GLIBS
11-08-2020
महापौर और आयुक्त ने जोनवार की समीक्षा,प्रतिदिन 100 घरों का सर्वे करने दिए निर्देश 

रायपुर। महापौर एजाज ढेबर और आयुक्त सौरभ कुमार ने कोरोना के जोनवार सर्वे की बैठक लेकर समीक्षा की। उन्होंने जोन कमिश्नर, जोनवार नियुक्त इंसीडेंट कमांडर, जोन पर्यवेक्षक, सहायक पर्यवेक्षक को आवश्यक निर्देश दिए। बैठक में आयुक्त ने कहा कि नगर निगम में बनाए गए 870 ग्रिड में, प्रत्येक ग्रिड में आने वाले 500 से 600 मकानों में प्रत्येक मकान का सर्वे दूसरे चरण के सर्वे में तत्काल प्रारंभ किया जाए।  प्रत्येक टीम प्रतिदिन 100 मकानों का सर्वे करें। 5 दिनों में राउंड पूरा कर फिर से उस घर पर सर्वे करें,जहां से सर्वे टीम ने प्रारंभ किया हो। इससे उक्त घर में आने वाला बदलाव जानकारी में सर्वे टीम के सामने आ सकेगा। यह समय पर सही और त्वरित उपचार की दृष्टि से सहायक रहेगा। 870 ग्रिड में दूसरे राउंड के कोरोना सर्वे में 1800 आंगनबाड़ी कार्यकत्ताओं,शिक्षकों को लगाया गया है। आयुक्त ने विशेष तौर पर बुजुर्गों,गर्भवती महिलाओं और सांस संबंधित रोगों से पीड़ित लोगों की दूसरे चरण के सर्वे में पहचान प्राथमिकता के आधार पर करने के निर्देश दिए। आयुक्त ने कहा है कि,कोई मकान छूटने ना पाएं, यह सर्वे टीम तय कर ले। महापौर ने बैठक में कहा कि, सभी को कोरोना के लक्षण और बचाव की जानकारी दी जाए। सभी नागरिक निगम की सर्वे टीम को सही जानकारी दें ताकि कोरोना से रायपुर में शीघ्र निजात मिल सके। जिस घर में कोरोना पॉजिटिव मरीज निकल रहे हैं, उनको सहयोग दें ना कि उनका सामाजिक बहिष्कार करें। कारण कि बचाव अधिक आवश्यक है ना कि सामाजिक बहिष्कार।

11-08-2020
अम्बिकापुर में कोरोना से लड़ने हर वार्ड व सब्ज़ी बाजारों में लगेंगे स्वास्थ्य शिविर,जागरूकता रथ हुआ रवाना

