GLIBS
14-04-2021
विधि संहिता देनेवाले डॉ.अंबेडकर का देश रहेगा सदैव ऋणी :प्रीतेश गांधी

धमतरी। डॉ.भीमराव अंबेडकर की 130वीं जयंती पर प्रदेश भाजपा के विशेष आमंत्रित सदस्य प्रीतेश गांधी और प्रियंका सिन्हा ने डॉ.बाबा साहब अंबेडकर के छायाचित्र में पुष्पांजलि अर्पित की। प्रीतेश गांधी ने कहा कि डॉ.भीमराव अंबेडकर का पूरा देश सदैव ऋणी रहेगा। उन्होंने कहा कि डॉ.अम्बेडकर आधुनिक भारत के विधि वेत्ता, समाजसुधारक थे। सामाजिक भेदभाव व विषमता का पग-पग पर सामना करते हुए अन्त तक वे झुके नहीं। अपने अध्ययन, परिश्रम के बल पर उन्होंने सभी को समानता का सम्मान दिया और भारत का आधुनिक मानव की उपाधि अर्जित की। डॉ.अम्बेडकर ने कठिनाइयों कि बीच परिश्रम करके महानता अर्जित की। प्रियंका सिन्हा ने कहा कि बाबा साहब ने विश्व के सबसे बड़े लोकतांत्रिक देश का संविधान निर्माण में अतुलनीय योगदान दिया। उन्होंने एक ऐसे समावेशी संविधान का निर्माण किया,जो आज हमें कई अधिकार प्रदत्त कर रहा है। सामाजिक कुरूतियों को दूर करने व बंधुत्व एवं एकता का संदेश पूरे विश्व में प्रसारित करने के लिए वे सदैव स्मरणीय रहेंगे।

 

23-03-2021
पर्यटन स्थलों में बिखरे पड़ी खाली बोतल से समृद्ध होंगे पर्यटन समूहों के सदस्य

जगदलपुर। बस्तर के सुरम्य प्राकृतिक सुंदरता से भरपूर पर्यटन स्थल पर्यटकों की अधिक आवाजाही से गुलजार तो हो रहे हैं,लेकिन पर्यटकों द्वारा इन पर्यटन स्थलों में फैलाई जाने वाली गंदगी भी एक चुनौती बनकर उभर रही है। बस्तर जिला प्रशासन ने जिले की इन प्राकृतिक धरोहरों को सुंदर बनाए रखने के लिए ऐसा कदम उठाया है कि पर्यटकों द्वारा फैलाई जाने वाली इन कचरे से भी पर्यटन समूहों के सदस्यों के लिए समृद्धि की नई राह खुले। दरअसल बस्तर जिला प्रशासन द्वारा इन प्राकृतिक सुंदरता से भरपूर अपने पर्यटन स्थलों के व्यापक प्रचार-प्रसार के कारण यहां की सुंदरता को निहारने वाले पर्यटकों की आवाजाही पिछले कुछ समय से काफी बढ़ गई है। इन पर्यटकों द्वारा बड़ी मात्रा में पानी एवं कोल्ड ड्रिंक्स का उपयोग किया जाता है और जाते समय इन खाली बोतलों को वहीं पर्यटन स्थलों में ही फेंक दिया जाता है। यहाँ-वहाँ फैले अनेकों प्रकार की बोतल पर्यटन स्थल की खूबसूरती को फीका कर देती है। इन प्राकृतिक धरोहरों की सुंदरता कम न हो, इसके लिए जरुरी है कि लगातार इन कचरों के प्रबंधन का काम किया जाए। कचरों के प्रबंधन से पर्यटन समितियों के सदस्यों को अतिरिक्त आय हो, इसके लिए बस्तर जिला प्रशासन द्वारा चित्रकुट और तीरथगढ़ के पर्यटन समूहों को बोतल आर्ट एक्सपर्ट मनीषा रंगारी के माध्यम से बोतल कला का प्रशिक्षण दिया गया और पानी और शीतल पेय के बोतलों को खूबसूरत रूप देना सिखाया गया। इन खूबसूरत बोतलों का उपयोग पौधे लगाने, पेन स्टैंड, नाइट लैंप, फ्लावर पॉट, गमले आदि के तौर पर किया जा सकता है। जल्द ही बोतल कला से निर्मित बोतलों को पर्यटकों के समक्ष बिक्री हेतु उपलब्ध करवाया जाएगा,जिनकी कीमत तीस रुपये से पाँच सौ रुपये होगी। बोतल आर्ट की ऑनलाइन डिमांड बहुत अधिक है और इनकी कीमत भी अच्छी है। बस्तर जिला प्रशासन के इस कदम से पर्यटन समिति के सदस्यों को आमदनी का एक नया जरिया मिलेगा वहीं दूसरी ओर पर्यटन स्थल पर कचरे का प्रबंध भी होगा। जल्द ही अन्य पर्यटन स्थलों में भी बोतल आर्ट कार्यशाला का आयोजन किया जाएगा।

