GLIBS
18-06-2021
जल जीवन मिशन : रायपुर जिले के 29 गांवों में रेट्रोफिटिंग नल जल प्रदाय योजना की स्वीकृति

रायपुर। जल-जीवन मिशन योजना के अंतर्गत प्रत्येक ग्रामीण परिवार को शुद्ध पेयजल उपलब्ध कराने के लिए घरेलू नल कनेक्शन दिया जाना है। घरेलू नल कनेक्शन के साथ-साथ सार्वजनिक संस्थान जैसे ग्राम पंचायत भवन, स्कूल, आंगनबाड़ी केन्द्र, स्वास्थ्य केन्द्र, कल्याण केन्द्र आदि में भी नल कनेक्शन दिया जाना है। इस योजना का उद्वेश्य पानी की आपूर्ति के लिए बुनियादी ढांचे का निर्माण कर प्रत्येक ग्रामीण परिवार को पर्याप्त मात्रा में पानी नियमित रूप से उपलब्ध कराना है।  जल-जीवन मिशन के अंतर्गत पानी की निरंतर पूर्ति के लिए पेयजल स्रोतों का विकास और मौजूदा स्रोतों का संवर्धन किया जाना है। पहले से स्थापित ग्रामीण क्षेत्रों की जल गुणवत्ता की निगरानी के लिए प्रयोगशाला की सुविधा का उपयोग किया जाएगा। इस मिशन के तहत मौजूदा स्रोत से किसी एक गांव अथवा अधिक गांव को पानी की आपूर्ति की योजना बनाई जा सकती है।


जल जीवन मिशन अंतर्गत रेट्रोफिटिंग नल जल प्रदाय योजना के तहत रायपुर जिले के ग्राम आमसेना में 1 करोड़ चार लाख 38 हजार रुपए, ग्राम अकोलीकला में 98 लाख 10 हजार रुपए, ग्राम भेलवाडीह में 60 लाख 32 हजार रुपए, ग्राम बिठाया में 99 लाख 30 हजार रुपए, ग्राम जंजगीरा में 69 लाख 11 हजार रुपए,  ग्राम सिरवे में 74 लाख 89 हजार रुपए, ग्राम भिभौरी में 99 लाख 67 हजार रुपए,  ग्राम टोहड़ा में 73 लाख 95 हजार रुपए, ग्राम ताराशिव में 96 लाख 13 हजार रुपए, ग्राम मांठ में 1 करोड़ 42 लाख 32 हजार रुपए, ग्राम सिर्री में 1 करोड़ 6 लाख 82 हजार रुपए की प्रशासकीय स्वीकृति प्रदान की गई है।  


इसी प्रकार ग्राम तुलसी में 92 लाख 26 हजार रुपए, ग्राम टेमरी में 49 लाख 94 हजार रुपए, ग्राम धरमपूरा में 95 लाख 36 हजार रुपए, ग्राम सेजबहार में 1 करोड़ 6 लाख 49 हजार रुपए, ग्राम कपसदा में 54 लाख 29 हजार रुपए, ग्राम छपोरा में 99 लाख 83 हजार रुपए,  ग्राम माना में 1 करोड़ 84 लाख 80 हजार रुपए, ग्राम दतरेंगा में 1 करोड़ 21 लाख 62 हजार रुपए, ग्राम भुरकोनी में 54 लाख 39 हजार रुपए, ग्राम लालपुर 21 लाख 66 हजार रुपए, ग्राम कुकेरा में 58 लाख 76 हजार रुपए, ग्राम धनेली-2 में 49 लाख 87 हजार रुपए, ग्राम रायता में 55 लाख 88 हजार रुपए, ग्राम मुजगहन में 47 लाख 76 हजार रुपए, ग्राम डोमा में 1 करोड़ 32 लाख 17 हजार रुपए, ग्राम खोपरा में 1 करोड़ 54 लाख 96 हजार रुपए, ग्राम भटगांव में 1 करोड़ 85 लाख 81 हजार रुपए, ग्राम राखी में 82 लाख 73 हजार रुपए और ग्राम सोनपेैरी में 1 करोड़ 2 लाख 73 हजार रुपए की प्रशासकीय स्वीकृति प्रदान की गई है।

