GLIBS
18-10-2020
राजधानी पुलिस ने शनिवार देर रात चलाया विशेष अभियान, सीएम हाउस सहित 80 स्थानों पर पहुंची 10 टीमें

रायपुर। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अजय यादव के आदेश अनुसार 17-18 अक्टूबर की दरमियानी रात 10 टीमों ने 80 स्थानों पर सुरक्षा व्यवस्था की जांच की। अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शहर लखन पटेल व अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक ग्रामीण तारकेश्वर पटेल के निर्देशन में उप पुलिस अधीक्षक लाइन मणिशंकर चंद्रा के नेतृत्व में 10 टीम जांच के लिए पहुंची। रक्षित केंद्र रायपुर से रक्षित निरीक्षक चंद्रप्रकाश तिवारी, सूबेदार अभिजीत भदौरिया,सूबेदार गोविंद वर्मा और अन्य अधिकारी टीम में शामिल थे। टीमों ने जिले के विभिन्न स्थानों मुख्यमंत्री निवास,गृह मंत्री, स्वास्थ्य मंत्री आदि के निवास पर सुरक्षा व्यवस्था को परखा। साथ ही विभिन्न शासकीय बैंकों,महत्वपूर्ण प्रतिष्ठानों इत्यादि 80 स्थानों में लगे लगभग 250 सुरक्षा गार्डों को चेक किया। चेकिंग के दौरान संत्री की पोजीशन और गार्ड ऑफ फायर , गॉड स्टैंड टू और हथियारों के  सुरक्षित रखे जाने से संबंधित आवश्यक दिशा निर्देश दिए। साथ ही सतर्कता पूर्वक और ईमानदारी पूर्वक ड्यूटी करने, ड्यूटी के दौरान नशा का सेवन नहीं करने, समय पर ड्यूटी पर उपस्थित होने संबंधित आवश्यक निर्देश भी दिए गए। इसके अतिरिक्त डीजीपी के स्पंदन अभियान के तहत सभी कर्मचारियों से किसी भी व्यक्तिगत या अन्य समस्या होने पर तत्काल सूचित करने और निराकरण करने के लिए संबंधित सक्षम अधिकारी को सूचित करने का आश्वासन दिया गया। राजधानी में इस तरह के अभियान आगामी समय में भी लगातार जारी रहेगा।

03-10-2020
यदि आप यातायात नियमों का पालन करेंगे तो रायपुर पुलिस करेगी सम्मान, इस माह 15 चालक बने ट्रैफिक मितान

रायपुर। राजधानी में यातायात नियमों का पालन करने वाले वाहन चलाकों को सम्मानित किया जाएगा। अनुशासित चालकों को सम्मानित किए जाने के लिए वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अजय यादव के निर्देशानुसार 2 अक्टूबर को गांधी जयंती पर ट्रैफिक मितान कार्यक्रम का शुभारंभ किया गया। कार्यालय अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक यातायात रायपुर के कॉंफ्रेंस हॉल में हुए कार्यक्रम में एसएसपी अजय यादव उपस्थित थे। साथ ही अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक यातायात एमआर मंडावी, पुलिस अधीक्षक यातायात कामता सिंह दीवान, सदानंद सिंह, विंध्य राज, सतीश ठाकुर और उप पुलिस अधीक्षक लाइन मणिशंकर चंद्रा व सुरक्षित भव फाऊंडेशन के सदस्य उपस्थित थे। कार्यक्रम का प्रमुख उद्देश्य यातायात नियमों का पालन कर वाहन चलाने वाले चालकों को सम्मानित किया जाना है।

इसकी शुरुआत 2 अक्टूबर गांधी जयंती के उपलक्ष में हुई। यातायात नियमों का पालन कर वाहन चलाने वाले 15 चालकों को पुरस्कृत कर ट्रैफिक मितान बनाया गया। यह ट्रैफिक मितान यातायात पुलिस के सूत्रधार होंगे। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अजय यादव ने नागरिकों से अपील की है कि वाहन चलाने के दौरान हमेशा यातायात नियमों का पालन करें। अपने घर परिवार के लोगों को भी नियमों का पालन करने के लिए प्रेरित कर समाज में एक जिम्मेदार नागरिक होने का कर्तव्य निभाएं।स्मार्ट सिटी रायपुर में स्मार्ट ट्रैफिक बनाने के उद्देश्य से आईटीएमएस सिस्टम के तहत कैमरे लगाए गए हैं। इन कैमरों के माध्यम से अनुशासित तरीके से यातायात नियमों का पालन करते हुए वाहन चलाने वाले चालकों को चयन किया जाएगा। उन्हें यातायात मितान बनाते हुए प्रमाण पत्र प्रदान किया जाएगा। ट्रैफिक मितान का प्रमाण पत्र अनुशासित तरीके से वाहन चलाने वाले वाहन चालकों को उनके घर के पते पर जाकर ट्रैफिक पुलिस देगी।

