GLIBS
19-09-2020
पुरानी पेंशन बहाली के लिए पोस्टकार्ड अभियान चलाएंगे कर्मचारी

रायपुर/कांकेर। पुरानी पेंशन बहाली के​ लिए छत्तीसगढ़ राज्य के कर्मचारियों द्वारा वृहद स्तर पर पोस्टकार्ड अभियान चलकर प्रदेश 21 सितम्बर से 24 सितम्बर तक पोस्टकार्ड अभियान चलाकर प्रधानमंत्री राज्यपाल तथा मुख्यमंत्री के नाम पर पुरानी पेंशन बहाली के लिए पोस्टकार्ड भेजा जाएगा। एनएमओपीएस के राष्ट्रीय अध्यक्ष विजय बंधु ने कहा कि देश के साथ साथ छत्तीसगढ़ में भी पुरानी पेंशन बहाली के लिए युद्ध स्तर पर काम किया जा रहा है। प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह ने कहा कि सभी पेंशन विहीन साथी तन मन के साथ पुरानी पेंशन बहाली के लिए प्रयास करें ताकि हम जल्द से जल्द पुरानी पेंशन लागू कराने में सफल हो।

उन्होंने कहा कि प्रदेश स्तर पर तैयारियां पूरी कर रहे हैं। प्रदेश सोशल मीडिया प्रभारी हरिश सन्नाट द्वारा पोस्टकार्ड का प्रारुप तैयार कर सभी सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर भेजा जा रहा है ताकि अधिक से अधिक कर्मचारी इस अभियान से जुड़े। कांग्रेस के चुनाव घोषणा पत्र के वादे के अनुसार 2004 में नियुक्त सरकारी कर्मचारियों के लिए पुरानी पेंशन व्यवस्था लागू करने हेतु आश्वासन दिया गया है। उस वायदे को पूर्ण करते हुए पुरानी पेंशन शीघ्र बहाल कर कर्मचारी हितैषी सरकार के रूप में आपकी प्रतिष्ठा सदा बढ़ती रहे। प्रदेश अध्यक्ष ने सभी कर्मचारियों को अधिक से अधिक संख्या में पोस्टकार्ड अभियान में भाग लेने के लिए प्रोत्साहित किया ताकि लाखों की संख्या में पोस्टकार्ड पहुंचे।

06-09-2020
कोतवाली थाने में कर्मचारियों की हुई कोरोना जांच

राजनांदगांव। पुलिस के जवानों व अधिकारियों में लगातार निकल रहे कोरोना पॉजिटिव पर पुलिस अधीक्षक डी. श्रवण द्वारा निर्देश जारी किए जाने के बाद पूरे जिले में थानों में तैनात जवानों व अधिकारियों का कोरोना टेस्ट किया जा रहा है। इसके तहत रविवार को स्थानीय कोतवाली थाना में कोतवाली,महिला प्रकोष्ठ के स्टाफ की जांच की गई।

05-09-2020
कोरोना संक्रमित मृतक का सैम्पल लेने गए कर्मचारियों से विवाद, मामला दर्ज 

रायपुर। कोविड-19 से मौत मामले में कर्मचारियों के साथ विवाद कर मृतक का दाह संस्कार कर शासकीय कार्यों का अवहेलना करने की रिपोर्ट आजाद चौक थाने में दर्ज की गई है। पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार तिरंगा चौक कुशालपुर पुरानीबस्ती निवासी महेश बघेल ने रिपोर्ट दर्ज करायी है कि 3 सितंबर को जोन 5 आजाद चौक रायपुर में कोरोना संक्रमित व्यक्ति के मौत हो जाने की सूचना मिलने पर सैंपल लेने गये नगर निगम के कर्मचारियों के साथ कमलेश तारक एवं छगनलाल तारक ने विवाद कर सैंपल देने से मना कर कोरोना संक्रमित का दाह संस्कार कर शासकीय कार्य के आदेशों का अवहेलना किया। घटना की रिपोर्ट पर पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ धारा 188,269,270 के तहत अपराध कायम कर मामला दर्ज कर लिया है।

