GLIBS
20-12-2020
प्रदर्शनी में दिखी विकास कार्यों की झलक, छात्रों ने कहा, शासकीय योजनाओं की जानकारी मिलने का अच्छा स्रोत  

रायपुर/ बिलासपुर। जनसंपर्क विभाग के माध्यम से आयोजित फोटो प्रदर्शनी देखने आज युवा, महिलाएं और शहर के नागरिक पहुंचे। अशोक नगर निवासी सौरभ भुवाल ने कहा कि शासकीय योजनाओं की जानकारी मिलने का अच्छा स्रोत है। जनसंपर्क विभाग की यह प्रदर्शनी। उन्होंने कहा कि शासन की सभी योजनाओं की जानकारी एक ही जगह पर मिलने से नागरिकों को समझने में आसानी होगी। खोमलाल सिन्हा ने कहा कि शासन की योजना के प्रचार प्रसार के लिए लगाई गई यह प्रदर्शनी प्रशंसनीय है। इस प्रकार के आयोजनों से लोगों को सरकार के माध्यम से चलाई जा रही योजनाओं की जानकारी मिलती है। कृष्ण सोनी ने कहा कि फोटो प्रदर्शनी में शासकीय योजनाओं के माध्यम से हो रहे विकास कार्यों की तस्वीरें संजोयी गई है, जो बहुत अच्छी लगी। आरके साहू ने कहा कि प्रचार सामग्री भी बहुत अच्छी है, जिनमें सभी विभाग की उपलब्धियों को बताया गया है। उन्हें विचारमाला बहुत पसंद आई। प्रमोद सिंह ने कहा कि इन योजनाओ की जानकारी लेकर जरूरतमंद व्यक्ति लाभ भी उठा सकते हैं। प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कर रहे अभ्यर्थियों के लिए यह आयोजन बहुत मददगार है। उन्होंने कहा कि सरकार के माध्यम से किए गए कार्यों को डॉक्यूमेंट्री फिल्म के जरिए बताया जा रहा है। विदित हो यह प्रदर्शनी रविवार को भी जारी रहेगी। नागरिक फोटो प्रदर्शनी का अवलोकन यहां आकर कर सकते हैं।

 

 

19-12-2020
ग्रामीणों ने देखी फोटो प्रदर्शनी,शासकीय योजनाओं की ली जानकारी

जांजगीर-चांपा। वर्तमान सरकार के 2 वर्ष का कार्यकाल पूर्ण होने के अवसर पर विकासखंड स्तरीय विकास फोटो प्रदर्शनी का आयोजन किया जा रहा है। इसी कड़ी में शनिवार को अकलतरा जनपद पंचायत  कार्यालय  परिसर में विकास प्रदर्शनी का आयोजन किया गया। प्रदर्शनी में राज्य सरकार की उपलब्धियों और जन कल्याणकारी योजनाओं के क्रियान्वयन को आकर्षक चित्र और संक्षिप्त जानकारी के साथ प्रदर्शित किया गया।  प्रदर्शनी में मुख्यमंत्री हाट बाजार क्लीनिक योजना, मुख्यमंत्री सुपोषण अभियान, सुराजी गांव योजना,  रामवन गमन वन परिपथ पर्यटन विकास योजना, मनरेगा, स्वालंबन योजना आदि को आकर्षक और संक्षिप्त जानकारियों के साथ प्रस्तुत किया गया है। प्रदर्शनी देखने पहुंचे दशरथ, अभिशेख, चिन्मय, नीतू, प्रहलाद सहित बड़ी संख्या में लोगो ने शासकीय योजनाओं की सराहना करते हुए योजनाओं को जनकल्याणकारी बताया।

युवाओं ने भी बहुत उत्साह के साथ प्रदर्शनी का अवलोकन किया और प्रदर्शनी को बैकग्राउण्ड में लेते हुए सेल्फी भी ली। जनसंपर्क विभाग द्वारा प्रकाशित विचार माला पुस्तिका  में पहल, लोकवाणी- आपकी बात मुख्यमंत्री के साथ, राज्य सरकार की जनकल्याणकारी योजना की जानवाली पुस्तिका संबल, न्याय-विरासत और विस्तार, हमारे बापू, जय हिन्द जय छत्तीसगढ़, जनसंपर्क विभाग द्वारा प्रकाशित मासिक पत्रिका जनमन एवं योजनाओं से संबंधित प्रचार सामग्री का निःशुल्क वितरण भी किया गया।

