GLIBS
27-10-2020
स्कूलों में जल्द पढ़ाई शुरू कराने की मांग, निजी विद्यालय संचालक कल्याण संघ ने किया कलेक्टोरेट में प्रदर्शन

धमतरी। कोरोना संक्रमण से लोगों को बचाने के लिए लगाए गए लाॅक डाउन में सब कुछ बंद हो गया था। इसी क्रम में स्कूलों-काॅलेजों की कक्षाएं भी बंद कर दी गई। ऐसे में पढाई नहीं होने से हजारों छात्र-छा़त्राओं का भविष्य संकट में पड़ चुका है। स्थिति को देखते हुए निजी विद्यालय संचालक कल्याण संघ ने मंगलवार को कलेक्टोरेट में जल्द स्कूलों में पढ़ाई शुरू कराने की मांग को लेकर प्रदर्शन किया। संघ के पदाधिकारियों ने बताया कि जिले में करीब 216 प्राइवेट स्कूल हैं, जिनमें नर्सरी से लेकर 12 वीं तक की पढ़ाई होती है। लॉक डाउन के बाद से स्कूलों में कक्षाएं नहीं लग रही हैं। पदाधिकारियों का कहना है कि देश में जब अन्य संस्थाएं खुल गई हैं, तो स्कूलों को भी खोल देना चाहिए,क्योंकि इससे हजारों छात्रों का भविष्य जुड़ा हुआ है। उन्होंने आगे बताया कि सरकार ने आरटीई की राशि अब तक नहीं दी है। इस कारण शिक्षकों को वेतन देने में काफी दिक्कत हो रही है। संघ के संरक्षक दीपक लखोटिया, धीरज अग्रवाल, अध्यक्ष सुबोध राठी, उपाध्यक्ष विनोद पांडे, सचिव टीआर सिन्हा, गोविन्द, अशोक देशमुख, एमके मसीह, सूर्यप्रभा चेटियार, कमलेश सिंह राठौर, तरुण भांडे, पारखदास आदि ने सरकार से इस मामले में शीघ्र ही सकारात्मक पहल करने की मांग की।

 

26-09-2020
कीटनाशक दवाइयों की दुकान खुलेंगी सुबह 10 से दोपहर 12 बजे तक,कलेक्टर जारी किया आदेश

कोरबा। कोरोना वायरस के संक्रमण के रोकथाम के लिए जिले में 23 सितंबर से दो अक्टूबर तक पूर्ण लाॅक डाउन लागू है। लाॅक डाउन के दौरान सभी व्यावसायिक प्रतिष्ठान पूर्ण रूप से बंद है। वर्तमान में खरीफ मौसम में बोई गई फसलों में कीट का प्रकोप संभावित है। किसानों के हित के लिये तथा फसलों को कीट के प्रकोप से बचाने के लिए जिले के समस्त कृषि सेवा केन्द्रों को कीटनाशक दवाइयों को बेचने की अनुमति प्रदान कर दी गई है। कलेक्टर किरण कौशल ने इस संबंध में आदेश भी जारी कर दिये हैं। कीटनाशक दवाईयों की बिक्री सुबह 10 बजे से दोपहर 12 बजे तक होगी। दुकानों का संचालन कोविड-19 प्रोटोकाॅल के समुचित निर्देशों का पालन करते हुए करना होगा। दुकान संचालकों को दुकान में आने वाले ग्राहकों के बीच सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कराना अनिवार्य होगा। दुकान में कीटनाशक लेने आने वाले ग्राहकों को मास्क पहनना अनिवार्य होगा।

 

23-09-2020
Video: लाॅक डाउन का कड़ाई से पालन कराने सड़क पर उतरे कलेक्टर-एसपी, बेवजह घूमने वालों को दी समझाइश

