GLIBS
18-09-2020
सभी कारखानों में कहा, महिला व पुरुष कर्मचारी काम करते हो शौचालय की व्यवस्था करना होगा प्रबंधन को

रायपुर। अब सभी कारखानों में जहां महिला व पुरूष कर्मकार नियोजित हो वहां शौचालय की व्यवस्था होगी। राज्य शासन की ओर से छत्तीसगढ़ कारखाना नियम 1962 के नियम 46 में संशोधन किया गया है। संशोधन की अधिसूचना श्रम विभाग से मंत्रालय, महानदी भवन से जारी किया गया है। इसके अनुसार जिन कारखानों में महिला कर्मकार नियोजित हों वहां प्रत्येक 25 पच्चीस स्त्रियों के लिए कम से कम एक शौचालय की व्यवस्था अनिवार्य रूप से करना होगा। इसी प्रकार प्रत्येक 25 पुरूषों के लिए एक शौचालय की व्यवस्था करना जरूरी है । जहां पर पुरूषों की संख्या 100 से ज्यादा हो तो वहां प्रथम 100 तक प्रति 25 पुरूषों के लिए एक शौचालय और पश्चात प्रति 50 पुरूषों के लिए एक शौचालय की व्यवस्था करना होगा। महिला शौचालयों में भारतीय मानकों के अनुरूप पर्याप्त मात्रा में सैनेटरी नैपकिन उपल्ब्ध कराना होगा और दैनिक आधार पर फिर से उसकी आपूर्ति करना होगा। उपयोग किए गए नेपकिन का निपटारा निरिक्षक से अनुमोदित प्रक्रिया के अनुसार किया जाएगा। शौचालय में डिस्पोजेबल डिब्बे ढक्कन के साथ रखना होगा।

 

17-09-2020
महिला आईएएस अधिकारी जिनेविवा किण्डो को बनाया गया आयुक्त सरगुजा संभाग,आदेश जारी

रायपुर। भूपेश सरकार ने 2004 बैच की भारतीय प्रशासनिक सेवा की महिला अधिकारी जिनेविवा किण्डो को आयुक्त सरगुजा संभाग, अंबिकापुर के पद पर पदस्थ किया है। इससे पहले अपर आयुक्त सरगुजा संभाग की जिम्मेदारी संभाल रही थीं। आईएएस जिनेविवा किण्डो के पदभार ग्रहण करते ही बिलासपुर संभाग आयुक्त व अतिरिक्त प्रभार सरगुजा संभाग आईएएस संजय अलंग अतिरिक्त प्रभार से मुक्त होंगे। इस संबंध मेें छत्तीसगढ़ शासन सामान्य प्रशासन विभाग के सचिव डॉ. कमलप्रीत सिंह ने आदेश जारी किया है। 

15-09-2020
महिला कांग्रेस ने मनाया 37वां स्थापना दिवस,रायपुर सहित सभी जिलों में हुए विविध कार्यक्रम 

रायपुर। महिला कांग्रेस ने मंगलवार को 37वां स्थापना दिवस मनाया। गांधी मैदान कांग्रेस भवन में महिला कांग्रेस राष्ट्रीय अध्यक्ष सुष्मिता देव के निर्देशानुसार प्रत्येक जिले के कार्यालयों में महिला कांग्रेस का झंडा फहराया गया। प्रदेश महिला कांग्रेस अध्यक्ष फूलोदेवी नेताम ने कहा है कि, महिला कांग्रेस को झंडा देकर राहुल गांधी व महिला कांग्रेस राष्ट्रीय अध्यक्ष सुष्मिता देव ने अलग पहचान दी है। जिस तरह देश में राहुल गांधी ने महिलाओं के सशक्तिकरण के लिए देशव्यापी मुहिम छेड़ी है। उससे महिलाओं का कांग्रेस के प्रति विश्वास बढ़ा है। महिला कांग्रेस का दो दिवसीय राष्ट्रीय अधिवेशन बंगलोर में 15 से 16 सितंबर 1983 में हुआ था। इसका उद्घाटन स्व.इंदिरा गांधी ने किया था। समापन स्व.राजीव गांधी के उद्बोधन से हुआ था। इसमें एक नए संविधान को अपनाते हुए महिला कांग्रेस सेल को स्वायत्ता दे कर आल इंडिया महिला कांग्रेस नाम दिया गया। आल इंडिया महिला कांग्रेस,एआईसीसी के अंतर्गत एआईसीसी अध्यक्ष की अनुमति से 15 सितंबर 1983 से स्वतंत्र कार्य करने लगी। रायपुर में प्रभारी शकुन्तला डहरिया के उपस्थिति में शहर जिला अध्यक्ष आशा चौहान महिला कांग्रेस ने  मुख्यालय कांग्रेस भवन गांधी मैदान में महिला कांग्रेस का झंडा फहराया। महिला कांग्रेस के 37वें स्थापना दिवस के मौंके पर 1 हजार मास्क का वितरण किया गया। कार्यक्रम में  शकुंतला डेहरिया पीसीसी कार्यकारिणी सदस्य प्रभारी छत्तीसगढ़ महिला कांग्रेस, आशा चौहान अध्यक्ष शहर जिला महिला कांग्रेस, ममता राय, कल्पना सागर, गंगा यादव, कविता बघेल, सायरा खान,अपर्णा फ्रांसिस,राहत परवीन,शेरीन बेगम, नंदा मानिकपुरी, सुषमा यादव,
सुषमा ध्रुव, शिल्पी राय, हेमलता साहू  आदि महिलाएं उपस्थित थीं।