18-06-2021
राहत: जिले में कमजोर हुआ कोरोना, स्वस्थ हुए 65 से अधिक, संक्रतिम मिले 20 से कम

धमतरी। जिले में 24 घंटे के अंदर 16 कोरोना संक्रमित मरीज की पहचान हुई है। जिले में शुक्रवार को मिले संक्रमितों में से धमतरी ग्रामीण से 6, कुरूद ब्लाक से 1 , नगरी से 4, धमतरी शहर से 3 और मगरलोड से 2 संक्रमित मरीज मिले है,वही गुरुवार की रात को धमतरी ग्रामीण से 0, कुरूद ब्लाक से 0 , नगरी से 0 , धमतरी शहर से 0 और मगरलोड से 0 पहचान हुई है। जिला मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ.डीके तुर्रे ने बताया कि शुक्रवार को धमतरी जिले से 16 कोरोना पॉजिटिव मरीज की पहचान हुई है,वही गुरुवार की रात कोई संक्रमित मरीज़ की पहचान नहीं हुई है। जिले में अब तक कोरोना मृतकों की संख्या 552 हो चुकी है। अब तक मिले कुल संक्रमितों की संख्या 26587 हो चुकी है,जिसमें से एक्टिव केस की संख्या 231 है। शुक्रवार को 67 संक्रमितों को स्वस्थ होने के बाद डिस्चार्ज दिया गया,अब तक कुल 25804 लोगों को डिस्चार्ज किया जा चुका है।

 

18-06-2021
सौर सुजला योजना: जिले में अब तक लगभग 16 सौ सोलर पम्प स्थापित

धमतरी। छत्तीसगढ़ राज्य अक्षय ऊर्जा विकास अभिकरण (क्रेडा) ने जिले में अब तक लगभग 16 सौ सोलर पम्प स्थापित किए हैं। इसमें से लगभग 700 से अधिक सोलर पम्पों की स्थापना योजना के चौथे एवं पांचवें चरण में की गई है। योजना के पांचवें चरण में मिले छः सौ के लक्ष्य के विरूद्ध अब तक तीन सौ नग सोलर पम्प स्थापित किए जा चुके हैं। सहायक अभियंता, क्रेडा कमल पुरैना ने बताया कि इनमें सर्वाधिक जिले के वनांचल क्षेत्र नगरी में साढ़े 950 से अधिक सोलर पम्प स्थापित किए गए हैं। उन्होंने बताया कि इस क्षेत्र में जहां खेतों की सिंचाई के लिए बरसात के पानी के भरोसे ही रहना पड़ता था, वहीं सौर सुजला योजना की वजह से किसानों को अन्य विकसित क्षेत्र के किसानों की तरह कृषि के लिए समान अवसर मिल पाया है। इसका परिणाम यह हुआ कि अब इस वनांचल के किसान दो और तीन स्तर की फसल ले पा रहे हैं।

नगरी के ग्राम भैंसमुड़ा में सौर सुजला योजना के पूर्व के चरणों में कुल 16 सोलर पम्प स्थापित किए गए थे, किन्तु सौर सुजला योजना के पांचवें चरण में ही इस ग्राम में 22 सोलर पम्पों की स्थापना हो चुकी है। इसी तरह घटुला, पांडरवाही, जोरातराई इत्यादि ग्रामों के किसान भी सौर सुजला योजना का लाभ लेने आवेदन कृषि विभाग के जरिए क्रेडा में जमा करा रहे हैं। प्रदेश सरकार की महत्ती नरवा, गरूवा, घुरूवा, बाड़ी योजना के तहत जिले के गौठान, चारागाहों में अब तक 136 सोलर पम्पों की स्थापना सौर सुजला योजना के तहत की गई है और लगभग 26 अन्य गौठान, चारागाहों में सोलर पम्पों की स्थापना की जा रही है। क्रेडा द्वारा स्थापित इन सोलर पम्पों से वर्मी तैयार करने और गौठान के गौ-धन के पीने के लिए जल की आपूर्ति हो पा रही है।


