GLIBS
18-06-2020
शहीद वीर जवानों को भाजयुमो ने दी श्रद्धांजलि, निकाला कैंडल मार्च

रायगढ़। चीन द्वारा भारतीय सैनिकों पर किये गए कायराना हमले में शहीद वीर सपूतों के सम्मान में गुरुवार को भाजयुमो कार्यकर्ताओं ने फिजिकल डिस्टेंसिंग व लॉक डाउन का पालन करते हुए श्रद्धांजलि दी। मोमबत्ती जलाकर और रैली निकाल कर जवानों के जिन्दाबाद के नारे लगाए। भाजयुमो के कार्यकर्ताओं ने कहा कि चीन लगातार बदमाशी कर रहा और जिस प्रकार उसने हमारे जवानों पर हमला किया यह काफी कायराना करतूत है। केंद्र सरकार इसके लिए सख्त कड़े कदम उठा रही है और चीन को मुंहतोड़ जवाब दे रही है। कार्यकर्ताओं ने कहा कि इस दुखद घड़ी में शहीद परिवारों के साथ भाजयुमो का हर कार्यकर्ता कंधे से कंधा मिला कर खड़ा है।शहीदों के बलिदान को व्यर्थ नहीं जाने दिया जाएगा।

 

14-02-2020
कैंडल मार्च निकालकर पुलवामा में शहीद हुए जवानों को दी गई श्रद्धांजलि

बीजापुर। जिला मुख्यालय के जयस्तंभ में सीआरपीएफ जवान, पुलिस जवान और नगरवासियों ने पुलवामा आतंकी हमले में शहीद हुए वीर जवानों को श्रद्धांजलि दी गई। जिलावासियों ने सांस्कृतिक भवन से जयस्तंभ तक कैंडल मार्च निकाला।  रैली जयस्तंभ पंहुची जहां शहीद जवानों को श्रद्धांजलि देने के बाद दो मिनट का मौन रखा गया। सीआरपीएफ डीआईजी कोमल सिंह ने कहा कि इस समाज मे आतंकवाद के लिए कोई जगह नहीं है, धर्म की आड़ में आतंकवाद को बढ़ावा देने वाली ताकतों से हिंदुस्तान के सभी लोग मिल कर मुकाबला करेंगे। पुलिस अधीक्षक दिव्यांग पटेल ने शहीदों को याद करते हए कहा शहीदों का बलिदान व्यर्थ नही जाएगा, हमारे जवानों का मनोबल कम नही हुआ है, हम देश के दुश्मनों से हमारे शहीद भाइयों के मौत का बदला लेंगे। इस कार्यक्रम में सीआरपीएफ कमांडेंट विनय चौधरी,अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक मिर्ज़ा ज़ियारत बेग, भाजपा जिला अध्यक्ष श्रीनिवास मुदलियार, जिला पंचायत अध्यक्ष शंकर कुड़ियाम, नगरपालिका अध्यक्ष बेनहुर रावतिया, बीजापुर तहसीलदार टीपी साहू, कोतवाली प्रभारी चंद्र शेखर बारीक, यातायात प्रभारी अनथ राम पैंकरा, बीजापुर के पत्रकार, नगरवासी, सीआरपीएफ के अधिकारी कर्मचारी एवं भारी संख्या मे पुलिस जवान उपस्थित रहे।

 

13-12-2019
मंजू और मनीषा को कैंडल मार्च के जरिये दी गयी श्रद्धांजलि,लोगो ने की कड़ी सजा की मांग

