GLIBS
05-03-2021
Breaking : अमरावती महानगर पालिका में 80 कर्मचारी कोरोना पॉजिटिव, 5 की मौत

मुंबई/रायपुर। अमरावती में कोरोना वायरस का कहर एक बार फिर तेजी से बढ़ रहा है। अमरावती महानगर पालिका में काम करने वाले 80 कर्मचारी कोरोना पॉजिटिव मिले हैं। साथ ही 5 कर्मचारियों को कोरोना वायरस के संक्रमण से मौत हो चुकी है। बता दें कि कोरोना वायरस पॉजिटिव पाए गए अमरावती महानगर पालिका के कर्मचारियों में डॉक्टर और इंजीनियर समेत तमाम पदों पर काम करने वाले लोग शामिल हैं। विदित हो कि अमरावती महानगर पालिका में काम करने वाले कुल कर्मचारियों की संख्या 3 हजार है। इसके अलावा प्राइवेट तौर पर काम करने के लिए भी कर्मचारी रखे गए हैं।

 

03-03-2021
देश में बीते दिन मिले 15000 मरीज, सक्रिय मामलों में फिर उछाल

नई दिल्ली/रायपुर। देश में पिछले 24 घंटे में कोरोना वायरस से संक्रमण के 14,989 नए मामले सामने आए और 98 मरीजों ने इसकी वजह से दम तोड़ा। इसी के साथ देश में कुल संक्रमितों की संख्या 1,11,39,516 हो गई है। इनमें से 1,57,346 लोगों को इस वायरस के कारण अपनी जान गंवानी पड़ी है। सक्रिय मामलों की संख्या बढ़कर 1,70,126 हो गई है। एक दिन की गिरावट के बाद सक्रिय मामले फिर बढ़े हैं। बीते दिन ठीक हुए 13,000 से अधिक मरीज कोरोना वायरस के संक्रमण को हराकर ठीक होने वालों की बात करें तो पिछले 24 घंटे में देशभर में 13,123 मरीज ठीक हुए।

इसी के साथ महामारी को हराकर ठीक होने वाले मरीजों की कुल संख्या 1,08,12,044 हो गई है। देश की रिकवरी रेट 97.07 प्रतिशत है। इसके अलावा पिछले 24 घंटे में देशभर में 7,85,220 टेस्ट किए गए। महामारी की शुरुआत से अब तक देश में लगभग 21.84 करोड़ कोरोना वायरस टेस्ट किए जा चुके हैं। अगर सबसे अधिक प्रभावित राज्यों पर नजर डालें तो महाराष्ट्र में अब तक 21,69,330 लोगों को संक्रमित पाया जा चुका है और 52,238 लोगों की मौत हुई है। दूसरे सर्वाधिक प्रभावित राज्य केरल में अब तक 10,64,279 लोगों को संक्रमित पाया गया है और 4,226 मौतें हुई हैं। 9,52,037 मामलों और 12,343 मौतों के साथ कर्नाटक और 8,90,080 मामलों और 7,169 मौतों के साथ आंध्र प्रदेश अगले दो सबसे अधिक प्रभावित राज्य हैं।

01-03-2021
दूसरे चरण का टीकाकरण अभियान शुरू, 60 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों को लगा टीका

जगदलपुर। कोरोना वायरस से बचाव के लिए दूसरे चरण का टीकाकरण अभियान 1 मार्च से शुरू हो गया है। बस्तर जिले में 60 वर्ष से अधिक उम्र के नागरिकों को चिहांकित कर जगदलपुर शहर के कुम्हारपारा स्थित जिला आयुर्वेदिक अस्पताल में सुबह 9 बजे से टीकाकरण प्रारंभ किया गया। पहला टीका पं. सुन्दरलाल शर्मा वार्ड निवासी कृष्णकांत द्विवेदी को लगाया गया। टीकाकरण से पूर्व कृष्णकांत की पंजीयन प्रक्रिया पूरी की गई और टीकाकरण के बाद उन्हें आब्जर्वेशन में भी रखा गया। अस्पताल में उपस्थित 60 वर्ष से अधिक उम्र के गायत्री दुबे, रामकुमार सिंहा, खेमलाल बाघमार, सेहलता बाघमार, प्रेमचन्द्र जैन, गौतम आचार्य ने भी टीका लगवाया। टीकाकरण के दौरान नोडल अधिकारी (स्वास्थ्य) और डिप्टी कलेक्टर गीता रायस्त, सीएमएचओ डाॅ. चतुर्वेदी भी उपस्थित थे।