ट्रैफिक मितान यातायात नियमों के प्रति आम लोगों को जागरूक भी करेंगे। यातायात पुलिस के साथ मिलकर यातायात व्यवस्था को सरल ,सुगम ,एवं सुव्यवस्थित ,बनाने में रायपुर यातायात पुलिस की मदद करेंगे। रायपुर पुलिस ट्रैफिक मितान माह अक्टूबर के तहत प्रवीण कुमार यादव पेंशन बाड़ा, हरी राम निषाद,सुरेश सिंह बिरगांव, बीएल अग्रवाल शंकर नगर, विजय शंकर चौबे देवेंद्र नगर, सुरेश तिवारी बोरियाखुर्द,हर्षलाल जयसवाल, मुकेश विश्वकर्मा भनपुरी, हरीश कुमार दवे उरला, आकाश जैन प्रोफेसर कॉलोनी, माकन साहू पचपेड़ी नाका, सुनीता संचोरीया छत्तीसगढ़ नगर, पल्लवी यादव, सुभ्रा ठाकुर और सुरक्षित भव फाउंडेशन के चेयरमैन संदीप धूपर को रायपुर पुलिस ट्रैफिक मितान के सम्मान से सम्मानित कर प्रशस्ति पत्र प्रदान किया गया।

29-09-2020
Video : लॉक डाउन हटते ही बाजारों में पहुंचे कलेक्टर और एसएसपी,नियमों का पालन करने दिए समझाइश

रायपुर। राजधानी में लॉक डाउन हटने के पहले दिन मंगलवार को कलेक्टर डॉ. एस. भारती दासन और वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक सड़क पर उतरे। कोविड-19 की रोकथाम व नियंत्रण के लिए कलेक्टर और एसएसपी के साथ कोरोना योद्धाओं का दलजारी  जागरुकता महाअभियान के तहत शहर के विभिन्न बाजारों में पहुंचा। कलेक्टर, एएसएसपी और कोरोना वारियर्स की टीम ने संक्रमण से बचाव के लिए मास्क पहनने, दूरी बनाए रखने व भीड़-भाड़ में जाने से बचने की समझाइश लोगों को दी।  उन्होंने कहा कि, इन सामूहिक प्रयासों से रायपुर के व्यवसायी अपनी जिम्मेदारी निभाते हुए अपने-अपने दुकानों में बिना मास्क के आने पर रोक-टोक करें। दुकानों पर रस्सियों के सहारे बेरिकेटिंग कर सामाजिक दूरी के नियम का पालन तय करने के निर्देश भी दिए। जिला पुलिस, नगर निगम की संयुक्त टीम को लगातार चौक-चौराहों पर चालानी कार्रवाई कर लोगों को सजग करने कहा। कोरोना गाइडलाइन का उल्लंघन करने वालो पर एपेडिमिक एक्ट के तहत कार्रवाई करने के निर्देश दिए।
 