कोरबा। जिले में बढ़ते कोरोना संक्रमण की चेन तोड़ने के लिए बुधवार से नगरीय निकाय क्षेत्रों सहित चिन्हांकित 33 ग्राम पंचायतों में सख्त लाॅक डाउन लागू किया गया है। लाॅक डाउन का सख्ती से पालन कराने की जिम्मेदारी कलेक्टर किरण कौशल ने पुलिस और प्रशासन के अधिकारियों को सौंपी है। आज सुबह लाॅक डाउन के पहले दिन कलेक्टर कौशल ने जिले के पुलिस कप्तान अभिषेक मीणा के साथ स्वयं शहर की सड़कों पर निकलीं। दोनों अधिकारियों ने कोविड वायरस के संक्रमण की चेन को तोड़ने के लिए जिले में लागू धारा 144 का कड़ाई से पालन सुनिश्चित कराने के निर्देश दिए। कलेक्टर और एसपी ने शहर की सड़कों पर निकले इक्का-दुक्का लोगों को अपने घरों में रहने की हिदायत दी। दोनों अधिकारियों ने लोगों को रोककर घरों से बाहर निकलने का कारण पूछा और कोरोना से बचाव के लिए घर में ही सुरक्षित रहने की सलाह दी। इस दौरान कुछ जगहों पर पुलिस और प्रशासन के कार्यपालिक दण्डाधिकारियों ने बेवजह बिना काम के बाइकों पर सवार होकर सड़कों पर घूम रहे लोगों के विरूद्ध चालानी कार्यवाही की।

सीतामणी चैक पर बार-बार समझाइस के बाद भी कुछ युवाओं के सड़कों पर बाइक लेकर बेकारण घूमने पर पुलिस प्रशासन ने कार्यवाही की। बाइक सवार युवकों को धारा 144 का उल्लंघन तथा लाॅक डाउन के निर्देशों का पालन नहीं करने पर महामारी अधिनियम के तहत थाने में एफआईआर दर्ज कराने की भी चेतावनी दी। इस दौरान अतिरिक्त जिला दण्डाधिकारी संजय अग्रवाल, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक कीर्तन राठौर, एसडीएम कोरबा  सुनील नायक, सीएसपी राहूल देव सहित अन्य अधिकारी भी लाॅक डाउन का सख्ती से पालन कराने में जुटे रहे।

कलेक्टर और एसपी ने कोसाबाड़ी चैक से होते हुए निहारिका, सुभाष चैक, घंटाघर, सीएसईबी चैक से टीपी नगर होकर सुनालिया चैक तक लाॅक डाउन के पालन का जायजा लिया। उन्होंने सुभाष चैक में सिर पर आटे का पैकेट रखकर जा रही बुजुर्ग महिला को जल्द घर पहुंचने की हिदायत दी। कलेक्टर ने इस महिला को अपने पास रखा एन-95 मास्क भी दिया और उसे मास्क लगाये रखने, बार-बार हाथों को साबुन पानी से धोने तथा घर पर रहने की सलाह दी। दोनों अधिकारियों ने सड़कों पर आने-जाने वाले इक्का-दुक्का लोगों को रोक-रोककर घरों से बाहर निकलने का कारण पूछा। किसी ने दवाई लेने तो किसी ने बैंक जाकर लौटने की बात कही। अधिकारियों ने सभी को बिना काम के बेवजह घरों से नहीं निकलने की समझाईश दी और लाॅक डाउन के प्रावधानों का उल्लंघन करने पर सख्त कार्यवाही की चेतावनी देकर सीधे घर जाने को कहा। इसके बाद दोनों अधिकारियों ने सुनालिया चैक से रेलवे फाटक, पुराना बस स्टैंड, कोतवाली थाना से सीतामणी होकर रेलवे स्टेशन परिसर तक स्थिति का मुआयना किया।

कलेक्टर कौशल ने लाॅक डाउन के उल्लंघन पर कड़ी कार्रवाई के दिए निर्देश 

कलेक्टर कौशल ने किसी भी परिस्थिति में लाॅक डाउन का पालन सुनिश्चित कराने के निर्देश सभी एसडीएम एवं तहसीलदारों को दिए। कलेक्टर ने बिना मास्क लगाए और बेवजह सड़कों पर घूमने वाले लोगों पर सख्त कार्रवाई करते हुए जुर्माना लगाने के साथ-साथ गंभीर मामलों में एफआईआर दर्ज कराने को कहा है।

21-09-2020
कलेक्टर ने कहा, लाॅक डाउन की आड़ में राशन-सब्जियों की जमाखोरी और कालाबाजारी पर होगी कड़ी कार्रवाई

