GLIBS
14-04-2021
प्रदेश में अन्य राज्यों से ट्रेन से आने वाले यात्रियों को लानी होगी कोरोना निगेटिव रिपोर्ट

रायपुर। प्रदेश में अन्य राज्यों से ट्रेन से आने वाले यात्रियों के लिए तीन दिन पूर्व की कोविड निगेटिव रिपोर्ट लाना अनिवार्य किया गया है। यह रिपोर्ट नहीं है उनका स्टेशन में ही स्वास्थ्य परीक्षण स्क्रीनिंग किया जाएगा और लक्षण दिखने पर कोरोना टेस्ट किया जाएगा। अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य रेणु पिल्ले ने इस संबंध में सभी कलेक्टरेां को आवश्यक व्यवस्था करने के निर्देश दिए है। इस कार्य के लिए रेल्वे प्रबंधन का भी आवश्यक सहयोग लिया जाएगा। पत्र में कहा गया है कि कोरोना जांच के बाद पाजिटिव पाए जाने वाले मरीजों को आवश्यककतानुसार डेडिकेटेड अस्पताल,कोविड केयर सेंटर,होम आइसोलेशन में उपचार के लिए परिवहन की व्यवस्था से भेजा जाए। ऐसे यात्री जिनमें कोरोना के लक्षण नही है और जिनकी जांच नही की जा रही है उन्हें 7 दिनों के लिए क्वारंटाइन किया जाए। ग्रामीण क्षेत्रों में पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग और शहरी क्षेत्रों में नगरीय प्रशासन विभाग द्वारा यात्रियों को क्वांरेटीन किए जाने के लिए पूर्व में जारी दिशा निर्देशों का पालन किया जाए। क्वारेंटाइन सेंटरों में स्वास्थ्य परीक्षण/जांच के लिए स्वास्थ्य विभाग द्वारा विगत वर्ष के निर्देश का पालन किया जाएगा। रेल्वे स्टेशनों के जांच केन्द्रों में कोविड अनुकूल व्यवहार का पालन सुनिनिश्चत कराया जाए।

 

12-04-2021
अन्य राज्यों से आए यात्री 7 दिनों के लिए होंगे क्वारेंटाइन, ग्रामीण क्षेत्रों में क्वारेंटाइन सेंटर होंगे प्रभावी

दुर्ग। अन्य राज्यों से जिले में आए यात्री 7 दिन के लिए क्वारेंटाइन होंगे। ग्रामीण क्षेत्रों में भी क्वारेंटाइन सेंटर प्रभावी होंगे। पूर्व की तरह स्टेशन पर आ रहे यात्रियों की जाँच होती रहेगी। यह निर्देश कलेक्टर डॉ.सर्वेश्वर नरेंद्र भूरे ने अधिकारियों को दिये। कलेक्टर ने कहा कि ग्राम पंचायतों में भी क्वारेंटाइन सेंटर की व्यवस्था प्रभावी हो तथा यहाँ आवश्यक सुविधाओं का ध्यान रखें। कलेक्टर ने कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों में ग्राम पंचायतों में पल्स आक्सीमीटर रखने कहा गया है साथ ही आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को भी पल्स आक्सीमीटर दिये गए हैं। कोविड के लक्षणों वाले मरीजों के संबंध में तुरंत बीएमओ को जानकारी दें ताकि उन्हें आइसोलेट किया जा सके और टेस्ट कराया जा सके। कलेक्टर ने अस्पतालों की प्रभावी व्यवस्था के संबंध में भी अधिकारियों को निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि अस्पतालों में सर्वोत्तम इलाज के साथ ही बेहतर साफसफाई और गुणवत्तायुक्त भोजन पर भी नजर रखें। इस संबंध में किसी भी तरह की जरूरत होने पर त्वरित सहायता उपलब्ध कराई जाएगी। बैठक में नगर निगम आयुक्त ऋतुराज रघुवंशी, अपर कलेक्टर ऋचा प्रकाश चौधरी, अपर कलेक्टर  प्रकाश सर्वे,  बीबी पंचभाई सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