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अजय यादव ने कोरोना संक्रमण के रोकथाम और नियंत्रण के लिए शहर के सभी चौक-चौराहों पर निगरानी रखने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि, बिना मास्क बाइक में सड़कों पर निकलने वालों पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी। दोपहिया वाहनों पर बिना मास्क के घूमने वालों पर आईटीएमएस के हाइटेक कैमरों से निगरानी की जा रही है। समझाइश के बाद भी लापरवाही बरतने वालों को यातायात पुलिस नोटिस भेज रही है। लोग जागरूक हो और नियमो का पालन करें। बताया गया कि, नगर निगम कमिश्नर सौरभ कुमार के निर्देशन में सभी जोन कमिश्नर और उनके साथ संलग्न स्व-सहायता समूह की महिलाएं और नगर निगम का दस्ता पूरे शहर में घूम कर नियमों का उल्लंघन करने वालों पर जुर्माने कार्रवाई करेगा। जिला पंचायत के सीईओ डॉ. गौरव कुमार सिंह के नेतृत्व में लोगों को जागरूक करने इस महा-अभियान से सामाजिक संस्थाओं के साथ वेलफेयर एसोसिएशन, मोहल्ला समिति अपनी बड़ी भूमिका निभा रहा है। इसी कड़ी में अनलॉक के पहले दिन कोरोना योद्धाओं का दल मंगलवार को कई सब्जी बाजारों में पहुंचा। लोगों को कोरोना से बचाव के लिए जागरूक किया। जिला प्रशासन,नगर निगम व पुलिस अधिकारियों का दस्ता ने शास्त्री बाजार, बीटीआई बाजार, लोधीपारा सब्जी बाजार,संजय गांधी बाजार रेलवे स्टेशन और खमतराई बाजार पहुंचा था।

28-09-2020
Video: कलेक्टर और एसएसपी ने की अपील : लॉक डाउन स्थायी हल नहीं,कोरोना से बचने आत्मनियंत्रण और जागरुकता जरूरी 

रायपुर। कलेक्टर डॉ. एस. भारतीदासन और और वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अजय यादव ने जिलेवासियों से अपील की है। उन्होंने कहा है कि, अनावश्यक घर से बाहर न निकलें। किसी काम से बाहर जाने पर मास्क पहनकर जाएं और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें। उन्होंने एक सप्ताह के लॉक डाउन का पालन करने के लिए नागरिकों का आभार माना है। कलेक्टर ने गत दिनों भी वीडियो संदेश जारी कर कहा था कि,लॉक डाउन हो या कंटेनमेंट जोन, ये स्थायी हल नहीं है। लॉकडाउन अवधि समाप्त होने के बाद भी आत्मनियंत्रण को जीवन का हिस्सा बनाना पड़ेगा। बाहर निकलने पर मास्क पहनना और बाहर से घर लौटने पर  हाथ धोना और सामाजित दूरी के नियम का पालन करना होगा। 
कलेक्टर और एसपी ने संयुक्त अपील कर कहा कि,कोरोना संक्रमण की श्रृंखला को बाधित करने के लिए एक सप्ताह का लॉक डाउन लगाया गया था। इसमें जिलेवासियों का भरपूर सहयोग रहा है और उम्मीद है कि, इसके सकारात्मक परिणाम आएंगे। उन्होंने कहा है कि, हम सभी की जिम्मेदारी और ज्यादा बढ़ गई है क्योंकि लॉक डाउन हटने के बाद प्रशासनिक नियंत्रण में ढील होने के बाद हमें आत्म नियंत्रण एवं जागरुकता के माध्यम से कोरोना के संक्रमण से बचना होगा।
उन्होंने कहा है कि,थोड़ी सी असावधानी हंसते खेलते परिवार और अतिप्रियजनों के लिए अत्यंत घातक हो सकती है। जानलेवा हो सकती है। जैसा कि सभी जानते हैं कि, यह महामारी शरीर की प्रतिरोधक क्षमता से जुड़ी हुई है। कमजोर प्रतिरोधक क्षमता और असाध्य बीमारी से पीड़ित लोगों के लिए यह महामारी जानलेवा सिद्ध हो रही है। अत: अपने परिवार और समाज की बेहतरी के लिए अभी भी उतना ही घर से बाहर निकले जितना कि अत्यंत आवश्यक हो और पूर्ण सुरक्षा के साथ ही निकले। मास्क पहनना और सोशल डिस्टेंसिंग ही वर्तमान में कोरोना से बचाव के साधन है।  कलेक्टर और एसपी ने आमनागरिकों से कहा है कि,सभी के सहयोग से ही इस महामारी पर हम विजय प्राप्त करेंगे। इसलिए व्यक्तिगत और समाज हित में सभी आत्म नियंत्रण के साथ प्रशासन का सहयोग करें। शासन और प्रशासन के सभी अंग सदैव आपकी सेवा और सुरक्षा के लिए कटिबद्ध है।

27-09-2020
राजधानी में लॉक डाउन बढ़ेगा या नहीं फैसला सोमवार को,रविन्द्र चौबे करेंगे समीक्षा

