GLIBS
07-02-2021
केमिकल टैंकर की सफाई करने भीतर घुसे दो ग्रामीणों की मौत, एक गंभीर

रायपुर। केमिकल टैंकर की सफाई के दौरान बड़ा हादसा सामने आया है। सफाई के दौरान केमिकल से बने गैस की चपेट में आने के कारण दो ग्रामीणों की मौत हो गई है, वहीं एक कि हालात गंभीर बताई जा रही है। घटना में मृत ग्रामीणों का नाम राहुल यादव और जावेद खान है। फिलहाल घटना की सूचना के बाद पुलिस मामले की जांच कर रही है। घटना धरसींवा थाना क्षेत्र के धनेली नाला स्थित खड़े केमिकल टैंकर की है। जिस टैंकर में ये हादसा हुआ है, वो गुजरात का है। घटना के संबंध में बताया जा रहा है कि, राजस्थान से केमिकल लेकर टैंकर सिलतरा के श्री गणेश आयल फैक्ट्री आया था। यहां पर केमिकल खाली करने के बाद धनेली स्थित छोकरा नाले के किनारे टैंकर को खड़ा कर वहां मौजूद तीन ग्रामीणों से वाहन को धुलवाया जा रहा था।

ये वही ग्रामीण है जो इसी तरह के वाहनों को बिना किसी सुरक्षा के धोकर अपनी रोजी-रोटी चलाते हैं। तीनों युवक जैसे ही टैंकर के अंदर की सफाई करने के लिए ढक्कन खोलकर अंदर उतरे, उस दौरान वो केमिकल से निकले गैस की चपेट में आ गए। गैस की चपेट में आने के बाद तीनों युवक बेहोश हो गए, जिसके बाद उन्हें गंभीर अवस्था में उपचार के लिए मेकाहारा अस्पताल में भर्ती कराया गया। देर रात हॉस्पिटल में उपचार के दौरान धरसींवा निवासी राहुल यादव और जावेद खान की मौत हो गई है। वहीं तीसरे युवक राजू यादव की हालत गंभीर बनी हुई हुई है। वहीं गैस की चपेट में आये चालक और परिचालक का इलाज अभी जारी है। रोजी-रोटी के चक्कर में युवकों को बिना किसी सुरक्षा-व्यवस्था के ये सब काम करना पड़ता था।

20-12-2020
सिद्धार्थ ने तोड़ी चुप्पी, नशे में गरीब की बेवजह पिटाई के वीडियो पर दी सफाई, कहा- कुछ मीडिया प्लेटफार्म खबर के भूखे

रायपुर /मुंबई। सिद्धार्थ शुक्ला पर आरोप लगा रहा था कि वह शराब पीकर गाड़ी चला रहे थे और उन्होंने एक गरीब आदमी की बेवजह पिटाई भी की। एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ था, जिसमें सिद्धार्थ एक व्यक्त‍ि से बहस करते नजर आ रहे थे। वीडियो के बारे में कहा जा रहा था कि उसमें सिद्धार्थ नशे में हैं। काफी समय से इस बारे में चुप्पी साधे रहने के बाद अब शुक्ला ने इस बारे में बात की है। सिद्धार्थ ने बताया कि असल में उस समय क्या हुआ था, ''जो भी हुआ वो सभी के सामने है। मुझे लगता है उस बहस के कुछ वीडियो वायरल हुए थे और लोगों ने देखा कि उसमें क्या हो रहा है। मैं सिर्फ एक बात कहना चाहता हूं कि ऑनलाइन दुनिया बहुत बड़ी है लेकिन कुछ मीडिया प्लेटफॉर्म्स खबर के भूखे हैं। '' सिद्धार्थ बोले, ''ऐसा नहीं है कि किसी इंसान को मदद करने या भलाई का काम करने के लिए वेलिडेशन या पहचान की जरूरत है। लेकिन बात को घुमाकर उस इंसान को ही गलत बता देना आपके दिल पर बुरा असर करता है। लेकिन मुझे लगता है कि यही जिंदगी है, तो ठीक है।''

