GLIBS
14-02-2020
केजरीवाल ने पीएम मोदी को भेजा शपथ ग्रहण समारोह के लिए न्योता

नई दिल्ली। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल 16 फरवरी को सुबह 10 बजे तीसरी बार दिल्ली के सीएम पद की शपथ लेंगे। दिल्ली के रामलीला मैदान पर इस भव्य समारोह की तैयारियां जोर शोर से चल रही है। खबर की मान तो मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को इस समारोह में शामिल होने के लिए आमंत्रित किया है। हालांकि पीएमओ की ओर से इस आमंत्रण को स्वीकारे जाने की पुष्टि नहीं की गई है। बता दें कि दिल्ली चुनाव में प्रचंड बहुमत के जीत दर्ज करने वाले अरविंद केजरीवाल की आम आदमी पार्टी ने 70 में से 62 सीटों पर जीत दर्ज की थी। शपथ ग्रहण समारोह में जहां किसी भी अन्य पार्टी या विपक्षी दल को आमंत्रित नहीं किया गया है।

12-02-2020
डॉ. रमन सिंह के बयान से स्पष्ट है कि भाजपा ने भूपेश बघेल के सामने आत्मसमर्पण कर दिया : विकास तिवारी

रायपुर। छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस कमेटी के सचिव व प्रवक्ता विकास तिवारी ने भाजपा के पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह के दिल्ली चुनाव परिणाम पर दिए उस बयान पर तंज कसा है। विकास तिवारी ने कहा कि डॉ. रमन सिंह ने दिल्ली कांग्रेस को आप पार्टी के सामने आत्मसमर्पण कर देने की बात कही है। क्या पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह महीने भर पहले छत्तीसगढ़ राज्य में हुए नगरीय निकाय चुनाव के रिजल्ट को भूल गए हैं? जो उन्हीं के नेतृत्व में और उनके ही पोस्टरबॉय की छवि के बल पर लड़े गए। निकाय चुनाव में भाजपा शून्य और कांग्रेस 10 नगर निगम में महापौर बनाने में सफल रही थी। प्रवक्ता विकास तिवारी ने कहा कि डॉ. रमन सिंह के बयान से स्पष्ट हो जाता है कि  मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के सामने पूरी भारतीय जनता पार्टी ने भी आत्मसमर्पण कर दिया था।

अपने शासन के 15 साल अनवरत प्रदेश को गर्त में पहुंचाने वाले मुखिया के मुंह से सही बात अनायास ही सही निकल ही गई। सालभर भर के कार्यकाल में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने पूरे प्रदेश के लोगों का दिल जीता, विश्वास बनाया और निकाय चुनाव में शून्य से भारतीय जनता पार्टी को आउट कर दिया। पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह को बताना चाहिए कि क्या निकाय चुनाव में भाजपा की प्रदेश इकाई ने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के आगे आत्मसमर्पण कर दिया था और भाजपा के शून्य परिणाम के जवाबदेही अभी तक किसी ने क्यों नहीं ली है?

12-02-2020
दिल्ली चुनाव के बाद जनता को बड़ा झटका, गैस सिलेंडर हुआ महंगा

नई दिल्ली। दिल्ली चुनाव के बाद बुधवार को जनता को बड़ा झटका लगा है। गैर सब्सिडी वाले घरेलू गैस सिलेंडरों के दाम में वृद्धि हुई है। इंडियन ऑयल की वेबसाइट के अनुसार, दिल्ली में 14.2 किलो वाला सिलेंडर 144.50 रुपए महंगा हो गया है। इसका दाम अब बढ़कर 858.50 रुपए हो गया। वहीं कोलकाता में यह 149 रुपए बढ़कर 896.00 रुपए हो गया। मुंबई में इसका दाम 145 रुपए बढ़कर 829.50 रुपए हो गया। वहीं चेन्नई में यह 147 रुपए बढ़कर 881 रुपए का हो गया है। 

बता दें कि इस साल एक जनवरी के बाद गैस सिलेंडर के दाम नहीं बढ़े थे। नए साल में एक जनवरी 2020 को लगातार चौथे महीने रसोई गैस सिलेंडर की कीमत में बढ़ोतरी हुई थी। तब देश के प्रमुख महानगरों में बिना-सब्सिडी वाला गैस सिलेंडर करीब 19.00 रुपए महंगा हुआ था। इससे पहले ग्राहक दिल्ली में 14.2 किलो के बिना सब्सिडी वाले सिलेंडर के लिए 714.00 रुपए चुका रहे थे। कोलकाता में इसका दाम 747 रुपए था। वहीं मुंबई और चेन्नई में 14.2 किलो के बिना सब्सिडी वाले सिलिंडर का दाम क्रमश: 684.50 और 734.00 रुपए था। गैस सिलेंडर की कीमत हर महीने बदलती है। इसकी कीमत औसत अंतरराष्ट्रीय बेंचमार्क और विदेशी विनिमय दरों में बदलाव जैसे कारक निर्धारित करते हैं।