रायगढ़। शहर की दो बेटियों की पिछले दिनों राजधानी में हुई निर्मम हत्या के विरोध में आज विनोबा नगर वासी आज कैंडल मार्च निकालकर दोनों ही मृतक बहनों को श्रद्धांजलि अर्पित की एवं उनके हत्यारों को कड़ी सजा देने की मांग की। सैकड़ों की संख्या में कैंडल मार्च में विनोबा नगर के वासियों के साथ युवतियों के परिजन भी शामिल रहे। कैंडल मार्च विनोबा नगर से बोईरदादर चौक होते हुए चक्रधरनगर चौक से चक्रधरनगर थाने पहुंची। जहां दोनों मृतक बहनों को श्रद्धांजलि अर्पित की गई। परिजनों ने दोनों बहनों के हत्यारो को कड़ी सज़ा देने की मांग की और एक ज्ञापन थाना प्रभारी चक्रधरनगर को दिया। बता दें कि रायगढ़ निवासी दोनों युवतियां रायपुर में रह कर नर्सिंग की पढ़ाई कर रही थी। जहां उनका बेरहमी से कत्ल कर दिया गया था, परिजनों ने दोनों बहनों के हत्यारों को कड़ी सजा की मांग की है। मोहल्ले वासियों इस घटना से सभी काफी आक्रोशित है। कैंडल मार्च में शामिल हुए और युवतियों की आत्मा की शांति के लिए प्रार्थना की।

02-12-2019
जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ (जे) ने राजधानी में किया कैंडल मार्च

रायपुर। जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ (जे) ने सोमवार शाम राजधानी रायपुर  में कैंडल मार्च करके हैदराबाद की डॉक्टर प्रियंका रेड्डी को श्रद्धांजलि दी। साथ-साथ 3 दिनों के भीतर छत्तीसगढ़ के बलरामपुर, रायपुर और गौरेला में दुष्कर्म और दरिंदिगी का शिकार हुई प्रदेश की 3 निर्दोष बेटियों के बलात्कारियों को फाँसी देने और प्रदेश में पूर्ण शराबबंदी लागू करने की मांग करते हुए जमकर नारे भी लगाए। जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ (जे) अध्यक्ष अमित जोगी ने कहा कि 3 दिनों में 3 वीभत्स और दर्दनाक घटनाओं ने छत्तीसगढ़ को दहला के रख दिया है। पहली घटना बलरामपुर के राजपुर की है जहां महिला की आग जली लाश मिली साथ ही लाश के पास शराब की बोतलें भी पड़ी है। प्रथम दृष्टया मामला सामूहिक बलात्कार के बाद साक्ष्य मिटाने के लिए महिला की हत्या कर जला देने का लग रहा है। दूसरी घटना में रायपुर के माना इलाके में करीब 25 वर्षीय महिला और 4 वर्ष के बच्चे का अधजला शव मिला है। शरीर पर चोट के निशान भी हैं। स्थानी लोगों से प्राप्त जानकारी के अनुसार दुष्कर्म कर महिला और बच्चे की हत्या कर दी गई है। तीसरी घटना गौरेला थाना क्षेत्र की है, जहां घर से कुछ ही दूरी पर स्थित टेकरी में गाय चरा रही 16 वर्षीय नाबालिग युवती के साथ निर्भया कांड जैसी दर्दनाक घटना हो गई। दो शराबियों ने युवती के साथ ना सिर्फ दुष्कर्म किया बल्कि उसके गुप्तांग में लाठी से गंभीर चोट पहुंचाई। बालिका की चीख-पुकार जब उसकी बुआ के कानों में पड़ी तो वह दौड़ते हुए आई और खून से लथपथ युवती की हालत देखकर उसे थाने ले कर आई। फिलहाल युवती का इलाज चल रहा है।


