GLIBS
23-03-2020
शेयर बाजार में लगा लोअर सर्किट, निवेशकों के 10 लाख करोड़ रुपए डूबे

नईदिल्ली। कोरोना का प्रकोप शेयर बाजार के निवेशकों के लिए सोमवार को बहुत भारी पड़ा। कोरोना वायरस (कोविड-19) के बढ़ते मामलों ने बाजार की धारणा को नकारात्मक रूप से प्रभावित किया है। इसके चलते इक्विटी बाजारों में सप्ताह की शुरुआत बड़े पैमाने पर बिकवाली के साथ हुई। कोरोना के कहर की वजह से सोमवार को सुबह 10 बजे के करीब बीएसई सेंसेक्स में 10 फीसदी की गिरावट के बाद उसमें लोअर सर्किट लगा दिया गया और एनएसई और बीएसई दोनों में ट्रेडिंग रोक दी गई।

वायरस के फैलने के डर से देश के बाजारों में आ रही तेज गिरावट के कारण बाजार में लोअर सर्किट लगा दिया गया है। बंबई शेयर बाजार में कारोबार बहाल होने के बाद गिरावट बरकरार है। सेंसेक्स 3,185.84 अंक लुढ़ककर 26,730.12 और नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 923.95 अंक का गोता लगाकर 7,821.50 अंक पर पहुंच गया। शेयर बाजार में सोमवार शुरुआती एक घंटे के कारोबार के दौरान निवेशकों की 10 लाख करोड़ रुपए से अधिक की संपत्ति डूब गई। इस दौरान बाजार में भारी बिकवाली देखने को मिली और प्रमुख सूचकांक 10 प्रतिशत से अधिक टूट गए। इक्विटी बाजारों में सप्ताह की शुरुआत बड़े पैमाने पर बिकवाली के साथ हुई।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804