रायपुर/अम्बिकापुर। कोविड 19 के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए नगर निगम अम्बिकापुर के सभी वार्डो और सब्जी बाजारों में स्वास्थ्य शिविर लगाए जाएंगे। स्वस्थ्य शिविर से संबंधित जागरूकता रथ को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया गया। इस दौरान मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ.पीएस सिसोदिया, डॉ.सुशील एक्का, डॉ.पुष्पेंद्र राम सहित अन्य अधिकारी मौजूद थे।डॉ.सिसोदिया ने बताया कि स्वास्थ्य शिविर में सर्दी, खांसी सर दर्द, गले मे खराश, सांस लेने में तकलीफ एवं  बुखार की निःशुल्क जांच उपचार किया जाएगा। शिविर का आयोजन प्रथम चरण में कुल 10 वार्ड का आगामी दिनांकवार आयोजन किया जा रहा है, जिसमें दिनांक 13 अगस्त 2020 को वार्ड क्रमांक 2 गुरूदेव रविन्द्र नाथ टैगोर वार्ड के भगवानपुर स्कूल, दिनांक 14 अगस्त को वार्ड क्रमांक 30 लाल बहादुर शास्त्री वार्ड के ज्ञानकुंज स्कूल में, दिनांक 16 अगस्त को वार्ड क्रमांक 48 बिशुनपुर वार्ड के आंगनबाड़ी केन्द्र में, दिनांक 17 अगस्त को वार्ड क्रमांक 12 माता राजमोहिनी वार्ड के संत हरकेवल आश्रम, दिनांक 18 अगस्त को वार्ड क्रमांक 13 मंगल पाण्डेय वार्ड के पीडीएस भवन में, दिनांक 19 अगस्त को वार्ड क्रमांक 01 भगवानपुर वार्ड के आदिवासी पारा स्कूल, दिनांक 20 अगस्त को महात्मा गांधी वार्ड के केनाबांध हाईस्कूल में, दिनांक 21 अगस्त को वार्ड क्रमांक 22 शहीद वीर नारायण वार्ड के सामुदायिक भवन चांदनी चौक, दिनांक 22 अगस्त को वार्ड क्रमांक 10 बाल गंगाधर तिलक वार्ड के आंगनबाड़ी इन्दिरा नगर, दिनांक 23 अगस्त को वार्ड क्रमांक 07 वीर सवरकर वार्ड के प्राथमिक शाला गांधीनगर, दिनांक 24 अगस्त वार्ड क्रमांक 38 जाकिर हुसैन वार्ड के बरेजपारा सामुदायिक भवन, दिनांक 25 अगस्त 2020 को वार्ड क्रमांक 19 भगवान महावीर वार्ड के पुलिस लाईन स्कूल में व दिनांक 26 अगस्त को वार्ड क्रमांक 47 गंगापुर वार्ड के प्राथमिक शाला स्कूल में आयोजन किया जाएगा। इसके साथ ही स्वास्थ्य शिविर का आयोजन कलाकेन्द्र स्थित सार्वजनिक सब्जी बाजार, गुदरी बाजार एवं थोक सब्जी मण्डी नया बस स्टेण्ड में किया जाएगा। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. पीएस सिसोदिया ने शिविर में समस्त वार्डवासी से मास्क लगाकर, सोशल डिस्टेंश का पालन करते हुए स्वास्थ्य शिविर का लाभ उठाने का आह्वान किया है। शिविर में आमजन जिन्हें सर्दी, खांसी बुखार, सांस लेने में तकलीफ और स्वाद व सूंघने के क्षमता का अभाव हो तो वार्ड पार्षद से सम्पर्क कर स्वास्थ्य शिविर में जाकर स्वास्थ्य जांच का लाभ प्राप्त कर सकते हैं।

 

11-08-2020
कलेक्टोरेट में भी कोरोना का प्रवेश, शिकायत शाखा का बाबू निकला पॉजिटिव

कवर्धा। अब जिला कार्यालय कलेक्टोरेट का बाबू भी कोरोना पॉजिटिव निकल गया। जिला कार्यालय (कलेक्टर) शिकायत शाखा में पदस्थ बाबू की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। बताया गया कि बाबू त्यौहार पर दुर्ग गया था। कवर्धा आने के बाद कोरोना टेस्ट के लिए सैम्पल लिया गया था। सैम्पल जांच में रिपोर्ट पॉजिटिव आई है।

10-08-2020
Breaking: दिनभर में 427 केस 3 की मौत,123 नए कोरोना मरीज मिले, 208 मरीजों को किया गया डिस्चार्ज

