GLIBS
Amit Jogi: जोगी का विजय रथ तैयार, मुंबई के सिद्धी विनायक मंदिर में पूजा-अर्चना कर अमित जोगी ने किया रवाना

रायपुर। अजीत जोगी का विजय रथ तैयार हो गया है। मुंबई में सिद्धि विनायक मंदिर में पूजा अर्चना करने के बाद रथ को अमित जोगी ने रायपुर के लिए रवाना किया। श्री जोगी ने मंदिर में 1008 लड्डूओं का वितरण भी किया। इसके बाद गणपति बप्पा का आशीर्वाद लेकर अत्याधुनिक सुविधाओं से युक्त बस ‘विजय रथ’को रायपुर के लिए रवाना किया गया। 

इस  रथ को 45 दिनों में मुंबई में ईएमटी डिजाइन स्टूडीओ द्वारा तैयार कराया गया है। इसमें अजीत जोगी के लिए आपात-चिकित्सा युक्त किटाणु-रहित शयन कक्ष, रोड- शो के किए विशेष पारदर्शी बैठक कक्ष, और लिफ्ट से बस से ऊपर निकलने वाला विशेष स्टेज बनाया गया है।

 जनता कांग्रेस के संस्थापक अजीत जोगी 23 अगस्त से विजय यात्रा के प्रथम चरण का शुभारंभ बंजारी माता मंदिन से करेंगे। इस यात्रा का समापन 28 अगस्त को रतनपुर के महामाया मंदिर में होगा। इस दौरान अजीत जोगी 12 विधान सभा क्षेत्रों में 150 से अधिक गांव- कस्बों में रोड शो और 40 से अधिक आम सभाओं को संबोधित करेंगे।

 

 

Video : कैबिनेट की बैठक आज, अहम विषयों पर होगी चर्चा 

रायपुर। मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह की अध्यक्षता में आज सुबह 11.30 बजे कैबिनेट की बैठक होगी। यह बैठक मंत्रालय में होगी। बताया जाता है इस बैठक में डेंगू से हो रही मौत व विकास यात्रा के दूसरे चरण पर चर्चा की जा सकती है। विकास यात्रा में इस बार प्रदेशवासियों को सरकार बड़ी सौगात देने की योजना बना चुकी है।  वहीं खरीफ फसल व खेती-किसानी संबंधित अहम विषयों पर चर्चा की जा सकती है। 

 

 

Holiday of Bakriad: कल रहेगी बकरीद की छुट्टी, केंद्र शासन ने फिर किया आदेश में परिवर्तन

रायपुर। केंद्र सरकार ने अपने कर्मचारियों के लिए बकरीद की छुट्टी को एक बार फिर परिवर्तित करते हुए 22 तारीख कर दिया है यानी केंद्रीय कर्मचारियों को बकरीद की त्यौहार की छुट्टी अब फिर से 22 अगस्त यानी कल दी जाएगी , इससे पहले 14 अगस्त को एक आदेश जारी कर बकरीद की छुट्टी 22 अगस्त की जगह 23 अगस्त को घोषित की गई थी लेकिन कल एक बार फिर केंद्र सरकार के डिप्टी सिकरेट्री ने आदेश पत्र जारी कर दिया है।

आदेश में कहा गया है कि जामा मस्ज़िद के शाही इमाम की अध्यक्षता वाली कमेटी रूईयत हिलाल की सिफारिश पर लिया गया है. कमेटी के मुताबिक भारत के अन्य शहरों में चांद दिखने की जानकारी मिली थी. इस जानकारी के चलते ही सरकार को अपना फैसला वापस लेना पड़ा. इसके पहले जारी विज्ञप्ति में 23 अगस्त को ईद- उल- जुहा मनाए जाने की बात कही गई थी.

छत्तीसगढ़ सरकार ने अभी तक इस संबंध में कोई घोषणा नहीं की है लेकिन यह माना जा रहा है कि आज राज्य सरकार की तरफ से भी 22 अगस्त की छुट्टी को ही मान्य करते हुए इसके लिए आदेश जारी किया जा सकता है और इसके बाद राज्य सरकार के कर्मचारियों को भी कल बकरीद की छुट्टी मिल जाएगी ।

 

Traffic Department: तेज रफ्तार वाहनों पर लगाम लगाने यातायात विभाग फेल, राजधानी में मात्र 3 इंटरसेप्टर, वह भी कंडम 

