GLIBS
13-11-2020
जल जीवन मिशन योजना के लिए ग्राम पंचायतों में 18 नवंबर को होगी विशेष ग्राम सभा

कोरिया। जल जीवन मिशन योजना के अंतर्गत जिले के ग्राम स्तर पर तैयार की जा रही ग्राम कार्ययोजना को ग्रामसभा में अनुमोदन के लिए 18 नवंबर को प्रत्येक ग्राम पंचायत मुख्यालय पर वैश्विक महामारी के तहत जारी दिशा निर्देशों का पालन करते हुए विशेष ग्राम सभा का आयोजन होगा। इसके लिए कलेक्टर एसएन राठौर ने सभी अनुविभागीय अधिकारी ( राजस्व ) एवं मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत को पत्र जारी कर आवश्यक निर्देश दिए हैं।
उन्होंने पत्र में कहा है कि संबंधित मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत के द्वारा संबंधित सचिव को सूचना दी जाए। पर्याप्त मुनादी कराकर ग्रामसभा के सदस्यों एवं ग्रामीणों को सूचित किया जाए, ग्रामसभा के सभापति व सचिव के सहयोग के लिए संबंधित जनपद पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी के प्रस्ताव के अनुसार अनुविभागीय अधिकारी (राजस्व) द्वारा ग्राम प्रभारी की नियुक्ति की जाए। ग्राम सभा का आयोजन कोविड-19  वैश्विक महामारी के तहत जारी दिशा निर्देशों का पालन करते हुए आयोजन किया जाना सुनिश्चित किया जाए।

 

10-11-2020
हाट-बाजारों में कोरोना जांच कर लिए जा रहे सैंपल
 

बीजापुर। मुख्यमंत्री हाट-बाजार क्लिनिक योजना अंतर्गत जिले के हाट-बाजारों में निःशुल्क ईलाज एवं स्वास्थ्य परीक्षण किया जा रहा है। साथ ही कोरोना वैश्विक महामारी के बढ़ते संक्रमण के मद्देनजर जांच में तेजी लाने स्थानीय हाट-बाजारों में भी कोरोना जांच टीम द्वारा लोगों का कोरोना जांच कर सैंपल लिया जा रहा है। साप्ताहिक बाजार नैमेड़ में लोगों का एंटीजन टेस्ट किया गया, वहीं आरटीपीसीआर एवं ट्रू नाट का सैंपल लिया गया। बीएमओ बीजापुर के नेतृत्व में कोरोना जांच टीम द्वारा नैमेड़ साप्ताहिक बाजार में 31 एंटीजन टेस्ट कराया गया, जिसमें सभी का रिर्पोट नेगेटिव रहा। वहीं 5 आरटीपीसीआर एवं 13 ट्रू नाट का सैंपल लिया गया।

हाट बाजार में स्वास्थ्य परीक्षण भी किया गया एवं लोगों को स्वास्थ्य परामर्श देने के साथ-साथ कोविड-19 नियमों के पालन की समझाईश भी दिया गया। इसमें मास्क का उपयोग, हाथ-धुलाई एवं दो गज की दूरी का पालन अनिवार्य रुप से करने एवं सर्दी-बुखार होने पर कोरोना जांच अनिवार्य रुप से कराने की हिदायत दी गई।

 

09-11-2020
त्योहार और ठंड के मौसम में कोरोना गाइडलाइन का ठीक से पालन करने की अपील की गरियाबन्द जिपं सीईओ विनय कुमार ने

