GLIBS
14-12-2019
फिर दहशत में दिल्ली, फिर लगी आग, फिर बजी खतरे की घण्टी, कब तक नहीं जागेंगे हम

रायपुर। दिल्ली में फिर एक बार दहशत फैल गई है। दिल्ली में फिर एक बार आग लगी है। दिल्ली में फिर एक बार फायर ब्रिगेड के लोग आग बुझाने के लिए मशक्कत कर रहे हैं। दिल्ली में जिंदगी एक बार फिर दांव पर लगी है। दिल्ली में एक बार फिर प्रशासनिक तंत्र की लापरवाही सामने आई है  दिल्ली में एक बार फिर नियमों की अनदेखी सामने आई है। दिल्ली में एक बार फिर शहरी, रिहायशी इलाकों में मौत के कारखाने मौत के गोदाम मौत का सामान बिखरा नजर आ रहा है। दिल्ली में लकड़ी गोदाम में लगी आग सिर्फ दिल्ली में दहशत या खतरे का सबब नहीं है, कमोबेश यही हाल रायपुर का भी है और देश के छोटे बड़े सभी शहरों का भी है। कहीं रसूख का असर है तो कहीं ले देकर मामला रफा-दफा करने का तो कहीं चलने दो चलता है वाला रवैया। बहरहाल दिल्ली में लगी आग बुझाने में फायर फाइटर्स अपनी जान हथेली पर लेकर जूझ रहे है। और प्रशासन शायद जनहानि और मुआवजे का अनुमान लगा रहा है। यही हर बार होता है। और लगता है यही होता आएगा। पता नहीं कब सिस्टम जागेगा? और मौत के कारखाने मौत के गोदामों को शहरी इलाकों से बाहर करने की कार्रवाई शुरू करेगा।

12-12-2019
ट्रैैक्टर ले जा रहे ट्राले में लगी आग

भोपाल। ट्रॉले में रखे पांच ट्रैक्टर में अचानक आग लग गई। ट्राला भोपाल से जबलपुर की ओर जा रहा था। हादसे में ट्राले में रखे 5 ट्रैक्टर में से दो ट्रैक्टर और ट्राला जलकर ख़ाक हो गए। दुर्घटना रायसेन जिले के उमरावगंज थाना क्षेत्र की है। थाना प्रभारी ने बताया कि बीती रात भोपाल से जबलपुर की ओर जा रहा ट्राला क्रमांक एचआर-38क्यू 9464 में भोपाल से पांच ट्रैक्टर जा रहे थे तभी अचानक तिलेड़ी के पास ट्राले में आग लग गई। आग ने भयानक रूप ले लिया और ट्राला सहित दो ट्रैक्टर ने आग पकड़ ली, जिसके चलते ट्राला और दो ट्रैक्टर पूरी तरह जलकर खाक हो गए। ट्राला चालक ने किसी तरह उतरकर अपनी जान बचाई। पुलिस टीम प्रारंभिक जांच में आग लगने का कारण शॉर्ट सर्किट होना बताया है। पुलिस मामला दर्ज कर जांच में जुट गई है।

 

09-12-2019
24 घंटो के भीतर फैक्ट्री में दुबारा लगी आग, दमकल विभाग पहुंचा मौके पर  

नई दिल्ली। राजधानी दिल्ली से बड़ी खबर सामने आई है। यहां फिल्मिस्तान में एक बार फिर से आग लग गई है। 24 घंटे एक बाद फिर फैक्ट्री से धुआं निकलता दिखाई दिया है। घटना की खबर मिलते ही आसपास के इलाके में हड़कंप मच गया। सूचना मिलते ही दमकल विभाग की कई गाड़ियों ने मौके पर पहुंच आग पर काबू पाने का प्रयास शुरू किया है। बता दें कि इससे पहले रविवार को फैक्ट्री में आग लगी भीषण आग की वजह से 43 लोगों की मौत हो गई थी। दरअसल, दिल्ली के रानी झांसी रोड स्थित अनाज मंडी इलाके में एक चार मंजिला इमारत में रविवार को लगी भीषण आग में 43 लोगों की मौत हो गई। इस हादसे में अब तक 60 से ज्यादा लोगों की जान बचाई गई है। लेडी हार्डिग अस्पताल में भर्ती 10 घायलों में से नौ की मौत हो चुकी है।