09-04-2021
सभी राज्यों को पर्याप्त संख्या में मिल रही डोज, वैक्सीन की कमी पर रिपोर्ट गलत : अमित शाह

 

नई दिल्ली/रायपुर। देश में कोरोना वायरस संक्रमण बढ़ता जा रहा है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक महाराष्‍ट्र, छत्तीसगढ़, कर्नाटक, उत्तर प्रदेश, दिल्ली, मध्‍यप्रदेश, तमिलनाडु, गुजरात, केरल और पंजाब में कोविड के नए मामलों में सबसे ज्यादा बढ़ोतरी हुई है। नए मामलों के 84.21 फीसदी केस इन राज्‍यों में दर्ज हुए हैं। संक्रमण के बढ़ते केस के बीच कई राज्यों ने वैक्सीन की कमी होने का आरोप लगाया है। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि वैक्सीन की कमी को लेकर आ रही जानकारी सही नहीं है। सभी राज्यों को पर्याप्त संख्या में वैक्सीन की डोज मिल रही है।

 

25-03-2021
अन्य राज्यों से जिले में आने वालों के लिए सात दिन का होम कोरंटाइन अनिवार्य

धमतरी। कोविड-19 वायरस के धनात्मक प्रकरणों की संख्या में लगातार वृद्धि होने के फलस्वरूप कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी जयप्रकाश मौर्य ने दण्ड प्रक्रिया संहिता 1973 की धारा 144 आपदा प्रबंधन अधिनियम 2005 की धारा 30, 34 सहपठित एपिडेमिक एक्ट, 1987 यथा संशोधित 2020 द्वारा प्रदत्त शक्तियों का प्रयोग करते हुए आदेश जारी किया है। इसके तहत होली मिलन अथवा अन्य किसी प्रकार के सार्वजनिक कार्यक्रम आयोजित करने की अनुमति आगामी आदेश तक नहीं होगी। होलिका दहन के दौरान सैनिटाइजर, फिजिकल डिस्टेंसिंग एवं मास्क का उपयोग करने की शर्त का कड़ाई से पालन करते हुए अधिकतम पांच व्यक्ति उपस्थित रह सकेंगे। धमतरी जिले के अंतर्गत सभी पर्यटन स्थलों में आम जनता का प्रवेश आगामी आदेश तक प्रतिबंधित रहेगा। इसके अलावा सार्वजनिक स्थलों में फिजिकल डिस्टेसिंग के साथ मास्क का उपयोग किया जाना अनिवार्य होगा। उल्लंघन की दशा में राज्य शासन द्वारा समय समय पर निर्धारित अर्थदण्ड अधिरोपित किया जा सकेगा। अर्थदण्ड देने से इंकार करने पर वैधानिक कार्रवाई भी की जाएगी। सभी प्रकार के धार्मिक कार्यक्रम एवं त्यौहार, सामाजिक, सांस्कृतिक, राजनैतिक, खेलकूद, मेला, समारोह अथवा अन्य किसी प्रकार के सार्वजनिक कार्यक्रम आयोजित किया जाना प्रतिबंधित रहेगा। धार्मिक स्थल केवल व्यक्तिगत पूजा के लिए खुले रहेंगे। व्यक्तिगत/एकल रूप से धार्मिक स्थल/संस्थान में प्रवेश किया जा सकेगा, परन्तु किसी प्रकार का सामूहिक कार्यक्रम का आयोजन नहीं किया जाएगा। विवाह/अंत्येष्टि/ दशगात्र अथवा उससे संबंधित आवश्यक कार्यक्रम में फिजिकल डिस्टेंसिंग के साथ मास्क का कड़ाई से उपयोग शर्त के अधीन अधिकतम 50 व्यक्तियों को ही शामिल होने की अनुमति होगी। कार्यक्रम में शामिल होने वाले व्यक्तियों को समय समय पर हाथ धोना, सैनिटाइज करना अनिवार्य होगा तथा कार्यक्रम के लिए नियमानुसार जिला दण्डाधिकारी/ अतिरिक्त जिला दण्डाधिकारी अथवा अनुविभागीय अधिकारियों से लिखित अनुमति प्राप्त करनी होगी।
कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी द्वारा जारी आदेश में उल्लेख किया गया है कि सभी प्रकार की सभा, धरना, रैली, जुलूस अथवा सार्वजनिक प्रदर्शन आगामी आदेश तक प्रतिबंधित रहेंगे। दो पहिया एवं चार पहिया वाहनों में क्रमशः दो एवं चार व्यक्ति ही बैठ सकेंगे। डीजे, नगाड़ा अथवा अन्य सभी प्रकार के ध्वनि विस्तारक यंत्रों का उपयोग प्रतिबंधित रहेगा। अन्य राज्यों से हवाई यात्रा, रेल अथवा सड़क मार्ग से जिले में प्रवेश करने वाले सभी व्यक्तियों को सात दिन का होम क्वारंटाईन में रहना होगा। सार्वजनिक स्थलों, सिनेमा हाॅल एवं माॅल्स में आने-जाने वालों की दैनिक जांच की जाएगी एवं कोविड गाइडलाइन का पालन कराया जाना सुनिश्चित किया जाएगा। यदि किसी व्यक्ति को सर्दी, खांसी, बुखार, सांस लेने में तकलीफ, स्वाद अथवा गंध महसूस नहीं होना, दस्त-उल्टी या शरीर में दर्द की शिकायत हो, तो नजदीक केन्द्र में कोविड 19 की जांच कराना तथा जांच रिपोर्ट प्राप्त होने तक होम क्वारेंटाइन में रहना अनिवार्य होगा। रिपोर्ट पाॅजिटिव होने तथा होम आईसोलेशन के लिए अनुमति प्रदान किए जाने पर अनुमति की शर्तों का कड़ाई से पालन करना अनिवार्य है। यदि किसी क्षेत्र में कोविड 19 पाॅजिटिव मरीजों की सघनता पाई जाती है तो उक्त क्षेत्र को कंटेनमेंट जोन संबंधी सभी दिशा-निर्देशों का पालन करना होगा।
इस आदेश द्वारा दी गई सशर्त अनुमति को छोड़कर सार्वजनिक स्थलों में 5 से अधिक व्यक्तियों का एकत्रित होना आगामी आदेश पर्यन्त प्रतिबंधित रहेगा। धमतरी जिले में कोरोना वायरस कोविड-19 के बढते संक्रमण को दृष्टिगत रखते हुए कोरोना वायरस निगरानी जांच निरीक्षण दल द्वारा भौतिक परीक्षण संगरोध और इलाज से संबंधित अधिकारी कर्मचारियों को यदि कोई भी व्यक्ति सहयोग देने से इंकार करता है अथवा वांछित जानकारी देने से इंकार करता है या निगरानी दल के निर्देशों का पालन नहीं करता है अथवा इस आदेश का उल्लंघन करता है तो वह व्यक्ति भारतीय दण्ड संहिता 1860 की धारा 270 सहपठित एपिडेमिक डिसीजेज एक्ट 1897 एवं आपदा प्रबंधन अधिनियम 2005 के अधीन दण्ड का भागी होगा। कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी द्वारा जारी उक्त आदेश को आगामी आदेश तक प्रभावशील रहेगा।

 

23-03-2021
राज्यों के लिए गृह मंत्रालय ने जारी किए नए दिशा-निर्देश,कोरोना के खिलाफ अब इन नियमों का करना होगा पालन

नई दिल्ली। कोरोना के बढ़ते मामले को देखते हुए गृह मंत्रालय ने मंगलवार को नए दिशा-निर्देश जारी किए हैं। इसके तहत राज्यों से कोरोना की जांच में और तेजी लाने को कहा गया है। जो भी लोग कोरोना संक्रमित हो रहे हैं उन्हें तुरंत क्वारंटीन होना है और जल्द से जल्द इलाज की प्रक्रिया शुरू करनी होगी। राज्यों को जांच, संपर्कों का पता लगाने, उपचार प्रोटोकॉल का कड़ाई से पालन करने को कहा गया है। वहीं जिस भी इलाके में कोरोना के मामले अधिक मिल रहे हैं उन्हें रेखांकित कर कंटेंमेंट जोन घोषित करने को कहा गया है।