 

13-03-2021
फांसी पर लटके मिले एक ही परिवार के 5 सदस्य, इलाके में हड़कंप

पटना। एक ही परिवार के 5 लोगों के फांसी लगाकर आत्महत्या ​करने का मामला सामने आया है। इससे इलाके में हड़कंप मच गया है। मामला बिहार के सुपौल के राघोपुर थाना क्षेत्र का है। बताया जा रहा है कि घटना शुक्रवार देर रात की है। मिली जानकारी मुताबिक राघोपुर पंचायत के गद्दी वार्ड 12 के मिश्री लाल साह (50) के घर गंध आने पर ग्रामीणों ने इसकी सूचना मुखिया मो तस्लीम को दी। इसके बाद मुखिया सहित अन्य लोग घर कर बाहर के दरवाजे पर लगे ताले को तोड़कर अंदर घुसे। घर का एक कमरा भीतर से बंद था। लोगों ने खिड़की से देखा तो पांच लोगों का शव रस्सी के फंदे से लटक रहे थे। मृतकों में मिश्री लाल साह उनकी पत्नी रेणु देवी (45) ,उनकी दो नाबालिग बेटी और एक बेटा शामिल है। लोगों ने मामले की जानकारी पुलिस को दी। सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और घटनास्थल का जायजा लिया। पुलिस प्रथमदृष्टया इसे सामूहिक आत्महत्या का मामला मान रही है। हालांकि अब तक कारणों का पता नहीं चल पाया है। फोरेंसिंक टीम भी घटनास्थल पर पहुंचने वाली है। पुलिस के मुताबिक घटना खुदकुशी है या कुछ और ये जांच और फोरेंसिक रिपोर्ट आने के बाद ही कुछ कहा जा सकता है।

12-03-2021
15 से 19 मार्च तक बस्तर क्षेत्र के गौठान समितियों के सदस्य करेंगे मध्य क्षेत्र के गौठानों का भ्रमण

रायपुर। बस्तर संभाग के सभी सात जिलों के गौठान समितियों के सदस्यों को मध्य क्षेत्र में गोधन न्याय योजना के तहत संचालित गौठानों का भ्रमण कराने के लिए 15 से 19 मार्च तक कार्यक्रम तैयार किया गया है। गौठान समिति के सदस्यों को कृषि गतिविधियों में नवाचार अपनाने, गोधन न्याय योजना को बेहतर ढंग से समझाने तथा उन्नत कृषि को अपनाने के लिए प्रेरित किया जाना है। राज्य सरकार की महत्वाकांक्षी सुराजी गांव योजना नरवा, गरूवा, घुरवा, बाड़ी का संरक्षण एवं संवर्धन किया जा रहा है। इस योजना के तहत गौठानों में गोधन न्याय योजना के अंतर्गत गौठान समितियों के माध्यम से गोबर क्रय कर गोबर से वर्मी कम्पोस्ट एवं अन्य उत्पाद तैयार किया जा रहा है। इस योजना से जैविक खेती का बढ़ावा, ग्रामीण एवं शहरी स्तर पर रोजगार के नए अवसर गौपालन एवं गौ सुरक्षा का प्रोत्साहन के साथ ही पशुपालकों, महिला स्व-सहायता समूहों को स्वावलंबी बनाया जा रहा है। बस्तर क्षेत्र में पशुओं को खुला रखने की परंपरा है, फलस्वरूप बस्तर क्षेत्र के ग्रामीणों द्वारा गौठान निर्माण एवं गौठान संचालित नहीं किए जाते हैं। गौठानों से प्राप्त होने वाले लाभ को बस्तर क्षेत्र के ग्रामीणों तक पहुंचाने के लिए गौठान भ्रमण कार्यक्रम तैयार किया गया है, ताकि बस्तर क्षेत्र के गौठान समितियों के सदस्यों को मध्य क्षेत्र में गोधन न्याय योजना के तहत संचालित गौठानों को सफलतापूर्वक निर्वहन किए जा रहे कार्याें के अवलोकन और भ्रमण से प्रेरित होकर उनकी तकनीकों को अपना सकें। गौठान भ्रमण कार्यक्रम के तहत गौठान समितियों के 25-25 सदस्यों को अलग-अलग तिथियों में भ्रमण कराने का प्रस्ताव तैयार किया गया है। इसके तहत कांकेर जिले के सदस्य 15 मार्च को महासमुन्द और 16 मार्च को रायपुर जिले का भ्रमण करेंगे। जगदलपुर जिले के सदस्य 17 मार्च को, कांकेर एवं धमतरी तथा 18 मार्च रायपुर जिले के भ्रमण करेंगे। कोण्डागांव जिले के सदस्य 16 मार्च को धमतरी और 17 मार्च को दुर्ग जिले का भ्रमण करेंगे। दंतेवाड़ जिले के सदस्य 17 मार्च को रायपुर और 18 मार्च को दुर्ग जिले का भ्रमण करेंगे। बीजापुर जिले के सदस्य 17 मार्च को कांकेर और 18 मार्च को रायपुर जिले का भ्रमण करेंगे। सुकमा जिले के सदस्य 15 मार्च को कांकेर और 16 मार्च को दुर्ग जिले का भ्रमण करेंगे। नारायणपुर जिले के सदस्य 18 मार्च को दुर्ग और 19 मार्च को रायपुर जिले का भ्रमण करेंगे। भ्रमण करने वाले सदस्यों के रात्रि विश्राम, भोजन तथा उनके मार्गदर्शन के लिए सभी जिलों में भ्रमण प्रभारी नियुक्त किए गए हैं।

