GLIBS
06-05-2021
घर और दुकान से 14000 लीटर गैर-मानक सैनिटाइजर जब्त

रायपुर। राजधानी में लगातार मिलावटी सैनिटाइजर बाजार में खपाने का गोरख धंधा बड़े पैमाने पर चल रहा है। इसे लेकर दवा दुकानों में औषधि विभाग की कार्रवाई जारी है। विभागीय अधिकारियों ने बताया कि मिलावटी सैनिटाइजर को लेकर एक मई को औषधि विभाग के अधिकारियों ने राजधानी के चार मेडिकल दुकानों में छाप मारकर सैनिटाइजर सैंपल लिया है। इसमें डूमरतराई के अपेक्स मेडिकल और रजबंधा मैदान स्थित श्रीहरि डिस्ट्रीब्यूटर फरिश्ता कांप्लेक्स से लिए गए सैंपल अमानक पाए गए हैं। पूछताछ के बाद बुधवार को औषधि विभाग के अधिकारियों ने जिन दो सैनिटाइजर के प्रोडक्ट अमानक निकले, उनमें ईला ट्रेडिंग कंपनी देवेंद्र नगर का नाम मिला।

मौके पर जाकर सैनिटाइजर की बोतलों को सील किया गया। साथ ही अन्य दस्तावेज को अधिकारियों ने अपने कब्जे में लिया है। दस्तावेज में खरीदी बिक्री का पूरा ब्योरा है। माल कहां-कहां खपाया जा रहा था। उसकी जानकारी ली जा रही है। लिस्ट बनाकर उन मेडिकल दुकानों पर भी कार्रवाई की जाएगी। विभागीय जानकारी के अनुसार अमानक पाए गए सैनिटाइजर जिस इला ट्रेडिंग कंपनी के हैं। उसका संचालक राकेश सोमानी को बताया गया है, जो कपड़े बेचने की आड़ में मिलावटी सैनिटाइजर बनाने का काम करता है। अधिकारियों ने आरोपी राकेश सोमानी के घर और दुकान से लगभग 14 हजार लीटर सैनिटाइजर और 10 हजार बोतल के बिल बरामद किए हैं। पुलिस ने अपराध दर्ज कर लिया है। गुरुवार को छापामार कार्रवाई के दौरान औषधि निरीक्षक परमानंद वर्मा, टेकचंद धिरहे, नीरज साहू समेत अन्य अधिकारी और पुलिस मौके पर मौजूद रहे।

04-05-2021
Video: कोरोना हॉटस्पॉट क्षेत्र में विधायक ने बांटे सूखा राशन, मास्क और सैनिटाइजर, वैक्सीन लगवाने की अपील

कोंडागाँव। जिले के केशकाल विधानसभा क्षेत्र के कई गांव को जिला प्रशासन की ओर से कोरोना हॉटस्पॉट घोषित किया गया है। गांव के आसपास के क्षेत्र में 100 से अधिक लोग संक्रमित हैं, जो भी पॉजिटिव मरीज है, उन सभी को होम आइसोलेशन में रखा गया है और जो गंभीर है, उन्हें कोविड सेंटर भेजा गया हैं। केशकाल विधायक सन्तराम नेताम ने होम आइसोलेशन में रहने वालों को सूखा राशन (हरी सब्जी, दाल, चावल), मास्क, सैनिटाइजर इत्यादि वितरण किया। विधायक नेताम ने कहा कि मेरे गृह ग्राम पलना, मारंगपुरी में कोरोना संक्रमण तेजी से फैल रहा है। मारंगपुरी में ही कोरोना संक्रमित 50 से अधिक की संख्या में पॉजिटिव है। जिन परिवार को होम आइसोलेशन में रखा गया है, उन्हें हमारी ओर से सभी घर जाकर सूखा राशन और मास्क का वितरण किया गया हैं। साथ ही अन्य सभी को भी जनसेवा का भाव रखते हुए इस कोरोना काल मे सहयोग करने की बात कही हैं। विधायक ने सभी से वैक्सीन लगवाने का भी आग्रह किया है।

28-04-2021
ताम्रध्वज साहू ने की अपील, कहा-कोरोना से सुरक्षा के लिए वैक्सीन जरूरी 

रायपुर। गृह मंत्री ताम्रध्वज साहू ने कोरोना महामारी संक्रमण से सुरक्षा के लिए वैक्सीनेशन को जरूरी बताया है। उन्होंने  सभी पात्र लोगों से टीका लगवाने की अपील की है।  उन्होंने कहा है कि वैक्सीनेशन से ही बचाव संभव है। उन्होंने 45 वर्ष से अधिक और 1 मई से 18 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों से वैक्सीन के दो डोज लगवाने और अपने परिवार के जीवन को सुरक्षित करने की अपील की है।उन्होंने कहा है कि कोरोना से घबराएं नहीं, बचाव ही इसका इलाज है। इसके लिए अनिवार्य रूप से मास्क लगाएं। भीड़भाड़ वाले स्थानों पर न जाएं। हाथों को नियमित रूप से साबुन से धोएं या सैनिटाइजर का प्रयोग करें। 2 गज की दूरी बनाए रखें।