जिलाधिकारियों से कहा गया है कि जो भी क्षेत्र कंटेंमेंट जोन में हो उसे वेबसाइट पर जरूर अपलोड करें ताकि लोगों को इसकी जानकारी मिल सके, वहीं साथ ही इसे स्वास्थ्य मंत्रालय के साथ भी साझा करें। जो भी क्षेत्र कंटेंमेंट घोषित होंगे उसकी कड़ी निगरानी की जाएगी और उन घरों की भी निगरानी होगी जो कि इन क्षेत्रों में शामिल होंगे। सार्वजनिक जगह, दफ्तर, बाजार, भीड़-भाड़ वाले इलाके में कोरोना नियमों का सख्ती से पालन करवाना राज्य एवं जिला प्रशासन की जिम्मेदारी होगी। गृह मंत्रालय ने राज्यों से कहा कि जो लोग मास्क न पहने, शारीरिक दूरी का पालन न करें उनपर भी कड़ी निगरानी रखें और जरूरत हो तो जुर्माना भी कर सकते हैं। कोरोना के मामले अधिक मिलने पर लोकल स्तर जैसे शहर, वार्ड और पंचायत को लॉकडाउन कर सकते हैं। वहीं एक राज्य से दूसरे राज्य में प्रवेश पर पाबंदी नहीं होगी खासकर जो लोग व्यवसाय के लिए सीमावर्ती देश में जा रहे हो।

 

17-03-2021
केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा,16 राज्यों के 70 जिलों में 150 फीसदी तक बढ़े कोरोना संक्रमण के मामले

नई दिल्ली। देश में कोरोना वायरस संक्रमण के मामलों में फिर से आई तेजी ने चिंता बढ़ा दी है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने बुधवार को एक प्रेसवार्ता में देश में कोरोना संक्रमण की स्थिति की जानकारी दी। यहां केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने बताया कि देश में कोरोना के कुल सक्रिय मामलों का 60 फीसदी हिस्सा महाराष्ट्र में है। भूषण ने बताया कि पिछले 15 दिनों में 16 राज्यों के 70 जिलों में कोविड-19 के मामले में 150 फीसदी तक बढ़त देखी गई है।  पिछले 24 घंटों में दिल्ली में कोरोना के 400 से अधिक नए मामले दर्ज किए गए हैं। यहां सकारात्मकता दर एक फीसदी से कम है। हालांकि, यह अब 0.6 फीसदी हो गई है जो पहले 0.4 फीसदी थी। उन्होंने कहा कि नए कोविड-19 मामलों का न्यूनतम बिंदु नौ फरवरी था। आज, कोविड-19 के नए मामलों में सप्ताह दर सप्ताह करीब 43 फीसदी वृद्धि हुई है। कोरोना के चलते होने वाली नई मौतों के मामलों में सप्ताह दर सप्ताह करीब 37 फीसदी बढ़त हुई है। अभी तक वैक्सीन की कुल 3.51 करोड़ खुराकें लगाई जा चुकी हैं। 

