GLIBS
23-11-2020
कांगेर घाटी राष्ट्रीय उद्यान में घूम सकते हैं पर्यटक, मास्क लगाकर करना होगा सोशल डिस्टेंस का पालन  

रायपुर\जगदलपुर। कांगेर घाटी राष्ट्रीय उद्यान के अंतर्गत सभी पर्यटन स्थलों को पर्यटकों के भ्रमण के लिए 1 नवम्बर से खोल दिया गया है। पर्यटन विभाग ने पर्यटकों को मास्क लगाने और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने की अपील की है। राष्ट्रीय उद्यानिकी विभाग कांगेर घाटी ने कोविड-19 संक्रमण से बचाव के लिए पर्यटकों से अपील की है कि मास्क का उपयोग और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें। बिना मास्क के राष्ट्रीय उद्यान क्षेत्र में प्रवेश वर्जित होगा।

 

19-10-2020
मास्क और सोशल डिस्टेंस की अपील के साथ ही दुर्गा पंडाल परिसर में रोज किया जा रहा सैनिटाइज

भिलाई। महापौर व भिलाई नगर विधायक देवेन्द्र यादव और आयुक्त ऋतुराज रघुवंशी के निर्देशानुदसार नगर पालिक निगम प्रशासन की टीम कोरोना के संक्रमण को रोकथाम के लिए जन जागरूकता अभियान चला रही है। शहर के दुर्गा पांडालों की साफ-सफाई और नियमित रूप से सैनिटाइज किया जा रहा है। दुर्गा पंडाल और धार्मिक स्थल पर श्रद्धालुओं की आवाजाही को ध्यान में रखते हुए निगम प्रशासन ने मानिटरिंग के लिए जोन स्तर पर विशेष टीम बनाई गई है। यह टीम शहर के सभी दुर्गा पंडालों की सफाई व्यवस्था के साथ ही सोडियम हाइपो क्लोराइड के घोल का छिड़काव कर रही है। पूजा स्थल पर माता के दर्शन के दौरान सोशल डिस्टेसिंग का पालन हो रहा है या नहीं इस पर ध्यान रख रही है। वहीं टीम द्वारा श्रद्धालुओं को सोशल डिस्टेसिंग का पालन करते हुए माता का दर्शन करने के लिए कहा जा रहा है। एक-दूसरे से निर्धारित दूरी बनाकर खड़े होने की अपील कर रही है।

सैनिटाइज करने लिए कर्मचारियों की टीम

जोन आयुक्त ने नगर पालिक निगम और जिला प्रशासन से अनुमति प्राप्त धार्मिक स्थल और दुर्गा पंडाल स्थल को सैनिटाइज करने के लिए वार्ड स्तर पर टीम बनाई है। प्रत्येक टीम में पांच कर्मचारी सहित वार्ड प्रभारी उप अभियंता को शामिल किया गया है। कर्मचारी सुबह दुर्गा पंडाल की साफ-सफाई व्यवस्था के साथ ही परिसर को सैनिटाइज कर रहे हैं। वहीं दुर्गा पंडाल पहुंचने वाले श्रद्धालु मास्क पहनकर आ रहे हैं या नहीं इसकी मानिटरिंग कर रही है। श्रद्धालुओं को सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए माता के दर्शन करने के लिए अपील किया जा रहा है।

 

13-10-2020
प्रदेश में कंटेनमेंट जोन के बाहर कार्यक्रमों की अनुमति नियम और शर्तों के मुताबिक,एसओपी के उल्लंघन पर होगी कार्रवाई