अमित जोगी ने कहा कि तीनों ही घटनाओं में शराब का अहम रोल है। गौरेला की घटना में दोनों बलात्कारी शराब के नशे में धुत थे तो बलरामपुर और रायपुर की में जले शवों के पास शराब की बोतलें मिली है। मतलब साफ है कि शराब के नशे में धुत होकर अपराधियों द्वारा इस तरह की घटनाओं को अंजाम दिया जाता है, फिर भी माताओं-बहनों की इज्जत से ज़्यादा प्यारा है भूपेश सरकार को शराब बिक्री से मिलने वाला पैसा। अमित जोगी ने कहा कि जहां बलरामपुर और रायपुर में हैदराबाद वाली दरिंदगी हुई तो गौरेला में हुआ दिल्ली जैसा निर्भया कांड। पहली दो घटनाओं में पुलिस के हाथ खाली हैं जबकि तीसरी घटना में दो संदिग्धों को पुलिस ने पकड़ रखा है। छत्तीसगढ़ जैसे शांत इलाके में लगातार इस तरह की दर्दनाक घटनाओं से महिलाओं और बच्चियों के अंदर डर बैठ गया है। छत्तीसगढ़ की महिलाएं अब अपने घर के आस-पास भी सुरक्षित नहीं है। भूपेश सरकार अपराधियों पर अंकुश लगाने में पूरी तरह असफल है, जिसके कारण आम जनता का कानून व्यवस्था से विश्वास और बलात्कारियों का पुलिस प्रशासन से डर ख़त्म हो चुका है। ऐसी अराजकता का माहौल छत्तीसगढ़ में पहले कभी नहीं रहा।


अमित जोगी ने मांग की है कि शराबखोरी के कारण बड़ते अपराधों को रोकने के लिए भूपेश सरकार को तत्काल शराबबंदी लागू कर देनी चाहिए। साथ ही ऐसे अपराधियों को फाँसी की सजा देने के लिए राज्य सरकार को भारतीय दण्ड संहिता में तत्काल संशोधन करना चाहिए।कैंडल मार्च में जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ (जे) अध्यक्ष अमित जोगी के साथ बलोदा बाज़ार के युवा विधायक प्रमोद शर्मा, डॉक्टर ऋचा जोगी, ज़िला अध्यक्ष डॉक्टर ओमप्रकाश देवांगन, प्रभारी महासचिव महेश देवांगन, लोक सभा प्रभारी डॉक्टर अनामिका पाल, मीडिया विभाग के अध्यक्ष इक़बाल अहमद रिज़वी और प्रवक्ता भगवानु नायक, राहिल रॉऊफ़ी, युवा जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ (जे) अध्यक्ष  रिंकु रंधावा और छत्तीसगढ़ स्टूडेंट्स यून्यन (सीएसयू) अध्यक्ष प्रदीप साहू विशेष रूप से उपस्थित थे।

02-12-2019
बलात्कारियों को सरेराह फांसी देने की मांग को लेकर कैंडल मार्च आज

रायपुर। स्व. डा प्रियंका रेड्डी को श्रद्धांजलि देने तथा दोषियों को तत्काल सरेराह फांसी देने की मांग को लेकर अजीत जोगी, रेणु जोगी, अमित जोगी, ऋचा जोगी के नेतृत्व में सोमवार को शाम 5.30 बजे कैंडल मार्च निकालकर रायपुर के जयस्तंभ चौक पर कैंडल जलाकर दिवंगत आत्मा को श्रद्धांजलि दी जाएगी। यह जानकारी प्रेस विज्ञप्ति जारी कर प्रदीप साहू ने दी।

 

