GLIBS
07-02-2020
डीएमएफ से स्वीकृत सभी कार्यों के निर्माण एजेंसियों की समीक्षा बैठक होगी जल्द : कलेक्टर

कोरिया। कलेक्टर की अध्यक्षता में शुक्रवार को यहां जिला कलेक्टोरेट के सभाकक्ष में समय सीमा की बैठक संपन्न हुई। बैठक में कलेक्टर ने अब तक के डीएमएफ से स्वीकृत सभी कार्यों के निर्माण एजेंसियों की समीक्षा बैठक शीघ्र करने की बात कही। उन्होंने सभी निर्माण एजेंसियों से स्वीकृत प्रारंभ एवं अप्रारंभ और पूर्ण हो चुके कार्यों की जानकारी लेते हुए सभी जानकारियां अद्यतन करने के निर्देश दिये। बैठक में कलेक्टर ने चुनाव ड्यूटी में अनुपस्थित अधिकारी, कर्मचारियों की सूची देने, मतदान दलों के मान देय वितरण, परिवहन कार्य में लगे वाहनों का वाउचर प्रतिवेदन प्रस्तुत करने, आबादी पट्टा वितरण, आबादी नजूल पट्टा की भूमि को फ्री होल्ड करने, स्लम पट्टों के नवीनीकरण, 1984 में दिये गये पट्टों के नवीनीकरण, शहरी क्षेत्रों में भूमिहीन व्यक्तियों को पट्टा वितरित करने, धान खरीदी केंद्रों में पटवारियों की ड्यूटी लगाने, पैरादान की प्रगति, धान के रकबे कम करके मक्का उत्पादन करने, नये गौठानों के निर्माण, वनधन केंद्र, द्वितीय चरण के सुपोषण अभियान के तहत वार्डवार शिविर लगाकर कार्ययोजना बनाने, अगले शिक्षण सत्र से स्थानीय भाषा में शिक्षा देने, जिला स्तरीय मैराथन दौड़ 19 फरवरी को जिला मुख्यालय बैकुंठपुर में तथा विकास खण्ड स्तरीय दौड़ 12 फरवरी को मनेन्द्रगढ़ एवं खड़गंवा, 13 फरवरी को सोनहत एवं भरतपुर तथा 14 फरवरी को बैकुंठपुर में आयोजित करने, जिला एवं विकासखंड स्तरीय मैराथन दौड़ के आयोजन के लिए आवश्यक तैयारी, अमृतधारा महोत्सव की तैयारी प्रारंभ करने, प्रधानमंत्री किसान सम्मान, वृध्दाश्रम प्रारंभ करने, मुख्यमंत्री की घोषणा के लंबित कार्य, जीएडी मकानों के आबंटन के लिए समिति बनाने, पेंशन वितरण, ऋण पुस्तिका सत्यापन, ई-कोर्ट में दर्ज प्रकरण, 7वीं आर्थिक गणना, समाज कल्याण विभाग से कृत्रिम अंग खरीदी, पशुपालन विभाग को चूजा वितरण, पशुओं को बधियाकरण, पशुओं के कृत्रिम गर्भाधान, जनससमया निवारण शिविर सप्ताह में कम से कम एक दिन तहसील स्तर एवं नगरीय निकायों में करने, बीसी सखी के माध्यम से पेंशन वितरण करने आदि पर चर्चा की। 

बैठक में कलेक्टर ने राज्य सरकार की पांच महत्वाकांक्षी योजनाओं पर चर्चा करते हुए सुपोषण अभियान के अंतर्गत 06 माह से 3 साल के बच्चों के लिए गर्म भोजन देने, मुख्यमंत्री हाट बाजार क्लिनिक योजना, मुख्यमंत्री शहरी स्लम स्वास्थ्य योजना, सार्वभौम पीडीएस एवं वार्ड कार्यालय योजना पर चर्चा की। बैठक में कलेक्टर ने लोक सेवा गारंटी योजना के तहत लंबित आवेदनों के निराकरण पर विशेष ध्यान देने के सख्त निर्देश दिये हैं। इसी प्रकार उन्होंने स्कूल, छात्रावास, आश्रम का निरीक्षण, कौशल विकास, न्यायाधीशों के निवास एवं न्यायालय चिरमिरी, जिला अस्पताल में संध्या ओपीडी, अस्पताल निरीक्षण, श्रम पेंशन, सुराजी शिक्षा, नशामुक्ति कार्यक्रम आदि की जानकारी प्राप्त की और संबंधितों को निर्धारित समय सीमा में पेंडिंग कार्य पूर्ण करने के निर्देश दिये। इस अवसर पर जिला पंचायत की मुख्य कार्यपालन अधिकारी तुलिका प्रजापति, सभी अनुभाग के अनुविभागीय अधिकारी राजस्व, डिप्टी कलेक्टर, सभी जनपद पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी, नगरीय निकाय के अधिकारी एवं विभिन्न विभागों के जिला स्तरीय अधिकारी उपस्थित थे।


 

Advertise, Call Now - +91 76111 07804