GLIBS
31-01-2021
दूरस्थ वनांचल क्षेत्र में हुई पोलियो महाअभियान की शुरुआत

कोरिया। जिले के समस्त विकासखंड में रविवार को महा पल्स पोलियो अभियान का टीकाकरण की शुरुआत हो गई है। इसी तारतम्यता में जिले के सोनहत विकासखंड के जंगल से घिरा हुआ वनांचल क्षेत्र रामगढ़ में कलेक्टर राठौर कोरिया के निर्देशानुसार एवं मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ.रामेश्वर शर्मा के मार्गदर्शन में पल्स पोलियो अभियान की शुरुआत की गई। गौरतलब है कि राष्ट्रीय टीकाकरण दिवस की शुरुआत देशभर में 17 जनवरी से होने वाली थी लेकिन 16 जनवरी से शुरू हुए कोरोना वैक्सीनेशन अभियान के कारण इसे आगे बढ़ाने का फैसला लिया गया था। कोरिया जिले के वनांचल क्षेत्र जंगलों से घिरा पहुंच विहीन ग्राम रामगढ़ में डॉ.अमरदीप जायसवाल के नेतृत्व में लगभग 6 बूथों में जिला कार्यक्रम प्रबंधक रंजना पैकरा,डॉ.सुषमा एवं रामगढ़ पीएचसी प्रभारी रजनीश शुक्ला के द्वारा 5 वर्ष से कम उम्र के बच्चों को पोलियो की ड्राप पिलाई गई। दुर्गम इलाके में जाकर चिकित्सकीय सेवा देने से गांव के लोग भी प्रसन्न हुए। इसकी जानकारी देते हुए डॉ.रामेश्वर शर्मा ने बताया कि जिले के पांचों विकासखंड में 73068 बच्चों को पोलियो की खुराक पिलाई गई,जिसका प्रतिशत 81 रहा, वही रामगढ़ में 1087 बच्चों को पोलियो की खुराक दी गई।

 

17-01-2021
श्री राम मंदिर निर्माण समर्पण महाअभियान ने तेजी पकड़ी, बच्चे से लेकर बड़े निकाल रहे प्रभातफेरी