इसके अलावा क्रेडा की सौर सुजला योजना के अनुदान और आदिवासी विकास विभाग द्वारा देय हितग्राही अंशदान की वित्तीय सहायता से जिले में अब तक 44 कमार किसानों के यहां सोलर पम्प स्थापित किया गया है। सौर सुजला योजना के पांचवें चरण के तहत पांच अन्य कमार किसानों के यहां सोलर पम्प स्थापित किया जा रहा है। इनमें नगरी के आश्रित ग्राम जबर्रा और खरखा के कुल 11 कमार किसानों के यहां कृषि कार्य के लिए सोलर पम्प स्थापना का काम भी शामिल है। यहां के किसान अमर सिंह, तुलुराम, दयालुराम, देवलाल, गंगाबाई, लगनसिंह, निरंजन, सुखदेव और रंजीत इत्यादि कमार परिवारों के यहां सोलर पम्प की स्थापना की गई। इससे यह किसान दो और तीन स्तरीय फसल लेकर आर्थिक रूप से मजबूत हो अपने जीवन स्तर में व्यापक सुधार ला रहे हैं और काफी खुश हैं।

जिन किसानों के यहां सोलर पम्प की स्थापना की गई है, उनका कहना है कि पहले बिजली कटौती की वजह से सिंचाई प्रभावित होती थी, पर अब सोलर पम्प के लग जाने से इन समस्याओं का सामना उन्हें नहीं करना पड़ रहा है। सौर सुजला योजना से हो रहे फायदे को देख सोलर पम्पों की स्थापना के लिए कृषि विभाग के जरिए क्रेडा में आवेदन कर रहे हैं। इसके अलावा सामुदायिक सिंचाई योजना के तहत जिले की स्व सहायता समूह की महिलाएं सामुहिक रूप से कृषि कर अपने जीवन स्तर में सुधार कर रहीं हैं। जिले में अब तक ऐसे सभी 21 स्व सहायता समूहों के प्रकरणों पर सामान्य श्रेणी के अनुदान दरों पर सोलर पम्पों की स्थापना की गई है।

 

18-06-2021
Video: मुख्यमंत्री ने जिले को दी 122.96 करोड़ के 144 कार्यों की सौगात

जांजगीर चाम्पा।  मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने शुक्रवार को जांजगीर चाम्पा जिले को वर्चुअल कार्यक्रम के दौरान करोड़ों की सौगात दी। जांजगीर के अग्रसेन भवन में आयोजित लाइव कार्यक्रम में मुख्यमंत्री ने 122.96 करोड़ रूपए के 144 विकास कार्यों का रायपुर कार्यालय से लोकार्पण एवं भूमिपूजन किया। इन कार्यों में 46 करोड़ 75 लाख रूपये के 41 कार्यो का लोकार्पण और 76 करोड़ 21 लाख रूपये के 103 कार्यो का भूमिपूजन शामिल है। वर्चुअल कार्यक्रम के दौरान मुख्यमंत्री ने विभिन्न शासकीय योजनाओं के हितग्राहियों, स्व-सहायता समूहों के सदस्यों से मुख्यमंत्री ने चर्चा की साथ ही उनके सवालों का भी जवाब दिया। जांजगीर में आयोजित लाइव कार्यक्रम के दौरान सांसद गुहाराम अजगले, विधायक सौरभ सिंह, एआईसीसी सदस्य मंजू सिंह, जिला पंचायत अध्यक्ष यनीता चन्द्रा, कांग्रेस के सभी वरिष्ठ नेता और कार्यकर्ता, विभागीय अधिकारी कर्मचारी मौजूद रहे। वर्चुअल कार्यक्रम को रायपुर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, जिले के प्रभारी मंत्री टीएस सिंहदेव, शिक्षा मंत्री प्रेम साय सिंह टेकाम, मंत्री रविन्द्र चौबे, चंद्रपुर विधायक रामकुमार यादव ने संबोधित किया।