14-09-2020
हाथकरघा संघ ने 486 महिला समूहों को दिया गणवेश तैयार करने का जिम्मा, 5832 महिलाओं को मिल रहा रोजगार

रायपुर। छत्तीसगढ़ राज्य हाथकरघा विकास एवं विपणन सहकारी संघ मर्यादित रायपुर द्वारा गणवेश सिलाई के कार्य में छत्तीसगढ़ के लोगों को ही प्राथमिकता से कार्य दिया जा रहा है। गणवेश सिलाई के इस कार्य में अन्य प्रदेश के लोग शामिल नहीं हैं। छत्तीसगढ़ राज्य हाथकरघा विकास एवं विपणन सहकारी संघ मर्यादित रायपुर के प्रबंध संचालक राजेश सिंह राणा ने बताया कि ग्रामोद्योग विभाग के अंतर्गत छत्तीसगढ़ राज्य हाथकरघा विकास एवं विपणन सहकारी संघ मर्यादित रायपुर द्वारा कोरोना संक्रमण के बावजूद प्रदेश के 486 महिला स्व-सहायता समूह को गणवेश सिलाई के माध्यम से 5832 महिलाओं को रोजगार उपलब्ध करा रही है। महिला स्व-सहायता समूह को समय-सीमा में गणवेश आपूर्ति करने के लिए फरवरी 2020 से ही गणवेश सिलाई का कार्य चालू किया गया था। कोरोना संक्रमण के कारण महिला स्व-सहायता समूह द्वारा गणवेश सिलाई में विलंब हुआ। संघ कार्यालय द्वारा प्रदेश के महिला स्व-सहायता समूह जो संघ के निर्धारित मापदण्ड के अनुसार 486 महिला स्व-सहायता समूह को गणवेश सिलाई का कार्य आदेश दिया है एवं उन्हीं महिला स्व-सहायता समूह को सिलाई के विरूद्ध आर.टी.जी.एस. के माध्यम से सिलाई पारिश्रमिक भुगतान किया गया है।

महिला स्व-सहायता समूह के सिलाई क्षमता, कुशलता, दक्षता के आधार पर गणवेश सिलाई का कार्य संघ द्वारा दिया जाता है। प्रबंध संचालक राणा ने बताया कि विगत दिनों एक दैनिक समाचार पत्र में ‘हाथकरघा में गड़बड़ झाला स्कूलों ड्रेस का काम बंगाल के कारीगरों को सौंपा‘ शीर्षक से प्रकाशित समाचार अनुसार माधुरी यदु, क्षीरसागर महिला स्व-सहायता समूह द्वारा काम देने के एवज में पैसे की मांग की जा रही है एवं माह फरवरी से काम दिया गया था। उसके बाद अचानक काम देना बंद कर दिया गया, का प्रकाशन हुआ था। इस प्रकाशित समाचार के संबंध में उन्होंने जानकारी देते हुए कहा कि छत्तीसगढ़ राज्य हाथकरघा संघ रायपुर द्वारा विगत कई वर्षों से महिला स्व-सहायता समूह के माध्यम से गणवेश सिलाई कर स्कूल शिक्षा विभाग एवं राजीव गांधी शिक्षा मिशन को आपूर्ति की जाती है। राणा ने बताया कि महिला स्व-सहायता समूह द्वारा समूह के महिलाओं को असुविधा से बचाने के लिए कार्यालय से सिलाई कार्य आदेश तैयार कर संघ के भनपुरी गोदाम से वस्त्र प्रदाय किया जाता है। जिसमें अभी तक किसी भी प्रकार की शिकायत प्राप्त नहीं हुई है। संघ द्वारा पंजीयन सहकारी संस्थाएं फर्म्स से पंजीकृत एवं हाथकरघा संघ से संबद्ध स्व-सहायता समूहों को ही गणवेश सिलाई हेतु वस्त्र प्रदाय किया जाता है। बंगाली कारीगरों अथवा अन्य राज्य के बाहरी कारीगरों को आज तक नहीं दिया गया है। क्षीर सागर महिला स्व-सहायता समूह रायपुर को इस वर्ष 28 हजार गणवेश सेट का सिलाई आदेश दिया जा चुका है जो कि अन्य महिला स्व-सहायता समूहों के कार्य आदेश से सर्वाधिक है। साथ ही उक्त समूह को विगत एक सितंबर 2020 को ही गणवेश सिलाई का भी कार्य आदेश दिया गया है।

