2-2, बेमेतरा, कबीरधाम, गरियाबंद, कोरबा, सरगुजा, बलरामपुर और जशपुर से 1-1 केस मिले थे। इस तरह से दिनभर में कुल 256 केस राज्यभर से सामने आए हैं। प्रदेश के आंकड़ों में गौर करें तो अब तक राज्य में 8856 कोरोना संक्रमित मरीजों की पहचान हो चुकी है। इनमें 5921 मरीज स्वस्थ होने पर डिस्चार्ज किए गए हैं। राज्य में 51 लोगों की मौत हुई है। प्रदेश में एक्टिव मरीजों की संख्या 2884 पहुंच चुकी है।

30-07-2020
Breaking: प्रदेश में 175 और कोरोना मरीज मिले, रायपुर में 93 नए केस, एक की मौत

रायपुर। प्रदेश में 175 नए कोरोना मरीज सामने आए हैं, वहीं 285 मरीज स्वस्थ होने के बाद डिस्चार्ज किए गए हैं। कोरोना पॉजिटिव 45 वर्षीय व्यक्ति की मौत हुई है। बताया गया कि वह डायबीटिज और कनवल्सिव डिसआर्डर से पीड़ित था। स्वास्थ्य विभाग ने मेडिकल बुलेटिन जारी कर इसकी पुष्टि की है। मेडिकल बुलेटिन के अनुसार आज मिले मरीजों में रायपुर से 93, राजनांदगांव से 21, दुर्ग से 13, कोंडागांव से 9, बिलासपुर से 8, जांजगीर चांपा और बलौदाबाजार से 4-4, कांकेर और नारायणपुर से 3-3, मुंगेली, कोरिया, सूरजपुर, बस्तर और दंतेवाड़ा से 2-2, बेमेतरा, कबीरधाम, गरियाबंद, कोरबा, सरगुजा, बलरामपुर और जशपुर से 1-1 केस मिले हैं। मेडिकल बुलेटिन देखने यहां क्लिक करें...  

30-07-2020
Breaking : आखिर शराब दुकानों में लगा ताला, कलेक्टर ने जारी किया आदेश

रायपुर। राजधानी में तेजी से फैल रहे कोरोना संक्रमण के मध्य कलेक्टर ने माना क्षेत्र की शराब दुकान को बंद करने का आदेश जारी कर दिया है। माना क्षेत्र में कुल 32 कोरोना मरीजों की पहचान हुई है। इस क्षेत्र में शदाणी दरबार है, जो कि कंटेनमेंट जोन व हॉटस्पॉट है। मुख्यचिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी रायपुर ने कहा है कि माना में 100 बिस्तरों वाला कोविड अस्पताल है। लगातार मरीजों को भर्ती किया जा रहा है। सीएमएचओ रायपुर ने कहा है कि मरीजों के संबंध में विवेचना और क्षेत्र के परीक्षण में विदित हुआ कि, शराब दुकानों में आने वाले ग्राहकों से कोरोना संक्रमण की प्रबल संभावना है। इस पर स्वास्थ्य विभाग की ओर से भेजे गए पत्र को तत्काल संज्ञान में लेकर कलेक्टर ने माना क्षेत्र की बनरसी अंग्रेजी और देशी शराब दुकान को 4 अगस्त तक बंद रखने का आदेश जारी किया है।

29-07-2020
Breaking : ठेके पर चलाए जाएंगे कोविड सेंटर, कंपनी को प्रति मरीज भुगतान करेगी सरकार

रायपुर। राज्य सरकार ने कोरोना संक्रमण के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए बड़ा फैसला लिया है। राजधानी रायपुर में अब कोविड केयर सेंटर ठेके पर चलाए जाएंगे। इस संबंध में सीएमएचओ के आदेश पर टेंडर भी जारी कर दिया गया है। टेंडर भरने की अंतिम तारीख 31 जुलाई है। कोरोना मरीजों का इलाज और मैनेजमेंट कंपनी को करना होगा। सरकार कंपनी को प्रति मरीज भुगतान करेगी।

27-07-2020
कोरोना मरीज डिस्चार्ज होने पर अन्य वाहनों से भी जा सकेंगे घर, कलेक्टरों को निर्देश जारी

रायपुर। कोविड-19 के इलाज के बाद डिस्चार्ज होने वाले मरीज अब एम्बुलेंस न होने पर अस्पताल प्रबंधन की ओर से उपलब्ध कराए गए अन्य वाहन से घर जा सकेंगे। यदि मरीज स्वयं के वाहन से घर जाना चाहें, तो उसे इसकी अनुमति दी जाएगी। स्वास्थ्य विभाग की सचिव निहारिका बारिक सिंह ने इस संबंध में आवश्यक व्यवस्था के लिए सभी कलेक्टरों को पत्र लिखा है। स्वास्थ्य सचिव ने कलेक्टरों को लिखे पत्र में कहा है कि प्रदेश में कोविड-19 संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़ने के साथ ही रोज अस्पताल से स्वस्थ होकर डिस्चार्ज होने वाले मरीजों की संख्या भी बढ़ रही है। शासन की जानकारी में यह बात आई है कि कुछ जिलों में कोरोना वायरस संक्रमण के नए मामलों और डिस्चार्ज हो रहे मरीजों की संख्या के अनुपात में पर्याप्त एम्बुलेंस नहीं है। स्वास्थ्य विभाग ने कलेक्टरों को निर्देश दिया है कि कोविड-19 मरीजों की बढ़ती संख्या के कारण डिस्चार्ज होने वाले मरीजों के लिए एम्बुलेंस नहीं होने पर अलग से दूसरे वाहन की व्यवस्था प्रोटोकॉल का पालन करते हुए की जा सकती है। डिस्चार्ज मरीज अस्पताल से अनुमति लेकर स्वयं के वाहन से घर जाना चाहें तो वे जा सकते हैं।