राजेश भूषण ने बताया कि 15 मार्च को पूरी दुनिया में कोविड-19 वैक्सीन की 83.4 लाख खुराकें लगाई गई थीं। इसमें से 36 फीसदी टीकाकरण अकेले भारत में हुआ था। उन्होंने कहा कि भारत में कुल 6.5 फीसदी वैक्सीन की बर्बाद हो रही है। तेलंगाना में वैक्सीन की बर्बादी 17.6 तो आंध्र प्रदेश में यह 11.6 फीसदी दर्ज की गई है। केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव ने बताया कि कर्नाटक में कोरोना वायरस सकारात्मकता दर 1.3 फीसदी है। उन्होंने कहा कि कर्नाटक सरकार को हमारी सलाह है कि जांच बढ़ाएं। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि मृत्यु दर अभी भी दो फीसदी से कम बनी हुई है, जबकि कुछ राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में संक्रमण के प्रसार में तेजी आई है। भूषण ने पंजाब में कोरोना की स्थिति को लेकर कहा कि यहां सकारात्मकता दर इस समय 6.8 फीसदी है, जो कि चिंताजनक है। उन्होंने कहा कि यह दिखाता है कि यहां कोविड-19 के मुताबिक व्यवहार का पालन नहीं किया जा रहा है और कोरोना वायरस संक्रमण के प्रसार को रोकने के लिए बनाए गए नियम भी नहीं माने जा रहे हैं।

15-03-2021
कोरोना के बढ़ते मामले पर नरेंद्र मोदी सभी राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ करेंगे बैठक

नई दिल्ली। देश में कोरोना के बढ़ते मामले को देखते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सभी राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक कर सकते हैं। सूत्रों के हवाले से खबर है कि प्रधानमंत्री 17 मार्च को सभी राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ कोरोना के बढ़ते मामलों पर चर्चा करेंगे। यह वर्चुअल बैठक दोपहर 12.30 बजे होगी। प्रधानमंत्री की तरफ से यह बैठक उस समय हो रही है जब देश में कोरोना के इस साल की शुरुआत के 10 हजार रोजाना की तुलना में बढ़कर रोजाना 25 हजार तक पहुंच गए हैं। पिछले हफ्ते यानी 8 मार्च से 15 मार्च के बीच मौतों की संख्‍या में भी 28 प्रतिशत का इजाफा देखा गया, जो पिछले छह हफ्तों में सबसे ज्‍यादा है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार, बीते 24 घंटे के दौरान देशभर से 26,291 मामले सामने आए हैं जो कि पिछले 85 दिन में सबसे ज्‍यादा हैं। इससे पहले 19 दिसंबर को इससे ज्‍यादा मामलों का पता चला था। इसके अलावा 17,455 लोग कोरोना से रिकवर हुए हैं और 118 लोगों की मौत हुई है।
8 से 15 मार्च वाले हफ्ते में पिछले हफ्ते के मुकाबले 38,714 मामले ज्‍यादा आए। यह 7 से 13 सितंबर के बाद वीकली केसेज में सबसे ज्‍यादा बढ़त है। वीकली केसेज 8 से 14 जून 2020 वाले हफ्ते के बाद से 8 से 14 फरवरी वाले हफ्ते में सबसे कम हो गए थे। उस वक्‍त हफ्ते भर में 77 हजार से थोड़ा ज्‍यादा केसेज दर्ज हुए थे।

 

10-03-2021
Video: साढ़े 26 लाख के 477 नग हीरे के साथ दो आरोपी पकड़े गए, ले जा रहे थे अन्य राज्यों में बेचने