धमतरी। श्रीराम मंदिर निर्माण निधि समर्पण महाअभियान धमतरी जिले में जोर पकड़ता जा रहा है। बड़े तो बड़े छोटे-छोटे श्रीराम भक्त बच्चे भी अपनी अपनी सहभागिता निभाने कुछ न कुछ नया कर रहे हैं। अपनी छोटी-छोटी कोशिश से जनजागरूकता फैलाने हर कोई लगा हुआ है। जिस प्रकार श्रीराम सेतु निर्माण के दौरान वानर सेना से लेकर प्रत्येक जीव अपना योगदान दे रहा है वहां छोटी गिरहरी भी कंकड़ के टुकड़ों को इकट्ठा कर पुल बनाने में श्रीराम काज में सहयोग कर रहे थे। इसी उद्देश्य को लेकर प्रत्येक व्यक्ति महाअभियान में भिड़ा हुआ है। कुछ जगह भारत माता की महाआरती हो रही है। इसी कड़ी में पचरी पारा कुरूद के नन्हे मुन्ने प्यारे प्यारे बच्चों ने प्रभातफेरी निकालकर श्रीराम मंदिर निर्माण के लिए  नारे लगा कर जनजागरूकता फैलाई। दूसरी तरफ राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के बंधुओं ने निकाली कुरूद के इंदिरा नगर और शांति नगर में श्रीराम मंदिर निर्माण के लिए प्रभातफेरी निकाली। इधर धमतरी में भी गणेश चौक के रामभक्तों ने सुबह 5 बजे से अन्य मोहल्लों में जाकर श्रीराम जन्मभूमि निर्माण के लिए जनजागृति फैलाने प्रभात फेरी निकाली। ढोलक,मंजीरा के साथ श्रीराम-जय राम के गीत गाते हुए युवा ब्राह्मणपारा से प्रभातफेरी भगत चौक,आजाद चौक, श्रीवास्तव चौक, रामबाग, विंध्यवासिनी मंदिर, रामपुर, मराठा मंगल भवन चौक होते हुए वापस गणेश चौक पहुंचे। प्रभातफेरी में राजू सोनकर, कृष्णा सोनकर, साकेत यादव, राजा नामदेव, रवि कसार, भागवत यादव, जयप्रकाश साहू, नरेन्द्र देवांगन, विक्की सोनकर, योगेन्द्र सोनकर, आर्यन सोनकर, दीपांशु सोनकर, प्रियांशु सोनकर आदि शामिल थे। हिन्दू एकता और देश प्रेम की भावना से बनियापारा दुर्गा चौक धमतरी में भारत माता की सामूहिक आरती की गई। इसमें सभी वार्डवासी एवं मित्रगण शामिल हुए। लोगों में आपसी भाईचारा बढे़ और देशहित व श्रीराम जन्मभूमि समर्पण अभियान में प्रत्येक व्यक्ति अपना सहयोग करे इसी कामना के साथ आज यह कार्यक्रम कराया गया। इस अवसर पर युगल किशोर यादव, सुमित पटेल, शशांक धर दीवान, योगेश सोनी, अमर सोनी, सुनील साहू , शुभम शर्मा, दिव्यांश, अर्पित, हन्नू, सौरभ यादव, जीमी,आदित्य सोनी, विजय यादव, विक्रम सोनी, अमरनाथ व्यास, सरिता यादव, लालू, सीमा चौबे, रूखमणी साहू, बोनु आदि उपस्थित थे। उधर शनिवार को सरस्वती शिशु मंदिर नगरी में निधि संग्रह समिति की बैठक हुई। इसमें जिला कार्यवाह मोहनलाल साहू, अभियान प्रमुख श्रवण मरकाम, खण्ड संघ चालक गोकुल राम देवांगन, मोहन नाहटा, हॄदय साहू, मोतीलाल दिवाकर, रवि दुबे, नारायण बैस, राजू गोसाई, फत्तेलाल ध्रुव, निखिल साहू, सुनील, मनोहर मानिकपुरी, रामगोपाल साहू व अन्य धर्मप्रेमी लोग उपस्थित थे। इसके बाद श्रीराम जन्मभूमि निधि संग्रह समिति खण्ड नगरी कार्यालय का शुभारंभ नगरी नगर में किया गया।

14-01-2021
श्रीराम जन्म भूमि मंदिर निर्माण संपर्क महाअभियान शुरू, प्रथम दिन नयापारा वार्ड में निकली कलश यात्रा

धमतरी। अयोध्या में श्रीराम मंदिर निर्माण कार्य प्रारंभ हो गया है। मंदिर निर्माण के लिए भारत वर्ष में विश्व हिंदू परिषद एवं उनसे संबंधित संघ सतत जनसंपर्क कर प्रत्येक भारतीय से मंदिर निर्माण के लिए सहयोग ले रहे हैं। इसी कड़ी में मकर संक्रांति के शुभ अवसर पर नयापारा वार्ड से श्रीराम जन्म भूमि मंदिर निर्माण संपर्क महाअभियान का शुभारंभ किया गया। नयापारा वार्ड में वार्ड की श्रीराम भक्त महिलाओं ने गुरूवार को वार्ड में कलश यात्रा निकालकर जनजागृति फैलाई। रात्रि में रामधुनी का आयोजन भी किया गया। संपर्क महाअभियान के नगर संयोजक हरबंश साहू एवं सहसंयोजक बीथिका बिश्वास के नेतृत्व में कार्यकर्ताओं ने घर.घर जाकर लोगों से संपर्क किया। इस अवसर वार्ड संयोजक कुंदन ठाकुर, पूर्णिमा रजक, झामिन बाई, पिंटू, कमलेशकांत साहू, संतोषी निर्मलकर, बसंती निर्मलकर,सागर निर्मलकर, विजय, गुड्डू, गायत्री निर्मलकर, कलिन्द्री, किरण कश्यप, सुमित्रा पटेल, पुष्पा ठाकुर, सहित वार्ड की सैंकड़ों महिलाएं एवं पुरूष उपस्थित थे। इसके बाद शुक्रवार को नगर के अन्य वार्डों में जनजागृति के लिए संपर्क अभियान चलाया जायेगा।