रायपुर। छत्तीसगढ़ में कोरोना का कहर जारी है। सोमवार रात साढ़े 10 बजे तक कुल 427 कोरोना पॉजिटिव मरीजों की पहचान होने की जानकारी मिली है। स्वास्थ्य विभाग ने अपडेटेड मेडिकल बुलेटिन जारी कर बताया कि रायगढ़ जिले से 58, रायपुर से 24, बीजापुर से 8, जांजगीर-चांपा से 6, राजनांदगांव व सरगुजा से 5-5, बस्तर व दंतेवाड़ा से 4-4, कांकेर से 3, कोरिया व कोंडागांव से 2-2,धमतरी व बलौदाबाजार से 1-1 मरीजों की पहचान हुई है। इससे पहले देर शाम जारी बुलेटिन में 304 मरीजों की पहचान होने की जानकारी मिली थी। इनमें रायपुर से 148, दुर्ग से 40, महासमुंद से 20, राजनांदगांव से 15, जांजगीर चांपा से 12, नारायणपुर से 11, जशपुर से 9, बेमेतरा सरगुजा से 7-7, बिलासपुर से 6, कोंडागांव, बीजापुर सुकमा से 4-4, धमतरी बलरामपुर, दतेवाड़ा और अन्य राज्य से 1-1 मरीज मिले थे। आज तीन मरीजों की मौत की जानकारी मिली थी। 208 मरीजों को स्वस्थ होने पर डिस्चार्ज किया गया था। अब तक के प्रदेश के आंकड़ों पर गौर करें तो 12625 कोरोना संक्रमित मरीजों की पहचान हो चुकी है। इनमें 9017 मरीज स्वस्थ होकर घर लौट चुके हैं। 99 मरीजों की मौत हो चुकी है। प्रदेश में एक्टिव केस की संख्या 3509 पहुंच चुकी है।

10-08-2020
Video: सब्जी मार्केट को पीजी कॉलेज ग्राउंड में किया गया शिफ्ट

अम्बिकापुर। शहर के कला केन्द्र मैदान में संचालित हो रहे अस्थाई सब्जी मार्केट में कोरोना संक्रमित मरीज मिलने के बाद सब्जी मार्केट को पीजी कॉलेज ग्राउंड में शिफ्ट कर दिया गया है। वही कलाकेंद्र मैदान को सैनिटाइज भी किया जा रहा हैं। स्वास्थ्य विभाग की टीम कलाकेन्द्र मैदान में सब्जी विक्रेताओं का कोरोना जांच करने पहुंची थी। कोरोना के सामुदायिक खतरे को देखते हुए स्वास्थ्य विभाग की टीम ने सभी सब्जी विक्रेताओं का एंटीजेन के जरिए रैंडम जांच किया था। इस दौरान 3 सब्जी विक्रेता कोविड 19 से संक्रमित पाये गये। इसके बाद संक्रमित मरीजों को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती करा दिया गया। वहीं कलाकेन्द्र मैदान में संचालित हो सब्जी बाजार को प्रशासन ने बंद कर पीजी कॉलेज ग्राउंड में स्थानांतरित कर दिया है। वही कलाकेंद्र मैदान को सैनिटाइज भी किया जा रहा हैं। 2 दिनों के बाद पुन: सब्जी मार्केट को कलाकेंद्र में शिफ्ट किया जाएगा।

10-08-2020
Video: स्किन डिसीज़ से जानवर परेशान

राजनांदगांव। कोरोना की तरह जानवरों में एक बीमारी हो रही है,जिसे लंपिंग स्किन डिसीज़ बताया जा रहा है। यह बीमारी मुख्यतया दक्षिण अफ्रीका से आई बताई जा रही है,जो कि ओड़िसा से छत्तीसगढ़ के कई जिलों में फैल गई है। इसमें जानवरों के शरीर मे गठान जैसी हो जाती है तथा तेज बुखार होता है। इसके कारण उसकी कार्य क्षमता पर असर पड़ता है। वहीं दूध देने वाले जानवरों की उत्पादन क्षमता भी कम हो जाती है। पशु चिकित्सा विज्ञान में इसे लंपिंग स्किन डिसीज़ कहा जाता है,जो कि पॉक्स फैमली की है। डॉक्टरों का कहना है कि इस बीमारी से मौत नही होती है तथा एक सप्ताह में यह ठीक होने लगती है। फिलहाल यह जिले के वनांचल क्षेत्रों में ज्यादा है। 

 

 

10-08-2020
कोविड स्पेशल टास्क फोर्स ने बाजारों में दी दबिश, समझाइश के साथ सख्ती जारी