कोरबा। कोरोना के कारण हुए लाॅक डाउन के बीच जिले के शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्रों में राशन सामग्रियों और सब्जियों के दाम बढ़ने तथा उनकी कालाबाजारी एवं जमाखोरी को लेकर कलेक्टर ने गम्भीरता से लिया है। उन्होंने किसी भी परिस्थिति में अति आवश्यक चीजों को, सामान्य दिनों के दामों से अधिक दाम पर नहीं बेचने की अपील दुकानदारों से की। कलेक्टर किरण कौशल के निर्देश पर लॉक डाउन के दौरान लोगों को उचित दामों पर जरूरी चीजें उपलब्ध कराने के उद्देश्य से जिला प्रशासन की टीम ने बाजारों का निरीक्षण किया जा रहा है। निरीक्षण के दौरान टीम ने थोक राशन विक्रेताओं से स्टॉक और प्रचलित मूल्य की जानकारी ली जा रही है। कलेक्टर कौशल के निर्देश पर जमाखोरी, कालाबाजारी और जरूरी वस्तुओं के दाम नियंत्रण के लिए सजग रूप से लगातार निगरानी और कार्रवाई की जा रही है। 

कलेक्टर ने कोरोना वायरस संक्रमण से लड़ाई में सभी व्यापारियों से अपना सहयोग देने की अपील की है और राशन, सब्जियों आदि की कालाबाजारी तथा जमाखोरी नहीं करने को कहा है। कलेक्टर ने सभी व्यापारियों और राशन दुकानों में उपलब्ध सामग्रियों का स्टाॅक निरीक्षण करने के निर्देश लाॅजिस्टिक फेसिलिटेशन टीम के प्रभारियों को दिए हैं। कलेक्टर कौशल ने तहसीलदारों एवं पटवारियों को निर्देशित किया है कि ग्रामीण तथा शहरी क्षेत्रों में आलू-प्याज, तेल, दाल, चावल, दूध, सब्जी, नमक आदि जरूरी चीजों के दाम नियंत्रित रखें। किसी भी दुकानदार द्वारा अधिक दाम में चीजों की बिक्री की सूचना मिलने पर संबंधित विक्रेता के विरूद्ध विधिसम्मत प्रकरण तैयार कर कार्यवाही सुनिश्चित करें। कलेक्टर ने यह भी निर्देश दिए हैं कि यदि कोई दुकानदार, संस्थान आवश्यक वस्तुओं को एमआरपी से अधिक दाम में बेचते हुए पाया जाता हैं तो उसके विरूद्ध भारतीय दण्ड संहिता 1860 के तहत् कड़ी कानूनी कार्यवाही की जाएगी। कलेक्टर ने गठित टीम के अधिकारियों को यह भी निर्देश दिए हैं कि किसी भी माध्यम से प्राप्त शिकायत, फीडबैक पर त्वरित एवं प्रभावी कार्यवाही सुनिश्चित करें तथा व्हाट्सअप के माध्यम से नियमित रिपोर्टिंग भी करें।

कलेक्टर किरण कौशल ने कोरोना संक्रमण काल के दौरान जिले में अति आवश्यक सेवाओं के उपलब्धता जैसे दवाई, फल, सब्जी, राशन, दूध, पशु चारा, कृषि बीज लोगों तक सही दाम पर तथा आवश्यक मात्रा में उपलब्ध सुनिश्चित कराने और इसकी निगरानी के लिए कोविड-19 लाॅजिस्टिक फेसिलिटेशन टीम गठित की है। जिला स्तरीय छह प्रभारी अधिकारियों सहित 32 राजस्व निरीक्षक-पटवारियों की ऐसी दस टीमें बनाई गई हैं। यह टीमें कोरबा जिले के सम्पूर्ण नगरीय क्षेत्रों के साथ-साथ जिले के पाॅंचों तहसीलों में भी आवश्यक वस्तुओं की कालाबाजारी रोकने के लिए आवश्यकतानुसार क्षेत्रों का भ्रमण करके सघन निगरानी रख रही है। हर दिन दुकानों पर जाकर आवश्यक वस्तु-सामग्रीयों के अधिकतम खुदरा मूल्य (एमआरपी) और स्टाॅक की जानकारी ली जा रही है। ग्राहकों से भी रेट और सामग्री की क्वालिटी के बारे में फीड बैक लिया जा रहा है।