 

18-06-2021
भूपेश बघेल 19 जून को जिले को देंगे 152 करोड़ रूपए के विकास कार्यों की सौगात

कांकेर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल 19 जून को राजधानी रायपुर स्थित मुख्यमंत्री निवास कार्यालय से वीडियो कान्फ्रेसिंग से कांकेर जिले को 152 करोड़ 59 लाख रूपये के 145 विकास कार्यों की सौगात देंगे। वे 47 करोड़ 36 लाख रूपये के 107 विकास कार्यों का भूमिपूजन और 105 करोड़ 23 लाख रूपये की लागत के 38 कार्यों का लोकार्पण करेंगे। इसके लिए जिला पंचायत कांकेर के परिसर में वर्चुअल कार्यक्रम आयोजित किया जाएगा। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल विभिन्न विकास कार्याें का भूमिपूजन करेंगे। 

 

18-06-2021
भूपेश बघेल ने कोरबावासियों को दी सौगात, 104 करोड़ रुपए की लागत के 121 कार्याें का किया लोकार्पण और शिलान्यास

रायपुर। सीएम भूपेश बघेल ने शुक्रवार को वर्चुअल कार्यक्रम में कोरबा जिले में 104 करोड़ रुपए की लागत के 121 कार्याें का लोकार्पण और शिलान्यास किया। सीएम बघेल इन कार्याें में कोरबा जिले में 36 करोड़ 28 लाख रुपए के 28 कार्याें का लोकार्पण और 67 करोड़ रुपए की लागत के 93 कार्याें का भूमिपूजन किया। स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव, कृषि मंत्री रविंद्र चौबे, स्कूल शिक्षा मंत्री डॉ प्रेमसाय सिंह टेकाम, महिला एवं बाल विकास मंत्री अनिला भेंडिया और मुख्यमंत्री के प्रमुख सचिव सुब्रत साहू रायपुर स्थित मुख्यमंत्री निवास में उपस्थित थे। विधानसभा अध्यक्ष डॉ. चरणदास महंत, सांसद ज्योत्सना महंत, राजस्व मंत्री जयसिंह अग्रवाल कार्यक्रम से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से जुड़े।

17-06-2021
जिले में आज मिले 25 संक्रमित मरीज, 40 हुए स्वस्थ

धमतरी। जिले में 24 घंटे के अंदर 25 कोरोना संक्रमित मरीज की पहचान हुई है। जिले में गुरुवार को मिले संक्रमितों में से धमतरी ग्रामीण से 11, कुरूद ब्लाक से 4 , नगरी से 3, धमतरी शहर से 5 और मगरलोड से 2 संक्रमित मरीज मिले है,वही बुधवार की रात को धमतरी ग्रामीण से 0, कुरूद ब्लाक से 0 , नगरी से 0, धमतरी शहर से 0 और मगरलोड से 0 पहचान हुई है। जिला मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ.डीके तुर्रे ने बताया कि गुरुवार को धमतरी जिले से 25 कोरोना पॉजिटिव मरीज की पहचान हुई है,वही बुधवार की रात कोई संक्रमित मरीज़ की पहचान नहीं हुई है। जिले में अब तक कोरोना मृतकों की संख्या 552 हो चुकी है। अब तक मिले कुल संक्रमितों की संख्या 26571 हो चुकी है,जिसमें से एक्टिव केस की संख्या 279 है। गुरुवार को 40 संक्रमितों को स्वस्थ होने के बाद डिस्चार्ज दिया गया,अब तक कुल 25740 लोगों को डिस्चार्ज किया जा चुका है।

