GLIBS
25-04-2020
बलौदाबाजार के 107 तालाबों को भरने के लिए नहर से पहुंचा गंगरेल का पानी,भूपेश सरकार की शानदार पहल

रायपुर। छत्तीसगढ़ शासन की पहल पर जिला प्रशासन बलौदाबाजार की ओर से गर्मी के मौसम में जिले के तालाबों में निस्तारी के लिए जल भरने का काम शुरू हो चुका है। इस क्रम में गंगरेल जलाशय से पानी जिले में बीबीसी केनाल के जरिये पहुंच गया है। निस्तारी उपयोग के लिए हर वर्ष जिले के चुनिंदे तालाबों में जलभराव किया जाता है। जिले के 77 गांवों के 107 तालाबों को हर वर्ष की तरह इस साल भी पानी से भरने का लक्ष्य रखा गया है। एसडीएम लवीना पाण्डेय एवं कार्यपालन अभियंता जल संसाधन बीपी सिंह ने आज बीबीसी केनाल एवं वितरक नहरों के कई स्थलों का निरीक्षण कर प्रवाहित जल का अवलोकन किया। एसडीएम पाण्डेय ने कहा कि पानी बहुत मूल्यवान है। तालाबों तक नहरों के जरिये पानी पहुंचाया जाये। खेतों में भरते हुए पानी आगे ले जाने से पानी की बहुत बर्बादी होती है। किसी भी सूरत में पानी की बर्बादी नहीं होने चाहिये। तालाब के भर जाने पर नहर तत्काल बंद कर दिए जाए। उन्होंने संबंधित सरपंच एवं पंचायत प्रतिनिधियों तथा ग्रामीण जनों को तालाब भराव कार्य की सतत् निगरानी करने को कहा है। जल संसाधन विभाग के ईई बीपी सिंह ने बताया कि बलौदाबाजार शाखा नहर की लम्बाई 72 किलोमीटर है। इस नहर की 18 वितरक नहर, 29 माइनर्स एवं 14 डायरेक्ट आउटलेट के जरिये निस्तारी उद्देश्य से जल प्रदाय किये जाते हैं। उन्होंने बताया कि जिले की 77 गांवों के 107 तालाबों को निस्तारी के लिए जल प्रदाय करने का लक्ष्य रखा गया है। इनमें बलौदाबाजार विकासखण्ड के 36 गांवों के 55 तालाब, पलारी विकासखण्ड के 19 गांवों के  31 तालाब,भाटापारा के 10 गांवों के 14 तालाब,सिमगा के 4 गांवों के 5 तालाब, आरंग के दो गांवों के दो तालाब एवं तिल्दा के 6 गांवों के 9 तालाब शामिल हैं।

 

26-11-2019
जिले के सिंचाई विस्तार के लिए 53 करोड़ से अधिक की राशि स्वीकृति 

रायपुर। छत्तीसगढ़ शासन के जल संसाधन विभाग द्वारा कोरिया जिले में 6, सरगुजा जिले के 3, बलरामपुर रामानुजगंज जिले के एक, बस्तर जिले के और कांकेर जिले के 4-4 सिंचाई जलाशयों के जीर्णाेंद्धार एवं नहर नाली विस्तार के लिए 53 करोड़ 09 लाख 44 हजार रूपए की प्रशासकीय स्वीकृति जारी की है। इन परियोजनाओं के पूरा होने से 5 जिले के 4431 हेक्टेयर क्षेत्र के सिंचाई रकबा में वृद्धि होगी। जल संसाधन विभाग से मिली जानकारी अनुसार कोरिया जिले के भरतपुर अंतर्गत बरौता जलाशय योजना के नहर एवं माइनर नहर की मरम्मत एवं सी.सी. चैनल का निर्माण कार्य हेतु एक करोड़ 19 लाख 93 हजार रूपए, विकासखण्ड-खड़गवां अंतर्गत बरदर जलाशय योजना के नहरों का जीर्णाेद्धार कार्य हेतु एक करोड़ 87 लाख रूपए, विकासखण्ड-बैकुण्ठपुर अंतर्गत गोबरी जलाशय योजना के नहरों का जीर्णाेद्धार कार्य हेतु एक करोड़ 67 लाख 66 हजार रूपए, गोबरी जलाशय योजना के नहरों की जीर्णाेंद्धार कार्य हेतु 2 करोड़ 96 लाख 79 हजार रूपए, सिलफोड़ा जलाशय के आर.डी. 0 से 300 मिट्टी के कार्य एवं लाईनिंग माईनर में सी.सी. चैनल का जीर्णाेंद्धार हेतु 2 करोड़ 2 लाख 50 हजार रूपए, विकासखण्ड-खडगवां अंतर्गत बंजारीडांड जलाशय योजना के नहरों का जीर्णाेद्धार कार्य हेतु एक करोड़ 33 लाख 45 हजार रूपए स्वीकृत किया गया है।