04-09-2020
विद्युत लोको शेड चरोदा में कर्मचारियों ने कोविड-19 प्रोटोकॉल का पालन नहीं होने पर काम बंद कर किया प्रदर्शन

भिलाई। रेलवे के चरोदा स्थित विद्युत लोको शेड में शुक्रवार सुबह सामान्य पाली में पहुंचे कर्मचारियों ने काम ठप कर दिया। यहां सेवारत रहे इंजीनियर की कोरोना से मौत के बाद और एक अन्य अधिकारी के संक्रमित पाए जाने से कर्मचारियों भयभीत है। कोरोना संक्रमण रोकने उससे सुरक्षा एवं बचाव के लिए प्रबंधन द्वारा कोई उपाय नहीं करने का कर्मचारियों ने आरोप लगाते हुए डीईई के खिलाफ नारेबाजी की।विद्युत लोको शेड में कोरोना संक्रमण रोकने के प्रति जिम्मेदार अधिकारियों  की अनदेखी को लेकर आक्रोशित कर्मचारियों ने मौका स्थल पर प्रदर्शन किया। सामान्य पाली में काम करने पहुंचे लगभग दो सौ से भी अधिक कर्मचारियों ने काम करने से इंकार करते हुए अधिकारियों के खिलाफ खुलकर आक्रोश व्यक्त किया। दरअसल लोको शेड में एक सेक्शन इंजीनियर की 30-31 अगस्त की दरम्यानी रात तबियत बिगडऩे के बाद अस्पताल ले जाने पर मौत हो गई थी। बाद में कोरोना जांच में संक्रमित होने की पुष्टि हई थी। बावजूद इसके लोको शेड में संक्रमण रोकने के लिए कोविड-19 के लिए निर्धारित प्रोटोकॉल का पालन नहीं किया गया। अधिकारियों ने किसी तरह की दिशा-निर्देश जारी नहीं किया। इससे पहले लोको शेड के एक जूनियर इंजीनियर की जांच रिपोर्ट भी 28 अगस्त को पॉजिटिव आई थी। वे अभी चंदूलाल चंद्राकर कोविड केयर सेंटर में भर्ती है। रेलवे बोर्ड द्वारा कोरोना संक्रमण की संभावना के चलते 50 प्रतिशत उपस्थिति का नियम लागू किया गया है।

लेकिन इसका पालन केवल कार्यालयीन कर्मचारियों पर लागू होने से विद्युत लोको शेड के कर्मचारियों को कोरोना काल से पहले की तरह ही प्रतिदिन ड्यूटी करनी पड़ रही है। अब जब कर्मचारियों का आक्रोश फूट पड़ा है तो आज पूरे लोको शेड को सैनिटाइज करने व शनिवार 5 सितंबर को काम के अनुसार कर्मचारियों की ड्यूटी सुनिश्चित करने का आश्वासन दिया गया है। इसके बाद सोमवार से सोशल डिस्टेंसिंग अपनाते हुए काम लेने का भरोसा अधिकारियों ने दिया है। बीएमवाय चरोदा के इलेक्ट्रिक लोको शेड में तकरीबन 800 कर्मचारी कार्यरत है। यहां पर रेलवे के इलेक्ट्रिक लोको इंजन का रखरखाव व मरम्मत होता है। कर्मचारियों की माने तो कोरोना संक्रमण का दस्तक पड़ते ही देश व प्रदेश के अनेक निजी व सरकारी इकाईयों में काम बंद हो गया, लेकिन विद्युत लोको शेड में पूर्ववत कामकाज चलता रहा। डिविजनल इलेक्ट्रिक अभियंता के द्वारा शेड का कभी भी सैनिटाजेशन या फागिंग नहीं कराया गया। जबकि पीपी यार्ड सहित आसपास के अन्य शेड में निश्चित समयावधि के बीच सैनिटाइजर का छिड़काव व फांगिंग होता रहा है।