17-06-2021
कोरिया जिले में अब तक हुई 129.7 मिमी बारिश

कोरिया। भू-अभिलेख शाखा के अधिकारियों ने बताया कि जिले के सभी तहसील में गुरुवार तक 9.6 मिमी औसत वर्षा दर्ज की गई है। इस दौरान सर्वाधिक 20.8 मिमी औसत बारिश बैकुण्ठपुर तहसील में दर्ज की गई है। इसे मिलाकर पूरे जिले में एक जून से अब तक 129.7 मिमी औसत वर्षा दर्ज की गई है। उन्होंने बताया कि 1 से 17 जून तक बैकुण्ठपुर तहसील में 152.6, सोनहत तहसील में 208.0, मनेन्द्रगढ तहसील में 111.8, खड़गवां तहसील में 126.5, चिरमिरी तहसील में 143.5, भरतपुर तहसील में 119.2 और केल्हारी तहसील में 46.3 मिमी औसत वर्षा दर्ज की गई है।

17-06-2021
मुख्यमंत्री भूपेश बघेल 18 जून को जिले में करेंगे 122.96 करोड़ रूपए के विकास कार्यों का लोकार्पण और भूमिपूजन  

जांजगीर चांपा। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल 18 जून दोपहर 12 बजे रायपुर निवास कार्यालय से आयोजित वर्चुअल कार्यक्रम में जांजगीर-चांपा जिले के 122 करोड़ 96 लाख रूपए की लागत के 144 विभिन्न निर्माण कार्यों का लोकार्पण और भूमिपूजन करेंगे। इन कार्यों में 46 करोड़ 75 लाख रूपये के 41 कार्यो का लोकार्पण और 76 करोड़ 21 लाख रूपये के 103 कार्यो का भूमिपूजन शामिल है। जिला प्रशासन द्वारा जिला मुख्यालय जांजगीर के नैला स्थित अग्रसेन भवन में लाइव कार्यक्रम के लिए सभी आवश्यक तैयारियां पूरी कर ली गई है। दो बड़े एलईडी स्क्रीन के माध्यम से वर्चुअल कार्यक्रम का प्रदर्शन किया जाएगा। इस दौरान वे विभिन्न शासकीय योजनाओं के हितग्राहियों, स्व-सहायता समूहों के सदस्यों से मुख्यमंत्री चर्चा करेंगें। नैला अग्रसेन भवन में आयोजित वर्चुअल कार्यक्रम स्थल में लोकार्पण व शिलान्यास वाले कार्याें के शिलालेख को व्यवस्थित रूप से रखा गया है। जिला प्रशासन द्वारा बैठक, इंटरनेट व, साफ-सफाई, विद्युत व्यवस्था, कानून व्यवस्था, यातायात,फायर ब्रिगेड,पेयजल आदि की समुचित व्यवस्था के लिए संबंधित विभागों के अधिकारियो को जिम्मेदारी सौंपी है। पुलिस अधीक्षक श्रीमती पारूल माथुर,अपर कलेक्टर श्रीमती लीना कोसम, जिला पंचायत सीईओ  गजेन्द्र सिंह ठाकुर ने कार्यक्रम स्थल अग्रसेन भवन में तैयारियाें का जायजा लिया और कार्यक्रम के व्यवस्थित आयोजन के लिए संबंधित अधिकारियों को दिशा-निर्देश दिए।

 

17-06-2021
मंत्री मो.अकबर के प्रस्ताव पर जिले में लगभग 1.50 करोड़ के विकास कार्यों की स्वीकृति