रायपुर। छत्तीसगढ़ में कंटेनमेंट जोन के बाहर के क्षेत्र में कार्यक्रमों या आयोजनों के लिए अनुमति देने के संबंध में सामान्य प्रशासन विभाग के सचिव ने मंगलवार को पत्र भेजा है। उन्होंने गृह मंत्रालय भारत सरकार की ओर से जारी एसओपी का कड़ाई से पालन कराने के निर्देश दिए हैं। सामान्य प्रशासन विभाग के सचिव डॉ. कमलप्रीत सिंह ने इस संबंध में समस्त विभागों के सचिव, संभागायुक्त,कलेक्टरों, विभागाध्यक्षों को सामाजिक,अकादमिक, खेल, मनोरंजन, सांस्कृतिक, धार्मिक, राजनीतिक और अन्य कार्यक्रमों या आयोजनों के लिए जारी मानक संचालन प्रक्रिया (एसओपी) संलग्न पत्र भेजा है। एसओपी के मुताबिक कार्यक्रम,सभा का आयोजन खुली स्थल में किए जाने पर जिला प्रशासन या सक्षम प्राधिकारी की ओर से मैदान,सभा स्थल के क्षेत्रफल भौगोलिक स्थिति और आकार को ध्यान में रखते हुए उपयुक्त संख्या में लोगों की उपस्थिति की अनुमति शर्तों के अधीन प्रदान की जा सकेगी।
किसी बंद जगह में उपरोक्त गतिविधियों को आयोजित करने की अनुमति अधिकतम 200 व्यक्तियों के लिए दी जा सकेगी इसके लिए शर्तों का पालन अनिवार्य होगा। कार्यक्रमों में कोरोना के लक्षण रहित व्यक्तियों को ही भाग लेने की अनुमति होगी। सार्वजनिक कार्यक्रम में आने वाले व्यक्तियों में कार्यक्रम में शामिल होने के दौरान यदि कोरोना के प्रारंभिक लक्षण जैसे सर्दी खांसी बुखार भी पाए जाते हैं तो उनको कार्यक्रम स्थल में प्रवेश नहीं दिया जाएगा। कार्यक्रम, सभा स्थल अनेक स्थानों पर पान गुटखा इत्यादि खाना और थूकने पर प्रतिबंध रहेगा। जुलूस रैली के दौरान अथवा आयोजन स्थल पर फिजिकल डिस्टेंस,सोशल डिस्टेंस के दिशा निर्देशों का पालन तय करने की जिम्मेदारी आयोजकों की आयोजन कर्ताओं की होगी। रैली,विसर्जन जुलूस में तय सीमा से अधिक लोग नहीं जा सकेंगे। इसका उल्लंघन करते पाए जाने पर संबंधित आयोजक के विरुद्ध विधि के अंतर्गत नियमानुसार कार्रवाई की जाएगी। एसओपी के उल्लंघन करने वाले व्यक्ति, आयोजक,आयोजनकर्ता के विरुद्ध भारतीय दंड संहिता 1860 की धारा 188 के तहत कार्रवाई की जाएगी। जिला प्रशासन की ओर से आवश्यकता होने पर अन्य अतिरिक्त शर्तें लगाई जा सकेगी। विस्तृत दिशानिर्देशों के लिए क्लिक करें   

21-09-2020
कलेक्टर बेमेतरा शिवअनंत तायल ने नागिरकों से बिना मास्क पहने घर से बाहर नहीं निकलने की अपील की

रायपुर/बेमेतरा। बढ़ते कोरोना के प्रकोप को देखते हुए कलेक्टर शिवअनंत तायल ने जिले के नागरिकों से बिना मास्क पहने घर से बाहर नही निकले की अपील की है। उन्होंने कहा है कि घर में तैयार किए गए कपड़े के मास्क का उपयोग बेहतर है। उन्होंने कहा कि जिस तरह अभी तक जिले के नागरिक लॉकडाउन का अनुशासन के साथ पालन किया है, उसी तरह आगामी दिनो मे भी सोशल डिस्टेंस का पालन करें। कलेक्टर ने कहा कि चिकित्सकीय विशेषज्ञों द्वारा कोविड-19 के रोकथाम व बचाव के लिए प्रत्येक व्यक्ति को मास्क/फेस कवर पहनना आवश्यक बताया गया है। इसके लिए बाजार में मिलने वाले ट्रिपल लेयर मास्क का प्रयोग किया जा सकता है अथवा होम मेड तीन परतों वाला फेस कवर बनाया जा सकता है। इस होम मेड मास्क/फेस कवर को साबुन से सफाई से धोकर पुनः प्रयोग में लाया जा सकता है।