 

18-12-2020
9 सरपंचों को लापरवाही और सफाई पर ध्यान न देने के कारण एसडीएम ने थमाया कारण बताओ नोटिस

बीजापुर। जिले के भोपालपटनम विकासखंड के 9 सरपंचों को लापरवाही,संपत्ति पर कब्जा,सफाई पर ध्यान न देने के कारण पंचायत राज अधिनियम की धारा 40 के तहत एसडीएम भोपालपटनम उमेश पटेल ने कारण बताओ नोटिस जारी किया है। विदित हो कि सरपंचों को बारदाने जमा करने में लापरवाही, प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत कई सालों से निर्माण कार्य लंबित रहने,साफ सफाई एवं स्वच्छता पर ध्यान नहीं देने और शासकीय संपत्ति और भवनों पर कब्जा करने जैसे कारणों को लेकर भोपालपटनम तहसील के ग्राम पंचायत दम्मूर सरपंच रमेश चिडेम,मद्धेड़ सरपंच समैया संड्रा, मुरकीनार सरपंच नागेश अगनपल्ली,पामगल नागेया धन्नूर,गोटाईगुड़ा सरपंच सीताराम लोडेम,कोत्तापली सरपंच कविता कुरसम,तर्रेम सरपंच कुसुम अवलम,पामेड़ सरपंच गणपत बीराबोईना,उसूर सरपंच मनोज गटपल्ली को कारण बताओ नोटिस जारी किया गया है। सरपंचो को एसडीएम ने 10 दिनों के अंदर लिखित में संतोषप्रद जवाब देने के लिए कहा है। संतोषप्रद जवाब नहीं देने पर सरपंचो के विरुद्ध एकतरफा कार्यवाही करने की बात कही है।

 

 

08-12-2020
रात में सफाई कामगार कर रहे सफाई, सुबह सड़क पर दुकानदार फेंक रहे कचरा, मार्निंग विजिट में भड़के आयुक्त

रिसाली। निगम आयुक्त प्रकाश कुमार सर्वे मंगलवार को प्रियंका नगर (प्रगति नगर) वार्ड 26 पहुंचे व सफाई व्यव्स्था देखी। प्रियंका नगर में आयुक्त अपनी उपस्थिति में नाली सफाई कार्य पूर्ण कराया। इस दौरान नागरिकों से वार्ड को स्वच्छ रखने और घर से निकले कचरा को निगम के कचरा गाड़ी में डालने समझाइश दी। निरीक्षण के दौरान आयुक्त रिसाली मार्केट क्षेत्र पहुंचे। रात्रिकालीन सफाई होने की वजह से सड़क व मार्केट क्षेत्र व्यवस्थित था, लेकिन कुछ दुकानदार सुबह दुकान खोलते ही कचरा सड़क पर फेंक दिया था। इसे देख जुर्माना वसूल करने निर्देश दिए। निगम अधिकारियों ने 3 व्यापारियों से कचरा फेंकने पर जुर्माना वसूल किया।

 

27-11-2020
वार्ड कार्यालय में उरला निवासियों ने बताया, सुलभ शौचालय में पानी नहीं आता और सफाई नहीं होती