17-12-2020
विकास के 2 साल : छाया चित्र प्रदर्शनी का कलेक्टर ने किया शुभारंभ

महासमुमद। स्थानीय टाऊन हाल में प्रदेश सरकार के दो साल पूरे होने पर विकास छाया चित्र प्रदर्शनी का शुभारंभ कलेक्टर कार्तिकेय गोयल ने किया। केलेक्टर कार्तिकेय गोयल ने कहा कि छत्तीसगढ़ शासन के मंशा अनुरूप शासन द्वारा किये जा रहे विकास कार्य को जनता पहुँचने के लिए यह विकास छाया चित्र प्रदर्शनी लगाई गई है। शहर के अलावा जिले के पांचों ब्लॉक के गांवों में भी इस तरह की प्रदर्शनी लगाई जाएगी। महासमुन्द जन सम्पर्क कार्यालय द्वारा आयोजित प्रदर्शनीय में अपर कलेक्टर जोगेन्दर नायक, एसडीएम सुनील चंद्रवंशी सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

 

17-12-2020
कलेक्टर परिसर में दो दिवसीय प्रदर्शनी का जिला पंचायत उपाध्यक्ष ने किया शुभारंभ

कोंडागाँव। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के नेतृत्व वाली सरकार के दो वर्ष पूर्ण होने पर जिला पंचायत उपाध्यक्ष  भगवती पटेल द्वारा कलेक्टर परिसर में राज्य के विकास पर आधारित दो दिवसीय फोटो प्रदर्शनी का शुभारंभ किया। इस अवसर पर कलेक्टर पुष्पेन्द्र कुमार मीणा,जिला पंचायत सीईओ डीएन कश्यप सहित अन्य विभागीय अधिकारी उपस्थित थे। इस दौरान जन सम्पर्क विभाग द्वारा प्रकाशित उन्नति का हर्ष विरासत और विस्तार, सम्बल, छत्तीसगढ़ विचार माला जैसी पुस्तकों का सेट भेंट कर के उनका स्वागत किया गया। आगन्तुकों ने फोटो प्रदर्शनी का अवलोकन किया।ज्ञात हो कि दो दिवसीय विकास प्रदर्शनी का आयोजन जिला जनसम्पर्क विभाग द्वारा किया गया है। प्रदर्शनी देखने आये लोगो का अभिमत था कि विकास, निर्माण और योजनाओं पर आधारित फोटो प्रदर्शनी शासन की एक अच्छी पहल है। इससे आम लोगों को योजनाओं के बारे में जानकारी होगी और वे इससे लाभांवित होगे। विभिन्न योजनाओं पर आधारित पुस्तकें प्रतियोगी परीक्षाओं के तैयारी करने वालों के लिए सार्थक साबित होगी।

 

 

17-12-2020
सिविक सेंटर में लगी प्रदर्शनी में दिखी विकास कार्यों की झलक, विधायक देवेंद्र यादव ने किया शुभारंभ

दुर्ग। राज्य सरकार की उपलब्धियों को दिखाने वाली  तीन दिवसीय प्रदर्शनी  का शुभारंभ आज  भिलाई विधायक एवं महापौर  देवेंद्र यादव ने किया। इस प्रदर्शनी में  राज्य शासन द्वारा  2 वर्षों में किए गए महत्वपूर्ण नवाचार एवं आरंभ की गई। विभागीय योजनाओं की जानकारी दी गई है।  शुभारंभ के मौके पर विधायक  देवेंद्र यादव ने कहा कि  इस प्रदर्शनी में राज्य शासन की विभिन्न योजनाओं का समावेश किया गया है। शिक्षा स्वास्थ्य से लेकर ग्रामीण विकास तक की  इन योजनाओं के माध्यम से  2 वर्ष में  छत्तीसगढ़ में हुए बदलाव को दिखाया गया है। प्रदर्शनी में राज्य शासन द्वारा आरंभ की गई  नरवा, गरुवा, घुरूवा, बाड़ी योजना, राजीव गांधी न्याय योजना को रेखांकित किया गया है। प्रदर्शनी में यह बताया गया है कि किस प्रकार से इन योजनाओं से बड़ी संख्या में हितग्राहियों को लाभ हुआ। किस तरह से इन योजनाओं के माध्यम से नवाचार को बढ़ावा मिला और किस तरह से इन योजनाओं के माध्यम से प्रदेश में ठोस आर्थिक विकास की शुरुआत हुई।  प्रदर्शनी में विशेष रूप से ग्रामीण विकास पर फोकस किया गया है। विधायक यादव ने बताया कि  प्रदर्शनी  आम जनता के लिए काफी उपयोगी होगी। यद्यपि शासन द्वारा बहुत सारे कार्य 2 वर्षों में आरंभ किए गए हैं और  प्रदर्शनी के छोटे से  स्पेस के माध्यम से इतनी सारी योजनाओं को कवर करना काफी कठिन है फिर भी प्रदर्शनी में काफी संतोषजनक प्रयास किया गया है।  प्रदर्शनी में  विभागीय योजनाओं के साथ ही इनसे जुड़े हुए प्रकाशन किताबें  तथा पंपलेट भी वितरित किए जा रहे हैं। साथ ही राज्य सरकार के विकास कार्यों पर आधारित डॉक्यूमेंट्री फ़िल्म भी दिखाई जा रही हैं।

