GLIBS
25-01-2020
पूर्वी तुर्की में भूकंप के झटके, 22 की मौत,1015 घायल

नई दिल्ली। पूर्वी तुर्की में शुक्रवार को रिक्टर पैमाने पर 6.8 तीव्रता का भूकंप आया, जिसमें कम से कम 22 लोग मारे गए और 1015 घायल हो गए। समाचार एजेंसी सिन्हुआ ने बोगाजिकी के ‘कंदील्ली ऑब्जर्वेटरी एंड अर्थक्वेक रिसर्च इंस्टीट्यूट’ के हवाले से बताया कि राजधानी अंकारा से लगभग 750 किलोमीटर दूर पूर्व में एलाजिग प्रांत के सिवरिस में शक्तिशाली भूकंप के झटके महसूस किए गए। यह स्थानीय समयानुसार रात 8.55 के करीब आया। स्वास्थ्य मंत्री फहरेटिन कोका ने कहा कि एलाजिग प्रांत में 13 और पड़ोस के मालट्या प्रांत में 5 लोगों की मौत हुई है। आंतरिक मामलों के मंत्री सुलेमान सोयलू ने कहा कि 1000 से अधिक लोग घायल हुए हैं। उन्होंने कहा कि नष्ट हो चुके या ढह चुके इमारतों के मलबों से करीब 30 लोगों को ढूंढ़ने के लिए बचाव अभियान जारी है। प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि शक्तिशाली भूकंप 10 से 12 सेकंड तक रहा। एक प्रत्यक्षदर्शी ने कहा, “हमारे आगे अब एक बेहद मुश्किल रात है।” उसने कहा कि स्थानीय तापमान शून्य से पांच डिग्री सेल्सियस नीचे है।

 

06-01-2020
शिमला में आया भूकंप, रिक्टर स्केल पर आंकी गई 3.6 तीव्रता

नई दिल्ली। हिमाचल प्रदेश के शिमला में भूकंप के झटके महसूस किए गए हैं। रिक्टर स्केल पर भूकंप की तीव्रता 3.6 आंकी गई है। कम तीव्रता होने से अधिकांश लोगों को भूकंप का एहसास नहीं हुआ। फिलहाल किसी जानमाल के नुकसान की खबर नहीं है। इससे पहले तीन जनवरी को भी प्रदेश के जनजातीय जिला लाहौल-स्पीति में लगातार भूकंप का झटका लगा। साफ मौसम के बीच लगातार डोल रही धरती से क्षेत्र में हिमखंड गिरने का खतरा बन गया है। इससे पहले गुरुवार शाम 7:38 बजे भूकंप का झटका आया था, फिर शुक्रवार सुबह 10:46 बजे दोबारा झटका महसूस हुआ। रिक्टर स्केल पर भूकंप की तीव्रता 3.4 आंकी गई। मौसम विज्ञान केंद्र शिमला ने पांच जनवरी तक प्रदेश में मौसम साफ रहने के आसार जताया था। अब छह से आठ जनवरी तक बारिश-बर्फबारी का पूर्वानुमान है। पश्चिमी विक्षोभ के कमजोर पड़ने से प्रदेश में मौसम साफ हो गया है। शुक्रवार को प्रदेश के अधिकांश क्षेत्रों में मौसम साफ रहा। राजधानी शिमला में धूप खिलने के साथ हल्के बादल भी छाए रहे।