 

03-09-2020
अव्यवस्था से नाराज कर्मचारियों ने चंदूलाल मेमोरियल हॉस्पिटल का किया घेराव, जल्द वेतन देने की मांग 

दुर्ग। भिलाई के चंदूलाल मेमोरियल हॉस्पिटल में कार्यरत कर्मचारी अस्पताल प्रबंधन के खिलाफ गुरुवार को एकजुट हुए। काफी दिनों से वेतन नहीं दिए जाने से नाराज कर्मचारियों ने हॉस्पिटल का घेराव किया।  व्यवस्था में सुधार लाने और जल्द वेतन भुगतान किए जाने की मांग की गई है।  प्रदर्शन में शामिल महिला कर्मचारी शारदा शर्मा ने हॉस्पिटल प्रबंधन पर गंभीर आरोप लगाए हैं। उन्होंने कहा है कि, अप्रैल 2020 से अब तक उन्हें वेतन नहीं दिया गया है। सेवा बराबर ली जा रही है,लेकिन हॉस्पिटल की डायरेक्टर सीईओ संध्या श्रीवास्तव के दुर्व्यवहार का सामना करना पड़ रहा है। हॉस्पिटल के 7,8 कर्मचारी भी संध्या श्रीवास्तव के व्यवहार से परेशान हैं। कुछ कर्मचारियों को काम से हटा दिया गया। बता दें कि, पूर्व में भी डायरेक्टर संध्या श्रीवास्तव के व्यवहार से नाराजगी जताते हुए प्रदर्शन किया गया था। उचित कार्यवाही नहीं होने पर दोबारा हॉस्पिटल का घेराव कर मांग की गई है कि, सभी कर्मचारियों को वेतन दिया जाए और उन्हें काम पर वापस रखा जाए ।

26-08-2020
Video: स्वास्थ्य कर्मचारियों के साथ बदसलूकी, कर रहे पुलिस सुरक्षा की मांग

जांजगीर-चांपा। जिले के पामगढ़ ब्लॉक के सेमरिया गांव में 23 अगस्त को कोरोना पॉजिटिव मरीज मिले थे। इन्हें लाने दूसरे दिन स्वास्थ्य विभाग की टीम गई थी मगर ग्रामीणों ने मनगढ़ंत आरोप लगाते हुए स्वास्थ्य कर्मचारियों के साथ बदसलूकी की थी। ग्रामीणों के व्यवहार की वजह से स्वास्थ्य कर्मचारी दहशत में है और अब पुलिस सुरक्षा की मांग कर रहे हैं। इस संबंध में बीएमओ ने बताया कि जब तक पुलिस सुरक्षा नहीं दी जाएगी स्वास्थ्य कर्मी कॉन्टेक्ट ट्रेसिंग लिए नहीं जाएंगे। गौरतलब है कि गांव में 100 से ज्यादा लोगों का कॉन्टेक्ट ट्रेसिंग किया जाना है,जो कि अब तक पेंडिंग है और ऐसी स्थिति में लगातार पॉजिटिव मरीजों की बढ़ने की आशंका बनी हुई है। इस घटना में एक और तथ्य महत्वपूर्ण है कि इस मामले में अब तक किसी पर भी जुर्म दर्ज नहीं किया गया है जबकि सेमरिया की घटना की वजह से पूरे स्वास्थ्य अमले में दहशत का माहौल है। 

 

25-08-2020
कलेक्टर ने स्पष्ट किया किन अधिकारियों और कर्मचारियों को मिलेगी राहत, शुद्धि पत्र जारी