 

 

16-12-2020
शहीद स्थल पर प्रदर्शनी लगाए जाने का भाजपा ने किया विरोध, धरने पर बैठे

जगदलपुर। भाजपा के नगर अध्यक्ष सुरेश गुप्ता ने कहा जिला प्रशासन ने शहीद स्मारक व बाबू की प्रतिमा को टेंट से ढंक दिए। गड़बो नवा छत्तीसगढ़ के कार्यक्रम की प्रदर्शनी शहीद स्थल पर  लगाई है। यह शहीदों एवं सेना का अपमान है। भाजपा नगर, मंडल ने आंदोलन कर टेंट को हटाने मौके पर धरने दिया है। नगर निगम के नेता प्रतिपक्ष संजय पांडे ने कहा कि भूपेश सरकार ने आज शहीदों का अपमान कर यह साबित कर दिया है कि महापुरुष केवल वोट लेने के लिए है। उन्होंने कहा कि नगर की सरकार ने अनुमति कैसे दी,ऐसे अधिकारियों पर कार्यवाही होनी चाहिए। इस अवसर पर संतोष त्रिपाठी,दीप्ति पांडेय,खेमसिंह देवांगन,निर्मल पाणिग्रही, दिगम्बर राव,आलोक अवस्थी,राजपाल कसेर,राकेश तिवारी, संग्राम सिंह राणा,अभय दीक्षित,अविनाश श्रीवास्तव,गीता नाग,त्रिवेणी रंधारी राम कुमारी यादव,कृष्णा राय,पंकज आचार्य, लक्ष्मण झा,शशिनाथ पाठक,आनंद झा,अमर झा,प्रीतेश राव,परेश ताटी,विनय राजू,प्रकाश रावल,अभिषेख तिवारी,आशु आचार्य,विकास चाँडक, देवेश चाडक,भुवनेश ध्रुव, मनोज पटेल,मनोज ठाकुर,सुरेश कश्यप,गोविंद साहू,धीरज मेहरा,कृष्णा नारायण,कमल पटवा सहित भाजपा कार्यकर्ता उपस्थित थे।

 

24-10-2020
नक्सली हिंसा में शहीद जवानों की चित्र प्रदर्शनी में लगी, दी गई श्रद्धांजलि

रायपुर/बीजापुर। पुलिस मुख्यालय के निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार पुलिस विभाग ने 21 से 31 अक्टूबर तक शहीदों की स्मृति में विभिन्न कार्यक्रम आयोजित किया जा रहा है। इस क्रम में 21 अक्टूबर को रक्षित केन्द्र बीजापुर में शहीद परेड का आयोजन, शहीदों की नामावाली का वाचन एवं शहीदों को श्रद्धांजली दी गई। रक्षित केन्द्र स्थित ग्रेट-हॉल में जिला बीजापुर में नक्सली हिंसा में शहीद जवानों की चित्र एवं उनके शौर्य गाथा का उल्लेख कर प्रदर्शनी लगाई गई है। इसका उद्घाटन अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक बीजापुर, मिर्जा जियारत बेग द्वारा किया गया। चित्र प्रदर्शनी में बीजापुर के उप पुलिस अधीक्षक ऑप्स आशिष कुंजाम सहित जिले के अन्य अधिकारी/कर्मचारी, गणमान्य नागरिक एवं बच्चें शामिल हुए। शहीदों के फोटो में पुष्प अर्पित कर शहीदों की श्रद्धांजली दी गई।

15-01-2020
कृषि विश्वविद्यालय ने बनाया मुनगा का केक, ये है फायदे...