26-09-2019
इस्तांबुल में आया 5.8 तीव्रता का भूकंप

इस्ताम्बुल। तुर्की में भीषण भूकंप ने यहां के सबसे बड़े शहर इस्तांबुल को जोरदार झटके दिए। स्थानीय मीडिया के मुताबिक रिएक्टर स्केल पर इस भूकंप की तीव्रता 5.8 मापी गई। यहां के कंदिल्ली वेधशाला और भूकंप अनुसंधान संस्थान ने कहा कि गुरुवार (26 सितंबर) को तुर्की के सबसे बड़े शहर इस्तांबुल में 5.8 तीव्रता का भूकंप आया। भूकंप का केंद्र इस्तांबुल से 70 किलोमीटर दूर पश्चिम में मारमरा सागर में था जोकि सिलिव्री शहर के दक्षिण में है। तुर्की के आपातकालीन प्राधिकरण ने भी 5.8 तीव्रता के भूकंप की पुष्टि की है और कहा है कि इस्तांबुल के हिलने से लोग दहशत में हैं। गवाहों ने महसूस किया कि भूकंप के दौरान शहर में इमारतें हिल गईं। आपदा और आपातकालीन प्रबंधन प्राधिकरण ने एक बयान में कहा कि भूकंप मारमरा सागर में स्थानीय समय के अनुसार दोपहर के एक बजकर 39 मिनट पर आया, जिसका केंद्र जमीन से 6.9 किलोमीटर नीचे था। स्थानीय मीडिया के मुताबिक, भूकंप के कारण स्कूलों को खाली कर दिया गया। भूकंप की धमक पड़ोसी प्रांतों में भी महसूस की गई।फिलहाल भूकंप से शहर में कितना नुकसान हुआ है, अभी इस बारे में अपडेट आना बाकी है। 

 

24-09-2019
भूकंप के झटके से दहली दिल्ली-एनसीआर, पाकिस्तान के रावलपिंडी था केंद्र

नई दिल्ली। दिल्ली-एनसीआर में भूकंप के तगड़े झटके महसूस किए गए हैं। भूकंप की तीव्रता रिक्टर स्केल पर 6.3 नापी गई है। भूकंप के झटके 4 बजकर 35 मिनट पर महसूस किए गए हैं। इसका केंद्र पाकिस्तान के रावलपिंडी के पास बताया जा रहा है। बताया जा रहा है कि पाकिस्तान के जाटलान इलाके में भूकंप का केंद्र था। यह जगह लाहौर से करीब से 117 किलोमीटर दूर था। भूकंप के झटके हरियाणा, पंजाब, दिल्ली, कश्मीर, हिमाचल प्रदेश की अलग-अलग जगहों पर भी महसूस किया गया है। पश्चिमी उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद और मेरठ में भी भूकंप के झटके महसूस किए गए हैं। शुरुआती खबरों के मुताबिक भूकंप से जानमाल के नुकसान की कोई सूचना नहीं है। भूकंप का केंद्र पाकिस्तान का जाटलान इलाका बताया जा रहा है। पाकिस्तान से सटे होने के चलते जम्मू-कश्मीर में भूकंप का असर ज्यादा महसूस किया गया है। 

  

 

08-09-2019
हिमाचल और असम में आया भूकंप

नई दिल्ली। असम और हिमाचल में आज तड़के सुबह भूकंप के झटके महसूस किए गए। भारतीय मौसम विभाग के अनुसार रिक्टर स्केल पर दोनों भूकंप की तीव्रता 3.3 मापी गई। भूकंप के झटके महसूस होने के बाद लोग अपने घरों से बाहर निकलकर सुरक्षित स्थान पर पहुंचे। सुबह 7:03 बजे असम के कार्बी आंगलोंग में भूकंप के झटकें महसूस किए गए। लोग झटकें महसूस होने के बाद अफरा-तफरी में घर से बाहर निकले। अभी तक किसी भी दुर्घटना की सूचना नहीं मिली है। इससे पहले हिमाचल प्रदेश लगातार प्राकृतिक आपदाओं की मार झेल रहा है। पहले लगातार हो रही बारिश के अब चंबा में आज देर रात 12.05 बजे भूकंप के झटके महसूस किए गए हैं। भारत मौसम विज्ञान विभाग के मुताबिक इसकी तीव्रता रियेक्टर स्केल पर 3.4 मापी गई। फिलहाल किसी प्रकार के नुकसान की खबर नहीं है।

04-08-2019
जापान में फिर आया 6.3 तीव्रता का भूकंप, सुनामी की नहीं मिली चेतावनी 

जापान। भूकंप के लिए जाने जाने वाले जापान में एक बार फिर भूकंप के तेज झटके महसूस किए गए हैं। रविवार को सुबह जापान के सबसे अधिक आबादी वाले होन्शू द्वीप के तट पर यह भूकंप महसूस किया गया। भू रिक्टर पैमाने पर इस भूकंप की तीव्रता 6.3 मापी गई है। भूकंप का केंद्र लगभग 10:23 (यूटीसी) पर था जो होन्शु द्वीप के पूर्वी तट के  निकट था।

 