रायपुर/गरियाबंद।  त्यौहार और ठंड के मौसम को देखते हुए जिला पंचायत सीईओ विनय कुमार लंगेह ने जिले के नागरिकों से अपील की है। उन्होंने कहा कि आप सभी इस बात से अवगत है कि वैश्विक महामारी कोरोना का प्रकोप अभी खत्म नहीं हुआ है। आम जनों की सुविधा के लिए केंद्र और राज्य शासन के साथ जिला प्रशासन ने दैनिक कार्यों को सुलभ बनाने सभी सुविधाएं बहाल कर दी है। लेकिन यह देखने में आया है कि कुछ लोग कोरोना गाइडलाइन का पालन नहीं कर रहे हैं । मेरा आप सब से विनम्र आग्रह है कि कोरोना महामारी को हराने के लिए तीन बातों का अवश्य पालन करें। पहला ’सही ढंग से मास्क पहनना’ दूसरा ’नियमित रूप से हाथों की अच्छे से धुलाई कर साफ करना’ तीसरा ’प्रत्येक व्यक्तियों के बीच में दो गज की शारीरिक दूरी बनाए रखना।

यदि हम इन बातों का पालन कड़ाई से करेंगे तो निश्चित ही कोरोना हारेगा और हम जीतेंगे। अतः सभी गणमान्य नागरिकों से यह अपील की जाती है कि केंद्र एवं राज्य शासन द्वारा चलाए जा रहे कोरोना जागरूकता अभियान का हिस्सा बनते हुए जब दवाई नहीं तब तक कोई ढिलाई नहीं का कड़ाई से पालन करें और अपने सगे संबंधियों और जान पहचान वालो को भी जागरूक करे।आपके सहयोग से निश्चित ही हम सब मिलकर इस कोरोना महामारी को हरा देंगे। इस संबंध में आज जिला पंचायत के समस्त अधिकारी, कर्मचारियों ने शपथ भी लिया।

 

 

16-10-2020
ग्लोबल हैंड वॉश डे पर रंगोली बनाकर दिया स्वच्छ जीवनशैली का संदेश

रायपुर। ग्लोबल हैंड वॉश डे गुढ़ियारी के अंतर्गत समस्त आंगनबाड़ी केंद्रों में मनाया गया। इसमें 20 सेकेंड तक हाथ धोकर समस्त हितग्राही तक जानकारी वीडियो किल्प के माध्यम से दी गई। आंगनबाड़ी केंद्र ज्योतिबा नगर गुढ़ियारी सेक्टर की समस्त कार्यकर्ताओं ने हैंड वॉश डे मनाया। ज्योतिबा नगर की आंगनबाड़ी कार्यकर्ता लक्ष्मी तिवारी ने किशोरी बालिकाओं से सुंदर रंगोली बनाकर स्वच्छ जीवनशैली का संदेश दिया।जिला कार्यक्रम अधिकारी अशोक कुमार पांडेय ने बताया वैश्विक महामारी कोविड-19 से बचाव में साफ सफाई सबसे महत्वपूर्ण हिस्सा है। इसलिए जिले की समस्त आंगनबाड़ी केन्द्रों पर ग्लोबल हैंड वॉश दिवस मनाया गया।

आंगनबाड़ी केन्द्रों में ग्लोबल हैंड वॉश  डे पर शारीरिक दूरी के नियमों का पालन करते हुए वीडियो क्लिप के माध्यम से हाथ धुलाई के साथ साथ स्वच्छता का भी संदेश दिया गया।पर्यवेक्षक रीता चौधरी ने बताया हितग्राहियों और नौनिहालों को स्वच्छ जीवनशैली के प्रति हाथों की साफ-सफाई और पोषण पर जागरूक करना आवश्यक है। हाथों को धोने से कई तरह के संक्रामक बीमारियों से बच सकते हैं।   

 

03-10-2020
कोरोना सघन सामुदायिक सर्वे अभियान 5 से 12 अक्टूबर तक, कलेक्टर ने जिलावासियों से की स्वास्थ्य परीक्षण कराने की अपील