रायपुर। राजधानी रायपुर में जारी 1 सप्ताह के लॉकडाउन का सोमवार 28 सितंबर को अंतिम दिन है। 21 सितंबर की रात 9 बजे से 28 सितंबर की रात 12 बजे तक कलेक्टर डॉ. एस.भारतीदासन ने पूरे जिले को कंटेनमेंट जोन घोषित किया था। अब लॉकडाउन को लेकर महत्वपूर्ण फैसला सोमवार को मंत्री रविन्द्र चौबे की अध्यक्षता में होने वाली समीक्षा बैठक में होगा। मंत्री चौबे ने रविवार को मीडिया को बयान दिया है। उन्होंने कहा है कि सोमवार को कलेक्टर डॉ. एस. भारतीदासन व जिला प्रशासन के अधिकारियों और जनप्रतिनिधियों के साथ बैठक में चर्चा होगी। जिले की वर्तमान स्थितियों पर विचार-विमर्श किया जाएगा। बता दें कि रायपुर में लगातार बढ़ रहे कोरोना संक्रमण के मामले को देखते हुए जारी लॉकडाउन में व्यवस्थाओं का जायजा लेने गत दिनों जिले के प्रभारी मंत्री रविन्द्र चौबे सड़क पर उतरे थे। उन्होंने शहर में घूमकर तमाम व्यवस्थाओं को देखा था और पुलिस टीम की सराहना भी की थी। उन्होंने उस दौरान भी मीडिया से चर्चा के दौरान कहा था कि समीक्षा के बाद ही कोई फैसला लिया जाएगा। मंत्री चौबे के साथ व्यवस्थाओं का जायजा लेने संसदीय सचिव व विधायक विकास उपाध्याय, विधायक कुलदीप जुनेजा, कलेक्टर डॉ.एस.भारतीदासन और वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अजय यादव भी निकले थे। इधर रोजाना के आंकड़ों पर गौर करें तो लॉकडाउन के बाद भी राजधानी में कोरोना मरीजों के मिलने की संख्या में कोई कमी नहीं हुई है। रोजाना प्रदेश में सर्वाधिक रायपुर जिले में कोरोना मरीज मिल रहे हैं। अब देखना है कि,सोमवार की बैठक में क्या निर्णय लिया जाता है। लॉक डाउन को लेकर जो भी फैसला हो,सभी को बेसब्री से इंतजार है।

23-09-2020
रायपुर पुलिस ने निकाला कोरोना जनजागरुकता बाइक फ्लैग मार्च,तंग और सकरी गलियों में रहा फोकस

रायपुर। राजधानी में लॉक डाउन को पूर्णत: सफल बनाने वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अजय यादव के निर्देशन पर अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शहर रायपुर लखन पटले के नेतृत्व में बुधवार को 80 मोटरसाइकिल पेट्रोलिंग पार्टी ने शहर में कोरोना जनजागरुकता बाइक फ्लैग मार्च  निकाला। जो शहर के भीतर तंग और सकरी गलियों में जाकर लाउड इनहेलर के माध्यम से कोरोना संक्रमण की रोकथाम और बचाव के लिए घर में रहने व कोरोना गाइडलाइन का पालन करते हुए नियमित हाथ धोने फेस मास्क का उपयोग करने और सैनीटाइजर का उपयोग करने संबंधी जानकारी दिया गया। लॉक डाउन के दूसरे दिन शहर के सभी प्रवेश पाइंट और प्रमुख चौक चौराहों पर नाकेबंदी रही। इसमें लॉक डाउन के नियमों का उल्लंघन कर अनावश्यक घर से निकलने वाले वाहन चालकों को रोककर पूछताछ की जा रही है। बिना उचित कारण के अनावश्यक घूमते पाए जाने पर कार्रवाई की जा रही है। दूसरे दिन ऐसे 100 से अधिक व्यक्तियों के विरुद्ध शहर के अलग-अलग क्षेत्रों में चेकिंग पाइंट पर कार्रवाई की गई। साथ ही 47 लोगों  के विरुद्ध धारा 188 के तहत 33 प्रकरण दर्ज किया गया।  
पुलिस ने राजधानी के लोगों से अपील है कि कोरोना संक्रमण के बढ़ते ग्राफ की रोकथाम और चेन तोड़ने कलेक्टर एवं जिला दंडाधिकारी की ओर से जारी लॉक डाउन को सफल बनाने अपना पूर्ण सहयोग दें। अनावश्यक घर से बाहर ना निकले। अत्यंत आवश्यक होने पर ही घर से निकले। पूर्ण गाइडलाइन का पालन करें। फेस मास्क का उपयोग करें। नियमित समय पर हाथों की सफाई करें। पूर्ण संक्रमण की रोकथाम के लिए रायपुर पुलिस का सहयोग करें।

