GLIBS
10-07-2020
तीरंदाजी सामग्री एवं उपकरण की खरीदी के लिए निर्माताओं से निविदा 17 तक आमंत्रित

रायपुर/कोण्डागांव। जिले के कार्यालय वरिष्ठ खेल अधिकारी, खेल एवं युवा कल्याण विभाग द्वारा जारी विज्ञप्ति के अनुसार कोण्डागांव विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र में प्रभारी मंत्री मद द्वारा विकास योजनांतर्गत वर्ष 2019-2020 के अनुशंसित कार्यों के स्वीकृति अनुसार तीरंदाजी सामग्रियों एवं उपकरणों का क्रय किया जाना है। इसके लिए तीरंदाजी सामग्री एवं उपकरणों के निर्माताओं से 17 जुलाई को दोपहर 3 बजे तक मुहर बंद निविदा आमंत्रित की गई है। निविदा की शर्तें, आवश्यक जानकारी एवं निर्धारित प्रारूप हेतु कार्यालयीन समय पर निर्धारित शुल्क 200 रुपए नगद जमा कर निविदा फॉर्म प्राप्त किया जा सकता है। निर्धारित समय के उपरान्त किसी भी प्रकार की निविदाओं पर विचार नहीं किया जायेगा।

06-02-2020
संसद में नरेंद्र मोदी लगातार 100 मिनट तक बोले,सीएए-एनआरसी से लेकर पं.नेहरू तक का हुआ जिक्र  

नई दिल्ली। पीएम नरेंद्र मोदी ने धन्यवाद प्रस्ताव पर लोकसभा में गुरुवार को भाषण दिया। वे करीब 100 मिनट तक लगातार बोले। मोदी अपने भाषण के दौरान सीएए,एनआरसी और बजट समेत सभी मुद्दों पर अपनी राय रखी। मोदी ने कांग्रेस पर भी निशाना साधा। इसके साथ ही उन्होंने पूर्व प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू की चिट्ठी का भी जिक्र किया। भाषण में उन्होंने कहा कि देश ने देख लिया है कि दल के लिए कौन है और देश के लिए कौन है। जब बात निकली है तो दूर तक जानी चाहिए। किसी को प्रधानमंत्री बनना था,इसलिए हिंदुस्तान में लकीर खींची गई और हिंदुस्तान का बंटवारा कर दिया गया।

उन्होंने कहा कि 5 नवंबर 1950 को इसी संसद में पं. नेहरू ने कहा था कि इसमें कोई संदेह नहीं हैं कि जो प्रभावित लोग भारत में बसने के लिए आए हैं, ये नागरिकता मिलने के अधिकारी हैं और अगर इसके लिए कानून अनुकूल नहीं हैं तो कानून में बदलाव किया जाना चाहिए। इतने दशकों के बाद भी पाकिस्तान की सोच नहीं बदली है,वहां आज भी अल्पसंख्यकों पर अत्याचार हो रहे हैं। इसका ताजा उदाहरण ननकाना साहिब में देखने को मिला। ये केवल हिंदू और सिखों के साथ नहीं बल्कि वहां जो अन्य अल्पसंख्यक हैं, उनके साथ भी यही हो रहा है।

कांग्रेस से सवाल पूछते हुए उन्होंने कहा,' पं. नेहरू इनते बड़े विचारक थे, फिर उन्होंने उस समय वहां के अल्पसंख्यकों की जगह, वहां के सारे नागरिक को समझौते में शामिल क्यों नहीं किया? जो बात हम आज बता रहे हैं, वही बात नेहरू की भी थी। क्या पंडित नेहरू कम्युनल थे?' नागरिकता कानून पर बोलते हुए पीएम मोदी ने कहा कि कांग्रेस की दिक्कत ये हैं कि वो बाते करती है, झूठे वादे करती है और दशकों तक उन वादों को टालती रहती है। आज हमारी सरकार अपने राष्ट्र निर्माताओं की भावनाओं पर चलते हुए फैसले ले रही है तो इनकों दिक्कत हो रही है। मैं फिर से इस सदन के माध्यम से बड़ी जिम्मेदारी के साथ स्पष्ट कहना चाहता हूं कि सीएए से हिंदुस्तान के किसी भी नागरिक पर कोई प्रभाव नहीं पड़ने वाला। चाहे वो मुस्लिम हो, हिंदू हो, सिख हो या अन्य किसी धर्म को मानने वाला हो।

 

Advertise, Call Now - +91 76111 07804