 

30-11-2020
छत्तीसगढ़ में समर्थन मूल्य पर 2305 धान खरीदी केन्द्रों में धान खरीदी का महाअभियान 1 दिसंबर से

रायपुर। छत्तीसगढ़ में धान उत्पादक किसानों से समर्थन मूल्य पर धान खरीदी का महा अभियान एक दिसम्बर से शुरू होगा। राज्य सरकार द्वारा इसके लिए सभी तैयारियां पूरी कर ली गई हैं। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने अधिकारियों को निर्देश दिए गए हैं कि धान खरीदी के दौरान किसानों को किसी प्रकार की असुविधा न हो। किसानों की सहूलियत का पूरा ध्यान रखा जाए। मुख्यमंत्री की अध्यक्षता में इस माह की 28 तारीख को आयोजित केबिनेट की बैठक में समर्थन मूल्य पर धान की खरीदी 1 दिसम्बर से 31 जनवरी 2021 तक और मक्का की खरीदी 1 दिसम्बर से 31 मई 2021 तक करने के निर्देश दिए गए हैं। 1 दिसम्बर से प्रदेश में 2 हजार 305 धान खरीदी केन्द्रों में समर्थन मूल्य पर धान की खरीदी शुरू की जाएगी। इस वर्ष 257 नए धान खरीदी केन्द्र बनाए गए हैं। राज्य सरकार की किसान हितैषी नीतियों से खेती-किसानी छोड़ चुके 2 लाख से अधिक किसान खेतों की ओर लौटे हैं, जिससे खेती के रकबे में वृद्धि हुई है। खरीफ विपणन वर्ष 2020-21 में पिछले वर्ष की तुलना में 2 लाख 49 हजार ज्यादा किसानों ने धान बेचने के लिए पंजीयन कराया है। इन्हें मिलाकर इस वर्ष समर्थन मूल्य पर धान बेचने के लिए कुल 21 लाख 29 हजार 764 किसानों ने पंजीयन कराया है। इन किसानों द्वारा बोये गए धान का रकबा 27 लाख 59 हजार 385 हेक्टेयर से अधिक है। दो सालों में धान बेचने वाले किसानों का रकबा 19.36 लाख हेक्टेयर से बढ़कर 22.68 लाख हेक्टेयर और किसानों की संख्या 12 लाख 6 हजार बढ़कर 18 लाख 38 हजार हो गई है। इस प्रकार देखा जाए तो रकबे में 3 लाख 32 हजार हेक्टेयर तथा समर्थन मूल्य पर धान बेचेने वाले किसानों की संख्या में 6.32 लाख बढ़ोत्तरी हुई है।