05-07-2019
अमेरिका के कैलिफोर्निया में 6.4 तीव्रता का भूकंप

लॉस एंजिलिस। अमेरिका में कैलिफोर्निया प्रांत की सियरलेस घाटी के दक्षिण-पश्चिम क्षेत्र में गुरुवार को भूकंप के तेज झटके महसूस किए गए। अमेरिका के भूवैज्ञानिक सर्वेक्षण विभाग के मुताबिक रिक्टर पैमाने पर भूकंप की तीव्रता 6.4 मापी गई। भूकंप का केन्द्र 35.70 डिग्री उत्तरी अक्षांश और 117.51 डिग्री पश्चिम देशांतर पर सतह से 8.68 किलोमीटर की गहराई में स्थित था। भूकंप के झटके पूरे लॉस एंजिलिस में महसूस किए गए। स्थानीय लोगों के मुताबिक भूकंप के झटके करीब 30 सेकेंड तक महसूस किए गए।

19-06-2019
जापान में 6.7 तीव्रता के भूकंप से 21 लोग घायल

टोक्यो। जापान के पश्चिमोत्तर इलाके में भूकंप के जोरदार झटके के कारण कम से कम 21 लोग घायल हो गए। रिक्टर पैमाने पर भूकंप की तीव्रता 6.7 मापी गयी।
एनएचके ब्राडकास्टर की रिपोर्ट में बुधवार को यह जानकारी दी गयी। इससे पहले मिली खबरों में घायलों की संख्या 15 बतायी गयी थी। जापान में मंगलवार को आए 6.7 तीव्रता के भूकंप से यमागाटा शहर के साथ निगाता, मियागी, और इशिकावा प्रांतों में कई लोग घायल हुए है।
भूकंप के बाद सुनामी की चेतावनी जारी की गई थी, लेकिन बाद में जापान मौसम विज्ञान एजेंसी ने इसे खारिज कर दिया था।

18-06-2019
चीन में भूकंप से 11 लोगों की मौत, 122 घायल

बीजिंग। चीन के सिचुआन प्रांत में सोमवार को आये भूकंप से 11 लोगों की मौत हो गयी और 122 अन्य लोग घायल हो गये।

चीन के भूकंप नेटवर्क केन्द्र (सीईएनसी) के अनुसार रात 10 बजकर 55 मिनट पर आये भूकंप की तीव्रता रिक्टर पैमाने पर 6.0 दर्ज की गयी।

सीईएनसी के अनुसार भूकंप का केन्द्र 28.43 डिग्री उत्तरी अक्षांश और 104 .90 डिग्री पूर्वी देशांतर में जमीन से 16 किलोमीटर की गहराई में स्थित था।

सीईएनसी की रिपोर्ट के अनुसार चानिंग काउंटी में मंगलवार को सुबह 07:34 बजे 5.3 तीव्रता के भूकंप के झटके महसूस किये गये। सीईएनसी की प्रारंभिक रिपोर्ट में कहा गया कि भूकंप का केन्द्र का 28.37 डिग्री उत्तरी अक्षांश और 104.89 डिग्री पूर्वी देशांतर पर दर्ज किया गया। आपातकालीन प्रबंधन मंत्रालय के आपातकालीन विभाग ने राहत और बचाव कार्य के लिए प्रभावित क्षेत्र में राहत कर्मियों के दल को भेजा है।

25-04-2019
मंगल ग्रह पर पहली बार आया भूकंप!

वाशिंगटन। क्या पृथ्वी के अलावा भी दूसरे ग्रहों में भूकंप आता है? इसका उत्तर नासा ने देते हुए कहा है कि हां। नेशनल एयरोनॉटिक्स एंड स्पेस एडमिनिस्ट्रेशन (नासा)  द्वारा प्रक्षेपित रोबोटिक लैंडर 'इनसाइट' ने पहली बार मंगल ग्रह पर संभवत: भूकंप दर्ज किया है।

अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी के अनुसार लैंडर के भूकंपमापी यंत्र 'साइस्मिक एक्सपेरिमेंट फॉर इंटीरियर स्ट्रक्चर (एसईआईएस) ने छह अप्रैल को कमजोर भूकंपीय संकेतों का पता लगाया। 'इनसाइट' का छह अप्रैल को मंगल पर 128वां दिन था। नासा ने एक बयान में कहा कि संभवत: ग्रह के भीतर से भूकंपीय संकेत मिले हैं और ऐसा पहली बार हुआ है। इससे पहले सतह के ऊपर के वायु जैसे कारकों के कारण भूकंपीय संकेत मिलते थे। संकेत के सटीक कारण का पता लगाने के लिए वैज्ञानिक अब भी डेटा की जांच कर रहे हैं। 

22-04-2019
 6.4 की तीव्रता वाले भूकंप से सहमा फिलीपिंस, जान-माल को नुकसान नहीं

नई दिल्ली। फिलीपिंस में सोमवार को 6.4 की तीव्रता का भूकंप आया, जिससे लोग सहम गए। यह जानकारी यूएस जियोलॉजिकल सर्वे ने दी है।  मनीला में कई इमारत व दफ्तर भूकंप के झटके से हिलते दिखे। हालांकि अभी तक किसी तरह के जानमाल के नुकसान की खबर नहीं आई है। साल 2013 में आए भूकंप में कई लोग मारे गए थे।  सोमवार को ही अलास्का के प्रिंस विलियम साउंड क्षेत्र में भूकंप के झटके महसूस किए गए। अलास्का भूकंप केंद्र ने बताया कि वाल्देज से करीब 39 किलोमीटर दूर उत्तर पश्चिम में रविवार सुबह 11 बजकर 48 मिनट पर 3.0 तीव्रता का भूकंप आया। वाल्देज में करीब 3,900 लोग रहते हैं।  केंद्र ने बताया कि वाल्देज के निवासियों ने भूकंप के झटके महसूस किए। भूकंप का केंद्र जमीन से 18 किलोमीटर की गहराई में था। केंद्र ने बताया कि रविवार को शाम छह बजकर चार मिनट पर 3.1 तीव्रता का भूकंप आया। इस भूकंप का केंद्र जमीन से 33 किलोमीटर की गहराई में था। अलास्का के एंड्रियनॉफ  द्वीप और स्टर्लिंग के दक्षिण पश्चिम में भी शनिवार को शाम में भूकंप आया था।  

 

12-04-2019
भूकंप से दहला इंडोनेशिया,  सुनामी की चेतावनी जारी 

जकार्ता। इंडोनेशिया एक बार फिर भूकंप से दहल गया है। सुलेवासी में शुक्रवार को जोरदार भूकंप आया जिससे धरती थरथरा उठी। स्थानीय समयानुसार शाम 6 बजकर 40 मिनिट पर आए इस भूकंप की तीव्रता रिक्टर स्केल पर 6.8 मापी गई है। सुलेवासी में भूकंप के बाद तत्काल सुनामी की चेतावनी जारी कर दी गई है। आपदा प्रबंधन विभाग ने सेंट्रल सुलेवासी के मोरोवली में रहवासियों से इलाका खाली करने के लिए कहा है। भूकंप का केंद्र जमीन से 17 किलोमीटर नीचे बेंगई द्वीप से 85 किलोमीटर दक्षिण पश्चिम की ओर बताया जा रहा है। जीओ फिजिक्स एजेंसी के प्रवक्ता ने बताया है कि इस भूकंप के आने के बाद सूनामी आने की आशंका पैदा हो गई है। भूकंप के बाद अब एजेंसी समुद्री लहरों पर नजर बनाए हुए है। लोगों से इलाका खाली को कहा गया है। एजेंसी ने हालांकि यह भी कहा है कि हो सकता है कि पहली लहर ज्यादा ऊंची न हो लेकिन उसके बाद आने वाली लहरें खतरनाक हो सकती हैं। बता दें कि पिछले साल भी सितंबर में सुलेवासी में भूकंप और सुनामी की वजह से 4000 लोगों की मौत हो गई थी। इसका सबसे ज्यादा असर पालू शहर पर पड़ा था। एजेंसी ने  कहा है कि भूकंप की वजह से अगर सुनामी आती है तो इंडोनेशिया के कालोनोडाल, मेटेनडॉक, पालू, मोरोवली, डोंगी, पेलंग द्वीप, इनोबू, कंडारी और बेंगई में बड़ा नुकसान हो सकता है। 

 

Advertise, Call Now - +91 76111 07804