GLIBS
13-01-2021
दर्शकों को नेटफ्लिक्स ने दिया तोहफा, किया 2021 में हर हफ्ते एक नई फिल्‍म द‍िखाने का वादा

रायपुर/मुंबई। नेटफ्लिक्स ने एक बड़ा ऐलान किया है।  नेटफ्ल‍िक्‍स साल 2021 में दर्शकों को हर हफ्ते एक नई फिल्‍म द‍िखाने का वादा कर रहा है। 2021 में अपने प्‍लेटफॉर्म पर नेटफ्ल‍िक्‍स ने 70 नई फिल्‍मों की र‍िलीज का ऐलान किया है। इन फिल्‍मों में 'रेड नोटिस', 'आर्मी ऑफ द डेड', 'डोन्‍ट लुक अप', 'टिक ट‍िक.. बूम', 'द वाइट टाइगर', 'द गर्ल ऑन द ट्रेन' जैसी फिल्‍में शामिल हैं। नेटफ्ल‍िक्‍स के इन 70 टाइटलों में 52 इंग्लिश फिल्‍में, 8 एनीमेटेड फिल्‍में और 10 नॉन-इंग्लिश फिल्‍में शामिल हैं। ये पहला मौका है जब दुनिया की इस सबसे बड़ी सबस्क्रिप्‍शन बेस्‍ड स्‍ट्रीमिंग सर्विस ने अपनी सालभर की फिल्‍मों की घोषणा एकसाथ की है।

23-11-2020
नेटफ्लिक्स के दो अधिकारियों पर मध्यप्रदेश में एफआईआर दर्ज

भोपाल। नेटफ्लिक्स के दो अधिकारियों पर सोमवार को रीवा में केस दर्ज हुआ है। धार्मिक भावनाओं को आहत करने के आरोप में इनके खिलाफ यह कार्रवाई की गई। इसी बीच, शिवराज सिंह के मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि उन्हें मंदिर में किस वाला सीन मंजूर नहीं है। वो समय और था, पर ये समय और है।मिश्रा ने कहा, “वेब सीरीज ए सूटेबल बॉय में कुछ भी सूटेबल नहीं हैं। फिल्म में मंदिर के अंदर ऐसे आपत्तिजनक दृश्य क्यों फिल्माए जाने चाहिए, जिससे किसी की भावनाएं आहत हों। ये गलत है। इस संबंध में आज गृह और विधि विभाग के अफसरों की बैठक बुलाई है।”मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि गृह और विधि विभाग के अधिकारी आज बैठक में विचार कर तय करेंगे कि वेब सीरीज ‘ए सूटेबल ब्वाॅय’ के निर्माता-निर्देशक और संबंधित ओटीटी प्लेटफार्म के खिलाफ क्या कानूनी कार्रवाई की जा सकती है।

मंत्री के टि्वटर हैंडल पर इस बाबत कुछ सिलसिलेवार ट्वीट्स में जानकारी दी गई। बताया गया कि वेब सीरीज में आपत्तिजनक दृश्यों के लिए ओटीटी प्लेटफार्म नेटफ्लिक्स के प्रबंधन से जुड़ीं मोनिका शेरगिल और अंबिका खुराना के खिलाफ रीवा के सिविल लाइंस थाने में धारा 295 ए (धार्मिक भावनाओं को जानबूझ कर ठेस पहुंचाने) के तहत एफआईआर दर्ज की गई है। मामले में फरियादी गौरव तिवारी के आवेदन पर केस हुआ है।आगे कहा गया कि नेटफ्लिक्स पर प्रसारित वेब सीरीज “ए सूटेबल ब्वाॅय” के आपत्तिजनक दृश्यों से धर्म विशेष की भावनाएं आहत होने का कानूनी परीक्षण करने के निर्देश गृह एवं विधि विभाग के अधिकारियों को दिए थे। परीक्षण में भावनाएं आहत होने का आरोप सही पाया गया है।