सरगुजा जिले के विकासखण्ड-लुण्ड्रा अंतर्गत सहनपुर व्यपवर्तन योजना के मुख्य नहर में 10 नग स्ट्रक्चरों का निर्माण कार्य एवं फिलिंग रीच में अर्थवर्क निर्माण कार्य हेतु 2 करोड़ 79 लाख 22 हजार रूपए, विकासखण्ड-बतौली अंतर्गत गहिला जलाशय योजना के केनाल गेट का मरम्मत के लिए 2 करोड़ 63 लाख 50 हजार रूपए, विकासखण्ड-लुण्ड्रा अंतर्गत गंगोली व्यपवर्तन योजना के स्ट्रक्चरों का निर्माण एवं फिलिंग रीच निर्माण के लिए 2 करोड़ 88 लाख 49 हजार रूपए स्वीकृत किया गया है। बलरामपुर-रामानुजगंज जिले के बेलनाला व्यपवर्तन योजना के पुनरीक्षित राशि हेतु 16 करोड़ 62 लाख 73 हजार रूपए, विकासखण्ड बस्तर की कोसारटेडा मध्यम सिंचाई परियोजना जलाशय के भानपुरी के उप लघु नहर, बाकेल, कुम्हली, फाफनी में सी.सी. लाईनिंग कार्य हेतु 2 करोड़ 74 लाख 33 हजार रूपए, विकासखण्ड लोहांडीगुड़ा की तुर्रेमारका तालाब का जीर्णाेद्धार कार्य हेतु 2 करोड़ 95 लाख 64 हजार रूपए, विकासखण्ड बकावंड की ग्राम जिराखाल के समीप चितरंगी नाला पर जिराखाल स्टापडेम निर्माण हेतु एक करोड़ एक लाख 92 हजार रूपए, ग्राम करंजी के बोरिया नाला पर स्टापडेम निर्माण हेतु एक करोड़ 27 लाख 53 हजार रूपए स्वीकृत किया गया है। कांकेर जिले के विकासखण्ड कोयलीबेड़ा की पीव्ही 53 तालाब के सिंचाई नहर मरम्मत के लिए 2 करोड़ 98 लाख 45 हजार रूपए, कोयलीबेड़ा की विद्यानगर पीव्ही 42 एमआईटी तालाब में आरबीसी मरम्मत कार्य हेतु एक करोड़ 40 लाख 30 हजार रूपए, विकासखण्ड चारामा की खैरखेड़ा तालाब का जीर्णाेंद्धार कार्य हेतु 2 करोड़ 97 लाख 55 हजार रूपए तथा अरौद उद्वहन सिंचाई योजना हेतु एक करोड़ 72 लाख 45 हजार रूपए की प्रशासकीय स्वीकृति दी गई है। 
 