शासकीय संस्थानों में कोविड-19 का टीकाकरण आम नागरिकों के लिए निशुल्क रहेगा और निजी चिकित्सा संस्थान एमपीएम अस्पताल में कोविड-19 का टीकाकरण शुल्क 250 रुपए प्रति डोस की दर से लेने का प्रावधान किया गया है। टीकाकरण के लिए टीकाकरण केन्द्र में ही पंजीयन की सुविधा उपलब्ध है। पंजीयन के लिए आवश्यक दस्तावेजों के अन्तर्गत कोई भी फोटो आई कार्ड जिसमें आधार कार्ड, एपिक कार्ड, पासबुक, ड्राईविंग लायसेंस और शासकीय अभिलेख और अन्य दस्तावेज प्रस्तुत कर सकते हैं। इसके अलावा 45 से 59 आयु वर्ग के पहले से किसी बीमारी से ग्रसित व्यक्ति को सक्षम चिकित्सा अधिकारी से कोमार्बीड प्रमाण पत्र प्रस्तुत करना है।  इसके अलावा पंजीयन के लिए हितग्राहियों को अपना मोबाइल नम्बर भी दर्ज करना है।

27-02-2021
कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप के मद्देनज़र नया रायपुर में होने वाले क्रिकेट मैच पर प्रतिबंध लगाना चाहिए: प्रदीप साहू

रायपुर। छत्तीसगढ़ में रोड सेफ्टी क्रिकेट टूर्नामेंट का आयोजन किया जा रहा है। इस टूर्नामेंट के तहत नया रायपुर को बबल ज़ोन घोषित किया गया है और आम नागरिकों के एंट्रेन्स पर रोक लगा दी गई है। इस आयोजन पर सवाल उठाते हुए जोगी युवा मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष प्रदीप साहू ने कहा कि कोरोना वायरस के बढ़ते आंकड़ों के बावजूद रायपुर में क्रिकेट मैच का आयोजन कहाँ तक उचित है? प्रदीप साहू ने कहा कि कोरोना वायरस के नए रूप ने एक बार फिर से छत्तीसगढ़ और पड़ोसी राज्यों में पैर जमाना शुरू कर दिया है। अन्य प्रदेश के अलावा महाराष्ट्र में कई जिलों में पुनः लॉक डाउन लगाया गया है, जिसके कारण छत्तीसगढ़ में आने वाले लोगों की कोरोना जांच का आदेश दिया गया है। वहीं दूसरी ओर ऐसे समय में छत्तीसगढ़ के नया रायपुर शहीद वीर नारायण सिंह परसदा क्रिकेट स्टेडियम में मैच का आयोजन 5 मार्च से 65000 लोगों की बैठक व्यवस्था के साथ होने वाला है, जो छस्तीसगढ़ के लोगो के जान के साथ छलावा है। इस मैच में नामी-गिरामी क्रिकेटरों को देखने के लिए पूरे छत्तीसगढ़ के अलावा आसपास के राज्यों से भी दर्शकों के पहुंचने की संभावना से इनकार नहीं किया जा सकता है। साहू ने कहा ऐसे में भीड़ बढ़ना स्वाभाविक है। सोचनीय है कि जब अभी तक कोरोना वायरस का संकट खत्म नहीं हो पाया है और न ही छत्तीसगढ़ की जनता को कोरोना वायरस से बचाव के लिए वैक्सीन लगाई गई है। तब ऐसी स्थिति में जनता की जान से जोखिम उठाने की जरूरत ही क्या है? हम आप से निवेदन करते हैं की छत्तीसगढ़ के आम जनता के हितों को ध्यान में रखते हुए ऐसे कोरोना वायरस को फैलाने वाले क्रिकेट मैच के आयोजन को जल्द से जल्द प्रतिबंध किया जाए।