 

 

14-09-2020
महिला ने साक्षरता केन्द्र के माध्यम से खुद को बनाया डिजिटल साक्षर

कोरिया। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की पहल पर संचालित मुख्यमंत्री शहरी कार्यात्मक साक्षरता कार्यक्रम से शिक्षार्थियों में नई आशा का संचार हुआ। पहले जिन्हें स्मार्ट फोन व कम्प्यूटर चलाने में परेशानी हो रही थी, अब वे कार्यक्रम से जुड़ कर डिजिटल उपकरणों से वाकिफ हो रहे हैं। ई-साक्षरता केन्द्र मनेन्द्रगढ़ से प्रशिक्षित शिक्षार्थी रतना गुप्ता ने बताया कि केन्द्र के द्वारा उसे सोशल मीड़िया और डिजिटल क्षेत्र की जानकारी के साथ साथ रोजमर्रा के जीवन की उपयोगी तमाम जानकारियां प्राप्त हो सकी है। रतना गुप्ता ने बताया कि वे अपने बच्चों औैर पड़ोस की महिलाओं को मोबाइल से फोटो भेजते हुए देखती थी तब उन्हें लगता था कि इसे वह भी सीख लेती तो अच्छा होता पर झिझक महसूस होती थी। केन्द्र के ई-एजूकेटर ने उन्हें प्रोत्साहित कर डिजिटल साक्षरता प्रदान किया। रतना गुप्ता ने बताया कि उन्होंने सबसे पहले गैस बुकिंग करना सीखा, इसमें उसे दो दिन लगे। घर से पहली बार जब गैस बुकिंग किया, तो मेरी बेटियों को भी बहुत आश्चर्य हुआ था। इसके बाद टेªन का स्टेटस देखना व आॅन लाईन जानकारी प्राप्त करना सीखा। इस प्रकार अब उन्होंने ई-साक्षरता केन्द्र के माध्यम से बनाया खुद को डिजिटल साक्षर बना लिया है।

 

13-09-2020
कार की चपेट में आने से बाइक सवार महिला की मौत, चालक घायल

रायपुर। तेज रफ्तार कार की चपेट में आने से बाइक सवार महिला की मौत हो जाने का मामला सामने आया है। वहीं चालक घायल हो गया। घटना की रिपोर्ट पर पुलिस ने कार चालक के खिलाफ 279,337,304 ए के तहत अपराध कायम कर मामला दर्ज कर लिया है। पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक वार्ड 24 बजंरग नगर निवासी अश्वनी साहू ने रिपोर्ट दर्ज कराई है कि प्रार्थी बीते दिन शाम 7 बजे ग्राम करघट से बीरगांव जा रहा था। उसके साथ गायत्री बंजारे आयु 38 वर्ष पीछे सवार थी। तभी धरसींवा बाय पास एनएच 30 पर पीछे से कार क्रमांक सीजी- 22- 3710 का चालक अपनी कार को तेज रफ्तार से लापरवाहीपूर्वक चलाते हुए ठोकर मार दिया। इसके बाद 108 एम्बुलेंस से प्रार्थी और गायत्री बंजारे को धरसींवा अस्पताल इलाज के लिए ले जाने पर डॉक्टरों ने गायत्री को मृत घोषित कर दिया। सा​थ ही पीड़ित को इलाज कि लिए रायपुर रिफर कर दिया।