रायपुर। कलेक्टर डॉ.एस.भारतीदासन ने मंगलवार को शुद्धि पत्र जारी किया है। उन्होंने स्पष्ट किया है कि पूर्व में जारी आदेश केवल कांटेक्ट ट्रेसिंग और एक्टिव सर्विलांस कार्य में लगे अधिकारियों और कर्मचारियों पर ही लागू होगा। अन्य किसी अधिकारी व कर्मचारियों पर लागू नहीं होगा। आदेश के मुताबिक किसी अधिकारी व कर्मचारी गर्भवती व शिशुवती महिला (शिशु की अवस्था अधिकतम 3 वर्ष तक) होने या 1 जनवरी की स्थिति में अधिकारी व कर्मचारी की अवस्था 55 वर्ष पूर्ण होने की दशा में राहत दी जाएगी। इनकी ड्यूटी कोरोना वायरस (कोविड-19) से बचाव व रोकथाम कार्य में नहीं लगाई जाएगी।

 

25-08-2020
कोरोना जांच के लिए जिला पंचायत कार्यालय के 90 कर्मचारियों के लिए गए सैंपल

कोरबा। नगर पालिका निगम, जिला पंचायत कार्यालय एवं कलेक्टोरेट में कोरोना संक्रमित मिलने के बाद जिला प्रशासन अधिकारी-कर्मचारियों को लेकर सजग है। कलेक्टर किरण कौशल ने ऐहतियातन जिला पंचायत कार्यालय के सभी अधिकारी-कर्मचारियों की कोरोना जांच कराने के निर्देश दिए थे। कलेक्टर के निर्देश पर जिला पंचायत कार्यालय में भी स्वास्थ्य विभाग के डाक्टरों और सेम्पल कलेक्टिंग टीम ने दो दिनों तक शिविर लगाया। दो दिवसीय शिविर में जिला पंचायत के 90 अधिकारी-कर्मचारियों के नाक और गले के स्वाब सैंपल लिए गए। जिला पंचायत के कार्यालय में लगाए गए शिविर में 24 अगस्त को 50 कर्मचारियों का सैम्पल और 25 अगस्त को 40 कर्मचारियों का सैम्पल लिया गया। जिला पंचायत कार्यालय  में कार्यरत इन 70 पुरूष और 20 महिला अधिकारी-कर्मचारियों के कोरोना जांच सैंपलों को रायगढ़ के मेडिकल काॅलेज स्थित जांच प्रयोगशाला में भेजा जायेगा। इसकी रिपोर्ट आगामी दो दिनों में मिलने की संभावना है। उल्लेखनीय है कि कलेक्टर कौशल के निर्देश पर कलेक्टोरेट में तीन दिनों तक शिविर लगाकर कार्यरत् अधिकारी-कर्मचारियों के कोरोना जांच सैम्पल लिए गए थे। इनमें से छह अधिकारी-कर्मचारी की कोरोना जांच रिपोर्ट पाॅजिटिव आई, जिन्हें उपचार के लिए कोरबा के कोविड अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

 

20-08-2020
सद्भावना दिवस पर कलेक्टर ने दिलाई अधिकारियों व कर्मचारियों को शपथ

कोरिया। कलेक्टोरेट सभाकक्ष में कोविड-19 संबंधी बचाव नियमों का पालन करते हुए पूर्व प्रधानमंत्री स्व. राजीव गाँधी की जयंती को सद्भावना दिवस के रूप में मनाया गया। इस अवसर पर कलेक्टर  एसएन राठौर ने सभी अधिकारियों एवं कर्मचारियों को सद्भावना शपथ दिलाई। सभी ने शपथ ली कि वे जाति, सम्प्रदाय, क्षेत्र, धर्म या भाषा का भेदभाव किए बिना देश की सभी नागरिकों में भावनात्मक एकता और सद्भावना के लिए काम करेंगे। सभी ने हिंसा का सहारा लिए बिना हर मतभेद को बातचीत और संवैधानिक माध्यमों से सुलझाने की प्रतिज्ञा की। उल्लेखनीय है कि जिले में सभी शासकीय कार्यालयों में भी सद्भावना शपथ ली गई। इस अवसर पर अपर कलेक्टर सुखनाथ अहिरवार, एसडीएम सोनहत नयनतारा सिंह तोमर, डिप्टी कलेक्टर एसएस दुबे एवं एएस पैंकरा सहित अधिकारी-कर्मचारी शामिल हुए।