धमतरी। वैश्विक महामारी कोरोना नियंत्रण के लिए स्वास्थ्य विभाग धमतरी द्वारा जिले में 5 से 12 अक्टूबर तक कोरोना सघन सामुदायिक सर्वे अभियान चलाया जाएगा। इसमें प्रत्येक घर के सभी सदस्यों का कोरोना टेस्ट किया जाकर धनात्मक मरीजों का होम आइसोलेशन/कोविड केयर सेंटर में उपचार किया जाएगा। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी से ने बताया कि प्रायः देखा जा रहा है कि उच्च जनसंख्या घनत्व वाले क्षेत्रों/ग्रामों/नगरीय निकाय क्षेत्रों में कोरोना मरीजों की संख्या न्यून जनसंख्या घनत्व वाले वाले क्षेत्रों की अपेक्षा अधिक है। इस अभियान की सफलता के लिए अभियान की शुरूआत उच्च जनसंख्या वाले ग्रामों/निकायों से की जाए। शहरी क्षेत्रों में प्रथमतः मलिन बस्तियों के लाक्षणिक मरीजों को चिन्हांकित कर नमूना जांच की जाए, तत्पश्चात कालोनी एवं अन्य क्षेत्रों में जांच किया जाए।

उच्च जोखिम वाले मरीजों जैसे शुगर, बीपी, सिकलीन, लकवा, टीबी, एचआईव्ही, मरीजों एवं न्यून प्रतिरोधक क्षमता वाले लोगों को चिन्हांकित कर जांच की जाए। जिला अस्पताल सहित सामुदायिक एवं प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों को एंटीजन टेस्ट केन्द्र बनाया गया है। इनमें जिला अस्पताल धमतरी, सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र गुजरा, नारी, सिर्री, परखंदा, चटौद, कोर्रा, भखारा, मगरलोड, नगरी तथा प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र अकलाडोंगरी, आमदी, भटगांव, कंडेल, खरेंगा, मेघा, करेली बड़ी, हसदा, सिंगपुर, कुकरेल, केरेगांव, दुगली, गट्टासिल्ली, सांकरा, सिहावा, बेलरगांव, बोराई तथा सिविल अस्पताल कुरूद में एंटीजन टेस्ट केन्द्र बनाया गया है। कलेक्टर जयप्रकाश मौर्य ने जिलावासियों से उक्त कार्य में सहयोग करने की अपील करते हुए स्वास्थ्य का अनिवार्य रूप से परीक्षण कराने की अपील जिलावासियों से की है।

 

02-10-2020
कोविड-19 से पीड़ित 2 मरीजों को मिला जिला अस्पताल के ब्लड बैंक से रक्त 

रायपुर/दुर्ग। शासकीय जिला अस्पताल स्थित ब्लड बैंक की ओर से राष्ट्रीय स्वैच्छिक रक्तदान दिवस के मौके पर स्वैच्छिक रक्तदान के लिए लोगों को प्रोत्साहित करने सीएमएचओ ने अपील की है। सीएमएचओ डॉ. गंभीर सिंह ठाकुर और दुर्ग जिला अस्पताल सिविल सर्जन डॉ.पी. बाल किशोर ने ब्लड बैंक प्रभारियों व गैर शासकीय संस्थाओं को स्वैच्छिक रूप से स्वैच्छिक रक्तदान को प्रोत्साहित करते हुए वैश्विक महामारी कोविड-19 के कारण सोशल डिस्टेंसिंग का विशेष ध्यान रखना है। स्वैच्छिक रक्तदान के लिए लोगों को प्रोत्साहित करते हुए 1 से 15 अक्टूबर तक 4 बार रक्तदान शिविरों का आयोजन किया जाना है। जिला अस्पताल दुर्ग की ब्लड बैंक प्रभारी डॉ. जिज्ञासा ने बताया कोविड -19 पॉजिटिव 2 मरीजों को दो यूनिट रक्तदान किया गया। यह  दोनों कोविड-19 से पीड़ित मरीज शंकराचार्य मेडिकल कॉलेज के कोविड अस्पताल में भर्ती हैं। इन मरीजों को रक्त की जरुरत पड़ने पर शासन द्वारा निर्धारित नियमों के तहत रक्त उपलब्ध कराया गया।