 गृह मंत्री ने लोगों से अपील की है कि कोरोना के लक्षण जैसे तेज बुखार, खांसी, जुकाम, गले में खरास, सांस लेने में तकलीफ, तेज सर दर्द, शरीर में दर्द, आंखों में तकलीफ, स्वाद या गंध का चला जाना, दस्त लगना, त्वचा पर दाने या उंगलियों पर चुभन, लालिमा जैसे लक्षण होने पर जिला मुख्यालयों में स्थापित कंट्रोल रूम से संपर्क करें। डॉक्टर से सलाह लें और होमआइसोलेशन में रहकर शासन की ओर से निर्धारित दवाओं का सेवन करें। दवाइयों के साथ नियमित 8 घंटे की नींद ले,  45 मिनट व्यायाम-योगा करें। 4 से 5 लीटर गुनगुना पानी पीएं, भाप लें और ऑक्सीजन एवं तापमान की।जांच करते रहें।ऑक्सीजन लेवल कम होने पर तुरंत डॉक्टर से परामर्श लें।

24-04-2021
Breaking: नहीं मिली शराब तो पी लिए सैनिटाइजर, सात की मौत

रायपुर-मुंबई।  महाराष्ट्र  के यवतमाल में शराब नहीं मिलने पर 7 लोगों ने सैनिटाइजर का सेवन कर लिया। इसके कारण 7  की मौत हो गई। बताया जा रहा है कि ये घटनाएं वणी में के अलग-अलग इलाकों में हुईं। सूत्रों के मुताबिक, सैनिटाइजर पीने के कुछ देर बाद सभी की छाती में तेज दर्द होने लगा, जिसके बाद इन्हें वणी के ग्रामीण हॉस्पिटल में इलाज के लिए भर्ती कराया गया, जहां उनकी मौत हो गई।

23-04-2021
Video: सैनिटाइजर से ज्यादा कारगार है साबुन: डॉ. अनिल जैन 

रायपुर। नाक, कान और गला विशेषज्ञ डॉ. अनिल जैन ( एसएसईएनटी) ने साबुन को सैनिटाइजर से ज्यादा कारगार बताया है। उन्होंने कहा है कि साबुन से बार-बार हाथ को धोना ज्यादा उपयोगी है। यह अपने हाथ में बार-बार सैनिटाइजर का इस्तेमाल करने की बनिस्पत ज्यादा अच्छा है। सतहों को सफाई के लिए सैनिटाइजर के उपयोग की जरूरत नहीं है। बार-बार हाथ को धोना ही कोरोना से बचाव के लिए ज्यादा उपयोगी है।

25-03-2021
जिले में कोरोना के बढ़ते संक्रमण को रोकने लगाई गई धारा 144

दुर्ग। जिले में कोरोना के बढ़ते संक्रमण को रोकने के लिए नगरीय क्षेत्रों में धारा 144 लागू कर दी गई है। इस संबंध के ओदश दुर्ग के कलेक्टर सर्वेश्वर भूरे ने जारी किए हैं। इसके साथ ही आपदा प्रबंधन अधिनियम 2005 की धारा 30, 34 सहपठित एपेडेमिक एक्ट 1987 यथाशंसोधित 2020 द्वारा प्रदत्त शक्तियों का इस्तेमाल करते हुए कलेक्टर भूरे की ओर से प्रतिबंधात्मक आदेश भी जारी किए गए हैं। दुर्ग कलेक्टर डॉ.सर्वेश्वर नरेंद्र भूरे ने बताया कि होली मिलन या अन्य किसी भी प्रकार का सार्वजनिक कार्यक्रम आयोजित करने की अनुमति आगामी आदेश तक नहीं होगी।

होलिका दहन के दौरान सैनिटाइजर फिजिकल डिस्टेंसिंग एवं मास्क का उपायोग करने की शर्त का कड़ाई से पालन करते हुए अधिकतम 5 लोग उपस्थित रह सकेंगे। मास्क व फिजिकल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं करने वालों से जुर्माना वसूला जाएगा। जुर्माना देने से मना करने पर वैधानिक कार्रवाई होगी। प्रतिबंधात्मक आदेशों केे तहत जिला दुर्ग अंतर्गत सभी पर्यटन स्थलों मे आम जनता का प्रवेश आगामी आदेश तक प्रतिबंधित होगा। विवाह अंत्येष्टि, दशगात्र, चालिसवां अथवा इससे संबंधित आवयश्यक कार्यक्रम में अधिकतम 50 लोगों को ही शामिल होने की अनुमति होगी।