 

25-08-2020
नियम तोड़ने पर 264 लोगों ने भरा जुर्माना, नगर निगम के सभी जोनों में कार्यवाही जारी  

रायपुर। कोविड से बचाव के संबंध में जारी दिशानिर्देशों व नियमों का उल्लंघन करने पर लगातार नगर निगम के सभी जोनों में कार्यवाही जारी है। इसी क्रम में सोमवार को भी नियम तोड़ने वालों से जुर्माना वसूल किया गया। जोन 3 की टीम ने 87 लोगों से 4845 रुपए नियम तोड़ने पर जुर्माना वसूला। जोन 4 की टीम ने 101 लोगों से 7250 रुपए और जोन 5 की टीम ने 76 लोगों से 4820 जुर्माना वसूला। निगम की टीमों ने पुलिस की टीमों के साथ मिलकर जोन कमिश्नर के नेतृत्व में बाजार में अभियान चलाया। 264 लोगों से 16915 रुपए जुर्माना वसूल किया गया। 

बता दें कि रायपुर कलेक्टर डॉ. एस भारतीदासन के आदेशानुसार और नगर निगम रायपुर के आयुक्त सौरभ कुमार और वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अजय यादव के निर्देशानुसार रायपुर नगर निगम के सभी 10 जोनों के नगर निवेश, स्वास्थ्य, राजस्व विभाग की टीमों की ओर से  पुलिस प्रशासन की टीम के साथ मिलकर अभियान चलाया जा रहा है। शहर निगम क्षेत्र में कोविड 19 के संक्रमण के प्रसार की रोकथाम कारगर तरीके से करने निरंतर मास्क नहीं लगाने वाले, सामाजिक दूरी के नियम तोड़ने वाले और लॉक डाउन नियम तोड़ने वाले लोगों व दुकानदारों पर कार्यवाही निरंतर जारी है।

10-08-2020
कोविड स्पेशल टास्क फोर्स ने बाजारों में दी दबिश, समझाइश के साथ सख्ती जारी

रायपुर। कलेक्टर डाॅ. एस. भारतीदासन के निर्देश पर कोविड स्पेशल टास्क फोर्स ने सोमवार को टिकरापारा, डूमर तराई फल मंडी, डूमर तराई सब्जी मंडी, देवपुरी, आमापारा क्षेत्र का औचक निरीक्षण किया। कोरोना रोकथाम के नियमों का उल्लंघन करने वालों पर कार्यवाई कर, दोबारा गलती न दोहराने की चेतावनी दी। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अजय यादव व नगर निगम कमिश्नर सौरभ कुमार के निर्देश पर जिला पुलिस व नगर निगम का अमला बगैर मास्क व सोशल डिस्टेंसिंग का उल्लंघन कर दुकान चला रहे व्यवसायियों पर दंडात्मक कार्यवाही भी कर रहा है। सीईओ डाॅ. गौरव कुमार सिंह के नेतृत्व में इस समय 50 से भी अधिक एनजीओ के 500 से ज्यादा वालेंटियर्स, जिला अधिकारियों के साथ रोज फील्ड पर उतर कर मास्क पहनने व सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने पूरे शहर में समझाइश दे रहे हैं। 