24-02-2021
कोरोना के बढ़ते प्रकोप के कारण अब पुलिस के जवान करेंगे वर्क फ्रॉम होम

मुंबई/रायपुर। कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों को देखते हुए महाराष्ट्र में अब पुलिस जवान भी वर्क फ्रॉम होम करेंगे। महाराष्ट्र पुलिस के अपर पुलिस महा संचालक की तरफ से इसको लेकर आदेश जारी किया गया है। बता दें कि पिछले 10 दिनों में महाराष्ट्र में कोरोना वायरस के मामले तेजी से बढ़े हैं और करीब 47 हजार नए केस सामने आए हैं। आदेश के तहत क्लास ए और बी के अधिकारियों की 100 प्रतिशत उपस्थिति अनिवार्य है। इसके बाद पुलिस कार्यालय में काम करने वाले क और ड ग्रुप यानी सी और बी वर्ग के कर्मचारियों की उपस्थिति 50 प्रतिशत की गई है, जिसमें 25 प्रतिशत को सुबह के 9 से शाम के 4 बजे तक बुलाया गया है और बाकी 25 प्रतिशत को सुबह के 11 बजे से शाम के 5 बजे तक बुलाया गया है। किसको काम पर बुलाना है, इसका निर्णय पुलिस स्टेशन मे मौजुद पुलिस अफसर लेंगे। बाकी बचे हुए कर्मचारी वर्क फ्रॉम होम करेंगे और फोन पर उपस्थित रहेंगे, जिससे जरूरत के समय उनको बुलाया जा सके।

23-02-2021
महाराष्ट्र में कोरोना का कहर जारी, अब तक संक्रमित पाए गए 60 प्रतिशत मंत्री

मुबंई/रायपुर। महाराष्ट्र के खाद्य और नागरिक आपूर्ति मंत्री छगन भुजबल सोमवार को कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए। उनसे पहले कई दूसरे मंत्रियों में भी संक्रमण की पुष्टि हो चुकी है। बता दें कि उद्धव ठाकरे मंत्रीमंडल पर में अब तक लगभग 60 फीसदी मंत्री कोरोना वायरस महामारी की चपेट में आ चुके हैं। महाराष्ट्र कोरोना वायरस के कारण देश का सर्वाधिक प्रभावित राज्य बना हुआ है। पिछले साल महामारी की शुरुआत के बाद से महाराष्ट्र सरकार के 43 में 26 मंत्री इस खतरनाक वायरस से संक्रमित हो चुके हैं। इनमें से पांच में संक्रमण की पुष्टि बीते एक हफ्ते में हुई है। भुजबल समेत इनमें जल संसाधन मंत्री जयंत पाटिल, खाद्य और औषधि प्रशासन मंत्री डॉ राजेंद्र शिंगणे, स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे और स्कूली शिक्षा राज्यमंत्री ओमप्रकाश बाबाराव कडू शामिल हैं। इनके अलावा कई विधायक भी संक्रमित हो चुके हैं।

22-02-2021
देश में बीते दिन मिले 14,199 नए कोरोना संक्रमित

नई दिल्ली/रायपुर। देश में पिछले 24 घंटे में कोरोना वायरस से संक्रमण के 14,199 नए मामले सामने आए और 83 मरीजों ने इसकी वजह से दम तोड़ा। इसी के साथ देश में कुल संक्रमितों की संख्या 1,10,05,850 हो गई है। इनमें से 1,56,385 लोगों को इस खतरनाक वायरस के कारण अपनी जान गंवानी पड़ी है। सक्रिय मामलों की संख्या बढ़कर 1,50,055 हो गई है। यह लगातार पांचवां ऐसा दिन है, जब सक्रिय मामलों की संख्या में इजाफा हुआ है।
 
पिछले 24 घंटे में ठीक हुए मात्र 9,695 मरीज :
कोरोना वायरस के संक्रमण को हराकर ठीक होने वालों की बात करें तो पिछले 24 घंटे में देशभर में 9,695 मरीज ठीक हुए। इसी के साथ महामारी को हराकर ठीक होने वाले मरीजों की कुल संख्या 1,06,99,410 हो गई है। देश की रिकवरी रेट 97.22 प्रतिशत है। इसके अलावा पिछले 24 घंटे में देशभर में 6,20,216 टेस्ट किए गए। महामारी की शुरुआत से अब तक देश में लगभग 21.15 करोड़ कोरोना वायरस टेस्ट किए जा चुके हैं।

 

22-02-2021
देश में कोरोना वायरस ने फिर पकड़ी रफ्तार, सबसे ज्यादा महाराष्ट्र के 34 जिले प्रभावित

नई दिल्ली/रायपुर। देश में कोरोना वायरस ने फिर जोर पकड़ा है। 91 जिलों में मरीज मिलने की रफ्तार बढ़ी है। महाराष्ट्र के 34 जिलों में नए मरीज मिले हैं। इसके अलावा कर्नाटक के 16, हरियाणा, पंजाब, छत्तीसगढ़, गुजरात और बिहार के 4-4, जबकि केरल के दो जिले शामिल हैं। स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक देश में बीते 24 घंटे में कोरोना के कुल 14 हजार 199 नए मरीज मिले। इनमें से आधे यानी 7 हजार से ज्यादा मरीज अकेले महाराष्ट्र में मिले हैं। 24 घंटे में 9 हजार 695 मरीज रिकवर हुए और 83 लोगों की जान गई। मंत्रालय के मुताबिक देश में कोरोना के अब तक कोरोना से 1 करोड़ 10 लाख 5 हजार 850 संक्रमित हो चुके हैं।