पिछले दो वर्षाें में समर्थन मूल्य पर खरीदे गए धान की मात्रा में उल्लेखनीय वृद्धि दर्ज की गई है। वर्ष 2017-18 में छत्तीसगढ़ राज्य में समर्थन मूल्य पर 56.85 लाख मीट्रिक टन धान की खरीदी हुई थी। दो सालों के दौरान धान खरीदी का यह आंकड़ा 83.94 लाख मीट्रिक टन पहुंच गया। इस साल धान बेचने के लिए पंजीकृत किसानों की संख्या और धान की रकबे को देखते हुए समर्थन मूल्य पर बीते वर्ष की तुलना में ज्यादा खरीदी का अनुमान है। इसको लेकर राज्य शासन द्वारा हर संभव व्यवस्थाएं सुनिश्चित की जा रही है। धान उपार्जन के लिए बारदाने की कमी के बावजूद भी सरकार इसके प्रबंध में जुटी है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने धान खरीदी के दौरान सीमावर्ती राज्यों से लाए जाने वाले धान पर कड़ाई से रोक लगाने के निर्देश जिला प्रशासन के अधिकारियों को दिए हैं। उन्होंने कहा है कि अवैध धान परिवहन करते पाए जाने पर तत्काल कार्रवाई की जाए। इसकी जिम्मेदारी सभी जिलों के जिला प्रशासन, पुलिस प्रशासन और संबंधित विभाग को सौंपी गई है। सीमावर्ती जिलों की सीमा से लगे 3-3 खरीदी केन्द्रों में विशेष निगरानी रखने, चेक पोस्ट लगाकर जांच करने के निर्देश दिए गए हैं। भूपेश बघेल ने यह निर्देश भी दिए हैं कि राज्य के भीतर एक से दूसरे जिलों से धान लाने ले जाने वाले किसानों को अनावश्यक रूप से परेशान नहीं किया जाए।

मुख्यमंत्री ने निर्देश पर धान खरीदी के लिए समुचित संख्या में बारदानों की व्यवस्था की जा रही है। धान उपार्जन के लिए 4 लाख 75 हजार गठान बारदानों की आवश्यकता संभावित है। छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा धान खरीदी के लिए भारत सरकार ने छत्तीसगढ़ को केवल एक लाख 43 हजार गठान बारदानों की ही आपूर्ति की स्वीकृति दी है तथा इसमें से मात्र 56 हजार गठान बारदाने प्राप्त हुए हैं। बारदानों की कमी की पूर्ति के लिए राज्य शासन द्वारा 70 हजार गठान प्लास्टिक के बारदाने खरीदी जा रही है। बारदानों की कमी से धान खरीदी प्रभावित न हो, इसके लिए राज्य में पीडीएस बारदानों का संकलन एवं मिलर के पुराने बारदानों का सत्यापन किया जा रहा है। छत्तीसगढ़ सरकार ने वर्ष 2018-19 में 15.71 लाख किसानों से 80.38 लाख मीट्रिक टन धान की खरीदी की गई थी। वर्ष 2019-20 में 18.38 लाख किसानों से 83.94 लाख मीट्रिक टन धान की रिकॉर्ड खरीदी की गई थी। राज्य में दो सालों में पंजीकृत किसानों की तुलना में धान बेचने वाले कृषकों के प्रतिशत में भी बढ़ोत्तरी हुई है। वर्ष 2017-18 में 76.47 प्रतिशत किसानों ने धान बेचा था। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल द्वारा प्रदेश की बागडोर संभालते ही वर्ष 2018-19 में यह आंकड़ा 92.61 प्रतिशत हो गया है। बीते विपणन वर्ष 2019-20 में राज्य में 94.02 प्रतिशत किसानों ने समर्थन मूल्य पर धान बेचा था।

 

27-09-2020
शहर को स्वच्छ रखने भिलाई निगम का महाअभियान, टोटल लॉकडाउन में स्वच्छता, सैनिटाइजिंग में जुटे कर्मी