18-09-2020
लाॅक डाउन तक सब्जी बाजार रहेंगे बंद,पूर्व की भांति गंजमण्डी और नवीन स्कूल मैदान में लगा सकेगें सब्जी बाजार  

दुर्ग। कोविड-19 के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए जिला प्रशासन ने 20 से 30 सितंबर तक पूरे जिले को लाॅक डाउन किया है। इस दौरान नगर पालिक निगम दुर्ग सीमा क्षेत्र के इंदिरा मार्केट, हटरीबाजार और शनिचरी बाजार में सब्जी दुकानें संचालित नहीं होगी। इस संबंध में निगम आयुक्त ने बताया कि लाॅक डाउन के समय शहर में सब्जी बाजार प्रातः 5 बजे से सुबह 10 बजे तक लगाया जाना प्रस्तावित हैं। जिला प्रशासन के निर्देशानुसार इंदिरा मार्केट, हटरी बाजार, और शनिचरी बाजार में सब्जी दुकान लगाने वाले व्यवसायियों को पूर्व की भांति गंजपारा पुरानी गंजमण्डी और नवीन स्कूल मैदान में शिफ्ट किया गया है। सब्जी दुकानदार वहाॅ अपने दुकानें निर्धारित समय तक लगा सकेगें। निर्धारित समय के बाद बाजार चालू रखने पर कड़ी कार्यवाही की जाएगी। अतः समस्त सब्जी दुकानदारों से अनुरोध है कि कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए जिला प्रशासन का सहयोग करें, तथा लाॅकडाउन के नियमों का पालन कर शहर को संक्रमण से बचायें।

 

04-08-2020
लाॅक डाउन का उल्लंघन के एक हजार आठ सौ से अधिक प्रकरण बने

कोरबा। कोरोना संक्रमण को बढ़ने से रोकने के लिए जिले के नगरीय निकाय क्षेत्रों में जारी लाॅक डाउन के दौरान शासकीय निर्देशों और कोविड प्रोटोकाॅल के उल्लंघन पर अब तक एक हजार 866 प्रकरणों में तीन लाख 65 हजार 770 रूपए का जुर्माना वसूला गया है। कलेक्टर किरण कौशल के निर्देशों के बाद लाॅक डाउन का पालन सुनिश्चित करने के लिए निरीक्षण दलो और लाॅजिस्टिक टीमों की कार्रवाईयां आज भी पांचोे नगरीय निकाय क्षेत्रों में जारी रही। बुधवार को कार्रवाई में पांचों नगरीय निकायों में 82 प्रकरणों मे 10 हजार 800 रूपए का जुर्माना लाॅकडाउन का उल्लंघन करने वाले लोगों पर लगाया गया। सभी नगरीय निकाय क्षेत्रों में आज भी बिना मास्क के सड़कों पर निकलने वाले पर जुर्माना लगाया गया। खरीदी बिक्री के समय कोविड प्रोटोकाॅल का पालन नहीं करने और सोशल डिस्टेंसिंग का उल्लंघन करने वाले लोगों पर भी कार्रवाई की गई। लाॅक डाउन की निर्धारित अवधि मे तय समय पर दुकाने बंद नही करने या निर्धारित समय के बाद भी दुकानों से सामान बेचने वाले दुकानदारों के विरूद्ध भी प्रशासन ने जुर्माने की कार्रवाई की। जिले में अब तक एक हजार 409 लोगों के विरूद्ध बिना मास्क लगाए घरों से बाहर घूमने पर एक लाख 35 हजार 970 रूपए का जुर्माना वसूला गया है।