जागरूकता अभियान के अंतर्गत ऐसे जरूरमंद लोग, वृद्ध, बच्चे व छोटे दुकानदारों को यह टीम निशुल्क मास्क भी वितरित कर कोरोना से बचाव के लिए इसकी उपयोगिता समझा रही है। इस स्पेशल टास्क फोर्स में जिला प्रशासन, जिला पुलिस, महिला बाल विकास विभाग, समाज कल्याण विभाग, शिक्षा विभाग व नगर निगम के आला अधिकारी-कर्मचारी शामिल हैं। यह टास्क फोर्स नियमों का उल्लंघन करने वालों पर सख्ती बरतते हुए कार्यवाही कर दोबारा गलती न दोहराने की समझाइश भी दे रही है। देवपुरी स्थित सालनी जनरल स्टोर पर मास्क पहने बिना सामान विक्रय पर चालानी कार्यवाही कर दोबारा गलती दोहराने पर दुकान सील करने की भी चेतावनी दी गई है। कलेक्टर के निर्देशन पर सड़कों पर उतरी यह टास्क फोर्स बिना मास्क पहने व सोशल डिस्टेसिंग के नियमों का उल्लंघन करने वाले दुकानदारों को चिंहांकित भी कर रही है। दोबारा गलती दोहराने पर इस टीम की ओर से बिना रियायत दुकानों को सील कर दिया जाएगा।

टीम दुकानों में मास्क नहीं, तो सामान नहीं का स्टीकर भी चिपका रही है। सभी दुकानदारों को समझाइश भी दी जा रही है कि, वे अपने दुकानों पर किसी भी स्थिति में भीड़ न लगने दें व सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का पालन करते हुए मास्क लगाकर ही सामान का विक्रय करें। थोक व चिल्हर विक्रेताओं को बताया गया कि, कोरोना से बचाव के लिए सभी कर्मचारियों के साथ ग्राहकों को मास्क लगाने पर ही दुकान संचालन की अनुमति है। अतः हर स्थिति में इसका पालन सुनिश्चित करना उनका दायित्व है। बिना मास्क आने वाले ग्राहकों को सामान न दें और ग्राहकों को उपलब्ध कराने प्रत्येक दुकानदार को 50 मास्क विक्रय या निशुल्क दिए जाने के लिए रखा जाना आवश्यक है। स्पेशल टीम बाजारों के निरीक्षण के दौरान इसकी भी जांच कर रही है।

07-08-2020
अनलॉक रायपुर : संक्रमण से बचाने कड़ाई हुई खत्म, फिर बातों से समझाने की कोशिश शुरू

रायपुर। लॉक डाउन के बाद आज से रायपुर में अनलॉक की प्रक्रिया शुरू हो गई है। इसी के साथ शुक्रवार फिर एक बार लोगों को समझाने की मुहिम शुरू हुई और समझाइश भी क्या, मास्क पहने, सामाजिक दूरी का पालन करें और भीड़-भाड़ में न जाएं।  शुक्रवार को कलेक्टर डॉ. एस. भारतीदासन के मार्गदर्शन में 40 से भी अधिक स्वयंसेवी संस्थाओं के वॉलेंटियर्स सड़कों, बाजारों, दुकानों में जाकर सभी को समझाते नजर आए। बता दें कि ,वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अजय यादव और नगर निगम कमिश्नर सौरभ कुमार के निर्देश पर, निगम जोन टीम और स्थानीय पुलिस नियमों का उल्लंघन करने वालों पर चेतावनी व जुर्माने की कार्रवाई भी लगातार कर रही है। इसी कड़ी में आज कोरोना के संक्रमण को रोकने एनजीओ के वालेंटियर्स प्रशासनिक अधिकारियों के साथ सुबह 6 बजे से ही शहर के हर प्रमुख सब्जी बाजारों में तैनात थे।