भिलाई। महापौर एवं भिलाई नगर विधायक देवेंद्र यादव, कलेक्टर डॉ.सर्वेश्वर नरेंद्र भुरे तथा निगमायुक्त ऋतुराज रघुवंशी ने विशेष सफाई और मेगा सैनेटिाइजन अभियान के निर्देश अधिकारियों को दिए है। इसके तारतम्य में दूसरे दिन रविवार को भी सड़क, नालियों की साफ-सफाई और सार्वजनिक स्थानों पर चल रहे सैनेटाइजिंग कार्य का जोन कमिश्नर एवं स्वास्थ्य अधिकारी धर्मेंद्र मिश्रा ने जायजा लिया। महा अभियान के तहत आज सफाई के साथ-साथ नालियों के उपर अवैध रूप से बनाई गई कांक्रीट के स्लैब को तोड़कर जाम नालियों की सफाई की गई। जोन-1 की टीम ने नेहरू नगर व्यावसायिक कॉम्प्लेक्स रोड, वार्ड-6 आकाश गंगा ढिल्लन कॉम्प्लेक्स के पीछे मेन नाली के उपर बनाई गई स्लैब को जेसीबी मशीन से तोड़कर सफाई की। यहां के व्यापारियों ने नाली पर स्लैब बनाकर कब्जा कर लिया था। सफाईकर्मियों की टीम ने आकाश गंगा और सब्जी मंडी की सड़कों को पानी से धुलाई की। सफाईकर्मियों की टीम ने मूकबधिर स्कूल के पीछे,पत्रकार कॉलोनी,प्रियदर्शनी परिसर दक्षिण गंगोत्री, डॉ.अग्रवाल क्लीनिक के आसपास बिखरे पड़े पालीथिन को एकत्र किया गया। कंटीली झाडिय़ों की कटाई की गई।

डेंगू से निपटने टेमीफास दवा का वितरण शहर के समस्त वार्डों में टेमीफास दवा का वितरण किया गया है, निगम की टीम क्षेत्रों में घूम घूम कर जलजमाव वाले पात्रों का सघन निरीक्षण कर रही है और लार्वा को नष्ट करने का कार्य कर रही है। आज डेंगू नियंत्रण अभियान के तहत वार्ड-29 बापू नगर और वार्ड 33 के घरों में टेमीफास का वितरण करते हुए इसके उपयोग के तरीके बताए गए। वार्ड-33 के सर्विस रोड की बड़ी नालियों की सफाई की गई। चूना ब्लीचिंग पावडर का छिड़काव किया गया। वार्ड 35 शास्त्री नगर बाबा बालक नाथ मंदिर स्थित तालाब के आसपास की सफाई की गई। घरों में डेंगू और कोरोनो से बचाव को लेकर पॉम्पलेट वितरण किया गया। बड़े मैदानों की भी सफाई महा अभियान के तहत बड़े और खुले मैदानों की भी सफाई की जा रही है! जोन-2 के सफाई कर्मियों के दल ने शांति नगर दशहरा मैदान और कॉलोनी की सफाई किया। सोडियम क्लोराइड के घोल का छिड़काव कर आसपास के क्षेत्रों के दुकानों एवं मकानों को सैनिटाइज किया गया। 

 

14-08-2020
Video: मोदी आर्मी ने कलेक्टर से की मांग,कोरोना जांच प्रक्रिया को महाअभियान के रूप में चलाया जाए

दुर्ग। मोदी आर्मी के सदस्यों ने कलेक्टर को ज्ञापन सौंपा। इसमें मांग की गई कि कोरोना संक्रमण की जांच प्रक्रिया को महाअभियान के रूप में चलाया जाए और रविवार को कर्फ्यू घोषित किया जाए। मोदी आर्मी के प्रदेश अध्यक्ष वरुण जोशी ने कहा मेडिकल जैसी अति आवश्यक दुकान के लिए समय तय किया गया और शराब दुकानों को 12 घंटे से अधिक समय दिया गया, जो अनुचित है। ज्ञापन सौंपने वालों में मोदी आर्मी के मितेश पटेल,अनेंद्र ताम्रकार,राजा यादव,यश कसेर,शुभम यादव,आकाश,उमेश,दुर्गेश रामटेके,रिंकू,धीरज आदि उपस्थित थे।

 