मास्क/फेस कवर उपलब्ध न होने की स्थिति में गमछा, रूमाल, दुपट्टा इत्यादि का भी फेस कवर के रूप में प्रयोग किया जा सकता है। बशर्ते मुंह एवं नाक पूरी तरह से ढका हो। कभी भी उपयोग में लाया हुआ फेस कवर मुंह, नाक ढकने में प्रयुक्त होने वाला गमछा आदि का पुनः प्रयोग साबुन से अच्छी तरह से साफ किये बिना न किया जाए। कलेक्टर तायल ने बेमेतरा जिले में इस आदेश का पालन करने नागरिकों से आग्रह किया है। समान्य सर्दी, खांसी, बुखार आने पर तत्काल चिकित्सक की सलाह लें, भीड़-भाड़ वाले इलाको मे जाने से बचें। सबसे महत्वपूर्ण यह है कि खांसते, छींकते समय रुमाल का उपयोग किया जाय तथा हाथ मिलाने से बचें। उन्होंने आम जनता से अपील करते हुए कहा है कि हम सबकी सामाजिक जिम्मेदारी के रुप मे लोगों को कोरोना वायरस से बचे के लिए जागरुक और अलर्ट रहना होगा।

 

13-09-2020
कोरोना पर काबू पाने नगर पंचायत अध्यक्ष करा रहे वार्डो को सैनिटाइज

कवर्धा। नगर पंचायत पिपरिया में लगातार कोरोना के मरीज मिलने के बाद आधा पिपरिया नगर को पूरी तरह सील कर दिया गया है। नगर पंचायत अध्यक्ष महेंद्र कुम्भकार स्वयं नगर के सभी मोहल्लों में सैनिटाइज कराया। वही लगातार मरीज मिलने के बाद अध्यक्ष स्वयं सड़क में उतर गए हैं। वे स्वयं नगर में घूमकर लोगों को समझाइश भी दे रहे हैं। सोशल डिस्टेंस का पालन करने, मास्क पहनने व सावधानी बरतने के लिए लोगों को उनके घरों में जाकर समझाइश दे रहे है। महेंद्र कुम्भकार स्वयं कटेंटमेंट जोन में जाकर लोगों के स्वास्थ्य की जानकारी ले रहे हैं। रविवार को वार्ड क्रमांक 7 व 8,9 में नगर पंचयात अध्यक्ष ने पार्षद और स्वास्थ्य कर्मचारी, नगर पंचायत कर्मचारी, मितानिन के साथ डोर टू डोर नागरिकों के स्वास्थ्य संबंधी निरीक्षण किये।

26-08-2020
आधार केंद्र पर करा रहे सोशल डिस्टेंस का पालन, मास्क के बिना प्रवेश निषेध