महासमुन्द। साढ़े 26 लाख के 477 नग हीरे के साथ महासमुन्द जिले की बागबाहरा पुलिस ने दो आरोपियों को बुधवार को गिरफ्तार किया है। दोनों ही आरोपी गरियाबंद जिले के बेरडीह, पायलीखंड क्षेत्रों से यह हीरा लाकर अन्य प्रदेशों में बेचने जा रहे थे। हीरा तस्करी मामले में छत्तीसगढ़ पुलिस की अब तक की सबसे बड़ी कार्रवाई है। मामले का खुलासा करते हुए एसपी प्रफुल्ल ठाकुर, एएसपी मेघा टेम्भुरकर, बागबाहरा एसडीओपी लितेश सिंह और क्राइम प्रभारी संजय राजपूत ने किया। उन्होंने बताया कि आरोपी फकीर मेहेर जिला बलांगीर और दिव्यरंजन बेहरा खरियार रोड ओडिशा को मुखबिर की सूचना पर नाकेबंदी कर गिरफ्तार किया गया है।
पुलिस के अनुसार हीरा तस्करी की शिकायत एसपी को मुखबिर से मिली तो उन्होंने जिले के सभी थाना-चौकियों के अलावा साइबर सेल को मामले की तस्दीक के लिए आदेश दिए। तस्दीक जारी थी कि ओडिशा बार्डर क्षेत्र के ग्राम रेवाघाट स्थित दुर्गा मंदिर से होकर दो लोग मोटर साइकिल से गुजरे। पुलिस ने उन्हें रोका लेकिन वे नहीं रुके और तेज गति से वाहन चलाते निकल गए। पुलिस ने उनका पीछा किया और ओवरटेक कर रोका। वाहन की तलाशी ली गई तो वाहन में कुछ नहीं मिला लेकिन दोनों युवकों फकीर मेहेर (46) और दिव्यरंजन बेहरा (30) की जेब से पॉलीथीन में लपेटकर रखे गए 477 नग हीरे मिले। इसमें से एक हीरा आकार में सबसे बड़ा 2194 कैरेट वजनी है,जिसकी कीमत 5 लाख 50 हजार रुपए बताई गई है। बरामद हीरे में से तीन नग हीरा मंझोले साइज का है और बाकी सभी छोटे साइज के हैं।
पुलिस के अनुसार गिरफ्तार आरोपियों ने इन हीरो को गरियाबंद जिले के बेरडीह, पायलीखंड क्षेत्रों से लेकर आना और छत्तीसगढ़ सहित अन्य राज्यों में ले जाकर बेचना बताया है। पूछताछ में आरोपियों ने अपने एक और साथी का नाम बताया है,जिसे पुलिस ढूंढने की कोशिश में हैं।
आरोरियों का कहना है कि गरियाबंद क्षेत्र के हीरे की मांग मुम्बई के बाजार में बेहद है और इसे तराशने के बाद इसकी कीमत कई गुना बढ़ जाती है। आरोपियों से हीरा तस्करी के लिए प्रयुक्त  वाहन, दो मोबाइल और 1 हजार 700 रुपए नगदी भी बरामद किया है। आरोपियों के खिलाफ महासमुन्द के बागबाहरा थाने में जुर्म दर्ज कर उन्हें जेल भेजने की तैयारी की जा रही है।
आरोपियों को पकडऩे में बागबाहरा थाना प्रभारी स्वराज त्रिपाठी, श्रवण कुमार दास, मिनेश ध्रुव, प्रकाश नंद, राजेश मिश्रा, संदीप भोई, हेमन्त नायक, रवि यादव, शुभम पांडेय, क्षत्रपाल सिन्हा, चम्पलेश ठाकुर, कामता आवड़े, विरेन्द्र नेताम, दिनेश साहू, एकलब्य बैस, शंकर सिंह, विरेन्द्र तिवारी का सहयोग रहा।

08-03-2021
मराठा आरक्षण मामले पर सुप्रीम कोर्ट ने राज्यों को जारी किया नोटिस,पूछा- क्या 50 फीसदी से बढ़ाई जा सकती है सीमा