वहीं, एलएनजेपी अस्पताल में भर्ती घायलों में 34 लोगों की मौत हो चुकी है। इमारत स्थित फैक्टरी में रविवार की सुबह करीब 4.30-5 बजे के आस पास आग लगी, जब वहां काम करने वाले मजदूर सो रहे थे। अग्निशमन विभाग ने बताया कि बाजार में आग लगने की सूचना उसे सुबह करीब 5.22 पर मिली, जिसके बाद दमकल की 25 गाड़ियां मौके पर पहुंचीं। आग लगने की सही वजह का पता नहीं चल पाया है, लेकिन अधिकारियों का कहना है कि आग शॉर्ट सर्किट की वजह से लगी होगी। दिल्ली अग्निशमन विभाग के प्रमुख अतुल गर्ग ने कहा कि आग बैग बनाने वाली एक फैक्टरी में लगी जिसकी चपेट में पास स्थित दो इमारत भी आ गई। एक चश्मदीद ने बताया कि आग पहली मंजिल में लगी थी, इसलिए दूसरी मंजिल के लोग भी नहीं निकल पाए।

08-12-2019
बेकरी में आग, 31 लोगों की मौत, 50 को बचाया गया, संकरे इलाकों में बने कारखाने मौत की घण्टी

रायपुर। दिल्ली के संकरे इलाके की बेकरी में लगी आग ने 31 लोगों की जान ले ली। 50 लोगों को बचाया जा चुका है और कई लोगों के फंसे होने की आशंका जताई जा रही है। संकरे व रिहायशी इलाके में बनी बेकरी की आग ने अन्य शहरों के रिहायशी इलाकों में बने कारखानों,व संकरे इलाकों में चल रहे कारखानों के लिए फिर एक बार खतरे की घंटी बजाई है। ऐसा नहीं है कि छोटे शहरों में संकरे इलाकों में आगजनी से कभी मौत नहीं हुई है। रायपुर शहर में भी सकरे इलाके में बने एक होटल में लगी आग ने कई लोगों की जान ले ली थी। तब सारा प्रशासन कुंभकर्णी नींद से जगा था और तत्काल ऐसे होटलों/कारखानों के खिलाफ कार्रवाई करने का अभियान शुरू हुआ था जो कुछ दिन की खानापूर्ति के बाद बंद हो गया। आज भी राजधानी रायपुर के संकरे इलाकों में कारखाने चल रहे हैं जो कभी भी किसी भी समय मौत की घण्टी बजा सकते हैं। दिल्ली की आगजनी की घटना सारे देश के शहरों के लिए खतरे का अलार्म है। समय रहते अगर नहीं जागे तो ऐसी दुर्घटना गंभीर दुष्परिणाम दे सकती है,जिस पर रोने और अलावा कुछ नही किया जा सकेगा।

05-12-2019
रेप पीड़िता को जिंदा जलाने वाले पांचो आरोपी गिरफ्तार, जमानत पर रिहा होकर दिया वारदात को अंजाम  

लखनऊ। उन्नाव गैंगरेप पीड़िता को जिंदा जलाने के मामले में पुलिस ने सभी पांचों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। इनमें मुख्य आरोपी शिवम द्विवेदी भी शामिल है। उधर बुरी तरह जली पीड़िता की हालत गंभीर है, उसे लखनऊ के सिविल अस्पताल में भर्ती कराया गया है। उन्नाव के एसपी विक्रांत वीर के अनुसार आरोपी को पकड़ने के लिए 4 टीमें लगाई गई थीं। उन्नाव में एक बार फिर मानवता शर्मसार हुई है। यहां गुरुवार को एक रेप पीड़िता को जमानत पर छूट कर आए दो आरोपियों ने अपने तीन साथियों के साथ मिलकर जिंदा जला दिया। सूचना पर पहुंची पुलिस ने युवती को गंभीर हालत में जिला अस्पताल भेजा, जहां उसकी गंभीर हालत को देखते हुए डॉक्टरों ने लखनऊ रेफर कर दिया। बताया जा रहा है कि पीड़िता 80 प्रतिशत तक जल गई है।

जमानत पर रिहा हुए और दिया वारदात को अंजाम

बिहार थानाक्षेत्र के हिन्दुनगर गांव की है। कुछ दिन पहले ही युवती के साथ रेप हुआ था। इस मामले में दो नामजद आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेजा गया था। गुरूवार को युवती इसी मामले की पैरवी के लिए रायबरेली जा रही थी। सुबह 4 बजे के करीब गांव के बाहर खेत में दोनों आरोपी व उसके तीन साथियों ने उसके ऊपर कैरोसीन छिड़ककर आग लगा दी। इसकी सूचना मिलते ही गांव में हड़कंप मच गया। सूचना पर पुलिस भी मौके पर पहुंची और पीड़िता को जिला अस्पताल पहुंचाया गया। जहां से उसे लखनऊ ट्रामा सेंटर रेफर किया गया है।