20-11-2019
केंद्र सरकार की विनिवेश नीति के विरोध में निकाला गया कैंडल मार्च

कोरबा। एनटीपीसी कोरबा में अपेक्स बीएमएस एवं इंटक के संयुक्त तत्वाधान में बीते रोज केंद्र सरकार की विनिवेश नीति के विरोध में आमसभा एवं आवासीय परिसर में सपरिवार कैंडल मार्च का आयोजन गया। बीएमएस के अध्यक्ष सुरेंद्र कुमार राठौर ने बताया की पब्लिक सेक्टर देश की अर्थव्यवस्था की रीढ़ है और राष्ट्र की संपत्ति है,जो अपने विभिन्न सामाजिक दायित्वों का भी निर्वहन करते हैं। एनटीपीसी एक लाभ कमाने वाली कंपनी है। अभी 56 प्रतिशत हिस्सेदारी सरकार के पास है। इसका विनिवेश करने से यह निजीकरण के रास्ते की ओर जाता है। उन्होंने अपील कि इसका और विनिवेश नहीं किया जाना चाहिए। अपेक्स के महामंत्री रितेश जयसवाल ने एनटीपीसी के इतिहास के बारे में कर्मचारियों को बताया और उन्होंने भी इसके विनिवेश नहीं करने की मांग की। बीएमएस के महामंत्री महेंद्र कुमार ठाकुर ने सभा का संचालन किया। धन्यवाद ज्ञापन साईंप्रसाद ने किया। आमसभा एवं कैंडल मार्च में कर्मचारियों की बड़ी संख्या में उपस्थिति रही।

 

25-10-2019
नदी में मिली युवती की लाश, गुत्थी सुलझाने ग्रामीणों ने किया कैंडल मार्च

अम्बिकापुर। सीतापुर थाना अंतर्गत बीते दिवस मांड़ नदी में एक 25 वर्षीय युवती की नदी में औंधे मुंह पड़ी लाश मिली थी। बीती रात सैकड़ों ग्रामीणों ने लड़की की हत्या की आशंका जताते हुए गांव मे कैंडल मार्च निकाला और लड़की की रहस्यमयी तरीके से नदी में डूबने से हुई मौत की गुत्थी सुलझाने के लिए पुलिस को आवेदन देने का निर्णय लिया। ताकि युवती के रहस्यमय मौत से पर्दा उठ सके युवती की मौत हादसे में हुई है अथवा किसी ने हत्या करके फेंकी है। ज्ञात हो कि सीतापुर थाना अंतर्गत ग्राम ढेलसरा निवासी शकुंतला नागवंशी 25 वर्ष बीते 11 अक्टूबर की शाम 6 बजे अपने घर के पीछे बहने वाली मांड़ नदी शौच करने गई हुई थी जहां से वो अचानक रहस्यमयी तरीके से लापता हो गई थी। अगली सुबह युवती का शव काफी दूर नग्नअवस्था में औंधे मुंह नदी में पाई गई थी। घटना की सूचना के बाद पुलिस घटनास्थल पहुंची और नदी से शव बाहर निकलवाने के बाद सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में उसका पोस्टमार्टम कराया।जहां लड़की की पानी मे डूबने से मौत होने की पुष्टि की गई थी।

लड़की की मौत के बाद हुई पोस्टमार्टम की रिपोट् से ग्रामीण संतुष्ट नहीं है ग्रामीणों का कहना है कि लड़की तैरने में माहिर थी और नदी का जलस्तर बढ़ने के दौरान भी वो तैर कर नदी पार कर लेती थी। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार लड़की काफी पढ़ी लिखी थी और उसका किसी से प्रेम प्रसंग भी था। इसके अलावा लड़की नदी के जिस तट पर गई थी वहां मर्दाना चप्पल और मोबाईल का ढक्कन देखा गया था जो कई सवालों को जन्म देता है। इसको लेकर भी गांव मे कई तरह की चर्चा होने लगी थी। ग्रामीणों को यह आशंका थी कि मौत के पीछे एक गहरी साजिश है। ग्रामीणों ने मौत की निष्पक्षता पूर्वक जांच कराने के लिए। बीती रात गांव मे कैंडल मार्च निकाला और पुलिस को आवेदन देकर इस रहस्यमयी मौत की गुत्थी सुलझाने का निर्णय लिया है। इस संबंध में जब सीतापुर थाना अनुप कुमार एक्का से बात की गई तो उन्होंने बताया कि अभी तक ऐसा कोई आवेदन पुलिस को नही मिला है अगर गांववाले आवेदन देते है तो पुलिस उचित कार्रवाई करेगी।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804