रायपुर। राजधानी की सड़कों पर तेज रफ्तार वाहनों पर लगाम कसने में यातायात विभाग फेल साबित हो रहा है। आए दिन सड़क हादसों में लोगों की जानें जा रहीं हैं। हाल ही में बाइक सवार तीन युवकों की मौत हो गई। इसके बाद पुलिस ने हेलमेट जांच के नाम पर कार्रवाई शुरू कर दी। जबकि जरुरत वाहनों के रफ्तार को कम  करने की है। 

बता दें कि राजधानी के ट्रैफिक विभाग के पास तीन इंटरसेप्टर वाहन हैं जो शहर के हाईवे पर पाइंट लगाकर खड़ी करते हैं और तेज रफ्तार दोपहिया, चारपहिया व भारी वाहनों पर कार्रवाई करते हैं। लेकिन अभी हाल ही में इंटरसेप्टर वाहन की हालत खस्ता पड़ी है, किसी वाहन का कैमरा नहीं चल रहा है तो किसी का मीटर खराब है। वहीं पुलिस का कहना है कि उनकी तीनों वाहने ठीक है और हाईवे पर सभी काम कर रही है। अभी बीते 6 माह में इंटरसेप्टर वाहन से 14,000 वाहन चालकों के खिलाफ कार्रवाई की है। 

राजधानी की इंटरसेप्टर वाहनों की मदद से वर्ष 2015 में 23,00 वाहन चालकों के खिलाफ कार्रवाई की है। वहीं 2016 में घटकर 1500 हो गई। इसी तरह वर्ष 2017 में करीब 13,00 वाहन चालकों के खिलाफ कार्रवाई की गई है। इस मामले में जब एएसपी ट्रैफिक बलराम हिरवानी से बात की गई तो उन्होंने कहा कि हमारी तीनों इंटरसेप्टर वाहन हाईवे पर चल रही है और सभी ठीक तरह से काम कर रहे है। वहीं तेज रफ्तार वाहनों पर लगातार कार्रवाई जारी है।

National Convenor : राष्ट्रीय सुरक्षा जागरण मंच के मंथन समूह के राष्ट्रीय संयोजक नियुक्त

रायपुर। राष्ट्रीय सुरक्षा जागरण मंच के मार्गदर्शक इंद्रेश कुमार के निर्देशानुसार राष्ट्रीय सुरक्षा जागरण मंच, छ.ग. चैप्टर के बैनर तले राष्ट्रीय स्तर का मंथन सायबर सुरक्षा राष्ट्रीय संविमर्श सम्मेलन 19 एवं 20 जुलाई 2018 को कृषि महाविद्यालय में आयोजित हुआ। इसमे देश के 15 अंतर्राष्ट्रीय ख्याति प्राप्त सायबर वैज्ञानिक सायबर के विशषेज्ञ सायबर से संबंधित कंप्यूटर इंजीनियर इंटरनेट तकनीकी और साइबर क्राइम की दक्षता रखने वाले उच्च स्तरीय विशेषज्ञ अधिवक्ता प्रमुख वक्ता के रूप में उपस्थित रहे। छ.ग. पुलिस के विभिन्न रेंको के 125 अधिकारी, कर्मी (सायबर सेल के तकनीकी ज्ञान रखने वाले) भी शामिल रहे। इसके अलावा छ.ग.राज्य एवम प्रदेश के बाहर से भी IIT NIT

राज्य के निजी तथा शासकीय इंजीनियरिंग  महाविद्यालय के कंप्यूटर साइंस के छात्र इंजीनियर विद्यार्थी, कम्प्यूटर साइंस के शोधार्थी, साफ्टवेयर कंपनियों के विशेषज्ञ, वकील, सामान्य नागरिक जो कम्प्यूटर तकनीकी ज्ञान रखते है। वे सभी लगभग 600 प्रतिभागी, दो दिन इस सायबर सुरक्षा के अति उच्च स्तरीय कार्यशाला में उपस्थित रहकर विशेषज्ञों के साइबर सुरक्षा विषय वक्तयव और परिचर्चा में भाग लेते हुये ज्ञान प्राप्त किए। मंथन साइबर सुरक्षा के इस राष्ट्रीय सम्मेलन में छत्तीसगढ़ राज्य के मुख्यमंत्री डॉक्टर रमन सिंह एवं राज्य के अनेक मंत्री गण बृजमोहन अग्रवाल प्रेम प्रकाश पांडे रमशीला साहू पुन्नूलाल मोहले और विधायक श्रीचंद सुंदरानी तथा राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के प्रमुख बिसरा राम यादव जी एवं अन्य पदाधिकारी भी इस राष्ट्रीय सम्मेलन में पर्याप्त समय उपस्थित रहकर प्रतिभागियों का मनोबल बढ़ाते रहें