कार्यक्रम में शामिल होने वाले लोगों को समय समय पर हाथ धोना, सैनिटाइज करना अनिवार्य होगा तथा कार्यक्रम के लिए नियमानुसार अतिरिक्त जिला दंडाधिकारी, दुर्ग से लिखित अनुमति प्राप्त करनी होगी। डीजे, नगाड़ा व समस्त ध्वनि विस्तारक यंत्रों के इस्तेमाल पर आगामी आदेश तक रोक होगी। सार्वजनिक स्थलों, सिनेमा हॉल एवं मॉल में आने जाने वालों की दैनिक जांच होगी और कोविड गाइडलाइन का पालन कराया जाना सुनिश्चित किया जाएगा। धार्मिक स्थल व्यक्तिगत व एकल पूजा के लिए खुले रहेंगे। समूह में जाकर कार्यक्रम नहीं कर सकेंगे। धरना, रैली, जुलूस, खेलकूद, मेला, राजनीतिक आदि कार्यक्रमों पर प्रतिबंध होगा।

 

25-03-2021
Video: जिले में नहीं होंगे धार्मिक, सार्वजनिक और राजनैतिक कार्यक्रम, लगाया गया प्रतिबंध

गरियाबंद। कलेक्टर ने होली के लिए गाइड लाइन जारी की है। इसमें कहा गया है होलिका दहन के दौरान सैनिटाइजर फिजिकल डिस्टेंसिंग व माक्स को प्रयोग कड़ाई से पालन किया जाएगा तथा 5 व्यक्ति से अधिक उपस्थित नहीं होंगे। जिला के सभी पर्यटन केंद्रों में आम जनता का प्रवेश आगामी आदेश तक प्रतिबंधित रहेगा। सभी धार्मिक,सामाजिक,सांस्कृतिक,राजनीतिक,खेलकूद, मेला आदि आगामी आदेश तक प्रतिबंधित रहेंगे। धार्मिक स्थल केवल व्यक्तिगत पूजा के लिए खुला रहेंगे। एकल रूप से धार्मिक स्थल पर प्रवेश किया जा सकता है किंतु सामूहिक रूप से या आयोजन नहीं होंगे। विवाह,अंत्येष्टि,दशगात्र पर शर्तों के अधीन 50 व्यक्ति ही शामिल हो सकेंगे तथा इसके लिए भी सक्षम दंडाधिकारी से अनुमति प्राप्त करना होगा। सभा, धरना, रैली, जुलूस,सार्वजनिक प्रदर्शन आगामी आदेश तक प्रतिबंधित रहेंगे। अन्य राज्यों से हवाई,रेल यात्रा, सड़क मार्ग से जिला में प्रवेश करने वाले सभी व्यक्ति को 7 दिनों तक होम क्वारेंटाइन में रहना अनिवार्य होगा।

17-02-2021
जशपुर की वादियों में बिखरी मधुकम की खुशबू, महुआ और जडी़-बूटियों से महिलाओं ने तैयार किया सैनिटाइजर

रायपुर। महुआ, सौंप, धनिया, जीरा और ऐसी ही लगभग आधा-दर्जन जडी़-बूटियों से तैयार खास तरह के सैनेटाइजर 'मधुकम' ने जशपुर की वादियों में उम्मीदों की खुशबू बिखेर दी है। महुआ के गुणों से पीढ़ियों से परिचित वनवासी महिलाओं ने अपने पारंपरिक ज्ञान के साथ यह व्यावसायिक नवाचार किया है, जो बेहद सफल रहा। 'मधुकम' तैयार करने वाली महिलाओं के समूह के इस उत्पाद को बाजार ने जमकर सराहा है। आठ माह में यह समूह सैनिटाइजर बेचकर 8 लाख रुपए से ज्यादा आमदनी अर्जित कर चुका है। कोरोना संकट के दौर में आवश्यकता और मांग के अनुरूप महुआ फूल से ‘मधुकम‘ का निर्माण सीनगी समूह की महिलाओं की जिन्दगी में अहम बदलाव लेकर आया है। यह महिला स्व-सहायता समूह जशपुर जिले के वन धन विकास केन्द्र पनचक्की में कार्यरत है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल स्वयं समूह की गतिविधियों का अवलोकन कर इसकी सराहना कर चुके हैं। वन एवं जलवायु परिवर्तन मंत्री मो. अकबर के मार्गदर्शन में वन विभाग द्वारा राज्य में वनवासियों को वनोपजों के संग्रहण से लेकर प्रसंस्करण आदि के जरिए अधिक से अधिक लाभ दिलाने के लिए निरंतर कार्य किया जा रहा है।  वन धन विकास केन्द्र के अंतर्गत सीनगी समूह की महिलाएं भी महुआ फूल के प्रसंस्कण में पारंगत हैं। इनके द्वारा महुआ फूल से निर्मित सैनेटाइजर महामारी के नियंत्रण के लिए निर्धारित मापदण्ड के अनुरुप पाया गया है। समूह द्वारा अब तक 7000 लीटर ‘मधुकम‘ का निर्माण किया जा चुका है। वनमंडलाधिकारी जशपुर जाधव कृष्ण ने बताया कि सैनिटाइजर के निर्माण की शुरूआत विगत 22 मई से की गई थी।