अब तक लाॅकडाउन का पालन कराने के लिए जिले की पेट्रोलिंग टीमों ने 13 प्रकरणों में 15 हजार 600 रूपए जुर्माना वसूला है। लाॅकडाउन की अवधि में अब तक सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं करने पर 309 प्रकरणों में एक लाख 800 रूपए जुर्माना वसूला गया है। नगरीय निकायों के दलों ने लाॅकडाउन का पालन नहीं करने पर अब तक 135 प्रकरण दर्ज किए है, जिनमें एक लाख 13 हजार 350 रूपए जुर्माना लगाया गया है। आज नगर पालिका परिषद दीपका क्षेत्र में 6 लोगों से बिना मास्क के घूमने पर एक हजार 600 रूपए अर्थदण्ड वसूला गया। अपने चेहरे को बिना ढके घूमने से कोविड प्रोटोकाॅल का उल्लंघन करने पर कोरबा नगर निगम क्षेत्र में आज 45 लोगों से तीन हजार 800 रूपए, कटघोरा नगर पालिका परिषद क्षेत्र में 6 लोगों से 600 रूपए और नगर पंचायत छुरीकला में 7 लोगो से 700 रूपए और नगर पंचायत पाली 2 लोगो से 200 रूपए जुर्माने के रूप में  वसूले गए। आज जिले के पांचो नगरीय निकाय क्षेत्रों में सोशल डिस्टेंसिंग के प्रोटोकाॅल का पालन नहीं करने पर 15 लोगों के विरूद्ध कार्रवाई की गई और उन पर 2 हजार 900 रूपए जुर्माना लगाया गया। सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं करने के सर्वाधिक प्रकरण आज नगर निगम कोरबा क्षेत्र में सामने आए। सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं करने के विरूद्ध नगर पालिका कटघोरा में 5 लोगों से 500 रूपए और नगर निगम कोरबा क्षेत्र में 10 लोगों से 2 हजार 400 रूपए जुर्माने के रूप में वसूले गए। आज लाॅकडाउन की शर्तों और प्रतिबंधों का उल्लंघन करने पर नगर निगम कोरबा क्षेत्र में 1 प्रकरणों मे 1 हजार रूपए जुर्माना वसूला गया है।

 

30-07-2020
लाॅक डाउन का उल्लंघन करने पर दो दिन में वसूली गई दो लाख की जुर्माना राशि

कोरबा। कोरोना संक्रमण को बढ़ने से रोकने के लिए कलेक्टर किरण कौशल के सख्त निर्देशों के बाद लाॅकडाउन का पालन सुनिश्चित करने के लिए निरीक्षण दलों और लाॅजिस्टिक टीमों की कार्रवाई गुरुवार को भी पांचोें नगरीय निकाय क्षेत्रो में जारी रही। पिछले दो दिनो में ही ऐसी कार्रवाई से स्थानीय प्रशासन ने लगभग दो लाख रूपए जुर्माना वसूल लिया है। आज 361 प्रकरणों मे लगभग 70 हजार रूपए का जुर्माना लाॅकडाउन का उल्लंघन करने वाले लोगों पर लगाया गया। दो दिन में जिले के पांचों नगरीय निकाय क्षेत्रोें से लाॅक डाउन के दिशा निदेर्शो के उल्लंघन पर 978 प्रकरणों में एक लाख 96 हजार 470 रूपए का जुर्माना वसूला गया। जिले में दो दिनों में 722 लोगों के विरूद्ध बिना मास्क लगाए घरों से बाहर घूमने पर 71 हजार 320 रूपए का जुर्माना वसूला गया। नगर पालिका परिषद दीपका क्षेत्र में आज 61 लोगों से बिना मास्क के घूमने पर 6 हजार 100 रूपए अर्थदण्ड वसूला गया। चेहरे को बिना ढंके घूमने से कोविड प्रोटोकाॅल का उल्लंघन करने पर कोरबा नगर निगम क्षेत्र में आज 117 लोगों से 11 हजार 350 रूपए, कटघोरा नगर पालिका परिषद क्षेत्र में 64 लोगों से 6 हजार 400 रूपए, नगर पंचायत पाली क्षेत्र में 33 लोगों से 3 हजार 950 रूपए और नगर पंचायत छुरीकला में 15 लोगों से एक हजार 050 रूपए वसूले गए।