06-07-2020
पौधरोपण महाअभियान में महापौर, कलेक्टर ने लगाएं पौधे

दुर्ग। जिला कलेक्टर सर्वेश्वर नरेन्द्र भूरे, महापौर धीरज बाकलीवाल, आयुक्त इंद्रजीत बर्मन,सभापति राजेश यादव, सहित जिला प्रशासन के अनेक अधिकारी, जनप्रतिनिधियों, प्रेस क्लब के पदाधिकारियों ने सोमवार को हरिहर छत्तीसगढ़ के लिए बोरसी वार्ड में 150 पौधा लगाकर संदेश प्रसारित किये। इस मौके पर नगर निगम के पर्यावरण प्रभारी सत्यवती वर्मा के अलावा महापौर परिषद के सभी प्रभारी, पार्षद, जनप्रतिनिधि, निगम अधिकारी, प्रेस क्लब के पदाधिकारी एवं कार्यकारिणी सदस्य एवं नागरिकों ने पौधरोपण महाअभियन में अपनी भागीदारी निभाकर नाम पट्टिका के साथ पौधरोपण किये। जिला प्रशासन के आव्हान पर पौधरोपण महाअभियान का आयोजन पूरे शहर में किया गया। इसके अंतर्गत पूरे शहर के 60 वार्डो में वार्ड पार्षदों की सक्रियता से वृहद पैमाने पर पौधरोपण किया गया। इसके लिए महापौर धीरज बाकलीवाल एवं आयुक्त इंद्रजीत बर्मन के निर्देशानुसार निगम के समस्त 60 वार्डो के पार्षदों को निगम से पौधा दिया गया,जिसे वे वार्ड निवासियों को घर-घर पहुॅचायें। वार्ड निवासीगण अपने-अपने घरों के पास एक-एक पौधा लगाकर वृक्षारोपण के इस महा अभियान में अपनी भागीदारी निभाएं हैं।

इस मौके पर जिला कलेक्टर भूरे ने कहा स्वच्छ वातावरण सभी व्यक्ति के लिए आवश्यक है परन्तु इसके लिए हम सब को मिल कर प्रयास करना होगा। इसकी शुरुआत आज से की गई है। इस महा अभियान में शहर के समस्त आम जनता को जोड़ा गया है। उनके घरों तक पौधा पहुॅचाया गया है। बोरसी के उद्यान में जनजागरुकता के आधार पर 150 पौधा लगाकर वृक्षारोपण किया गया है। इसी प्रकार से पूरे शहर में पौधा रोपण किये जाने से शहर का वातावरण शुद्ध और बेहतर होगा। उन्होनें कहा आज यहाॅ पर अमरुद, जामुन, मुनंगा के साथ करन, अकेशिया कुसुम कचनार जैसे छायादार और फलदार पौधा लगाया गया है।

 

06-07-2020
वन परिक्षेत्र गीदम के बुधपदर में रोप गए मुनगा के पौधे

गीदम। वन परिक्षेत्र गीदम के बुधपदर में सोमवार को मुनगा के पौधे रोपित किए गए। बरसात के मौसम को देखते हुए दंतेवाड़ा वन मण्डल गीदम परिक्षेत्र में पौधरोपण को किया गया। छत्तीसगढ़ शासन के मुनगा महाअभियान के तहत वन परिक्षेत्र गीदम के बुधपदर में मुनगा पौधे रोपे गए। जिसमें जनपद सदस्य राजेश कश्यप, उपसरपंच घासी राम कश्यप, पंचगण, वन विभाग के अधिकारी, कर्मचारी और स्कूल के शिक्षक उपस्थित थे।

14-05-2020
भाटापारा स्टेशन पहुंचे प्रवासी श्रमिकों की हुई जांच,60 डॉक्टरों और स्वास्थ्यकर्मियों की टीम थी तैनात