02-09-2020
दिल्ली हाईकोर्ट ने गुंजन सक्सेना: द कारगिल गर्ल’ के प्रसारण पर रोक से किया का इंकार

नई दिल्ली। दिल्ली उच्च न्यायालय ने नेटफ्लिक्स की फिल्म ' गुंजन सक्सेना : द कारगिल गर्ल' के प्रसारण पर रोक लगाने से बुधवार को इंकार कर दिया। केंद्र की तरफ से भारतीय वायुसेना की गलत छवि पेश करने के आधार पर फिल्म का प्रसारण रोकने का आग्रह किया गया था। न्यायाधीश राजीव शकधर ने बुधवार को फिल्म के प्रसारण पर रोक लगाने से इंकार करते हुए केंद्र से सवाल किया कि 'ओवर द टॉप' (ओटीटी) मंच पर फिल्म के प्रदर्शन से पहले वह मामला न्यायालय के समक्ष क्यों नहीं लाई। न्यायाधीश शकधर ने कहा अब कोई आदेश पारित नहीं किया जा सकता क्योंकि फिल्म प्रदर्शित हो चुकी है। फिल्म 12 अगस्त को ही ओटीटी प्लेटफाॅर्म पर प्रदर्शित हो चुकी है। केंद्र की तरफ से दायर याचिका में कहा गया था कि फिल्म भारतीय वायुसेना की गलत छवि पेश कर रही है।

अतिरिक्त सॉलिसिटर जनरल संजय जैन ने सरकार की तरफ से दलील रखते हुए कहा कि फिल्म से भारतीय वायुसेना की छवि धूमिल हो रही है। फिल्म में बल मैं लैंगिक भेदभाव होने के संबंध में दिखाया गया है, जिसमें कोई सच्चाई नहीं है।न्यायाधीश शकधर ने केन्द्र की याचिका पर 'धर्मा प्रोडक्शन प्राइवेट लिमिटेड' और नेटफ्लिक्स से जबाव मांगा है। न्यायालय ने यह भी कहा कि पूर्व फ्लाइट लेफ्टिनेंट गुंजन सक्सेना को भी मामले में एक पक्ष बनाना चाहिए और उन्हें नोटिस जारी कर उनसे भी जवाब मांगा है।

 

30-06-2020
'झुंड' और 'लूडो' डिजिटल प्लेटफॉर्म पर होगी रिलीज

मुंबई। लूडो, इंदु की जवानी और झुंड भी अब डिजिटल प्लेटफॉर्म पर रिलीज होंगी। यह तीनों फिल्में टी-सीरीज ने प्रोड्यूस की हैं और नेटफ्लिक्स पर रिलीज होगी।अभिषेक बच्चन की लूडो को अनुराग बासु ने, अमिताभ बच्चन की झुंड को नागराज मंजुले और कियारा आडवाणी की इंदु की जवानी अबीर सेनगुप्ता ने डायरेक्टर की है।रिपोर्ट्स के मुताबिक टी-सीरीज की दो और फिल्में मुंबई सागा और परिणीति चोपड़ा की सायना नेहवाल की बायोपिक भी ओटीटी प्लेटफार्म पर रिलीज हो सकती है।
बता दें कि इंदु की जवानी 5 जून को रिलीज होने वाली थी। अनुराग बासु की लूडो फिल्म 24 अप्रैल को रिलीज होने वाली थी। अमिताभ बच्चन की झुंड 20 सितंबर को रिलीज होने वाली थी।

 

22-02-2020
नेटफ्लिक्स ने अपने भारतीय यूजर्स को दिया झटका, अब नहीं मिलेगा पहले महीने का फ्री सब्सक्रिप्शन