रायपुर। आधार केंद्र पर कोरोना वायरस से लाभार्थियों को बचाने के लिए केंद्र द्वारा शारीरिक दूरी का पालन और भीड़ नियंत्रित करने के लिये टोकन के द्वारा प्रवेश दिया जा रहा है । केंद्र पर पहुंचने पर सुरक्षा साथी लाभार्थियों का टेंपरेचर लेकर और हाथों को सैनिटाइजर से सैनिटाइज करवाते हैं। उसके बाद ही केंद्र के अंदर प्रवेश दिया जा रहा है। क्षमता से अधिक लोग होने पर लोगों को बाहर ही रोक कर रखा जाता है और दूरी बनाएं रखने को कहा जाता है। श्याम प्लाजा स्थित आधार केंद्र के ऑपरेशन मैनेजर मोहम्मद अमीन अंसारी कहते हैं कोविड- 19 के दौर में आधार केंद्र को अब अनलॉक कर दिया गया है। नियमित रूप से लोगों का आना हो रहा है । प्रतिदिन 150 से 175 लोग आधार कार्ड के लिए आते हैं । उनकी स्वास्थ्य सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए सुरक्षा साथी के द्वारा ताप मशीन के माध्यम से उनका ताप लिया जाता है । सुरक्षा साथी उनके हाथों को सैनिटाइज करवाता है साथ ही जो साथी मास्क के बगैर आते हैं उन्हें मास्क पहनकर आने की निवेदन किया जाता है । अंदर जाने से पूर्व उन्हें शारीरिक दूरी बनाए रखने का कहा जाता है जैसे ही लाभार्थी परिसर में प्रवेश करता है उसकी आवश्यकतानुसार फॉर्म प्रदान किया जाता है । फॉर्म भर कर शारीरिक दूरी का पालन करते हुए वह अपना टोकन नंबर लेता है । टोकन नंबर के उपरांत उसके कार्य के अनुरूप जो पेमेंट लिया जाना है उसके बारे में जानकारी देकर उसे पेमेंट काउंटर पर भेज दिया जाता है एवं वहाँ पर भी शारीरिक दूरी बनाए रखने एवं मास्क लगाए रहने की हिदायत दी जाती है । 

आधार कार्ड के लिए जो प्रक्रिया की जाती है उस समय भी सुरक्षा का विशेष ध्यान रखा जाता है जैसे फिंगरप्रिंट लेते समय मशीन को सैनिटाइज किया जाता है। साथ ही हाथों को सैनिटाइज करके ही मशीन पर फिंगरप्रिंट लिया जाता है। इसी प्रकार रेटीना मार्किंग की मशीन का भी इस्तेमाल किया जाता है । मोहम्मद अंसारी कहते हैं कि परिसर में बैठने के लिए भी गाइड लाइन के अनुसार व्यवस्था की गई है साथ ही उन्होंने कहा कि मैं उन माताओं से भी अपील करना चाहता हूं जो आधार केंद्र पर अपने काम से आ रही है तो छोटे बच्चों को साथ में ना लाएं इसके अलावा जो भी अपने आधार कार्ड के लिए आता है वह मास्क लगाकर आए, सरकार द्वारा समय-समय पर जारी की गई गाइडलाइन है का पालन करें । 

क्या कहते हैं लाभार्थी
आधार कार्ड में मोबाइल नंबर की त्रुटि सुधार के लिए आई सोनम दुबे बताती हैं कि मात्र आधे घंटे में मेरा काम हो गया टोकन मिलने के बाद मेरा दसवां नंबर था मैं अपने स्थान पर बैठी रही टोकन नंबर की आवाज दी मैं वहां गई और 5 से 10 मिनट में मेरी सारी प्रक्रिया पूरी हो गई ।

निवेदन कर करवा रहे हैं शारीरिक दूरी का पालन
बाहर एवं परिसर में एक जगह एकत्रित हो रहे लोगों को शारीरिक दूरी का पालन के लिये निवेदन किया जाता है। लोगों को भी इसके प्रति अपनी जिम्मेदारी को समझना हैं। वहां ड्यूटी पर तैनात सुरक्षा साथी की बात को सुनने को लोग तैयार नहीं होते हैं तो उनको हाथ जोड़कर निवेदन भी किया जाता है और सहयोग के लिए निवेदन भी किया जाता है ।