05-11-2019
टूटी थी रेल पटरी, ड्राइवर ने लगाया इमरजेंसी ब्रेक,टला हादसा

कटनी। जबलपुर से रीवा जा रही शटल ट्रेन मंगलवार को बड़े हादसे की शिकार होते होते बच गई। ट्रेन में बैठे यात्रियों को अचानक तेज झटका लगा, जिससे बोगियों में हड़कंप मच गया, लोग ट्रेन के रुकते ही नीचे कूदने लगे। बताया जा रहा है कि शटल पैसेंजर निवार स्टेशन से माधवनगर स्टेशन की ओर जा रही थी। तभी अचानक लोको पायलट की नजर टूटी पटरी पर पड़ी। आनन-फानन में ड्राइवर ने इमरजेंसी ब्रेक लगाकर ट्रेन को रोक दिया। इससे यात्रियों को जोर का झटका लगा, जिससे लोग दहशत में आ गए। ड्राइवर द्वारा ट्रेन को इमरजेंसी ब्रेक लगाकर रोकने से बड़ा हादसा टल गया। ट्रेन के रूकते ही यात्रियों में अफरा-तफरी मच गई।

वरिष्ठ अधिकारियों को सूचना देने के बाद रेलवे अमले ने 1 घंटे में सुधार कार्य के बाद ट्रेन को गंतव्य के लिए रवाना किया है। घटना के समय ट्रेन की सभी बोगियों में बड़ी संख्या में यात्री मौजूद थे। रेलवे के अधिकारियों ने बताया कि गाड़ी क्रमांक 51701 रीवा-जबलपुर शटल निवार स्टेशन से रवाना होकर माधव नगर की ओर जा रही थी। जैसे ही शटल गाड़ी 1073/2/3 ट्रेन किलोमीटर के पास आईबीएच सिग्नल के समीप पहुंची वैसे ही लोको पायलट की नहर टूटी हुई पटरी पर पड़ी। आनन-फानन में लोको पायलट ने ट्रेन को बड़ी दुर्घटना से बचाने के लिए इमरजेंसी ब्रेक लगाया।

16-09-2019
Breaking: नहर के तेज बहाव में बह रही बच्ची को दो युवकों ने बचाया

जांजगीर चांपा। जिले में सोमवार को एक बड़ा हादसा टल गया। मुलमुला थाना क्षेत्र के ग्राम पकरिया में नहर किनारे खेल रही एक 4 वर्षीय बच्ची नहर में गिर गई। नहर के तेज बहाव में बह रही बच्ची को दो युवकों ने नहर में छलांग लगाकर बचाया। बच्ची का नाम अंकिता बताया जा रहा है। बच्ची को बचाने वाले दोनों युवक का नाम सूरज मनहर और धीरेंद्र डहरिया हैं। 

 

16-08-2019
ताश के पत्तों की तरह ढहकर नहर में समा गईं कई दुकानें

नीमच। मध्यप्रदेश में लगातार भारी बारिश के कारण कई जिलों में बाढ़ की स्थिति गंभीर हो गई है। कई गांव पानी में डूबे हैं। आवागमन पूरी तरह से प्रभावित हो गया है। लोगों की मुश्किलें लगातार बढ़ती जा रही हैं। राज्य के 18 जिलों पर मूसलाधार बारिश और बाढ़ का बहुत ज्यादा असर हुआ है। नीमच जिले का सामने आया है जहां एक नहर के कटान में कई दुकानें बह गईं।  नहर की बाउंड्री वॉल के किनारे कई अस्थाई दुकानें बनी हैं। पीछे नहर में पानी का तेज बहाव है। अचानक नहर के कटान में किनारे बनी दीवार ढही और दीवार से सटी हुई बनी दुकानें भी धराशाई हो गईं। पलक झफकते ही सारी दुकानें नहर में बह गईं। मंदसौर की स्थिति सबसे दयनीय बनी हुई है। यहां एसडीआरएफ की टीमें बचाव और राहत कार्य में जुटी हैं। स्कूल और कॉलेजों को बंद रखने का निर्देश दिया गया है। अगले 48 घंटे भी यहां भारी बारिश की आशंका है। इसे देखते हुए जिले में अलर्ट जारी है। एसपी हितेश चौधरी ने बताया कि पूरे जिले को अलर्ट पर रखा गया है। पुलिस और प्रशासन की टीमें मुस्तैद हैं। रतलाम और इंदौर से एसडीआरएफ की टीमें बुला ली गई हैं। उन्हें अलग-अलग जगहों पर तैनात किया गया है। मध्यप्रदेश के मालवा-निमाड़ क्षेत्र में भी बारिश का दौर जारी है। सबसे ज्यादा बारिश मंदसौर और नीमच इलाके में हुई है। नीमच जिले के कुकड़ेश्वर नगर के सदर बाजार में पानी भरने से लोग परेशान हो गए। यहां के मोरवन बांध का जल स्तर 51 फीट पहुंच गया। एक फीट पानी और बढऩे पर यह ब्रिज के करीब पहुंच जाएगा। उधर नीमच जिले के मोरवन-सिंगोली रोड पर मोरवन पुलिया के 30 फीट ऊपर पानी बर रहा है। 