रायपुर। प्रकृति की ओर सोसाइटी के द्वारा आयोजित फल-फूल सब्जी प्रदर्शनी में मुनगा से बने केक का प्रदर्शन किया गया। मुनगा के महत्व को बताते हुए प्रदर्शित केक को सभी ने सराहा। प्रकृति की ओर सोसायटी के सचिव मोहन वर्ल्यानी ने कहा कि जैसा कि हम जानते हैं मुनगा छत्तीसगढ़ की परंपरागत सब्जी है और प्राचीन काल से यहां के लोग उपभोग कर रहे हैं। पर बदलते परिवेश कारण मुनगा की उपयोगिता और महत्व और बढ़ गया है। मुनगा की पत्ती उसके फल, तना, जड़ से अधिक गुणकारी होती है और यह तीन सौ से अधिक बीमारियों के निदान में सहायक है। जैसे मधुमेह,कैंसर ,हड्डी रोग पाचन विकार, किडनी की समस्या खून की कमी, इसलिए मुनगा के विभिन्न उत्पादन मुनगा बर्फी, मुनगा पाउडर, मुनगा सेव,मुनगा शुगर फ्री स्वीट्स, मुनगा चॉकलेट कुकीज आदि विकसित किए गए हैं। इसका इंदिरा गांधी कृषि विश्वविद्यालय रायपुर के सहयोग से प्रदर्शन किया गया। प्रदर्शनी देखने आए लोगों ने बहुत सराहा। मुनगा पत्ती में पाए जाने वाले पोषक तत्व प्रोटीन  6.7 ग्राम, विटामिन ए 11300 आईयू, कैल्शियम 440 मिलीग्राम, आयरन 7 मिलीग्राम, विटामिन सी 220 मिलीग्राम है। इस अवसर पर मुनगा के पत्ती पाउडर से निर्मित केक का भी प्रदर्शन किया गया। लोगों ने बहुत सराहा। इसमें 40 परसेंट मुनगा पाउडर का उपयोग किया जाता है। इसके अलावा गेहूं का आटा, बेकिंग पाउडर ,नमक  शर्करा विनेगर मीतक और तेल का उपयोग किया जाता है। यह किसी पार्टी, जन्मदिन या अन्य अवसर पर भी बनाया जा सकता है। वर्ल्यानी ने बताया कि  प्रकृति की ओर सोसाइटी के अध्यक्ष दलजीत बग्गा का जन्मदिन मुनगा से बने केक को काटकर मनाया गया। इस दौरान कार्यक्रम प्रभाकर सिंग संचालक उद्यानिकी विभाग छत्तीसगढ़ शासन, प्रदीप टंडन अध्यक्ष जिंदल स्टील एंड पावर लिमिटेड, अरुण पांडे उप संचालक उद्यानिकी विभाग, एससी मुखर्जी निर्देशक विस्तार सेवाएं इंदिरा गांधी कृषि विश्वविद्यालय, संस्था के पूर्व अध्यक्ष  डॉ.एआर दल्ला,अध्यक्ष दलजीत बग्गा और सचिवमोहन वर्ल्यानी उपस्थित थे।

12-01-2020
 प्रकृति के करीब रहने से मिलता है सुकून और आशीर्वाद : राज्यपाल 

रायपुर। जो प्रकृति के साथ रहता है, उसे सुकून तो मिलता है और उसका आशीर्वाद भी मिलता है। साथ ही प्रकृति उसे बहुत कुछ भी देती है। यह बातें राज्यपाल अनुसुईया उइके ने कही। वे प्रकृति की ओर संस्था की ओर से गांधी उद्यान में आयोजित ‘फल-फूल सब्जी प्रदर्शनी’ समारोह को संबोधित कर रही थी। उन्होंने कहा कि मेरी स्वयं भी उद्यानिकी और कृषि में रूचि है। मैंने भी एक छोटा सा उद्यान विकसित किया है। जीवन में उतार-चढ़ाव आते रहते हैं, मैं जब खाली समय में इस उद्यान में समय व्यतीत करती थी, वहां मुझे जो सुकून मिलता था, उसे मैं बयां नहीं कर सकती।