सोशल डिस्टेंसिंग के प्रोटोकाॅल का पालन नहीं करने पर आज जिले में 46 लोगो के विरूद्ध कार्रवाई की गई और उन पर 20 हजार 850 रूपए जुर्माना लगाया गया। सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं करने के सर्वाधिक प्रकरण पाली नगर पंचायत में सामने आए। नगर पंचायत पाली में 16 लोगो के विरूद्ध सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं करने के विरूद्ध 3 हजार रूपए का अर्थदण्ड लगाया गया। नगर पालिका कटघोरा में छह लोगों से 9 हजार 500 रूपए, नगर पालिका दीपका में 5 लोगों से एक हजार रूपए, नगर पंचायत छुरीकला में पांच लोगों से पांच हजार 750 रूपए और नगर निगम कोरबा क्षेत्र में 14 लोगों से एक हजार 600 रूपए सोशल डिस्टेंसिग का पालन नहीं करने पर जुर्माने के रूप में वसूले गए। लाॅकडाउन का पालन कराने के लिए जिले की पेट्रोलिंग टीमो ने चार प्रकरणों में 3 हजार 500 रूपए और नगरीय निकायों के अमलों ने 21 प्रकरणों में 16 हजार 450 रूपए जुर्माना वसूला है। लाॅकडाउन की शर्तों और प्रतिबंधों का उल्लंघन करने पर नगर निगम कोरबा क्षेत्र में 17 प्रकरणों मे 14 हजार 300 रूपए, कटघोरा नगर पालिका क्षेत्र में दो प्रकरणों में दो हजार रूपए, नगर पालिका दीपका क्षेत्र में 4 प्रकरणों में तीन हजार 500 रूपए और नगर पंचायत पाली क्षेत्र में दो प्रकरणों में 150 रूपए का जुर्माना वसूला गया है।

 

29-07-2020
बिना मास्क के घूमने वाले 81 लोगों के खिलाफ की कार्रवाई, निगम की टीम ने 23950 रूपए वसूल किया अर्थदंड

भिलाई। नगर पालिक निगम आयुक्त ऋतुराज रघुवंशी के निर्देश के मुताबिक लाॅक डाउन और खाद्य सामग्री की खरीददारी के लिए दी गई छूट का वार्डस्तर पर सर्वे कर जायजा लिया। किराना दुकान संचालकों से सोशल डिस्टेसिंग का पालन कराने के साथ ग्राहकों को सामग्री देने की अपील की गई। बिना मास्क के दुकान पर बैठे व्यापारी और सड़कों पर घूमने वाले लोगों से जुर्माना वसूला गया। निगम के पांच जोन की टीम ने कुल 81 लोगों के खिलाफ कार्रवाई की। इनमें से 47 लोग सार्वजनिक स्थानों पर बिना मास्क के घूम रहे थे। चेहरे को अन्य तरीके से भी नहीं ढंका था। इनसे कुल 18050 रूपए अर्थदंड वसूल किया गया। छूट प्राप्त 34 दुकान जैसे मेडिकल और किराना दुकान संचालकों से मास्क नहीं लगाने पर 5900 जुर्माना लगाया गया। नेहरू नगर जोन-1 आयुक्त सुनील अग्रहरि के निर्देश पर सहायक राजस्व अधिकारी शरद दुबे की टीम ने 6 लोगों से 6800 रूपए, जोन-2 वैशाली नगर आयुक्त पूजा पिल्ले के नेतृत्व में 11 लोगों से 1100, मदर टेरेसा जोन-3 की आयुक्त प्रीति सिंह के नेतृत्व में 3 लोगों से 700, वीर शिवाजी नगर जोन-4 के आयुक्त अमिताभ शर्मा की टीम ने 14 लोगों से 4850 और जोन-5 सेक्टर-6 के आयुक्त महेन्द्र पाठक की टीम ने 13 लोगों से 4600 रूपए अर्थदंड वसूल किया।

 

24-07-2020
लाॅजिस्टिक टीम की छापेमार कार्यवाही, मुड़ापार के स्वीट्स सेंटर से घरेलू गैस सिलेंडर व कैरोसीन जब्त