मंथन सायबर सुरक्षा, राष्ट्रीय सम्मेलन की अभूतपूर्व सफलता के पश्चात राष्ट्रीय सुरक्षा जागरण मंच, की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक बंगलुरु में आयोजित की गई। जिसमें राष्ट्रीय सुरक्षा जागरण मंच के के मार्गदर्शक एवं प्रणेता राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के वरिष्ठ कार्यकारिणी सदस्य एवम राष्ट्रीय सु.जा.मंच के मार्गदर्शक, राष्ट्रीय मुस्लिम मंच के मार्गदर्शक इंद्रेश कुमार की अध्यक्षता में राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक संपन्न हुई

 विभिन्न पदाधिकारियो के पद परिवर्तन किये गये

और राष्ट्रीय सुरक्षा के विभिन्न आयामों पर लगातार राष्ट्रीय सुरक्षा  कार्यशाला आयोजित करने तथा राष्ट्रीय सुरक्षा नीति का एक अहम मसौदा तैयार करने के दृष्टिकोण से  अति विशिष्ठ उच्चस्तरीय राष्ट्रीय सुरक्षा  मंथन समूह(राष्ट्रीय सुरक्षा जागरण मंच) का गठन किया गया।

जिसमे पूरे देश के जाने-माने चुनिंदा वरिष्ठ आर्मी के अधिकारी, वरिष्ठ पुलिस अधि., कानून एवं विधि  विशेषज्ञ, शैक्षणिक जगत के व्यक्तित्व एवम राष्ट्रीय सुरक्षा से संबंधित विशेष ज्ञान रखने वाले व्यक्तियों को शामिल किया गया। इसमें 14 राष्ट्रीय ख्याति के शख्सियतों को पदाधिकारी बनाया गया है। डॉक्टर वर्णिका शर्मा छत्तीसगढ़  को पदोन्नत कर मंथन राष्ट्रीय समूह का सह संयोजक बनाया गया है छत्तीसगढ़ फैंस के तौकीर रजा को भी पदोन्नत कर मंथन समूह में साइबर प्रशिक्षण समूह की विशिष्ट टीम का राष्ट्रीय सदस्य बनाया गया है।

छत्तीसगढ़ में स्थानीय समन्वय और मार्गदर्शन देने के लिए राष्ट्रीय सुरक्षा जागरण मंच के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष मोहम्मद सलीम अशरफी साहब इस मंथन समूह में सदस्य के रूप में मनोनीत है।

सबसे उल्लेखनीय बात यह है क़ि राजीव श्रीवास्तव सेवानिवृत महानिदेशक, सी. आई.डी., छ.ग.पुलिस को  उनके नेतृत्व में छ.ग.में आयोजित राष्ट्रीय सम्मेलन मंथन सायबर सुरक्षा के अभूतपूर्व सफलता को ध्यान में रखते हुए  पदोन्नत करते हुए सामयिक तौर पर राष्ट्रीय सुरक्षा जागरण मंच (फैंस) के राष्ट्रीय मंथन समूह का प्रथम राष्ट्रीय संयोजक नियुक्त किया गया, जो छ.ग. के लिए  एक उपलब्धि हैं।

मंथन राष्ट्रीय समूह में राजीव श्रीवास्तव पूर्व आई.पी. एस. के अलावा हरियाणा के

राजपाल पूर्व आई.पी. एस.,आंध्र प्रदेश के श्री दिनेश रेड्डी पूर्व आई.पी. एस., झारखंड से कुमुद चौधरी पूर्व आई.पी. एस., भागीरथी सिंह कुलपति जयपुर यूनिवर्सिटी, पूर्व जनरल जसवाल पूर्व जनरल, नारायण  मोंहती, प्रो.गुरुमीत सिंग, दिल्ली के आर्य भुषण शुक्ला, पूर्व आईएएस, फारूख खान पूर्व आईपीएस जम्मू कश्मीर डॉ. वर्णिका शर्मा, सचिव फैंस आदि को मंथन समूह में सह संयोजक और सुरेंद्र गंगोत्रा, एवम लुबना आसिफ भी इस राष्ट्रीय मंथन समूह में सदस्य नियुक्त किये गये।

मंथन राष्ट्रीय समूह को राष्ट्रीय सुरक्षा जाग.मंच के मार्गदर्शन में अलग-अलग राज्यो के समूह एवम विशेषज्ञों के समूह के आधार पर विभिन्न विषयों पर कार्यशाला आयोजित करते हुए नवम्बर में राष्ट्रीय सुरक्षा नीति का एक मसौदा तैयार कर  प्रस्तुत  किया जाना है।