 

25-07-2020
पहले डॉक्टरों पर किया जाएगा ट्रायल, सफलता मिलने पर सी कैटेगरी के कोरोना मरीजों को मिलेगी होम आइसोलेशन की अनुमति 

रायपुर। छत्तीसगढ़ शासन के निर्देशानुसार कोविड प्रकरणों के उपचार व्यवस्था के संबंध में कलेक्टर डॉ. एस भारतीदासन ने विस्तृत दिशा-निर्देश जारी किए हैं। उन्होंने कहा है कि जिला प्रशासन की ओर से पायलट प्रोजेक्ट के रूप में होम आइसोलेशन की प्रक्रिया पहले डॉक्टरों पर लागू की जाएगी। यह सफल होने पर कोरोना पॉजिटिव पाए गए केटेगरी सी के मरीजों को होम आइसोलेशन करने की अनुमति प्रदान की जा सकती है। होम आइसोलेशन के लिए मरीज के घर में अलग हवादार कमरा और शौचालय होने पर ही उन्हें ओम आइसोलेशन की अनुमति दी जा सकती है। होम आइसोलेशन की संपूर्ण अवधि के दौरान जिला स्वास्थ्य विभाग की ओर से इसके लिए नियुक्त स्वास्थ्यकर्मी प्रतिदिन मरीज और उनके अटेंडेंट से फोन के माध्यम से संपर्क में रहेंगे। जिन मरीजों को होम आइसोलेशन में रखा जाएगा,उनके घर में किसी बाहरी व्यक्ति का प्रवेश पूर्णत: निषेध रहेगा। इसके लिए घर के बाहर होम आइसोलेशन का स्टीकर भी चस्पा किया जाएगा। मरीज को सांस लेने में कठिनाई, सीने में लगातार दर्द या दबाव हो या चेहरे का नीला पड़ना, आल्टर्ड सेंसोरियम इत्यादि जैसे गंभीर लक्षण विकसित होने की सूचना पर उन्हें तत्काल समीपस्थ डेडीकेटेड हॉस्पिटल में पहुंचाने की व्यवस्था जिला प्रशासन की ओर से की जाएगी।

आइसोलेशन के निर्देशों का मरीज और उनके परिजनों की ओर से अनुपालन तय करने के लिए स्थानीय स्तर पर निगरानी दलों की व्यवस्था की जाएगी। यदि मरीज आइसोलेशन प्रोटोकोल के किसी भी निर्देश की अवहेलना करते हैं, तो उन्हें तत्काल केयर सेंटर शिफ्ट करते हुए अपने ही अंडरटेकिंग करने और एकेडमी के संबंधित प्रावधानों के अंतर्गत उन पर कार्यवाही की जा सकती है। इस संबंध में मरीज के परिजनों और पड़ोसियों की भी समुचित काउंसलिंग की जाएगी। आइसोलेशन की पूरी अवधि में यह मरीज से समुचित दूरी बनाते हुए भी उनका मनोबल बनाए रखने में सहयोग करेंगे। इस संबंध में दिए गए विस्तृत दिशानिर्देश का अनुपालन किया जाना आवश्यक है। कलेक्टर डॉ एस भारतीदासन ने कहा कि होम आइसोलेशन के संदर्भ में जिला स्वास्थ्य विभाग दिए गए निर्देशों के अनुरूप कार्य करेंगे। सर्वप्रथम जिला आईडीएसपी सर्विलेंस ऑफिस से स्वास्थ्य दल मरीज के घर का दौरा कर मरीज के स्वास्थ्य की स्थिति और होम आइसोलेशन के लिए उनके घर की उपयुक्तता की जांच करेंगे। यह सब जांच करने के बाद वे मरीज को बताएंगे कि मरीज होम आइसोलेशन में रह सकते हैं या नहीं। होम आइसोलेशन के लिए फिट पाए जाने पर ही मरीज को घर पर ही आइसोलेशन की अनुमति दी जाएगी।  विस्तृत गाइड लाइन पढ़ने यहां क्लिक करें...

 

25-07-2020
खम्हारडीह में मिले 7 कोरोना मरीज, कंटेनमेंट जोन तय कर इलाकों को किया गया सील

रायपुर। नगर निगम रायपुर अंतर्गत खम्हारडीह थाना इलाके में 7 कोरोना मरीजों की पहचान हुई है। कचना फाटक के पास, कविता नगर, गणेश नगर, ढेबर पिंक सिटी के पास गायत्री नगर, खम्हारडीह बस्ती, राठौर कॉलोनी भावना नगर और एटीएम चौक ग्लोबल टावर में 1-1 मरीज मिले हैं। जिला प्रशासन ने इन इलाकों को कंटेनमेंट जोन घोषित किया है। इन क्षेत्रों को परिसीमा निर्धारित कर सील कर दिया गया है। जारी आदेश के मुताबिक कंटेनमेंट जोन में प्रवेश या निकास के लिए 1 द्वार होगा। सभी दुकानें, ऑफिस या अन्य वाणिज्यिक प्रतिष्ठान आगामी आदेश तक पूर्णतः बंद रहेंगें। होम डिलीवरी के माध्यम से आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति होगी।  सभी प्रकार के वाहनों के आवागमन पर पूर्ण प्रतिबंध रहेगा। मेडिकल इमरजेंसी को छोड़कर अन्य किन्हीं भी कारण से मकान के बाहर निकलना प्रतिबंधित रहेगा। आदेश की कॉपी देखने क्लिक करें...

 

Advertise, Call Now - +91 76111 07804