नई दिल्ली। नेटफ्लिक्स में पहले महीने फ्री में नेटफ्लिक्स का इस्तेमाल कर रहे थे लेकिन अब ऐसा नहीं होगा। नेटफ्लिक्स इंडिया ने अपने भारतीय यूजर्स को बड़ा झटका दिया है। पहले महीने के लिए भी आपको पैसे देने होंगे। नेटफ्लिक्स इस ऑफर का प्रचार-प्रसार भी अपने एप पर कर रही है। बता दें कि नेटफ्लिक्स का यह ऑफर सिर्फ नए ग्राहकों के लिए है। यदि आप पहली बार नेटफ्लिक्स इस्तेमाल करने वाले हैं तो आपको सिर्फ 5 रुपये में पहले महीने का सब्सक्रिप्शन मिलेगा और इसके बाद आप 199 रुपये से लेकर 799 रुपये तक के प्लान का चुनाव कर सकेंगे। बता दें कि पहले नेटफ्लिक्स का पहले महीने का सब्सक्रिप्शन फ्री में मिलता था। गैजेट्स 360 की रिपोर्ट के मुताबिक नेटफ्लिक्स के प्रवक्ता ने इस ऑफर की पुष्टि की है, कहा कि यह एक प्रमोशनल ऑफर है जो कि 5 रुपये की कीमत पर एक महीने के लिए उपलब्ध होगा। एक तरह से यह एक ट्रायल ऑफर है, हालांकि यह ऑफर फिलहाल कुछ ही यूजर्स को मिल रहा है।

13-02-2020
ऑस्कर में दमक दिखा चुकी फिल्म 'विलेज रॉकस्टार' अब पढ़ाई जाएगी असम के स्कूलों में

मुंबई। 'विलेज रॉकस्टार' 15 जनवरी 2020 को नेटफ्लिक्स पर दस्तक दे चुकी है। यह फिल्म दुनिया भर के 80 फिल्म महोत्सव का हिस्सा बनी और 44 अवार्ड भी हासिल किए। बता दें कि चार राष्ट्रीय पुरस्कार जीतने वाली असम की फिल्म 'विलेज रॉकस्टार' असम की सातवीं क्लास के कोर्स में शामिल हो गई है। इसे अंग्रेजी विषय में 'धुनु का गिटार' नामक पाठ के तौर पर शामिल किया गया है। इस फिल्म ने सर्वश्रेष्ठ फीचर फिल्म, एडिटिंग, ऑडियोग्राफी और बाल कलाकार की श्रेणी में राष्ट्रीय पुरस्कार जीता था। इसके अलावा इस फिल्म ने 2019 ऑस्कर में भारत का प्रतिनिधित्व भी किया था। 

कहानी की बात करें तो 'विलेज रॉकस्टार' 10 साल के धुनु की कहानी दर्शाता है। जो असम के एक गांव में रहता है और बहुत ही विन्रम पृष्ठभूमि से आता है। वह एक गिटार खरीदने का सपना देखता है। फिल्म की निर्देशक रीमा दास ने कहा, 'मेरे पिता स्कूल टीचर थे और मेरी मां प्रिंटिंग प्रेस चलाया करती थी। मैं भी टीचर बनने की तैयारी कर रही थी। मैं उस परिवार से आती हूं जिसने शिक्षा के क्षेत्र में बहुत योगदान दिया है। मेरी सभी उपलब्धियों में मेरी सबसे बड़ी उपलब्धि यह है जिस पर मेरे माता पिता सबसे अधिक गर्व करेंगे। फिल्म की पूरी टीम बहुत ही खुश है।' आगे कहा, 'मैं बहुत खुश हूं कि असम के बच्चों का ताल्लुक इस नए विचार से पड़ेगा। इसमें उन्हें मेरी फिल्म निर्माण की कुछ झलकियां देखेंगे। मैं उम्मीद करती हूं कि असम की एक नई फिल्म निर्माण की पीढ़ी देखने की मिलेगी। टोरंटो अंतरराष्ट्रीय फिल्म महोत्सव का शुक्रिया जिन्होंने 'विलेज रॉकस्टार' के प्रीमियर रखकर मुझपर भरोसा दिखाया।'   
 
 

Advertise, Call Now - +91 76111 07804