23-02-2021
छग विस बजट सत्र : मुख्यमंत्री सहित सदस्यों ने सदन में दिवंगत नेताओं को दी श्रद्धांजलि 

रायपुर। छत्तीसगढ़ विधानसभा के बजट सत्र के दूसरे दिन सदन में दिवंगत नेताओं को श्रद्धांजलि दी गई। विधानसभा अध्यक्ष डॉ. चरणदास महंत, मुख्यमंत्री भूपेश बघेल सहित सदस्यों ने दुख व्यक्त किया। दिवंगत पूर्व संसदीय सचिव ओम प्रकाश राठिया, अविभाजित मध्यप्रदेश के पूर्व राज्यमंत्री भानुप्रताप गुप्ता, अविभाजित मध्यप्रदेश के पूर्व संसदीय सचिव लक्ष्मण राम, पूर्व विधायक रोशनलाल को श्रद्धांजलि अर्पित कर आत्मा को शांति प्रदान करने ईश्वर से प्रार्थना की गई। सोमवार को राज्यापाल के अभिभाषण के साथ छत्तीसगढ़ विधानसभा के बजट सत्र की शुरुआत हुई थी। अभिभाषण के बाद सदन की कार्यवाही मंगलवार तक के लिए स्थगित की गई थी।

21-02-2021
मंदिर में शेड निर्माण के लिए संसदीय सचिव विकास उपाध्याय से समिति के सदस्यों ने किया आवेदन

रायपुर। राजधानी के पश्चिम विधानसभा के विधायक और संसदीय सचिव विकास उपाध्याय अपने कार्यक्षेत्र में हमेशा सक्रीय रहते हैं। पिछले दिनों उन्होंने शहिेद चुड़ामणी नायक वार्ड क्रमांक 38 में भजन मण्डली को वाद्ययंत्र दिया था। इसी कड़ी में शहिद चुड़ामणी नायक वार्ड क्रमांक 38 के आमापारा बजरंग नगर के शनिदेव मंदिर में शेड निर्माण के लिए मंदिर समिति के सदस्यों ने विधायक विकास उपाध्याय से आवेदन किया है। इसमें उपाध्याय ने कार्य करने का आश्वासन भी दिया। आवेदन देने के लिए मंदिर समिति के अध्यक्ष, विरू साहम, लक्ष्मीनारायण यादव सहित समिति के अन्य सदस्य उपाध्याय के निवास में गए थे।

28-01-2021
आईएमए रायपुर कार्यकारिणी के सभी सदस्यों ने लगवाया कोरोना का टीका

रायपुर। इंडियन मेडिकल एसोसिएशन रायपुर कार्यकारिणी के सभी सदस्यों ने गुरुवार को कोरोना का टीका लगवाया। आईएमए रायपुर अध्यक्ष डॉ.विकास अग्रवाल के नेतृत्व में सभी कार्यकारिणी अध्यक्ष पंडित जवाहरलाल नेहरू चिकित्सा महाविद्यालय पहुंचे। यहां टीकाकरण केंद्र में कोविड-19 का पहला टीका लगवाया। कोविड-वैक्सीनेशन के लिए इंडियन मेडिकल एसोसिएशन रायपुर की एग्जीक्यूटिव बॉडी के सभी मेंबर दोपहर 3 बजे मेडिकल कॉलेज पहुंचे थे। उल्लेखनीय है कि इंडियन मेडिकल एसोसिएशन ने राष्ट्रीय स्तर पर कोविड वैक्सीनेशन कार्यक्रम को समर्थन देने अपने साढ़े तीन लाख सदस्यों  और 1800  इकाइयों से आग्रह किया था। इंडियन मेडिकल एसोसिएशन के राष्ट्रीय पदाधिकारियों ने वैक्सीनेशन कार्यक्रम में उपयोग की जा रही वैक्सीन को सुरक्षित और सफल बताया था। उन्होंने  सभी डॉक्टर्स, नर्स, पैरामेडिकल स्टॉफ, आशा वर्कर्स, आंगनवाड़ी वर्कर्स, सहयोगी स्टाफ और एंबुलेंस टीम के सदस्यों से आकर टीका लगवाने की अपील की थी।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804