इस अहम कार्य के लिए  राष्ट्रीय सुरक्षा मंथन समूह सक्रिय हो चुका है।

उल्लेखनीय है कि राजीव श्रीवास्तव पूर्व आई.पी. एस. छ.ग. जो राष्ट्रीय मंथन समूह के राष्ट्रीय संयोजक नियुक्त किये गये हैं उनके द्वारा राष्ट्रीय संयोजक के रूप में गत दिनों चंडीगढ़ जा कर मंथन राष्ट्रीय सुरक्षा विषय की एक उच्चस्तरीय कार्यशाला में भाग लिया गया, जहां उनके द्वारा उद्बोधन भी दिया गया। चंडीगढ़ में आयोजित इस कार्यशाला में मान. इंद्रेश कुमार जी के अलावा, जस्टिस…राजीव भल्ला...................,डी. जी. पी. डॉ के पी सिंह हरियाणा.,राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार बोर्ड के सदस्य  डॉक्टर राकेश दत्ता, जनरल जासवाल,पंजाब यूनिवर्सिटी के कुलपति राष्ट्रीय सचिव रेशमा सिंह जी  राष्ट्रीय सुरक्षा जाग.मंच के राष्ट्रीय संगठन मंत्री गोलोक बिहारी राय सहित लगभग 500 से अधिक विशेषज्ञ प्रतिभागी इस कार्यशाला में उपस्थित रहे।

Rajiv Gandhi: राजीव गांधी ने देश के युवाओं को रोजगार दिया, नरेंद्र मोदी बेरोजगार कर रहे हैं- भूपेश बघेल 

रायपुर। प्रदेश कांग्रेस कमेटी ने आज राजीव भवन में पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की जयंती मनाई। इस अवसर पर पीसीसी चीफ भूपेश बघेल ने कहा राजीव गांधी ने देश में जब कम्पयूटर लेकर आए तो विपक्ष बैलगाड़ी में  रैली निकालकर इसका विरोध करने लगे। आज वही कम्पयूटर लोगों को रोजगार दे रहा है। देश आगे बढ़ रहा है। राजीव गांधी ने देश युवाओं और महिलाओं को उचित स्थान दिलाया। आज हमारे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी देश के युवाओं से रोजगार छिन रहे हैं। अकेले छत्तीसगढ़ में 50 लाख युवा बेरोजगारी की मार झेल रहे हैं। राजीव गांधी का 5 साल का कार्यकाल देश के विकास के लिए मिल का पत्थर  साबित हुआ। उन्होंने ही गांव-गांव तक टेलीफोन पहुंचाया। जो सोच राजीव गांधी की थी आज वहीं सोच राहुल गांधी की भी है। छत्तीसगढ़ में यदि किसी चीज की कमी है तो वह है रोजगार की। देश में सबसे ज्यादा बेराजगारी, पलायन और शिक्षा व्यवस्था खराब है। 

राज्यसभा सांसद छाया वर्मा ने कहा कि राजीव गांधी के कारण ही 18 वर्ष की आयु में युवाओं को मतदान करने का अधिकार मिला। राजीव गांधी अपनी इच्छा से राजनीति में नहीं आए लेकिन उन्होंने राजनीति के हर शिखर को छुआ। वे ही एक ऐसे व्यक्ति थे जो देश में व्याप्त भ्रष्टाचार को सीधे तौर पर समझते थे। राजीव गांधी देश में संचार क्रांति के जनक हैं। आज आज मुख्यमंत्री रमन सिंह संचार क्रांति के नाम पर भ्रम फैला रहे हैं। 

रायपुर ग्रामीण के विधायक सत्यनाराण शर्मा ने कहा कि राजीव गांधी के समय जो सौगातें जनता को मिली वो अविश्वनीय थी। भाजपा पहले राजीव गांधी की नीतियों का विरोध करते थे, बाद में उन्हीं की नीतियों पर अमल किया गया। राजीव गांधी के सपनों को साकार करने की जिम्मेदारी राहुल गांधी की है। 

पूर्व नेता प्रतिपक्ष रविंद्र चौबे ने कहा कि राजीव गांधी का हर कदम देश के लिए हितकारी था। महिलाओं का आरक्षण, पंचायती राज जैसे कानूनों को राजीव गांधी ने बनाया।  देश के विकास का सारा श्रेय राजीव गांधी को जाता है। 

Professional examination: 21 अक्टूबर को होगी सेट परीक्षा, आज से किए जा सकेंगे ऑनलाइन आवेदन