 उन्होंने कहा कि मैं यह प्रयास करूंगी कि शासन फूलों की खेती को बढ़ावा देने और उसे बाजार उपलब्ध कराने के लिए पहल करे। राज्यपाल ने कहा कि फूल, पौधे, वृक्ष और प्रकृति हमारे जीवन को खुशनुमा और आनंददायक बनाते हैं। हमारे जीवन में इनका अहम योगदान और महत्वपूर्ण स्थान है। प्रकृति अपने आप में अत्यंत सुंदर और संतुलित है। प्राचीन काल से ही फूलों का महत्व रहा है। फूलों का उत्पादन और खेती ने आज एक तेजी से बढ़ रहे उद्योग का रूप ले लिया है। फूल केवल क्यारियों और बगीचों की शोभा बनने तक सीमित नहीं हैं बल्कि आज लाखों और करोड़ों लोगों की रोजी-रोटी का जरिया बन चुका है। यह व्यवसाय आज केवल राष्ट्रीय स्तर पर ही नहीं, बल्कि अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर भी अपना स्थान बना चुका है। हमारे राज्यों में भी अलग-अलग जलवायु के क्षेत्र हैं और यहां भी फूलों की खेती की भरपूर संभावनाएं हैं। ऐसी ही भरपूर संभावनाएं फल उद्यान और सब्जियों की खेती के लिए भी है। मुझे विश्वास है कि राज्य में फल, पुष्प और सब्जी का उत्पादन एक बहुत बड़े व्यवसाय के रूप में हमारे सामने आयेगा।

कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए विधानसभा अध्यक्ष चणदास महंत ने कहा कि ऐसे प्रदर्शनी का आयोजन निश्चित ही सराहनीय है,मगर प्रदेश में फूलों की इतनी मांग होने के बावजूद स्थानीय स्तर पर पूर्ति नहीं कर पाते। फूलों की खेती भी नहीं कर पा रहे हैं। हमें प्रयास करना चाहिए कि फूलों की खेती को प्रोत्साहित करें।  वरिष्ठ विधायक और पूर्व मंत्री बृजमोहन अग्रवाल ने कहा कि ऐसे कार्यक्रम लोगों को जागरूक कर रहे हैं। इसके परिणाम स्वरूप कई परिवार अपने घर के छतों में उद्यानिकी कर रहे हैं और धनिया-मिर्च जैसे पौधे उगा रहे हैं। यहां गुलाब की फूल की खेती हो रही है, उसका निर्यात भी किया जा रहा है। वास्तव में फूल ही लोगों के जीवन में खुशियां लाते हैं। इस कार्यक्रम में शहर के विभिन्न उद्यानों और उन्हें देखरेख करने वाली विभिन्न संस्थाओं को सम्मानित भी किया गया। राज्यपाल ने प्रदर्शनी का अवलोकन भी किया। स्वागत भाषण प्रकृति की ओर सोसायटी के अध्यक्ष दलजीत बग्गा ने दिया। कार्यक्रम का संचालन सोसायटी के पूर्व अध्यक्ष डॉ. एआर दल्ला ने किया।आभार व्यक्त सोसाइटी के सचिव मोहन वर्ल्यानी ने किया। कार्यक्रम में जिंदल पॉवर एंड स्टील लिमिटेड के अध्यक्ष प्रदीप टंडन, उद्यानिकी विभाग के संचालक प्रभाकर सिंह भी उपस्थित थे।

27-12-2019
उमेश पटेल ने किया विभागीय स्टालों का अवलोकन

रायपुर। राष्ट्रीय आदिवासी नृत्य महोत्सव के अवसर पर उच्च शिक्षा, खेल एवं युवा कल्याण मंत्री उमेश पटेल ने विभागीय स्टालों का अवलोकन किया। जनसंपर्क विभाग के स्टाल में मंत्री पटेल ने डॉ. आरती सिंह के किताब ‘’बिरहोर महिलाएं और बदलता परिवेश’’ का विमोचन भी किया। मंत्री पटेल ने जनसंपर्क विभाग की प्रदर्शनी की सराहना की। इस अवसर पर उच्च शिक्षा सचिव अलरमगाई डी सहित अन्य गणमान्य अतिथि मौजूद रहे। 

Advertise, Call Now - +91 76111 07804