10-09-2020
बच्चों,महिलाओं को सुपोषण चौपाल में बताया जा रहा पौष्टिक आहार का महत्व

कोरबा। बच्चे, गर्भवती तथा शिशुवती महिलाओं को कुपोषण से निजात दिलाने के लिए राज्य शासन द्वारा नए-नए प्रयास किए जा रहे हैं। 7 सितंबर से शुरू हुआ राष्ट्रीय पोषण माह के दौरान महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा विभिन्न गतिविधियां आयोजित की जा रही है। सुपोषण के बारे में जागरूकता लाने के लिए चित्रकारी, स्लोगन तथा रंगोली द्वारा संदेश दिया जा रहा है। गांवों में सुपोषण चौपाल का भी आयोजन किया जा रहा है। सुपोषण चौपाल में पौष्टिक आहार से संबंधित जानकारियां भी दी जा रही है। सुपोषण से संबंधित इन रचनात्मक गतिविधियों के द्वारा महिलाओं तथा बच्चों मे सुपोषण के बारे मे जागरूकता आ रही है। कोरोना महामारी के इस दौर मे कोविड प्रोटोकाॅल का पालन करते हुए सभी गतिविधियां सम्पन्न की जा रही है। सुपोषण के बारे मे जागरूकता लाने तथा बच्चों, महिलाओं को कुपोषण से बचाने के लिए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल द्वारा विशेष निर्देश दिया गया है। आंगनबाड़ी केन्द्रों में चित्रकारी, सुपोषण से संबंधित स्लोगन तथा रचनात्मक चित्रकारी को बच्चों के साथ बड़े भी रूचि लेकर सुपोषण का महत्व समझ रहे हैं। बच्चों तथा महिलाओं को कुपोषण से मुक्ति दिलाने आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं द्वारा घर-घर जाकर पौष्टिक आहार का वितरण किया जा रहा है। आहार वितरण के साथ-साथ सुपोषण के प्रति जागरूकता लाने के लिए विविध गतिविधियां भी आयोजित की जा रही है। जिले के विभिन्न आंगनबाड़ी केन्द्रों में कार्यकर्ताओ एवं समूहों की महिलाओं द्वारा केन्द्रों और अपने घरोें में पोषण अभियान संबंधी आकर्षक रंगोली तथा चित्रकारी बनाई जा रही है।

 

07-09-2020
 महिला को ब्लैकमेल करने वाला आरोपी गिरफ्तार, खींचा था मोबाइल से फोटो

कोरबा। रक्षाबंधन के मौके पर मायके आई नवविवाहिता के साथ सेल्फी लेकर ब्लेकमेलिंग करनेवाला आरोपी पुलिस के हत्थे चढ़ा गया। 18 जुलाई को पीड़िता अपने मायके में रक्षाबंधन मनाने आई थी और वही रह रही है। पीड़िता के जन्मदिन पर आरोपी ने पीड़िता के साथ जबरदस्ती सेल्फी ले लिया था। आरोपी पीड़िता को अकेली पाकर छेड़छाड़ किया करता था। मना करने पर आरोपी खींचा गया फोटो को उसके पति को भेजने की एवं पीड़िता के माता पिता को जान से मारने धमकी देता था। पीड़िता ने इसकी रिपोर्ट दर्री थाना में दर्ज कराई। आरोपी के खिलाफ धारा 354, 509 (ख) भादवि कायम कर विवेचना में लिया गया। जांच के दौरान आरोपी रिजवान खान उम्र 25 वर्ष के खिलाफ अपराध सिद्ध पाये जाने पर गिरफ्तार कर न्यायिक रिमाण्ड पर भेज दिया गया है।

 

07-09-2020
2463 आंगनबाड़ी केंद्रों को फिर से किया गया शुरू,शिशु और गर्भवती महिलाओं को दिया जा रहा गर्म भोजन