रायपुर। कलेक्टर डाॅ. एस. भारतीदासन के निर्देश पर कोविड स्पेशल टास्क फोर्स ने सोमवार को टिकरापारा, डूमर तराई फल मंडी, डूमर तराई सब्जी मंडी, देवपुरी, आमापारा क्षेत्र का औचक निरीक्षण किया। कोरोना रोकथाम के नियमों का उल्लंघन करने वालों पर कार्यवाई कर, दोबारा गलती न दोहराने की चेतावनी दी। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अजय यादव व नगर निगम कमिश्नर सौरभ कुमार के निर्देश पर जिला पुलिस व नगर निगम का अमला बगैर मास्क व सोशल डिस्टेंसिंग का उल्लंघन कर दुकान चला रहे व्यवसायियों पर दंडात्मक कार्यवाही भी कर रहा है। सीईओ डाॅ. गौरव कुमार सिंह के नेतृत्व में इस समय 50 से भी अधिक एनजीओ के 500 से ज्यादा वालेंटियर्स, जिला अधिकारियों के साथ रोज फील्ड पर उतर कर मास्क पहनने व सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने पूरे शहर में समझाइश दे रहे हैं। 

जागरूकता अभियान के अंतर्गत ऐसे जरूरमंद लोग, वृद्ध, बच्चे व छोटे दुकानदारों को यह टीम निशुल्क मास्क भी वितरित कर कोरोना से बचाव के लिए इसकी उपयोगिता समझा रही है। इस स्पेशल टास्क फोर्स में जिला प्रशासन, जिला पुलिस, महिला बाल विकास विभाग, समाज कल्याण विभाग, शिक्षा विभाग व नगर निगम के आला अधिकारी-कर्मचारी शामिल हैं। यह टास्क फोर्स नियमों का उल्लंघन करने वालों पर सख्ती बरतते हुए कार्यवाही कर दोबारा गलती न दोहराने की समझाइश भी दे रही है। देवपुरी स्थित सालनी जनरल स्टोर पर मास्क पहने बिना सामान विक्रय पर चालानी कार्यवाही कर दोबारा गलती दोहराने पर दुकान सील करने की भी चेतावनी दी गई है। कलेक्टर के निर्देशन पर सड़कों पर उतरी यह टास्क फोर्स बिना मास्क पहने व सोशल डिस्टेसिंग के नियमों का उल्लंघन करने वाले दुकानदारों को चिंहांकित भी कर रही है। दोबारा गलती दोहराने पर इस टीम की ओर से बिना रियायत दुकानों को सील कर दिया जाएगा।

टीम दुकानों में मास्क नहीं, तो सामान नहीं का स्टीकर भी चिपका रही है। सभी दुकानदारों को समझाइश भी दी जा रही है कि, वे अपने दुकानों पर किसी भी स्थिति में भीड़ न लगने दें व सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का पालन करते हुए मास्क लगाकर ही सामान का विक्रय करें। थोक व चिल्हर विक्रेताओं को बताया गया कि, कोरोना से बचाव के लिए सभी कर्मचारियों के साथ ग्राहकों को मास्क लगाने पर ही दुकान संचालन की अनुमति है। अतः हर स्थिति में इसका पालन सुनिश्चित करना उनका दायित्व है। बिना मास्क आने वाले ग्राहकों को सामान न दें और ग्राहकों को उपलब्ध कराने प्रत्येक दुकानदार को 50 मास्क विक्रय या निशुल्क दिए जाने के लिए रखा जाना आवश्यक है। स्पेशल टीम बाजारों के निरीक्षण के दौरान इसकी भी जांच कर रही है।

10-08-2020
देश में एक दिन में कोरोना से सबसे ज्यादा 1007 लोगों की मौत, 62063 नए पॉजिटिव मिले