कोरोना काल में रक्तदान के लिए छग राज्य एड्स नियंत्रण समिति के सह परियोजना संचालक डॉ. एसके बिंझवार ने कहा कोराना संक्रमण से स्वस्थ हो चुके व्यक्तियों को नियमानुसार प्लाजमा दान के लिए चिन्हीत करते हुए सहमति उपरांत प्लाजमा दान करने के लिए प्रोत्साहित किया जाए। साथ ही गैर कोविड सेवाओं को निरंतर बनाए रखते हुए एवं आपातकालीन सेवाएं जैसे प्रसव, दुर्घटना आदि तथा हीमोग्ब्लोबीनोपैथी मरीजों के लिए ब्लड बैंक में रक्त की उपलब्धता बनाए रखना सुनिश्चित करना ब्लड बैंक की उपयोगिता सर्वोपरि है। अशासकीय संगठनों को रक्तदान में बढ़-चढ़ कर हिस्सा लेने के लिए जिला स्तर पर युवा संगठनों, सामाजिक संगठन, महिला समितियों, स्वयं सेवी संगठनों, व्यापारिक संगठनों आदि को आहवान किया गया है।

रक्तदान में सोशल डिस्टेंसिंग के मानको का पालन करते हुए रक्तदान शिविरों में अधिक से अधिक सहभागी हो। कोविड- 19 के चलते उत्पन्न वैश्विक स्वास्थ्य संकट को ध्यान में रखते हुए सभी शिविरों में तमाम सुरक्षा व्यवस्था जैसे कि दो गज देह से दूरी, मास्क का प्रयोग, सैनिटाइजेशन आदि का विशेष ध्यान रखा जाएगा। शिविर में स्थानीय जिला अस्पताल के ब्लड बैंक की टीम मौजूद रहेगी। इस दौरान एकत्र किए गए रक्त को जिला अस्पताल में संचित किया जाएगा और जरूरतमंद लोगों की मदद की जाएगी।ब्लड बैंक प्रभारी डॉ. जिज्ञासा ने कहा स्वैच्छिक रूप से रक्तदान के लिए आने वाले लोगों को काउंसलिंग के बाद रक्त संग्रहण किया जाता है। डॉ. जिज्ञासा ने बताया शासकीय अस्पतालों में भर्ती मरीजों को आपात काल के समय निशुल्क रक्त प्रदान किया जाता है। रक्तदान करने से शरीर में कोई नुकसान नहीं होता। रक्तदान करने के लिए कोई भी स्वस्थ व्यक्ति जो 18 से 65 साल आयु वर्ग का है और जो कम से कम 45 किलो वजन का हो एवं उसका हीमोग्लोबीन 12.5 ग्राम से ज्यादा का हो रक्तदान कर सकता है।

29-09-2020
इंग्लिश स्पीकिंग विथ वेस्ट रैपर माध्यम से बच्चे सीख रहे अंग्रेजी

अंबिकापुर। शिक्षा का अलख जगाने के लिए इन दिनों सरगुजा जिले के ग्राम केशवपुर में शासकीय मीडिल स्कूल की शिक्षिका के द्वारा मोहल्ला क्लास में इंग्लिश स्पीकिंग विथ वेस्ट रैपर के माध्यम से बच्चों को अंग्रेजी सिखाई जा रही है। इसमें खास बात यह की इन बच्चों को फेंके हुए रैपर के माध्यम से इंग्लिश पढ़ाई जा रही है। शिक्षिका ने बताया की इस वैश्विक महामारी में सभी स्कूल बंद हो गए,जिसकी वजह से बच्चों की पढाई में असर देखने को मिला। इन सबको देखते हुए मैं इंग्लिश स्पीकिंग विथ वेस्ट रैपर के माध्यम से बच्चों को सीखा रही हूँ। बच्चे भी इस माध्यम से सीखने में रूचि भी दिखा रहे हैं। वही बच्चों ने भी कहा की मैडम के द्वारा बहुत ही सरल और अच्छे तरीके से इंग्लिश सीखने का मौका मिल रहा है,जिसकी वजह से हम अंग्रजी पढ़ और बोल पा रहे हैं। 