सैनिटाइजर निर्माण के लिए सर्वप्रथम महुआ फूल की साफ-सफाई की जाती है। इसके बाद महुआ को पानी में भिगोया जाता है। इसमें देशी गुड, एक जंगली वृक्ष का छाल का पावडर 'धुपी' मिलाया जाता है। इसके बाद अरवा चावल एवं कई जड़ी-बूटियों से तैयार औषधि 'रानू' मिलाई जाती है। सुगंध के लिए सौंप, धनिया, जीरा, लेमनग्रास, पुदीना, जंगली धनिया आदि मिलाकर लगभग सात दिनों तक किण्वन की रासायनिक क्रिया पूर्ण की जाती है। इसके बाद मिट्टी एवं एल्यूमिनियम के पात्र में इसे चूल्हे पर रखकर पारंपरिक पद्धति से सैनिटाइजर का निर्माण किया जाता है। बाहरी रसायनों का उपयोग नहीं किये जाने के कारण इस सैनिटाइजर को स्वास्थ्य के लिए सुरक्षित माना जाता है। महुआ फूल से सैनिटाइजर निर्माण के इस प्रक्रिया में सिनगी स्व सहायता समूह की 10 आदिवासी महिलाएं कार्यरत हैं, जो कोरोना महामारी के नियंत्रण में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहीं हैं। सैनिटाइजर निर्माण के लिए नियंत्रक खाद्य एवं औषधि प्रशासन छत्तीसगढ़ द्वारा लाइसेंस भी जारी कर दिया गया है। माह जनवरी के अंत तक वन धन विकास केंद्र के समूह द्वारा 7000 लीटर मधुकम सैनिटाइजर का निर्माण कर 6019 लीटर का विक्रय स्थानीय शासकीय संस्थाओं एवं लघु वनोपज संघ के मार्ट को किया गया है। अब तक 31.19 लाख रुपए का उत्पाद तैयार किया जा चुका है, जिसमें से 26.82 लाख रुपए के सैनिटाइजर की बिक्री हो चुकी है। इससे समूह को पारिश्रमिक एवं लाभांश मिलाकर कुल 8.29 लाख रुपए प्राप्त हुए हैं।

14-01-2021
महापौर एजाज ढेबर ने राजधानीवासियों को मकर संक्रांति पर्व की दी शुभकामनाएं

रायपुर। महापौर एजाज ढेबर ने राजधानीवासियों को ऋतु परिवर्तन से संबंधित देश के सांस्कृतिक पर्व मकर संक्रांति पर शुभकामनाएं दी है। उन्होंने सभी नागरिकों के जीवन में सकारात्मकता सहित सुख समृद्धि स्वास्थ्य व शांति देने की प्रार्थना ऊर्जा शक्ति के प्रतीक देव भगवान  सूर्य नारायण से की है। महापौर ने नगर निगम की ओर से सभी राजधानीवासियों से स्वच्छ सर्वेक्षण 2021 में रायपुर शहर को देश का नंबर एक स्वच्छ शहर बनाने में सहभागिता देने का आग्रह किया है।

महापौर ने अपने शुभकामना संदेश में कहा है कि मकर संक्रांति पर्व ऋतु परिवर्तन का अवसर होता है। देश का यह महान सांस्कृतिक पर्व पूरे देश के नागरिक मिलकर उत्साह के साथ मनाते हैं। यह पर्व अवसर जीवन में प्रत्येक नागरिक को सकारात्मक ऊर्जा प्राप्त करने का एक श्रेष्ठ अवसर प्रदान करता है। प्रत्येक नागरिक को जीवन में पूर्ण सदूपयोग करने का प्रण लेते हुए सकारात्मक सोच विकसित कर अपने नगर के विकास में आगे आकर भागीदार बनने का संकल्प अवश्य लेना चाहिए। साथ ही महापौर ने नागरिकों से मास्क लगाने, सामाजिक दूरी नियम का पालन करने, सैनिटाइजर का उपयोग करने की अपील की है।

 

Advertise, Call Now - +91 76111 07804