नई दिल्ली। देश में कोरोना संक्रमण का प्रकोप लगातार बढ़ता ही जा रहा है। पिछले 24 घंटों में कोविड-19 के 62,063 नए मामले सामने आए और 1,007 लोगों की मौत हुई। केन्द्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय की ओर से सोमवार को जारी आंकड़ों के अनुसार, पिछले 24 घंटे में कोरोना के 62,063 नए मामले सामने आए हैं। वहीं, इस दौरान 1,007 मरीजों की कोविड-19 से मौत हुई है। लगातार 12वें दिन 50,000 और चौथे दिन 60,000 से अधिक लोगों में वायरस की पुष्टि हुई है। मंत्रालय के अनुसार, देश में संक्रमितों की संख्या बढ़कर 22,15,075 पहुंच गई है। इसमें से 15,35,744 मरीज इलाज के बाद ठीक हो गए हैं और उन्हें अस्पताल से छुट्टी दे दी गई है। वहीं, देश में कोरोना के सक्रिय मामलों की संख्या 6,34,945 है। आंकड़ों के अनुसार, कोरोना वायरस से अब तक भारत में 44,386 लोगों की मौत हुई है।

08-08-2020
जिले के कोयलीबेड़ा क्षेत्र में दो बीएसएफ एवं थाना प्रभारी हुए कोरोना संक्रमित

कांकेर। जिले में जहाँ नक्सल प्रभावित क्षेत्रों में तैनात सुरक्षा बल के जवानों को कोरोना ने अपने चपेट में लिया है। वहीं अब कोयलीबेड़ा ब्लॉक के परतापुर थाना प्रभारी भी कोरोना संक्रमित होने की पुष्टी हुई है। शनिवार को परतापुर में तीन लोगों के कोरोना संक्रमित होने की पुष्टि हुई, जिसमें बीएसएफ के दो जवानों के अलावा परतापुर के थाना प्रभारी भी शामिल हैं। प्रशासन एवं स्वास्थ्य विभाग ने पूरे थाना स्टाफ को क्वारेंटाइन कर दिया है। वहीं थाना भवन को भी सैनिटाइज किया गया है। इस मामले में पखांजूर एसडीओपी मयंक तिवारी ने बताया कि सुरक्षा के लिहाज से सभी जरूरी एहतियात बरती जा रही है। उन्होंने बताया कि परतापुर में ही अभी थाना का संचालन किया जायेगा।

 

07-08-2020
Breaking: प्रदेश में आज कोरोना के 298 नए पॉजिटिव, 221 डिस्चार्ज,7 की मौत

रायपुर। छत्तीसगढ़ में आज कोरोना के 298 नए पॉजिटिव केस सामने आए है। 221 मरीजों को स्वस्थ होने के बाद डिस्चार्ज कर दिया गया है। साथ ही 7 लोगों की मौत भी हुई है। स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी मेडिकल बुलेटिन के मुताबिक रायपुर में 118,दुर्ग 30,बिलासपुर 28, कांकेर 26, रायगढ़ 17, राजनांदगांव 16, बलौदाबाजार और नारायणपुर से 9-9, महासमुंद 6, सूरजपुर, जशपुर और सुकमा से 5-5, जांजगीर-चांपा व बस्तर से 4-4, कोरिया व गरियाबंद से 3—3, बालोद, बेमेतरा और दंतेवाड़ा से 2-2, कोरबा, पेंड्रा, मरवाही, मुंगेली से 1-1 पॉजिटिव सामने आए है।  मेडिकल बुलेटिन देखने के लिए यहां क्लिक करे...   

07-08-2020
कोरोना से संघर्ष किसी के लिए भी अच्छा अनुभव नहीं लेकिन अस्पताल की देखभाल, सेवा और व्यवस्थित इलाज याद रहेगा