रायपुर/बलौदाबाजार। प्रवासी श्रमिकों की घर वापसी का महाअभियान शुरू हो चुका है। विभिन्न प्रदेशों से श्रमिक ट्रेनों में सवार होकर जिले की प्रमुख स्टेशन भाटापारा में उतर रहे हैं। जिला प्रशासन के नेतृत्व और मार्गदर्शन में स्वास्थ्य विभाग की ओर से श्रमिकों के स्वास्थ्य जांच की पुख्ता व्यवस्था की गई है। स्वास्थ्य संचालनालय रायपुर और सीएमएचओ कार्यालय के लगभग  60 डॉक्टरों और स्वास्थ्य कर्मियों ने त्वरित स्वास्थ्य जांच का मोर्चा संभाल रखा।जिले के मुख्य चिकित्सा और स्वास्थ्य अधिकारी डॉ.खेमराज सोनवानी ने बताया कि बलौदा बाजार भाटापारा में पहली ट्रेन से 13 मई को लखनऊ से भाटापारा रेल्वे स्टेशन पर कुल 1170 प्रवासी श्रमिक आये। इनमें बेमेतरा ,कवर्धा और बलौदा बाजार के श्रमिक शामिल थे । सभी के स्वास्थ्य परीक्षण के लिए 10 टीम और लक्षण वालो की जांच के लिए 2 पृथिक टीम लगाई थी। सभी का थर्मल स्केनिंग कर,कोरोना संबंधित लक्षण की भी जानकारी लिया गया। इनमें से 100 डिग्री फारेनहाइट या लक्षण जैसे खाँसी, बुखार ,सांस में तकलीफ होने उन्हें 10 मिनट अलग से बैठाने के उपरांत लक्षण वालों की जांच के लिए लगाई टीम की ओर से दुबारा थर्मल स्कनेर से तापमान एवं सैनिटाइजर का प्रयोग करते हुए पल्स ऑक्सिमिटर, एसपीओ 2 की जांच की गई। दुबारा जांच के दौरान तापमान 99 डिग्री फारेनहाइट तक आने पर फेसिलिटी क़वारेंटिंन और इससे अधिक आने पर या एसपीओ 2 कम आने पर आइसोलेशन के लिए जिले की पृथक बस से रवाना किया। रेलवे स्टेशन पर आपातकाल चिकित्सा के लिए 108 एम्बुलेंस की भी व्यवस्था कि गयी थी । बलौदाबाजार जिले के लक्षण वाले मरीजों को बस से ट्राइबल बालक छात्रावास सुर्खी में आइसोलेट किया और उन का आर टी पी सी आर तकनीक से सैंपल लेते हुए एम्स रायपुर को जांच के लिये भेजा गया।

 

12-05-2020
Video: आज सुबह शहर के समस्त व्यावसायिक क्षेत्रों में और मुख्यमार्गों में किया गया सैनिटाइज महाअभियान

दुर्ग। कोराना वायरस के नियंत्रण और रोकथाम के लिए पूरे देश में लाॅक डाउन के तीसरे चरण में छूट के बाद जन स्वास्थ्य के प्रति सजगता बरतने आज विधायक अरुण वोरा एवं महापौर धीरज बाकलीवाल दिशा निर्देश पर वृहद स्तर पर लगभग 10 गाड़ियों से सेनेटाईजेशन मार्च कल से शुरू किया गया। इसी क्रम में आज मंगलवार को राजेन्द्र पार्क चौक से लेकर ग्रीन चौक होते हुए ओवरब्रिज से धमधा रोड तक सेनेटाईजर का छिड़काव कराया गया। इस दौरान एमआईसी सदस्य मनदीप सिंह भाटिया, शंकर सिंह ठाकुर, पार्षद बृजेश भारद्वाज, पार्षद नरेश तेजवानी, मनीष बघेल, जिला अध्यक्ष दया पटेल, पर्व पार्षद राजेश शर्मा, प्रकाश गीते, पप्पू श्रीवास्तव, स्वस्थ्य अधिकारी दुर्गेश गुप्ता, कर्मशाला अधीक्षक, वीरेंद्र ठाकुर जसवीर सिंग भुवाल, सुरेश भारती, देवेश मिश्रा, नन्दू महोबिया के अलावा नगर निगम टीम मौजूद थे।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804