दुर्ग। नगर पालिक निगम दुर्ग के उरला वार्ड 57 में आज मुख्यमंत्री वार्ड कार्यालय में पार्षदों सहित नागरिकों ने अपनी समस्याओं के निराकरण के लिए आवेदन जमा करायें। उन्होनें घर.घर सुलभ शौचालय का अधूरा निर्माण पूरा करने, नल प्लेटफार्म का निर्माण, जर्जर विद्युत पोल हटाने, तथा विद्युत प्रकाश व्यवस्था की मांग के 9 आवेदन वार्ड कार्यालय में प्राप्त हुआ है। सभी को पंजीबद्ध कर लिया गया। प्राप्त आवेदनों को विभागवार प्रस्तुत कर समस्याओं का निराकरण किया जाएगा ।  उल्लेखनीय है कि प्रदेश के मुखिया मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की मांग और निर्देशानुसार वार्ड निवासियों के मूलभूत की सुविधाए उपलब्ध कराने के उद्देश्य से प्रारंभ किये गये मुख्यमंत्री वार्ड कार्यालय को नगर पालिक निगम दुर्ग द्वारा लाॅकडाउन के बाद पुनः प्रारंभ किया गया है। इसके अंतर्गत आज उरला वार्ड 57 के मुख्यमंत्री वार्ड कार्यालय में लोक कर्म विभाग, स्वास्थ्य विभाग, राजस्व विभाग, कर्मशाला विभाग, विद्युत विभाग के अधिकारी कर्मचारी उपस्थित थे। इस दौरान उरला वार्ड 57 के पार्षद बृजलाल पटेल और उरला वार्ड 58 के पार्षद जमुना साहू उपस्थित थीं। इन्होंने अपने.अपने वार्डो की समस्याओं से अधिकारियों को अवगत कराये।

मुख्यमंत्री वार्ड कार्यालय में हरीश टंडन ने उनके घर में बनाये गये अधूरे सुलभ शौचालय का निर्माण पूरा करने की मांग की है। इसी प्रकार कन्हैयालाल मंडले ने सतनामी मोहल्ला में कृपाराम बंजारे घर के पास जर्जर विद्युत पोल को हटाकर नयो पोल लगाने की मांग की है। उरला निवासी अनिल कुमार ने बजरंग होटल के पास स्थित पम्प हाउस के जर्जर होने और उसे अन्यत्र हटाने की मांग की। उरला के आईएचएसडीपी आवास में नल प्लेटफार्म बनाने की मांग पार्षद ने की । अटल आवास निवासी लल्लन प्रसाद साव सहित अन्य लोगों ने यहाॅ के सुलभ शौचालय में पानी की व्यवस्था करने और नियमित रुप से नाली और सड़क व शौचालय का सफाई की मांग की।

 

25-11-2020
स्वच्छता सर्वेक्षण के 6 हजार अंक लेने जुटा निगम, रात में सफाई कर उठाया जा रहा कचरा

भिलाई। पूरे देश में स्वच्छता पर फोकस किया गया है। स्वच्छता सर्वेक्षण कर अंको के आधार पर पुरस्कार भी दिया जाएगा। 6 हजार अंक में अधिक से अधिक अंक हासिल करने रिसाली नगर पालिक निगम बीट चार्ट तैयार कर सफाई कार्य को अभियान के तर्ज पर पूरा कर रहे हैं। इस कार्य का अवलोकन करने अपर कलेक्टर व रिसाली निगम के आयुक्त प्रकाश कुमार सर्वे पहुंचे। निगम आयुक्त सबसे पहले सांई मंदिर रोड पहुंचे। इसके बाद रिसाली निगम क्षेत्र के आशीष नगर, रूआबांधा, प्रगतिनगर क्षेत्र में चल रहे बीट चार्ट कार्य का अवलोकन किया। सड़क की व बाजार क्षेत्र में अपनी उपस्थिति में सफाई कार्य कराया और कचरा उठाने के निर्देश दिए। स्वास्थ्य विभाग के निरीक्षक बृजेन्द्र परिहार ने बताया कि सड़क की सफाई गैंग द्वारा कराया जा रहा है। वही नाली सफाई के लिए वे हर दिन  500-1000 मीटर नाली को चिन्हित करते है। इसके बाद उस नाली की सफाई की जाती है। नाली से निकाले गीला कचरा को नाली तट पर छोड़ा जाता है। दूसरे दिन नाली से निकले कचरे को उठाने के बाद नाली के आगे की सफाई शुरू की जाती है। सफाई कार्य में किसी तरह की चूक न हो इस पर विशेष नजर रखा जा रही है। निगम के नोडल अधिकारी रमाकांत साहू रात्रिकालीन सफाई व्यवस्था की मानिटरिंग कर रहे हैं। उल्लेखनीय है कि रात्रिकालीन सफाई निगम क्षेत्र के मैत्री नगर, प्रगति नजर, बाजार क्षेत्र के अलावा कृष्णा टाॅकिज रोड व रिसाली बस्ती मार्केट क्षेत्र में चल रहा है। उल्लेखनीय है कि रिसाली नगर पालिक निगम क्षेत्र में कुल 29 सार्वजनिक शौचालय है। इसमें से  26 शौचालय का मरम्मत कार्य और विशेष साफ-सफाई कराई जा रही है।