 

03-08-2019
नहर के तेज बहाव में बहने से किसान की मौत

बीजापुर। जिले में 48 घंटे से मूसलाधार बारिश हो रही है। मूसलाधार बारिश के चलते एक किसान की मौत की खबर है। बताया जा रहा है कि किसान बैल लेकर खेत किसानी के कार्य में गया हुआ था। घर वापसी के दौरान तालाब की नहर के तेज बहाव में बह गया। किसान का नाम रामैया बताया जा रहा है। परिजनों को सूचना मिलते ही तलाश में जुट गए थे। मगर कुछ दूर में किसान का शव मिला। किसान मट्टीमरका का रहने वाला था। इस घटना की सूचना ग्रामीणों ने भोपालपटनम थाना में दी। घटना की पुष्टि भोपालपटनम के तहसीलदार शिवराम बघेल ने की है।





 

22-07-2019
एक अगस्त से नहर मार्ग पर भारी वाहनों का परिचालन प्रतिबंधित

कोरबा। कलेक्टर एवं जिलादण्डाधिकारी किरण कौशल ने हसदेव दायीं तट नहर (नहर का बायां बैंक) मार्ग के किलोमीटर 8.50 किलोमीटर से 16.50 तक भारी माल वाहनों के आवागमन पर प्रतिबंध लगा दिया है। कार्यपालन अभियंता हसदेव बराज जल प्रबंध संभाग रामपुर द्वारा नहर मार्ग में भारी वाहनों के परिवहन से नहर मार्ग क्षतिग्रस्त होने, किसी प्रकार की दुर्घटनाओं से जानमाल की नुकसान संबंधी आशंकाओं के संबंध में उक्त मार्ग पर भारी वाहनों के परिवहन पर प्रतिबंध लगाये जाने संबंधी अनुरोध पर कलेक्टर ने मोटरयान अधिनियम 1988 की धारा 115 एवं छ.ग. मोटर नियम 1994 के नियम 215 के तहत एक अगस्त 2019 से हसदेव दायी तट नहर मार्ग (नहर का बायां बैंक)में किलोमीटर 8.50 किलोमीटर से 16.50 किलोमीटर में भारी माल वाहनों को प्रतिबंधित किया है। प्रतिबंध पश्चात वैकल्पिक मार्ग का निर्धारण पुलिस विभाग द्वारा जिला परिवहन विभाग, यातायात विभाग, खनिज विभाग एवं ट्रांसपोर्टर्स से चर्चा उपरांत लेने के निर्देश दिए गए हैं।

 

03-02-2019
Death: नहर में डूबने से महिला की मौत, पुलिस ने की लाश बरामद

रायपुर। ग्राम केंद्री के नहर में डूबी महिला की लाश रविवार को अभनपुर पुलिस ने बरामद कर ली है। बता दें कि महिला शोकमती बीते शुक्रवार को 5 बच्चों के साथ नहाने गई थी, चार बच्चों को नहलाने के बाद उन्हें घाट किनारे बिठा दी थी। बाद में महिला अपनी 5 वर्षीय बच्ची के साथ नहर में नहाने के लिए उतरी थी। इसी बीच महिला पानी में बह गई। बच्ची की लाश बीते शुक्रवार को ही पुलिस ने बरामद कर ली थी। खोजबीन के बाद रविवार को महिला का शव भी बरामद कर लिया गया है।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804