कवर्धा। वन मंत्री मो.अकबर के प्रस्ताव पर मुख्यमंत्री समग्र ग्रामीण विकास योजना वर्ष 2021-22 के अंतर्गत नवीन पंचायत भवन, सामुदायिक भवन, खाद्य गोदाम, व्यवसायिक परिसर एवं मुक्तिधाम शेड निर्माण के लिए कबीरधाम जिले के लिए 1 करोड़ 49 लाख 33 हजार रूपये के विभिन्न 24 निर्माण कार्यो की स्वीकृति प्राप्त हुई है। मंत्री मो.अकबर ने कबीरधाम जिले के कवर्धा, बोड़ला एवं सहसपुर लोहारा विकासखंड अंतर्गत निर्माण कार्यो का प्रस्ताव मुख्यमंत्री समग्र ग्रामीण विकास योजना से स्वीकृति के लिए भेजा था। प्राप्त जानकारी के अनुसार कवर्धा, बोड़ला एवं सहसपुर लोहारा विकासखंड अंतर्गत स्वीकृत विकास कार्यो में ग्राम मगरवाडा, घोठिया, मोहगांव मे नवीन पंचायत भवन, ग्राम खारा में 2 यूनिट व्यवसायिक परिसर, ग्राम खड़ौदाखुर्द, रेंगाखारकला, सरोधी, अंधरीकछार, बदनापानी, खड़ौदा खुर्द, कोडार, तमरूवा, कुरूवा, सूरजपुरा जंगल में सामुदायिक भवन निर्माण, मक्के, सूखाताल, छांटा झा, कुटकीपारा, भेण्ड्रा में उचित मूल्य की दुकान, धनगांव में सीसी रोड़ निर्माण, जमुनिया में सीसी रोड़ निर्माण एवं ग्राम खजरीकला में मुक्तिधाम शेड़ निर्माण के लिए राशि स्वीकृत की गई। 

 

16-06-2021
जिले में साढ़े 12 हजार क्विंटल बीज सोसाइटियों में उपलब्ध

कोरबा। मानसून के छत्तीसगढ़ आगमन के साथ ही जिले के किसानों को खरीफ मौसम की फसलों के बीज बोने के साथ-साथ जरूरी सभी काम तेज करने की सलाह कृषि अधिकारियों ने दी है। खरीफ मौसम के लिए प्रशासनिक स्तर पर भी कृषि विभाग की तैयारी लगभग पूरी है। किसानों को उनकी आवक बढ़ाने के उद्देश्य से कृषि विभाग के मैदानी अमले द्वारा खरीफ मौसम में धान के बदले दलहनी-तिलहनी फसलें ज्वार, मक्का, अरहर, उड़द के साथ-साथ सोयाबीन, मूंगफली की खेती के लिए प्रोत्साहित किया जा रहा है। खेतों की तैयारी से लेकर खुर्रा बोनी, रोपा और श्री पद्धति से धान की फसल लगाने की जानकारी किसानों को दी जा रही है।


कृषि विभाग के उप संचालक जेडी शुक्ला ने बताया कि जिले में इस वर्ष खरीफ मौसम में किसानों को वितरित करने के लिए अभी तक जिले की सोसाइटियों में 12 हजार 650 क्विंटल बीज का भंण्डारण कर लिया गया है। भण्डारित किए गए बीजों में धान, मक्का, अरहर, उड़द, मूंग, मूंगफली एवं तिल के बीज शामिल हैं। अनाजों के 12 हजार 621 क्विंटल, दलहनी फसलों के 22 क्विंटल एवं तिलहनी फसलों के लगभग सात क्विंटल बीज का भंडारण सोसाइटियों में किया जा चुका है। जिसमें से अभी तक छह हजार 18 क्विंटल बीजों को किसानों ने खेतों में बोने के लिए सोसाइटियों से उठाया है,जिसमें छह हजार क्विंटल धान बीज का उठाव भी शामिल है। खरीफ मौसम में खेतों में बुआई करने के लिए जिले की सोसाइटियों मे धान बीज 12 हजार 617 क्विंटल, मक्का चार क्विंटल, अरहर पांच क्विंटल, उड़द 15 क्विंटल, मूंग दो क्विंटल, मूंगफली तीन क्विंटल एवं तिल बीज तीन क्विंटल का भण्डारण किया जा चुका है। शुक्ला ने किसानों से तेजी से बीज का उठाव करने की अपील की है ताकि समय पर बीज की खेतों में बोनी की जा सके।

 

Advertise, Call Now - +91 76111 07804