 

19-11-2020
रामपुर वार्ड में सफाई व्यवस्था बदहाल, वार्डवासियों ने दी आंदोलन की चेतावनी

धमतरी। रामपुर वार्ड का हाल बेहाल है। वार्ड में डबरीपारा स्थित डबरी पूरी तरह भर गई है,जिससे गंदा पानी रोड में जमा हो गया है। इसके कारण लोगों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। साथ ही गंभीर बीमारी फैलने की आशंका से वार्डवासी काफी चिंतित है।वार्डवासियों का कहना है कि वार्ड पार्षद एवं उनके आदमी खाली चुनाव के टाइम वोट मांगने आते है और जीतने के बाद झांकने तक नहीं आते है। जिले के नए कलेक्टर आने के बाद आयुक्त,महापौर के साथ कलेक्टर ने उक्त डबरी का निरीक्षण करने आये थे और डबरी में वार्ड के सभी के घर का गंदा पानी निकासी नहीं होने के करण वही भरता है,जिसे देख वार्ड में गंदा पानी जाम होने से महामारी फैलने के आशंका से कलेक्टर ने आयुक्त को वहां परमानेट मोटरपंप हाऊस बनाने तथा डबरी के सभी ओर ग्रील लगा के सुरक्षित करने का निर्देश दिया गया था। इस पर आज तक अमल नही हुआ। वही हाल बम्हचौक से रामबाग शबजी मार्कट तक के मुख्य नाली का निमार्ण के लिए विगत कई माह पहले टेडंर हो गया है। लेकिन आज तक उक्त ठेकेदार द्वारा कार्य प्रारंभ नहीं किया है अगर इन सब समस्या का जल्द निराकरण नहीं होने पर वार्डवासी आंदोलन करने के बाध्य होंगे, जिसकी संपूर्ण जवाबदारी शासन प्रशासन की होगी।

 

02-11-2020
कुष्ठ आश्रम बस्ती की लचर सफाई पर आयुक्त ने जताई नाराजगी,लगाया जुर्माना

दुर्ग। मुख्यमंत्री शहरी स्वास्थ्य शिविर योजना का क्रियान्वयन सोमवार को कचहरी वार्ड के कुष्ठ आश्रम बस्ती में किया गया। इस दोरान निगम आयुक्त इंद्रजीत बर्मन द्वारा भ्रमण कर बस्ती की सफाई कार्य का निरीक्षण किया गया। बस्ती की साफ-सफाई ठीक नहीं होने के कारण दरोगा और सुपरवाइजर को फटकार लगाई तथा सुपरवाइजर अनिल भट्ट को काम से बंद करने स्वास्थ्य अधिकारी को निर्देश दिए। उन्होनें बस्ती की सफाई का निरीक्षण के दौरान पाया कि बस्ती में कई लोगों ने नालियों में कचरा डालकर गंदगी कर रहे हैं। उन्होंने तीन लोगों पर 100-100 रुपए का जुर्माना लगाया। इस दौरान महापौर धीरज बाकलीवाल, सभापति राजेश यादव, एमआईसी प्रभारी प्रभारी हमीद खोखर, मनदीपसिंह भाटिया, दीपक साहू, शंकर ठाकुर, विजयेन्द्र भारद्वाज, मनीष साहू, पुष्पा गुलाब वर्मा, सुशील बाबर, जितेन्द्र समैया, श्वेता महलवार और  स्वास्थ्य अधिकारी दुर्गेश गुप्ता, दरोगा रामलाल भट्ट अन्य उपस्थित थे।