सभी ग्राहक व विक्रेताओं को एनजीओ के सदस्य जाकर लगातार समझाइश देते दिखे। यह पूरी टीम सीईओ जिला पंचायत डॉ. गौरव कुमार सिंह के निर्देशन में प्रशासनिक व जिला अधिकारियों के साथ इस जागरुकता अभियान के अंतर्गत रायपुर के विभिन्न क्षेत्रों में पहुंची। टीम सब्जी बाजार, मेडिकल, किराना, डेयरी की दुकानों पर भी जाकर लोगों को मास्क की उपयोगिता बताई। बाजारों और दुकानों में भीड़ न लगाने पर सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने कहा। विक्रेताओं को यह भी समझाइश दी गई कि, मास्क न लगाने वालों को सामान न दें और स्वयं भी अपने दुकान पर विक्रय या निशुल्क वितरण के लिए पर्याप्त मास्क की व्यवस्था रखें। टीम ने जरूरतमंदों को निःशुल्क मास्क का वितरण भी जगह-जगह पर किया।जिला पंचायत के सी.ई.ओं. डाॅ. गौरव कुमार सिंह के साथ महिला बाल विकास विभाग अधिकारी  एके पांडे, जिला पंचायत के एडिशनल सीईओ हरिकृष्ण जोशी, समाज कल्याण विभाग के संयुक्त संचालक भूपेन्द्र पांडे, स्मार्ट सिटी के महाप्रबंधक जनसंपर्क आशीष मिश्रा, डीएसपी. ट्रैफिक सतीश सिंह ठाकुर, इंस्पेक्टर अम्बरीश शर्मा, अकाउंट ऑफिसर एफ. जोसेफ, जिला पंचायत के सहायक परियोजना अधिकारी चुन्नी लाल शर्मा सहित पुलिस, नगर निगम, जिला पंचायत, समाज कल्याण, सहित विभिन्न विभागों के आला अधिकारियों ने भ्रमण कर बाजारों का निरीक्षण किया।

इस दल के साथ लाउड स्पीकर के माध्यम से सतर्कता बरतने की अपील करते हुए मास्क न लगाने वालों को सीधे समझाया गया।यह दल आज सुबह बीटीआई, तेलीबांधा, शास्त्री बाजार, पुरानी बस्ती, मंगल बाजार, आमापारा, गुढ़ियारी, रेलवे स्टेशन, फाफाडीह, मालवीय रोड में भ्रमण करते हुए लोगों को सतर्कता बरतने की अपील की। जिला प्रशासन ने इस जागरूकता कार्यक्रम में नगर की सभी एनजीओं को अपने साथ शामिल किया है। इसके लिए एक बैठक का आयोजन कर अलग-अलग बाजारों और क्षेत्रों की जिम्मेदारी भी पृथक-पृथक एनजीओ को दी गई है।

05-08-2020
वक्ता मंच कोरोना रोकथाम के लिए सहायता व जागरूकता कार्य तेज करेगा

रायपुर। राजधानी में कोरोना की रोकथाम के लिए समाजसेवी संस्थाओं की भूमिका विषय पर 5 अगस्त को कलेक्ट्रेट हाल में प्रमुख एनजीओ की बैठक हुई। बैठक में रायपुर जिलाधीश डॉ. एस. भारतीदासन,वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अजय यादव,स्मार्ट सिटी के सीईओ आशीष मिश्रा निगम आयुक्त सौरभ कुमार एवं जिला पंचायत के मुख्य कार्यकारी अधिकारी गौरव कुमार सिंह सहित अनेक प्रमुख अधिकारी उपस्थित थे। इस महत्वपूर्ण बैठक को संबोधित करते हुए जिलाधीश एस. भारतीदासन ने कोरोना की रोकथाम के लिए अधिक प्रभावी कार्य किये जाने की जरूरत रेखांकित की। उन्होंने समाजसेवी संस्थाओं से अनुरोध किया कि मास्क की अनिवार्यता,सोशल डिस्टेंस का पालन करवाने,संक्रमित क्षेत्र में सेवा कार्य करने के लिए आगे आये। इस बैठक में वक्ता मंच की ओर से संस्था के संयोजक शुभम साहू ने भागीदारी करते हुए जिला प्रशासन को विश्वास दिलाया कि मंच द्वारा जारी सेवा एवं जागरूकता कार्यो में और तेजी लाई जाएगी।

आगामी दिनों वक्ता मंच के कार्यकर्ता गरीब बस्तियों में मास्क,सैनिटाइजर,सूखा राशन लेकर पहुचेंगे और जागरूकता कार्य भी करेंगे। वक्ता मंच द्वारा जन जागरण के लिए 2 पोस्टर जारी किये गए,इन्हें पोस्टर व पर्चो के रूप में बड़ी संख्या में आम जनता तक पहुंचाया जायेगा। इसके साथ ही सोशल मीडिया  से भी जागरूकता का कार्य किया जायेगा। वक्ता मंच के अध्यक्ष राजेश पराते ने मंच के समस्त पदाधिकारियों एवं कार्यकर्ताओं से जिला प्रशासन के सहयोग से सेवा एवं जागरण कार्य जोर शोर से आयोजित करने की अपील की है।

 

Advertise, Call Now - +91 76111 07804