क्या कहते हैं केंद्र के कर्मचारी
आधार केंद्र में त्रुटि सुधार के लिए नियुक्त मनीषा साहू कहती है कोरोना वायरस काल में लोगों को बर्दाश्त करने की क्षमता अपने अंदर विकसित करनी होगी । क्योंकि कोई भी प्रक्रिया एक निश्चित समय में पूर्ण होती है । हम लोग भी जब एक साथी को बुलाकर उसकी आधार की प्रक्रिया करते हैं तो उस प्रक्रिया में एक समय लगता है जब तक वह प्रक्रिया पूर्ण नहीं होगी तो हम दूसरे साथी को नहीं बुला सकते । लोग अपने टोकन का इंतजार नहीं करते हैं और बार-बार आकर पूछते रहते हैं । मेरा उन सभी  लोगों से निवेदन है कि वह कहीं भी जाएँ  तो अपने समय का इंतजार करें । 

सुरक्षा साथी अमन सिंह कहते हैं कि लोग आते हैं तो उनको लगता है कहीं मेरा काम आज नहीं हुआ तो क्या होगा जबकि सबका काम यहां हो ही जाता है । लोग अपनी बारी का इंतजार नहीं करते हैं उनको लगता है कहीं मेरा काम नहीं हुआ तो क्या होगा हम भी उनको पूरा आश्वासन देते हैं कि आपका काम आज ही पूरा हो जाएगा आप इंतजार करें हड़बड़ी ना करें भीड़ लगाने से बचें सुरक्षित रहें ।

इन वचनों का करें पालन 
वचनों का पालन कर कोरोना संक्रमण की करें रोकथाम- सतर्कता कोरोना से बचाव का बेहतर उपाय है। इसके लिए विशेष सावधानी एवं सतर्कता जरुरी है जैसे- मास्क लगाने व 2 गज की शारीरिक दूरी बनाए रखें, सार्वजनिक स्थल हो, किसी ऑफिस के कमरे में अन्य व्यक्तियों के साथ हों या फिर सर्दी, जुकाम हो तो बाहर निकलने से पहले मास्क जरूर लगाएं, छींकते या खांसने समय रूमाल या टिश्यू पेपर का इस्तेमाल करें, बहुत अधिक इस्तेमाल होने वाली सतहों दरवाजे के हैंडल, या ऐसी जगहों का नियमित सफाई जरूरी है, सार्वजनिक या खुले स्थानों पर नहीं थूकें, ऐसा करना दंडनीय अपराध है, बहुत जरूरी हो तभी यात्रा करें, कोवि़ड- 19 संक्रमित या उसके परिवार वालों से भेदभाव नहीं करें सहानुभूति से पेश आएं, अपने स्वास्थ्य की मॉनिटरिंग करने के लिए आरोग्य सेतु ऐप का इस्तेमाल करें, कोविड-19 को लेकर होने वाली चिंताएं या मानसिक दबाव के लिए 08046110007 फ्री हेल्पलाइन नंबर पर बात कर मनोचिकित्सक से सलाह आवश्यक लें।

24-08-2020
डीजे, साउंड, डेकोरेशन वालों ने निकाली रैली, कहा हम सभी की जिंदगी में खुशी लाते हैं हमारी खुशी का किसी को ध्यान नहीं

कवर्धा। कोरोना संक्रमण काल में डीजे, साउंड, डेकोरेशन सहित कलाकरों के कामकाज पूरी तरह से बन्द पड़े हुए है। काम बंद होने से उनके परिवार की आर्थिक स्थिति बेहद कमजोर हो चुकी है। अनलॉक के दौरान मन्दिर से लेकर समारोह के लिए परमिशन मिल गया है। लेकिन कार्यक्रम में डीजे, साउंड, डेकोरेशन सहित कलाकरों के लिए अब भी प्रतिबंध लगा हुआ है। इससे परेशान डीजे, साउंड, डेकोरेशन सहित कलाकर संघ ने नगर में रैली निकालकर शासन-प्रसाशन से डीजे, साउंड, डेकोरेशन सहित कलाकरों के काम शुरू करने की मांग की है। 