03-12-2019
राजधानी एक्सप्रेस के एसी कोच से धुआं उठते देख मचा हड़कंप

फरीदाबाद। हजरत निजामुद्दीन से त्रिवेंद्रम जा रही राजधानी एक्सप्रेस में अचानक आग लगने से अफरा-तफरी मच गई। फरीदाबाद स्टेशन से ट्रेन से निकलते ही बाटा फ्लाईओवर के समीप ट्रेन के ए-5 नंबर के कोच से धुआं उठने लगा। धुआं देख लोगों ने तुरंत रेलवे को इसकी जानकारी दी। हरकत में आए रेलवे के अधिकारियों ने गार्ड को सूचना देकर न्यू टाउन स्टेशन के पास राजधानी एक्सप्रेस को रुकवा दिया। इसके बाद  11:23 से 11:45 बजे तक करीब 22 मिनट ट्रेन में निरीक्षण चलता रहा। स्थिति नियंत्रण में आने के बाद ट्रेन न्यू टाउन फरीदाबाद से गंतव्य के लिए रवाना हो गई।

02-12-2019
क्या सिर्फ कैंडल ही जलाते रहेंगे या नरपशुओं का खात्मा होगा? छत्तीसगढ़ की बेटी भी हवस की आग में स्वाहा

रायपुर। हवस की आग में छत्तीसगढ़ की एक बेटी स्वाहा हो गई। हैदराबाद की बेटी डॉ प्रियंका की चिता की राख ठंडी भी नहीं हो पाई कि छत्तीसगढ़ में भी नर पशुओं ने हवस का नंगा नाच कर दिखाया। राजधानी के करीब ही नकटी गांव में एक 25 वर्षीय युवती की अधजली लाश मिलने से सनसनी फैल गई। युवती की लाश के करीब ही 4 साल के एक बच्चे की जली लाश मिली है। ऐसा माना जा रहा है कि दोनों मां-बेटे हो सकते है और वे हवस के पुजारियों का शिकार हुए हैं। नकटी ग्राम में राइस मिल के करीब दो अधजली लाश मिलने से पुलिस फौरन हरकत में आई। खुद एसएसपी आरिफ शेख घटनास्थल पर पहुंचे। एफएसएल की टीम भी तत्काल घटनास्थल पर पहुंची। लेकिन तब तक खबर आग की तरह छत्तीसगढ़ में फैल गई। भाजपा के नेता प्रतिपक्ष व पूर्व प्रदेश अध्यक्ष धरमलाल कौशिक ने तो यहां तक कह दिया कि छत्तीसगढ़ अपराधगढ़ बन गया है। सवाल राजनीतिक बयानबाजी या आरोप-प्रत्यारोप का नहीं है? सवाल इस बात का है राजधानी के करीब इतनी जघन्य वारदात कैसे हो गई? क्या अपराधियों में पुलिस का जरा भी खौफ नहीं रहा? इससे पहले भी सरगुजा क्षेत्र में एक महिला की अधजली लाश मिल चुकी है। हैदराबाद की डॉ प्रियंका रेड्डी की चिता की आग अभी ठंडी भी नहीं हुई है कि छत्तीसगढ़ की एक बेटी हवस की आग में स्वाहा हो गई। इसे या तो अपराधियों का बढ़ता हौसला कहा जा सकता है या फिर पुलिस की बढ़ती नाकामी। दोनों ही एक समान है और दोनों का ही नतीजा है की एक महिला को उसके बच्चे के साथ जला दिया जाता है। फिर सवाल इस बात का नहीं है कि वारदात कैसे हुई? सवाल इस बात का है कि  वारदात क्यों हुई? सवाल इस बात का नहीं है की दरिंदे कब पकड़े जाएंगे? सवाल इस बात का है ये दरिंदगी कब खत्म होगी? सवाल इस बात का भी नहीं है कि क्या इस घटना का विरोध होगा या नही? सवाल इस बात का है ऐसी घटनाएं होना बंद होंगी या नहीं? सवाल सिर्फ कैंडल जलाकर मार्च करने का नहीं है? सवाल है ऐसे नर पशुओं के खात्मे का। अगर नर पशु ऐसे ही खुले घूमते रहेंगे तो फिर कैसे बचाओगे बेटी? कैसे पढाओगे बेटी? कैसे आगे बढाओगे बेटी?

 

30-11-2019
महिला ने किया आत्मदाह, जांच में जुटी पुलिस

रायपुर। राजधानी के विधानसभा थाना क्षेत्र अंतर्गत दोंदे खुर्द गाँव मे एक महिला ने आत्मदाह कर लिया। मिली जानकारी के मुताबिक मृतक महिला का नाम रत्नाबाई पटेल पति रामकुमार उम्र 45 वर्ष है। मृतिका ने अपने घर मे ही खुद को आग के हवाले कर दिया, जिससे मौके पर ही उसकी मृत्यु हो गई है। बताया जा रहा है कि शराब पीने की आदि थी, विधानसभा पुलिस मर्ग कायम कर मामले की जांच में जुट गई है।