बिलासपुर। बहुप्रतीक्षित राज्य पात्रता परीक्षा यानी सेट प्रदेश में व्यवसायिक परीक्षा मंडल द्वारा 21 अक्टूबर को आयोजित की जाएगी जिसके लिए आज से ऑनलाइन आवेदन किए जा सकते हैं और 14 सितंबर ऑनलाइन आवेदन भरने की अंतिम तिथि रखी गई है ।

सेट परीक्षा के अंतर्गत कुल दो पेपर होंगे और इसके लिए पांच संभागीय मुख्यालयों अंबिकापुर, बिलासपुर, दुर्ग, जगदलपुर एवं रायपुर में परीक्षा केंद्र बनाए जाएंगे । कुल 19 विषयों में सेट परीक्षा इस बार आयोजित की जाएगी । पहला पेपर जहां परीक्षार्थियों के सामान्य ज्ञान की परख के लिए होगी वहीं दूसरी परीक्षा उनके द्वारा चयनित विषय से संबंधित होगी ।

सेट परीक्षा का आयोजन प्रदेश के शासकीय तथा अशासकीय महाविद्यालयों में सहायक प्राध्यापक, ग्रंथपाल, क्रीड़ा अधिकारी तथा राज्य विश्वविद्यालयों में सहायक अध्यापक, सहायक ग्रंथपाल, सहायक संचालक की नियुक्ति हेतु पात्रता प्रदान करती है और सेट पास अभ्यर्थी इसके बाद इन परीक्षाओं के लिए आवेदन कर सकते हैं ।

Jewelry Chori: घर से नकदी 50 हजार सहित जेवर पार, पुलिस जांच में जुटी

रायपुर। राजधानी के बांसटाल स्थित घर से अज्ञात चोर ने नकदी 50 हजार सहित सोने चांदी के जेवर पार कर दिया। पीड़ित महिला की शिकायत पर गंज थाना पुलिस ने आरोपी के खिलाफ अपराध दर्ज किया है।

बता दे कि बांसटाल गंजपारा निवासी महिला गंगाबाई शुक्ला (75) वर्ष रात में अपने घर पर सो रही थी वही घर के अन्य सदस्य टीवी देख रहे थे तभी अज्ञात चोर घर के खुले दरवाजे से अंदर प्रवेश किया और आलमारी में रखे नकदी 50 हजार सहित सोने के चेन, टाप्स सहित चांदी के जेवर पार कर दिया। चोरी गए जुमला कीमती करीब 70 हजार रुपये के आसपास बताई जा रही है। पीड़ित महिला की शिकायत पर गंज पुलिस ने आरोपी के खिलाफ अपराध दर्ज कर घर के आसपास लगे सीसीटीवी कैमरा का अवलोकन कर आरोपियों की पतासाजी कर रही है।

Ajay chandrakar: तनख्वाह देने पैसे नहीं है सरकार के पास, कर्मचारी हड़ताल पर बोले स्वास्थ्य मंत्री अजय चंद्राकर 

रायपुर। प्रदेश में वेतन बढ़ाने और नियमितीकरण की मांग को लेकर हड़ताल कर रहे कर्मचारियों के विषय पर स्वास्थ्य मंत्री अजय चंद्राकर ने आज मीडिया से कहा कि इन कर्मचारियों को तनख्वाह देने के लिए सरकार के पास पैसे नहीं है। 

बता दें कि इन दिनों चार विभिन्न कर्मचारी संगठन हड़ताल पर बैठे हैं।  छत्तीसगढ़ संजीवनी 108/102 कर्मचारी संघ के हड़ताल का आज 35वां दिन है, बीते चार दिनों से वे आमरण अनशन पर हैं।  कर्मचारी संघ अपनी छह सूत्रीय मांगों को लेकर हड़ताल कर रहे है। स्वस्थ मंत्री अजय चंद्राकर ने उनकी हड़ताल पर कहा है कि मांग उनकी कुछ भी नहीं है, मांग केवल वित्तीय है और वित्तीय मांगों को सरकार समय समय पर पूरा करते रहती है। अभी कई बड़े फैसले कर्मचारियों के हित में ली गई है, आमरण अनशन पर बैठे कर्मचारियों के विषय पर मंत्री अजय चंद्राकर ने कहा कि ये उनका लोकतांत्रिक अधिकार है, जो वे कर रहे हैं करें,लेकिन जब मैं कार्यवाही करूगां तो आप कहेंगे कार्यवाही कर दी, नहीं कर रहा हूं तो कह रहे हैं कि कार्रवाई नहीं की जा रही है।  मैं उनको समझा बुझा लूंगा।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804
Visitor No.