नई दिल्ली। मराठा आरक्षण के मामले पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई जारी है। इस मामले पर सुनवाई के दौरान कोर्ट ने नोटिस जारी करते हुए राज्यों से सवाल किया है कि क्या आरक्षण की सीमा को 50 फीसदी से बढ़ाई जा सकती है? इस सवाल के बाद कोर्ट ने सुनवाई को 15 मार्च तक के लिए टाल दिया है। कोर्ट ने सुनवाई के दौरान यह भी कहा है कि इस मामले पर 15 मार्च के बाद से रोजाना सुनवाई की जाएगी। सुप्रीम कोर्ट द्वारा इस मामले पर सभी राज्य सरकारों को नोटिस जारी किया गया है। इस नोटिस में राज्य सरकारों से सवाल किया गया है कि क्या आरक्षण की सीमा को 50 प्रतिशत से बढ़ाया जा सकता है? सोमवार के दिन कोर्ट में सुनवाई के दौरान वकील शंकरनारायण द्वारा आरक्षण के मुद्दे पर सवाल उठाया गया और कहा गया कि इस मामले पर कई राज्य बोल चुके हैं। हालांकि ये आरक्षण अलग अलग विषयों से आधारित हैं। कोर्ट ने इस बाबत कहा कि 122वें संविधान संशोधन के माध्यम से आर्थिक आधार पर 10 फीसदी आरक्षण, जातियों में क्लासिफिकेशन जैसे मामलों को उठाया गया था। अगर इस विवाद की बात करें तो महाराष्ट्र में मराठाओं को आरक्षण देने की मांग लंबे समय से चल रही है। ऐसे में राज्य सरकार द्वारा साल 2018 में शिक्षा और नौकरी में 16 फीसदी तक आरक्षण देने का कानून बना दिया था। लेकिन कोर्ट ने अपने आदेश में इसकी सीमा को कम कर दिया था।

 

23-02-2021
अन्य राज्यों से छत्तीसगढ़ आने वाले यात्रियों की होगी कोविड स्क्रीनिंग और कांटेक्ट ट्रेसिंग, निर्देश जारी

रायपुर। छत्तीसगढ़ सरकार ने अन्य राज्यों से विभिन्न माध्यमों से छत्तीसगढ़ आ रहे यात्रियों की कोविड स्क्रीनिंग और कांटेक्ट ट्रेसिंग की व्यवस्था करने के निर्देश दिए हैं। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के निर्देश पर सामान्य प्रशासन विभाग ने इस संबंध में सभी कमिश्नरों और जिला कलेक्टरों को निर्देश जारी कर दिए हैं। जारी निर्देशों में कहा गया है कि देश में कोरोना संक्रमण प्रभावित व्यक्तियों की संभावित वृद्धि को देखते हुए विभिन्न माध्यमों से अन्य राज्यों से छत्तीसगढ़ आ रहे यात्रियों की कोविड स्क्रीनिंग और कांटेक्ट ट्रेसिंग की व्यवस्था की जाए। रायपुर व जगदलपुर (बस्तर) एयरपोर्ट पर विशेष रूप से मुबंई और दिल्ली से आने वाले यात्रियों सहित सभी यात्रियों की निर्धारित एसओपी अनुसार निर्देशों का कड़ाई से पालन किया जाए। विशेषकर महाराष्ट्र, मध्यप्रदेश व दिल्ली से सड़क और रेल मार्ग से आने वाले यात्रियों की भी कोविड स्क्रीनिंग व कांटेक्ट ट्रेसिंग के लिए आवश्यक व्यवस्था रेलवे स्टेशन, बस स्टेशन और अंतर्राज्यीय एंट्री पॉइंट पर की जाए।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कोरोना के बढ़ते प्रकरण को देखते हुए प्रदेशवासियों से कोरोना संक्रमण से बचने के लिए पूर्व में जारी गाइडलाइन का पालन करने की अपील की है। मुख्यमंत्री ने कहा है कि जब तक हम कोरोना पर विजय प्राप्त नहीं कर लेते तब तक इससे बचने के लिए मास्क पहने, सोशल और फिजिकल डिस्टेंस का पालन करें। थोड़ी-थोड़ी देर में हाथों को धोते रहें। इन उपायों का पालन करने से ही हम अपने प्रदेश में कोरोना को रोकने में काफी हद तक सफल हुए हैं। आगे भी इनका कड़ाई से पालन करते हुए कोरोना संक्रमण की रोकथाम कर सकेंगे।

05-02-2021
देश के इन राज्यों में हो सकती है बारिश, दिल्ली में कोहरे और ठंड में होगा इजाफा