 

02-11-2020
दरोगा को तत्काल प्रभाव से आयुक्त ने किया निलंबित

दुर्ग। नगर पालिक निगम दुर्ग के सफाई दरोगा प्रताप सोनी को निगम आयुक्त इंद्रजीत बर्मन ने निलंबित कर दिया है। सफाई दरोगा प्रताप कुमार सोनी को शासकीय रसीद बुक दी गई थी। इसके संबंध में इन्हें नोटिस जारी किया गया था। साथ ही इनके विरुद्ध इनकी अनुकम्पा नियुक्ति के संबंध में शिकायत प्राप्त होने पर नोटिस जारी कर जवाब मांगा गया था। प्रताप सोनी अपना जवाब देने के स्थान पर आयुक्त बर्मन से हुज्जत की। इससे नाराज आयुक्त ने उसे निलंबित कर दिया। आयुक्त बर्मन ने रसीद बुक से वसूली और गड़बड़ी की आशंका जाहिर करते हुये सोनी को नोटिस जारी किया था।  सोनी को इन दोनों का जवाब आयुक्त कार्यालय में उपस्थित होकर देना था। लेकिन उसने आयुक्त से इस संबंध में बहस की। इसे गंभीरता से लेते हुए आयुक्त ने कर्मचारी को निलंबित कर दिया। निलंबन अवधि में प्रताप सोनी मुख्यालय जलगृह विभाग रहेगा।

 

01-11-2020
नेचर ग्रीन कंपनी ने शुरू किया कार्य,स्वच्छता कर्मचारियों ने सफाई का संभाला मोर्चा

भिलाई। नगर पालिक निगम भिलाई क्षेत्र अंतर्गत सभी जोन क्षेत्रों में स्वच्छ सर्वेक्षण के तहत नेचर ग्रीन कंपनी ने सफाई का मोर्चा संभाल लिया है और आज से कार्य प्रारंभ कर दिया है। स्वास्थ्य अधिकारी धर्मेंद्र मिश्रा ने बताया कि मैसर्स पीवी रमन का कार्य 31 अक्टूबर को समाप्त होने के पश्चात अब नए कार्य आदेश के तहत नेचर ग्रीन कंपनी ने सफाई कार्य करना रविवार से प्रारंभ कर दिया है। स्वच्छ सर्वेक्षण के विभिन्न मापदंडों के तहत भिलाई निगम क्षेत्र में डोर टू डोर कचरा कलेक्शन, रात्रिकालीन सफाई, बाजार क्षेत्रों की दो पाली में सफाई जोन स्वास्थ्य अधिकारियों के निर्देशन में आज से किया जा रहा है। स्वच्छता के प्रति लोगों की जागरूकता से भिलाई स्वच्छ सर्वेक्षण में हमेशा अच्छा कार्य करता रहा है। अब नई कंपनी के मोर्चा संभाल लेने से स्वच्छ सर्वेक्षण में ऊंचे पायदान पर आने की कयास बढ़ गई है।

मिश्रा ने बताया कि नेचर ग्रीन कंपनी को स्वच्छ सर्वेक्षण के कार्यो से अवगत करा दिया गया है,जिसके मुताबिक उन्होंने कार्य प्रारंभ कर दिया है। आज से सफाई कर्मचारी की उपस्थिति लेकर सफाई संबंधी कार्य प्रारंभ किया गया। स्वच्छता बनाए रखने के लिए सफाई वाहनों को संलग्न कर दिया गया है ताकि कहीं पर भी कचरा का जमाव न हो। कंपनी ने स्वच्छता कर्मचारियों को ड्रेस कोड प्रदान किया है,जिससे वे अलग ही रूप में भिलाई निगम के सफाई कर्मचारियों के रूप में नजर आएंगे।

 

Advertise, Call Now - +91 76111 07804