कोरबा। कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए जिले के नगरीय निकाय क्षेत्रों मे एक सप्ताह का लाॅक डाउन जारी है। इस दौरान लोगों को जरूरत की चीजें पर्याप्त मात्रा में निर्धारित नियंत्रित मूल्य पर उपलब्ध कराने के लिए खाद्य विभाग की जिला लाॅजिस्टिक टीम सक्रिय है। कोरबा के जिला खाद्य अधिकारी आशीष चतुर्वेदी के निर्देश पर सहायक खाद्य अधिकारी जितेंद्र सिहं और खाद्य निरीक्षक शुभम के दल ने शहर की होटलों तथा मिठाई दुकानों की अचानक चेकिंग की। चेकिंग अभियान के दौरान मुड़ापार स्थित दीपक स्वीट्स एवं डेयरी स्टोर्स में खाद्य निरीक्षक तथा उसके दल ने घरेलू गैस सिलेंडर का अवैध रूप से व्यावसायिक उपयोग करते पाया और जब्ती बनाई। इसके साथ ही दुकान में अवैध रूप से कैरोसीन का उपयोग करने पर भी संचालक के विरूद्ध प्रतिबंधात्मक कार्यवाई की गई। लाॅजिस्टिक दल ने निहारिका और सुभाष ब्लाॅक मुड़ापार की अनाज एवं किराना दुकानो सहित मिठाई और डेयरी दुकानों का भी निरीक्षण किया और स्टाॅक तथा दामों की जानकारी ली। जिला खाद्य अधिकारी ने बताया कि कोरोना संक्रमण के इस समय में लाॅकडाउन के दौरान खाद्य विभाग द्वारा वस्तुओं के मूल्य नियंत्रण तथा कालाबाजारी को रोकने के लिए जांच अभियान चलाया जा रहा है। राशन दुकानों के साथ साथ डेयरी एवं दूध उत्पादो की बिक्री करने वाली दुकानो की निगरानी की जा रही है ताकि शहरवासियों को सामान्य दरों पर चीजों की पर्याप्त आपूर्ति हो सके। 

 

24-07-2020
लाॅक डाउन के दूसरे दिन 42 लोगों पर निगम ने की कार्यवाही,बेवजह घूमने वालों पर लगाया  जुर्माना

दुर्ग। नगर पालिक निगम दुर्ग के बाजार विभाग और स्वास्थ्य विभाग ने दीपक नगर क्षेत्र, गंजपारा, शंकर नगर, सहित इंदिरा मार्केट, हटरी बाजार,चण्डी चौक एरिया में भ्रमण किया।
 इस दौरान लाॅक डाउन में किराना दुकानें खोलने वालों, बेवजह घर से बाहर घूमने वालों और मास्क नहीं लगाने वालों कुल 42 लोगों पर कार्यवाही कर 8850/ रुपए जुर्माना वसूला। सभी को हिदायत दी गई कि लाॅक डाउन में कोई भी दुकानें न खोलें, अन्यथा लायसेंस निरस्त किया जाएगा साथ ही कड़ी कानूनी कार्यवाही की जाएगी। निगम के अमले ने आयुक्त इंद्रजीत बर्मन के निर्देश पर स्वास्थ्य अधिकारी दुर्गेश गुप्ता, स्वच्छता निरीक्षक जसवीर सिंह भुवाल, मेनसिंग मंडावी, राजेन्द्र सराटे, दरोगा राजू सिंह, सुरेश भारती, थान सिंह यादव, ईश्वर वर्मा, शशी यादव सहित अन्य कर्मचारियों ने अलग-अलग दल बनाकर कार्यवाही की।

24-07-2020
मेडिकल संचालक से वसूल किया 10 हजार दांडिक शुल्क, तय समय के बाद भी खुला रखा था

भिलाई। नगर पालिक निगम के जोन-4 की टीम ने लाॅक डाउन का उल्लंघन करने पर पावर हाउस के मेडिकल संचालक के खिलाफ दांडिक कार्रवाई की। मेडिकल स्टोर के संचालक से 10 हजार का दांडिक शुल्क वसूल किया गया। जोन आयुक्त अमिताभ शर्मा ने मेडिकल संचालक को 29 जुलाई तक शाम 5 बजे तक मेडिकल को बंद करने की समझाइश दी। कलेक्टर डाॅ.सर्वेश्वर नरेन्द्र भुरे ने लाॅकडाउन में निर्धारित समय तक मेडिकल सहित अन्य जरूरी सेवाओं से जुड़ी दुकानों को खोलने की छूट दी है। कलेक्टर के आदेश के मुताबिक लॉक डाउन में सुबह 7 बजे से शाम 5 बजे तक मेडिकल खोलने की अनुमति है। इसके बावजूद नंदिनी रोड स्थित लक्ष्मी मेडिकल रात 8 बजे तक खुला था। जोन-4 के आयुक्त को इसकी सूचना मिली तो वह अपने अधिकारियों के साथ मौके पर पहुंचे और मेडिकल को बंद करवाया। मेडिकल संचालक को निर्धारित समय में मेडिकल को बंद करने की समझाइश दी।