नगर में सोशल डिस्टेंस का पालन करते हुए नगर भ्रमण किया। इस दौरान 300 से अधिक डीजे, साउंड, डेकोरेशन, कलाकरों व उनके साथ काम करने वाले लोग शामिल रहे। वहीं ज्ञापन सौंपकर डीजे, साउंड, डेकोरेशन सहित कलाकरों के काम को शुरू करने की मांग की है। संघ के निर्मल डेकोरेशन के संचालक ने कहा कि सभी की खुशियों को हम उत्साह भर देते हैं। हमारे कारण ही उनकी खुशियां दुगुनी होती है। लेकिन हमारे दुख की घड़ी में कोई साथ नहीं है। इसलिए हम स्वयं रैली निकालकर काम काज शुरू करने के लिए शासन-प्रशासन के जिम्मेदारों से मांग करते हैं।

14-08-2020
एसटीपी स्थापना की अनुमति के लिए महापौर परिषद से मिली स्वीकृति, निगम को मिलेगा राजस्व

भिलाई नगर। महापौर परिषद के सदस्य नीरज पाल की अध्यक्षता एवं आयुक्त ऋतुराज रघुवंशी की उपस्थिति में निगम के सभागार में सोशल डिस्टेंस मेंटेन करते हुए महापौर परिषद की बैठक हुई। जहां एसटीपी की स्थापना के लिए विष्णु केमिकल लिमिटेड औद्योगिक क्षेत्र को अनुमति प्रदान करने के लिए सर्वसम्मति से महापौर परिषद के सदस्यों ने सहमति जताई। इस प्रस्ताव पर सहमति जताने के साथ ही निगम को इससे राजस्व की प्राप्ति भी होगी। जल कार्य विभाग द्वारा किए गए गणना के अनुसार 5 रुपए प्रति किलोलीटर नाले की जल को लेने की एवज में लिया जाएगा। जितना जल विष्णु केमिकल लिमिटेड द्वारा लिया जाएगा उसकी गणना इसी आधार पर करते हुए राशि की वसूली की जाएगी। बता दें कि विष्णु केमिकल लिमिटेड औद्योगिक क्षेत्र नंदिनी रोड भिलाई के द्वारा एसटीपी की स्थापना की अनुमति के लिए आवेदन प्रस्तुत किया गया था।

शव दफन के लिए जमीन उपलब्ध कराने पर भी लिया फैसला भिलाई क्षेत्र में मुस्लिम समुदाय द्वारा शव दफन के लिए कब्रिस्तान, सतनामी समाज एवं कबीरपंथी समुदाय के शव के अंतिम संस्कार के लिए जमीन की मांग लंबे समय से की जा रही थी, मांग के अनुसार निगम क्षेत्र में बड़े भूखंड की आवश्यकता है, परंतु जमीन की अनुपलब्धता के चलते इसके लिए नगर पालिक निगम भिलाई सीमा क्षेत्र से बाहर लगे हुए ग्रामीण क्षेत्र में नजूल रिक्त भूमि उपलब्ध कराने नजूल शाखा कार्यालय कलेक्टर, दुर्ग को पत्र प्रेषित किया जाएगा! महापौर परिषद के सदस्यों ने इसके लिए सहमति दी है। बैठक में महापौर परिषद के सदस्य लक्ष्मीपति राजू, जोहन सिन्हा, डाॅ.दिवाकर भारती, दुर्गा प्रसाद साहू, सूर्यकांत सिन्हा, सुभद्रा सिंह, सत्येन्द्र बंजारे, जी.राजू, सुशीला देवांगन, सदीरन बानो, निगम उपायुक्त अशोक द्विवेदी एवं तरुण पाल लहरें, जोन आयुक्त सुनील अग्रहरि, अमिताभ शर्मा एवं पूजा पिल्ले, स्वास्थ्य अधिकारी धर्मेंद्र मिश्रा, लेखा अधिकारी जितेंद्र ठाकुर, सचिव जीवन वर्मा, सहायक स्वास्थ्य अधिकारी जावेद अली सहित अन्य अधिकारी मौजूद रहे।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804