रायपुर / नई दिल्ली। भारतीय मौसम विभाग के मुताबिक़  शनिवार को दिल्ली , पंजाब,  हरियाणा , चंडीगढ़ समेत उत्तर प्रदेश के कई इलाकों में तेज बारिश  होने की संभावना है। विभाग ने येलो अलर्ट जारी कर दिया है। बता दें कि  दिल्ली-एनआरसी के इलाकों में कोहरे और ठंड की मार पड़ने वाली है। इसके अलावा लद्दाख, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, बिहार, झारखंड और उत्तरी छत्तीसगढ़ के कुछ इलाकों में अगले 24 घंटो में हल्की बारिश, बिजली की गरज और बर्फबारी का दौर देखने को मिल सकता है।

 

31-01-2021
शाहरुख खान का साथी राहुल गांजा तस्करी में ओडिशा से गिरफ्तार, कई राज्यों में कर चुका मादक पदार्थ सप्लाई

जगदलपुर। गांजा तस्करी का आरोपी शाहरुख खान पिता युसूफ खान उम्र 28 वर्ष,जो कि   थाना सुसनेर जिला आगरमालवा (मध्य प्रदेश) का निवासी है के द्वारा ट्रक क्रमांक आरजे 17 जीए 2679 में अवैध रूप से मादक पदार्थ गांजा की तस्करी करते पकड़ाया। इसके कब्जे से  84 किलोग्राम अवैध मादक पदार्थ जब्त किया। आरोपी के खिलाफ अपराध क्रमांक 128/ 2020 धारा 20 (ख) एनडीपीएस एक्ट कायम कर न्यायिक अभिरक्षा में जेल भेजा गया। आरोपी से पूछताछ करने पर उसने बताया कि वह ओडिसा से जो व्यक्ति गांजा देता था उसका नाम सुबाष मेहर उर्फ राहुल निवासी कोरापुट है,जिससे गांजा खरीद कर लाता था।
प्रकरण में वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक दीपक झा,अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक ओपी शर्मा के दिशा निर्देश एवं पुलिस अनुविभागीय अधिकारी भानपुरी उदयन बेहार के पर्यवेक्षण में गांजा तस्करों पर कार्यवाही करने के दिशा निर्देश प्राप्त होने पर थाना प्रभारी बस्तर सुरेंद्र बघेल के नेतृत्व में टीम गठित कर ओडिसा के कोरापुट भेजा गया। यहां आरोपी सुबाष मेहर उर्फ राहुल पिता तिरंगा मेहर उम्र 26 वर्ष निवासी ग्राम पटनागढ़ थाना पटनागढ़ जिला बलांगीर ओडिसा की लगातार तलाशी अभियान और साइबर सेल जगदलपुर के सहयोग से घेराबंदी कर अभिरक्षा में लेकर पूछताछ की गई। उसने गांजा सप्लाई करना स्वीकार किया। राहुल ने बताया कि वह पिछले डेढ़ साल से गांजा सप्लाई कर रहा है। मध्यप्रदेश ,दिल्ली ,रांची झारखंड कि ग्राहकों को अब तक 2000 किलोग्राम से ज्यादा का गांजा सप्लाई कर चुका है।

आंध्र प्रदेश, ओडिसा की सीमा के जंगलों से गांजा लाकर ग्राहकों को बेचता था। आरोपी का कोरापुट में ऑटो पार्ट्स की दुकान है आरोपी द्वारा ग्राहकों को ऑटो या पिकअप के माध्यम से गांजा उपलब्ध कराकर वाहन में लोडिंग करता था। कई बार स्वयं बैग में गांजा रखकर बस अथवा ट्रेन के माध्यम से ग्राहकों तक पहुंचाता था।
आरोपी सुबाष मेहर उर्फ राहुल का अपराध स्वीकार करने एवं प्रकरण में संलिप्तता होने व पर्याप्त साक्ष्य सबूत पाए जाने से रविवार को गिरफ्तार किया। उसे न्यायिक रिमांड पर न्यायालय जगदलपुर पेश किया गया। कार्यवाही में निरीक्षक सुरेंद्र बघेल ,प्रधान आरक्षक छगनलाल डहरिया, आरक्षक विद्याचरण सोनवानी का मुख्य भूमिका रही।

 

Advertise, Call Now - +91 76111 07804