 

26-09-2020
सिकल सेल पर अंतर्राष्ट्रीय वेबिनार: विशेषज्ञों ने नवीनतम जानकारियां साझा की

रायपुर। सिकल सेल संस्थान छत्तीसगढ़ और इंडियन एकेडेमी ऑफ पीडियाट्रिक्स के संयुक्त तत्वावधान में बीते दिन सिकल सेल रोग पर ऑन लाईन अंतर्राष्ट्रीय सेमीनार का सफल ज्ञानवर्धक आयोजन किया गया। संस्थान के महानिदेशक डॉ.अरविन्द नेरल ने वेबिनार का संचालन करते हुए अपने उद्बोधन में संस्थान की संक्षिप्त जानकारी दी और एमस्टरडम (नीदरलैंड) के अंतर्राष्ट्रीय वक्ता डॉ.इरफान नूर का परिचय दिया। सेमिनार की अध्यक्षता कर रहे पद्मश्री डॉ.एटी दाबके ने सिकल सेल रोगियों के उपचार में संतुलित आहार की महत्ता प्रतिपादित की और कोरोना के वैश्विक महामारी में सिकल सेल रोगियों को अधिक सतर्कता बरतने की हिदायत की। उन्होंने बताया कि सिकल सेल वाहक (HbAS) वाले व्यक्तियों को प्रचंड गर्मी के दिनों में डिहाइड्रेशन की वजह से तकलीफें हो सकती है। मुख्य वक्ता डॉ. इरफान नूर ने अपने दो विषयों के प्रस्तुतीकरण में इस बात पर बल दिया कि सिकल सेल रोगियों में रक्त वाहिनियों में रूकावट जैसी महत्वपूर्ण कॉम्प्लीकेशन के अलावा अनेक दूसरे अंगों से संबंधित विकार भी हो सकते हैं।

उन्होंने व्हीओसी और एसीएस जैसी संभावित पेचीदगियों से बचाव के किये ब्लड ट्रांस्फ्यूजन दिये जाने की सलाह दी। छत्तीसगढ़ एकेडमी ऑफ पीडियाट्रिक्स के प्रदेश अध्यक्ष कोरबा के डॉ. हरीश नायक ने सिकल रोगियों में होने वाले क्रॉनिक ऑर्गन डैमेज और इन बच्चों के शारीरिक और मानसिक विकास में होने वाले रूकावटों और धीमेपन पर अपने विचार रखें।इस वेबिनार के उत्तरार्ध में सिकल सेल रोग के विभिन्न आयामों पर एक पैनल डिस्कशन का आयोजन किया गया,जिसका बहुत प्रभावी, समयबद्ध और ज्ञानवर्धक संचालन अंचल के सुप्रसिद्ध शिशुरोग विशेषज्ञ डॉ.अनूप वर्मा ने किया। एक घंटे के इस पैनल डिस्कशन में अन्य प्रतिभागी थे - शहर के शिशुरोग विशेषज्ञ डॉ.केपी सरभाई, डॉ.विजय पी.माखीजा,बिलासपुर से डॉ. प्रदीप सिहारे, कोरबा से डॉ. हरीश नायक, हिमेटोलॉजिस्ट द्वय डॉ. विकास गोयल और डॉ. दिबेन्दु डे। इन विशेषज्ञों ने सिकल सेल रोग के न सिर्फ निदान और उपचार पर अपने विचार रखे बल्कि टीकाकरण, ब्लड टांस्फ्यूजन, सेरिबल इन्फार्क्ट, स्ट्रोक्स, ट्रांस क्रेनियल डॉप्लर, पुनर्वास, रोकथाम और परामर्श जैसे विषयों के भी तकनीकी और वैज्ञानिक पहलूओं पर सारगर्भित चर्चा की। इस अंतर्राष्ट्रीय वेबिनार के तकनीकि संयोजन और प्रायोजन में नोवार्टीस हेल्थकेयर के प्रशांत रॉय और सचिन शाहने का महत्वपूर्ण योगदान रहा। अंत में कार्यक्रम का समापन और धन्यवाद ज्ञापन डॉ.अरविन्द नेरल ने किया।