मार्निंग वाॅक पर निकले 16 लोगों के खिलाफ की गई कार्रवाई
नगर पालिक निगम की टीम लाॅक डाउन के दूसरे दिन भी मुस्तैद रही। अधिकारी/कर्मचारी नियम का पालन कराने के लिए सुबह 6 बजे से ही वार्डों का भ्रमण कर स्थिति का जायजा लिया। मार्निंग वाॅक पर निकले कई लोगों को समझाइश देकर वापस घर भेजा गया। समझाइश के बाद भी नहीं मानने पर कुल 16 लोगों के खिलाफ जुर्माना लगाया गया। जोन क्रमांक-1 की टीम ने तीन लोगों से 400 दांडिक शुल्क वसूल किया। जोन क्रमांक-5 की टीम ने टाउनशिप क्षेत्र में 13 लोगों से 2100 रूपए अर्थदंड वसूल किया।

24-07-2020
कोविड-19 के बचाव को लेकर निगम ने गठित की टीम, लाॅक डाउन का उल्लंघन पर होगी कार्रवाई

भिलाई। कलेक्टर डाॅ.सर्वेश्वर नरेन्द्र भूरे के आदेशानुसार निगम आयुक्त ऋतुराज रघुवंशी ने सभी जोन आयुक्त को कोविड-19 वैश्विक महामारी से बचाव और लाॅक डाउन का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ कार्रवाई के लिए टीम गठित करने के निर्देश दिए हैं। आयुक्त ने टीम में राजस्व विभाग और स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी कर्मचारियों की वार्डवार जिम्मेदारी तय करने कहा है। आयुक्त के निर्देश के मुताबिक जोन-2 की आयुक्त पूजा पिल्ले ने अधिकारी/कर्मचारियों की तीन टीम बनाई है। सहायक राजस्व अधिकारी और उप अभियंता को टीम का प्रभारी बनाया है। सभी टीम प्रभारी को प्रतिदिन सुबह अपने कार्य स्थल पर लेखा शाखा से रसीद बुक लेकर उपस्थित होने के आदेश दिए हैं। वार्डवार अभियान चलाकर मार्निंग वाॅक पर निकलने वाले, लाॅक डाउन का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ की गई कार्रवाई की कंडिकावार जानकारी बनाने के निर्देश दिए हैं।
कोविड से बचाव के लिए इनकी जिम्मेदारी तय

सहायक राजस्व अधिकारी संजय वर्मा, राजस्व निरीक्षक प्रकाश अग्रवाल, राजस्व सुपरवाइजर विनोद पाण्डेय, अरविंद दुबे, मुरली गुल्हाने, मदन मोहन तिवारी, हरि ताम्रकार, अरूण सिंह और अश्वनी देशमुख को वार्ड 10, 11, 15, 13 और 14 में कोविड-19 वैश्विक महामारी से बचाव का दायित्व सौंपा है। उप अभियंता शंकर सुमन मरकाम, सुपरवाइजर एचएस भट्टी, राम रतन टंडन, उत्तम ताम्रकार, सुदेश कुलदीप, गुप्तानंद तिवारी,  थामस, नागेश, रामकुमार, पंकज को वार्ड क्रमांक -17, 18 और 19 की जिम्मेदारी दी है। उप अभियंता पुरूषोत्तम सिन्हा, सुपरवाइजर लक्ष्मी  नारायण वर्मा, विवेक रंगनाथ, जवाहर चंद्राकर, गोपाल, भिलाल साहू, खेमचंद, कमलेश और अशोक टंडन को वार्ड क्रमांक 16,26 और वार्ड-27 में कोविड-19 के बचाव को लेकर अभियान चलाएंगे।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804