30-11-2019
पति-पत्नी झुलसे आग में, गंभीर हालत में रेफर किया गया जिला अस्पताल

धमतरी। सिहावा क्षेत्र में रहने वाले पति-पत्नी भोजन बनाते वक्त आग में झुलस गए। दोनों घायलों को गंभीर अवस्था में इलाज के लिए नगरी अस्पताल ने जाया गया। जहां से प्राथमिक उपचार के बाद घायल दंपति को बेहतर इलाज के लिए धमतरी जिला अस्पताल रेफर कर दिया गया। फिलहाल दोनों की स्थिति खतरे से बाहर बताई जा रही है। मिली जानकारी के अनुसार, घटना सिहावा थाना क्षेत्र के ग्राम घठुला डीहीपारा का है, जहाँ हर रोज की तरह शाम को परिवार के लिए भोजन बनाने के लिए चूल्हा चलाते वक्त निर्मला विश्व बुरी तरह से आग में झुलस गई। रसोई में आग की लपटो से घिरी मां को देखकर बेटी चिल्लाने लगी और आवाज सुनकर दुसरे कमरे में टीवी देख रहा पति करूणा विश्व दौड़कर पत्नी को बचाने पहुँचा। आग की लपटे बहुत ज्यादा थी जैसे तैसे पति ने अपने पत्नी को बचाया, लेकिन पत्नी को बचाते-बचाते पति करूणा विश्व भी बुरी तरह से झुलस गया। दोनों को तत्काल संजीवनी एक्सप्रेस 108 से नगरी अस्पताल लाया गया। इधर, घटना की जानकारी मिलते ही नगरी अस्पताल में सिहावा एवं नगरी थाना पुलिस पहुंची। जहां चिकित्सकों द्वारा पत्नी-पति का त्वरित उपचार किया गया, लेकिन दोनों की गंभीर हालत को देखते हुए चिकित्सकों ने प्राथमिक उपचार के बाद बेहतर इलाज के लिए जिला अस्पताल धमतरी रेफर कर दिया है। जहां दोनों की स्थिति खतरे से बाहर बताई जा रही है।

24-11-2019
नक्सलियों ने दिया कायराना हरकत को अंजाम, वाहनों को किया आग के हवाले

दंतेवाड़ा। जिले में नक्सलियों ने कायराना हरकत को अंजाम दिया है। मिली जानकारी के अनुसार किरंदुल थाना क्षेत्र में माओवादियों ने वाहनों में आगजनी की है। नक्सलियों ने सड़क निर्माण में लगे वाहनों को आग के हवाले कर दिया। वही नारायणपुर में भी नक्सलियों ने उत्पात मचाया। यहां छोटडोंगर थाना क्षेत्र में चार ट्रैक्टर, एक जेसीबी और एक बाइक को आग के हवाले कर दिया है। बताया जा रहा है कि माओवादियों ने सड़क निर्माण में लगे वाहनों को जला दिया। 

20-11-2019
अवैध कब्जाधारी ने खुद की दुकान व मकान में लगाई आग

मुंगेली। मुंगेली जिला अस्पताल के आसपास हुए बेजा कब्जा हटाने पहुंची प्रशासन की टीम को विरोध का सामना करना पड़ा। तहसीलदार अमित सिन्हा सहित अन्य अधिकारियों की टीम आज बेजा कब्जा हटाने गई तो वहां अवैध कब्जाधारी धनीराम ने विरोध करते हुए खुद की दुकान और घर में आग लगा दी। तेजी से लगी आग में आधा घर जल गया। मौके पर पहुंचे नगर निरीक्षक सहित पुलिस टीम ने स्थिति को संभाला। फिर आधा घण्टे देर से पहुंची फायर ब्रिगेड ने आग पर काबू पाया।

19-11-2019
बॉयलर फटने से लगी भीषण आग, चार मजदुर हुए घायल          

दुर्ग। सीता राइस मिल ग्रुप के अरसनारा में स्थित सीता रिफायनरी में सोमवार को बॉयलर का तापमान बढ़ने से आग लग गई और तेजी से पूरे एरिया में फ़ैल गयी। वहां काम करने वाले मजदूर इधर उधर भाग कर अपनी जान बचाने लगे। आगजनी वाले फ्लूड बॉयलर की क्षमता 10 मैट्रिक टन है। आग की लपटे इतनी तेज थी कि आसपास काम करने वाले मजदूरों को जान बचाकर भागना पड़ा। आग की लपटों से जान बचाकर भागते वक्त 4 मजदूर आग की लपटों की चपेट में आ गए। मौक़े पर पहुंची फाय़र ब्रिगेड की टीम ने 3 गाड़ियों की मदद से आग पर काबू पाया गया और घायल मजदूरों को इलाज के लिए अस्पताल ले जाया गया। इस हादसे में लाखो की संपत्ति जलकर खाक हो गयी।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804