रायपुर। कोरोना को मात देकर माना कोविड अस्पताल से हाल ही में डिस्चार्ज हुए शहर के दो युवाओं ने वहां कोविड-19 से अपने संघर्ष के अनुभव साझा किए हैं। दोनों युवाओं ने अस्पताल की व्यवस्था और वहां मरीजों की सेवा में लगे स्टॉफ की खुले दिल से सराहना की है। उन्होंने अच्छी सुविधाओं, इलाज, देखभाल और लगातार मनोबल बढ़ाने के लिए अस्पताल प्रबंधन, डॉक्टरों व नर्सों के साथ ही भोजन देने वालों, सफाई कर्मियों तथा एंबुलेंस कर्मियों को तहेदिल से धन्यवाद दिया है। कोविड-19 के मरीजों के इलाज के लिए ये दोनों प्लाज्मा दान के लिए भी तैयार हैं। मौदहापारा थाने में पदस्थ निरीक्षक यदुमणि सिदार माना अस्पताल से 28 जुलाई को डिस्चार्ज हुए हैं। अभी वे दस दिनों के होम आइसोलेशन में हैं। कोरोना से अपनी लड़ाई का अनुभव साझा करते हुए वे कहते हैं कि जब कोरोना पाजिटिव आने की खबर मिली तो वे घबरा गए थे। एक पल के लिए तो यकीन भी नहीं हुआ क्योंकि उनमें कोरोना संक्रमण के कोई लक्षण नहीं थे। ड्यूटी के दौरान उन्होंने खुद को संक्रमण से बचाने पूरी सावधानी बरती थी। अस्पताल में भर्ती होने के साथ ही सकारात्मक माहौल मिलने लगा। परिजनों, दोस्तों और मेडिकल क्षेत्र से जुड़े परिचितों से बातचीत ने भी उनका हौसला बढ़ाया। यूं तो कोरोना से संघर्ष किसी के लिए भी अच्छा अनुभव नहीं है, लेकिन अस्पताल की देखभाल, सेवा और व्यवस्थित इलाज जिंदगी भर याद रहेगा।

अस्पताल में इलाज के दौरान के अपने अनुभव के बारे में सिदार कहते हैं कि वहां सारी चीजें बहुत व्यवस्थित थीं। समय पर दवाईयां, नाश्ता और खाना मिलता था। साफ-सफाई भी अच्छी थी। डॉक्टरों व नर्सों के साथ ही बाकी स्टॉफ का भी व्यवहार बेहद सहयोगात्मक, दोस्ताना और मनोबल बढ़ाने वाला था। इतनी अच्छी देखभाल और सेवा के लिए मैं आजीवन उन सबका शुक्रगुजार रहूंगा। 19 जुलाई को भर्ती होने के बाद दस दिनों के इलाज के बाद मुझे 28 जुलाई को अस्पताल से डिस्चार्ज किया गया। अभी मैं दस दिनों के होम-आइसोलेशन में हूं। इसके पूरा होते ही मैं ड्यूटी ज्वाइन कर लूंगा। माना कोविड अस्पताल में इलाज के बाद गुढ़ियारी के विक्रांत पाण्डेय 6 अगस्त को डिस्चार्ज हुए हैं। एक निजी कंपनी में सहायक प्रबंधक पाण्डेय को वहां 29 जुलाई को भर्ती किया गया था। अस्पताल में इलाज के अपने अनुभव साझा करते हुए वे कहते हैं – “पहले दिन से ही मेरा अच्छा इलाज और देखभाल की गई। अस्पताल का माहौल बेहद सकारात्मक था। अच्छी व्यवस्था के साथ ही वहां ड्यूटी पर तैनात सभी अधिकारियों, कर्मचारियों और मेडिकल स्टॉफ का व्यवहार अच्छा था। मैं अस्पताल में मरीजों की सेवा और उपचार कर रहे सभी लोगों को नमन करता हूं जो संक्रमण के खतरों के बीच अपनी जिम्मेदारी बखूबी निभा रहे हैं। पीपीई किट की भीषण गर्मी झेलते अस्पताल में भर्ती हर मरीज को कोरोना मुक्त करने में लगे हैं। पाण्डेय कहते हैं कि “कोरोना महामारी के इस दौर में डॉक्टरों और मेडिकल टीमों की सेवा भुलाई नहीं जा सकती। संक्रमण के खतरों के बीच भी उनका जज्बा काबिले-तारीफ है। ईश्वर को किसी ने नहीं देखा है। वे भी पीपीई किट में छिपे इन लोगों जैसे ही होंगे।“ वे कहते हैं कोविड-19 पीड़ितों के इलाज में किसी भी तरह की सहायता के लिए वे हमेशा तैयार हैं। इस काम से उन्हें बेहद खुशी होगी।

 

Advertise, Call Now - +91 76111 07804