अंबिकापुर। राज्य शासन की मंशानुसार कोरोना काल में शिशु और गर्भवती महिलाओं को आंगनबाड़ी केंद्रों में पोषण आहार प्रदान कर कुपोषण दूर करने के लिए सरगुजा जिले में संचालित 2463 आंगनबाड़ी केंद्रों को फिर से प्रारंभ कर दिया गया है। सरगुजा कलेक्टर संजीव झा की मॉनिटरिंग में आंगनबाड़ी केंद्र के बच्चों तथा गर्भवती महिलाओं को पोषण आहार एवं गरम भोजन दिया जा रहा है। सभी आंगनबाड़ी केंद्रों की साफ सफाई, सैनिटाइजेशन, बर्तनों की सफाई के लिए आवश्यक निर्देश भी दिए गए है। साथ ही आंगनबाड़ी केंद्रों में आने वाले बच्चों तथा महिलाओं को कोविड संक्रमण से बचाव के लिए निर्धारित निर्देशों का अनुपालन करवाया जा रहा है। इसके लिए आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को प्रशिक्षण भी दिया गया है। महिला बाल के कार्यक्रम अधिकारी ने बताया कि शहर 125 के केंद्रों में इसका संचालन नहीं किया जा रहा है। इसकी वजह यह है की अधिकतर इलाकों में कंटेनमेंट जोन घोषित कर दिया गया है,जिसकी वजह से शिशु और गर्भवती महिलाओं को गर्म भोजन देने में परेशानी आ रही है।

 

 

06-09-2020
महिला गार्ड को चाकू दिखाकर छेड़छाड़ करने वाले चार आरोपियों को पुलिस ने किया गिरफ्तार 

रायपुर। शहर के माना कैंप थाना क्षेत्र के एक्सप्रेस वे फुंडहर चौक के पास दो दिन पहले रात में एक्टिवा सवार महिला गार्ड को चाकू की नोंक पर धमकाते हुए छेड़छाड़ करने वाले चार बदमाशों को पुलिस ने शनिवार को गिरफ्तार कर लिया। शुक्रवार को सब्जी मार्केट के सेल्समैन का पैसा भी इन लोगों ने चुराकर बंटवारा कर लिया था। माना पुलिस थाना पुलिस ने बताया कि 3 सितम्बर की रात महिला एक्टिवा से गार्ड की ड्यूटी करने फुंडहर होते हुए थोक सब्जी मंडी डूमरतराई जा रही थी। एक्सप्रेस वे फुंडहर चौक के पास चार बदमाशों ने उसे रोकने की कोशिश की लेकिन महिला नहीं रुकी तो उसका पीछाकर सब्जी मंडी रोड में एक्टिवा के सामने अपनी बाइक अड़ा दी। फिर चाकू दिखाकर महिला गार्ड से छेड़छाड़ करने लगे। किसी तरह वह बचकर वहां से निकली। शिकायत पर पुलिस ने छेड़छाड़ का केस दर्ज किया था। दूसरे दिन इन बदमाशों ने सतनामीपारा, डूमरतराई निवासी थोक सब्जी मार्केट शेख अब्दुल्ला के दुकान में सेल्स मैन का काम करने वाले शेखर मारकंडेय की जेब से 13 हजार रुपये उड़ा लिया था। पुलिस ने जांच के दौरान भैरवनगर, संतोषीनगर, टिकरापारा के मनीष यादव, लक्ष‌मीनगर के आशीष पाल, दुर्गापारा, संतोषीनगर के जनक साहू उर्फ गब्बर और माना कैंप निवासी शेखर मिस्त्री को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया।

04-09-2020
हत्या की गुत्थी सुलझी, महिला का झाड़ियों में नग्नावस्था में मिला था शव

कोरबा। नीलगिरी के जंगल में महिला की नग्न हालत में मिली रक्तरंजित लाश मिलने की गुत्थी पुलिस ने सुलझा ली हैं। पुलिस ने बताया कि अवैध संबंध बनाने से मना करने पर महिला की हत्या की गई थी। दर्री थाना क्षेत्र अंतर्गत दर्री बस्ती के पीछे नीलगिरी के जंगल में स्थित झाड़ियों में दो दिन पहले एक अधेड़ महिला का शव नग्नावस्था में मिला था। इसकी जानकारी महिला का सौतेले पुत्र ने दर्री पुलिस को दी थी।पुलिस ने इस मामले में दर्री बस्ती में रहने वाले समीर कुमार हिंडोरे को पकड़ कर पूछताछ की।

कड़ाई से पूछताछ करने पर उसने पुलिस को बताया कि नशे की अवस्था में वह अधेड़ महिला से संबंध बनाने की कोशिश कर रहा था। इस दौरान महिला ने विरोध किया,जिसके बाद उसने सीमेंट के पिलहर से उसके सिर पर वार कर हत्या कर दी और शव को झाड़ी में फेंक दिया।घटना में आरोपी के विरूद्ध पर्याप्त साक्ष्य पाए जाने पर आरोपी समीर कुमार हिंडोरे उम्र  24 वर्ष को गिरफ्तार कर न्यायिक रिमांड पर भेजा गया।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804