 

20-08-2020
सदभावना दिवस पर आपसी भाईचारे के साथ काम करने की जिपं अधिकारियों, कर्मचारियों ने ली शपथ

जांजगीर-चाम्पा। पूर्व प्रधानमंत्री स्व.राजीव गांधी की जयंती को सदभावना दिवस के रूप में जिला पंचायत में मनाया गया। जिपं मुख्य कार्यपालन अधिकारी तीर्थराज अग्रवाल ने सभी अधिकारियों-कर्मचारियों को आपसी भाईचारे के साथ काम करने की शपथ दिलाई। जाति, सम्प्रदाय, क्षेत्र, धर्म अथवा भाषा का भेदभाव किए बिना सभी भारतवासियों की भावनात्मक एकता और सद्भावना के लिए काम करने, हिंसा का सहारा लिए बिना सभी प्रकार के मतभेद बातचीत और संवैधानिक माध्यमों से सुलझाने की शपथ ली। 

 

20-08-2020
पुलिस दूरसंचार के 54 अधिकारी और कर्मचारियों का प्रमोशन

रायपुर। पुलिस दूरसंचार के 54 अधिकारी और कर्मचारियों का प्रमोशन हुआ है। इसमें 35 प्रधान आरक्षक, 14 सहायक उप निरीक्षक और 5 उप निरीक्षक शामिल हैं। 20 अगस्त को पुलिस मुख्यालय, नवा रायपुर में वरिष्ठ अधिकारियों ने नवपदोन्नत पुलिस अधिकारियों के कंधे पर स्टार लगाकर पदोन्नति की औपचारिकता पूरी की।

 

20-08-2020
स्पंदन अभियान: उप पुलिस अधीक्षक ने सुनी अधिकारी-कर्मचारियों की समस्याएं,निराकरण के लिए किया आश्वस्त

धमतरी। पुलिस महानिदेशक डीएम अवस्थी के निर्देश पर चलाए जा रहे स्पंदन अभियान के तहत पुलिस अधीक्षक धमतरी बीपी राजभानू के द्वारा समय-समय पर जवानों से रूबरू होकर उनके बेहतर स्वास्थ्य के लिए पीटी, योगाभ्यास एवं खेलकूद कराने निर्देशित किया गया है। साथ ही राजपत्रित पुलिस अधिकारियों एवं थाना प्रभारियों को अधीनस्थों से चर्चा कर उनकी समस्याओं को सुनकर यथोचित निराकरण करने तथा थाना परिसर व उसके आसपास साफ-सफाई रखने हिदायत दिया गया है। इसी परिप्रेक्ष्य में उप पुलिस अधीक्षक अजाक सारिका वैद्य के द्वारा अजाक थाना में पदस्थ अधिकारी-कर्मचारियों से चर्चा कर उनकी समस्याओं को सुना एवं उसके निराकरण के लिए आश्वस्त किया गया। साथ ही सभी को मनोबल ऊंचा रखकर कोविड-19 संक्रमण काल के दौरान स्वयं को सुरक्षित रखते हुए लगन एवं मेहनत से कर्तव्य निर्वहन की समझाइश भी दी। इसी क्रम में राज्य स्तरीय शहीद वीर नारायण सिंह पुरस्कार से पुरस्कृत निरीक्षक दिनेश कुर्रे एवं मुख्यमंत्री पुरस्कार से पुरस्कृत प्रधान आरक्षक दिलहरण सिंह ठाकुर को सम्मानित किया गया। इस अवसर पर थाना अजाक में पदस्थ सभी अधिकारी एवं कर्मचारी उपस्थित रहे।

 

Advertise, Call Now - +91 76111 07804