 

20-09-2020
Breaking : सोमवार को शाम 4 बजे जारी होंगे राज्य ओपन स्कूल की 10वीं-12वीं के नतीजे 

रायपुर। राज्य ओपन स्कूल 10वीं 12वीं के नतीजे सोमवार की शाम 4 बजे जारी करेगा। गौरतलब है कि दसवीं बोर्ड में 69,599 और बारहवीं बोर्ड में 72,302 छात्रों ने आवेदन किया था। कोरोना की वैश्विक महामारी के कारण इस बार असाइनमेंट पद्धति से परीक्षा हुई है।

15-09-2020
बिना मास्क सार्वजनिक स्थान पर जाने वाले व्यक्तियों पर हुई कार्रवाई

धमतरी। जिले में वैश्विक महामारी कोरोना वायरस (कोविड 19) के संक्रमण के बढ़ते प्रभाव को देखते हुए कोरोना संक्रमण से बचने के उपाय का सख्ती से लागू कराया जाना आवश्यक हो गया है। इसके मद्देनजर कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी जयप्रकाश मौर्य ने पुलिस अधीक्षक एवं सभी अनुविभागीय दण्डाधिकारी, आयुक्त नगरपालिक निगम धमतरी, सभी मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत और सभी मुख्य नगरपालिका अधिकारी नगर पंचायतों को दिए गए निर्देशों का कड़ाई से पालन कराना सुनिश्चित करने कहा है। इसके तहत ऐसे व्यक्ति जो बिना मास्क के सार्वजनिक स्थान पर जाते हैं, उनके विरूद्ध कार्रवाई करने के निर्देश दिए गए हैं। साथ ही अनावश्यक भीड़-भाड़ करने से रोकने तथा सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कराने कहा गया है। उन्होंने कहा कि समय-समय पर भीड़-भाड़ वाले इलाके में पुलिस द्वारा निरीक्षण किया जाए। साफतौर पर कहा गया है कि बिना कार्य के कोई भी व्यक्ति अपने घर से बाहर नहीं निकले, यदि बाहर जाना आवश्यक हो तो मास्क लगाकर ही घर से बाहर निकलें।

 

15-09-2020
अस्पताल प्रबंधन की लापरवाही जांच रिपोर्ट बदली, परिजनों ने किया जमकर हंगामा

रायपुर/जगदलपुर। महारानी अस्पताल में बीते दिनों एक ही नाम के दो व्यक्तियों ने महारानी अस्पताल में अपना कोरोना जांच कराया। जांच रिपोर्ट में इनमें से एक व्यक्ति का रिपोर्ट पॉजिटिव आई तो वहीं दूसरे व्यक्ति की रिपोर्ट नेगेटिव आई। रिपोर्ट बदल जाने के कारण परिजनों ने हंगामा करना शुरू कर दिया। आनन-फानन में अस्पताल के कर्मचारियों ने दोनों व्यक्तियों की रिपोर्ट का उनके निवास स्थान से मिलान की। इसमें रिपोर्ट बदली होने की लापरवाही सामने आई। दोनों व्यक्तियों की कोरोना जांच रिपोर्ट बदल जाने की लापरवाही का मामला सामने आने से परिजनों की नाराजगी लाजमी है। वहीं कोरोना जैसे वैश्विक महामारी को लेकर कर्मचारियों द्वारा बरती गई इस तरह की लापरवाही से संक्रमण फैलाने की संभावना से इंकार नहीं किया जा सकता है। अस्पताल के एक अधिकारी ने अपनी दबी जुबान में कर्मचारियों द्वारा बरती गई लापरवाही को स्वीकार किया है।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804