22-02-2021
इस राज्य के इन इलाकों में लगा लॉक डाउन और नाइट कर्फ्यू

मुंबई/रायपुर। महाराष्ट्र के कई शहरों में कोरोना की रफ्तार तेजी से बढ़ रहा हैं। इसे ध्यान हुए पुणे में 28 फरवरी तक स्कूल-कॉलेज बंद कर दिए गए हैं। पुणे के अलावा नासिक में रात 11 बजे से सुबह 6 बजे तक आवाजाही पर भी रोक लगा दी गई है। इसके अलावा यवतमाल, अमरावती और अचलपुर में लॉक डाउन की घोषणा की गई है। महाराष्ट्र के अमरावती और अचलपुर में संपूर्ण लॉक डाउन लगाया गया है, जो सोमवार रात 8 बजे से 1 मार्च सुबह 8 बजे तक लागू रहेगा। यवतमाल, अकोला और अकोट में 23 फरवरी सुबह 6 बजे से 1 मार्च की सुबह 6 बजे तक संपूर्ण लॉक डाउन रहेगा। हालांकि इन जिलों में इमरजेंसी सेवाएं चालू रहेगी।

21-02-2021
अकोला, अमरावती सहित पांच जिलों में 1 मार्च तक लॉकडाउन

मुंबई। महाराष्ट्र में कोरोना वायरस के बढ़ते कहर को देखते हुए राज्य सरकार ने एतिहातन कदम उठाए है। सूबे में कई शहरों में 7 दिनों के लॉक डाउन की घोषणा कर दी है। आदेश के अनुसार, दुकानें केवल सुबह 9 बजे से शाम 5 बजे तक ही संचालित की जा सकेंगी। अमरावती डिवीजनल कलेक्टर ने रविवार को अमरावती, अकोला, बुलढाना, वाशिम, यवतमाल में सात दिनों के लिए लॉकडाउन लगाने का फैसला किया है। ये पाबंदियां 1 मार्च तक रहेगी। शादियों में केवल 25 लोगों के शामिल होने की अनुमति दी गई है। निजी दफ्तरों में केवल 15 फीसदी कर्मचारियों को आने की इजाजत होगी। स्कूल-कॉलेज भी बंद रहेंगे। इसके अलावा पुणे में भी लोगों के घूमने फिरने पर रात 11 बजे से लेकर सुबह 6 बजे तक रोक रहेगी। हालांकि, इस दौरान जरूरी कामों से जुड़े लोग आवाजाही कर सकेंगे। यह जानकारी पुणे संभागीय आयुक्त ने दी है। जिले में 28 फरवरी तक स्कूल-कॉलेज बंद रखने का फैसला लिया गया है।

20-02-2021
कोरोना केस ने किया 14 हजार का आंकड़ा पार, 27 दिन में सबसे अधिक

नई दिल्‍ली/रायपुर। देश में कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों ने एक बार फिर से टेंशन बढ़ा दी है। देश में एक बार फिर कोरोना के बढ़ते मामले डराने लगे हैं। पिछले 24 घंटों में कोरोना मरीजों की संख्या 14 हजार पहुंच गई है, जो पिछले 27 दिनों में यह सबसे अधिक है। महाराष्‍ट्र, पंजाब और मध्‍य प्रदेश में तेजी से बढ़ते कोरोना संक्रमण के मामलों ने कोरोना के आंकड़ों में तेजी ला दी है। स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक शुक्रवार को कोरोना वायरस के 14059 नए मामले सामने आए थे, जो पिछले 27 दिनों में सबसे अधिक था। इससे पहले 28 जनवरी को कोरोना के 18000 से अधिक मामले दर्ज किए गए थे। वहीं महाराष्ट्र में तीन महीने बाद पहली बार शुक्रवार को कोविड-19 के 6,000 से अधिक नए मामले आए, जिससे महामारी की स्थिति बिगड़ने का संकेत मिलता है। महाराष्ट्र में शुक्रवार को संक्रमण के 6112 नए मामलों में अधिकतर अकोला, पुणे और मुंबई खंड से आए।

 

Advertise, Call Now - +91 76111 07804