12-02-2020
आप विधायक नरेश यादव के काफिले पर फायरिंग, कार्यकर्ता की मौत

नई दिल्ली। दिल्ली चुनाव के नतीजे आने के बाद मंदिर से वापस लौट रहे आम आदमी पार्टी के महरौली विधायक नरेश यादव के काफिले पर फायरिंग की गई। इस हमले में पार्टी के एक कार्यकर्ता अशोक मान की मौत हो गई। विधायक नरेश यादव ने इस घटना को दुर्भाग्यपूर्ण कहा है। पार्टी के प्रवक्ता संजय सिंह ने भी इस घटना के बाद दिल्ली पुलिस की सुरक्षा व्यवस्था पर सवाल उठाया है। इस मामले में साउथ वेस्ट दिल्ली के एडिशनल डीसीपी इंगित प्रताप सिंह ने कहा है कि जांच से पता चला है कि हमलावर एक ही था। आम आदमी पार्टी के विधायक नरेश यादव को नहीं बल्कि हमलावर ने आप कार्यकर्ता को निशाना बनाया था। गोली लगने से उसकी मौत हो गई,फिलहाल मामले की जांच की जा रही है।

08-02-2020
मनोज तिवारी के हनुमान जी को अशुद्ध करने वाले बयान पर संजय सिंह ने किया पलटवार

नई दिल्ली। दिल्ली चुनाव में राजनीति के साथ-साथ धर्म का मुद्दा भी काफी गरमा गया है। बीजेपी अध्यक्ष मनोज तिवारी ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के हनुमान मंदिर जाने को लेकर सवाल उठाए। इससे भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) और आम आदमी पार्टी (आप) की ओर से बयानबाजी का दौरा शुरू हो गया है। मंदिर जाने को लेकर दिल्ली प्रदेश बीजेपी के अध्यक्ष मनोज तिवारी ने केजरीवाल पर सवाल उठाए तो वहीं अरविंद केजरीवाल और आप के नेता संजय सिंह ने इस मामले पर पलटवार किया।

मनोज तिवारी का सवाल,

कनॉट प्लेस के प्राचीन हनुमान मंदिर जाने को लेकर मनोज तिवारी ने पूछा, ''वह पूजा करने गए थे या हनुमान जी को अशुद्ध करने गए थे? एक हाथ से जूता उतारके, उसी हाथ से माला लेकर क्या कर दिया? जब नकली भक्त आते हैं न तो यही होता है। मैंने पंडित जी को बताया, बहुत बार हनुमान जी को धोए हैं।''

अरविंद केजरीवाल ने कहा,

मनोज तिवारी के इस बयान के बाद अरविंद केजरीवाल ने कहा, ''जब से मैंने एक TV चैनल पे हनुमान चालीसा पढ़ी है। बीजेपी वाले लगातार मेरा मज़ाक़ उड़ा रहे हैं। कल मैं हनुमान मंदिर गया। आज बीजेपी नेता कह रहे हैं कि मेरे जाने से मंदिर अशुद्ध हो गया। ये कैसी राजनीति है? भगवान तो सभी के हैं। भगवान सभी को आशीर्वाद दें, बीजेपी वालों को भी।'' इससे पहले दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल कनॉट प्लेस के प्राचीन हनुमान मंदिर गए थे। इस बात की जानकारी उन्होंने खुद ट्वीट करके भी दी थी।

संजय सिंह का बयान

वहीं आप के नेता संजय सिंह ने कहा, ''अरविंद केजरीवाल को अछूत मानती है मनोज तिवारी कह रहे हैं। केजरीवाल ने हनुमान जी की पूजा करके भगवान बजरंग बली को अशुद्ध कर दिया उनको धोना पड़ा। केजरीवाल से इतनी नफ़रत और घृणा क्यों? दिल्ली की जनता से अपील है आपके बेटे केजरीवाल को अछूत मानने वाली बीजेपी को जवाब दें।''


 

 

07-02-2020
मनीष सिसोदिया के ओएसडी को रिश्वत लेते सीबीआई ने किया गिरफ्तार

नई दिल्ली। दिल्ली चुनाव के दौरान सीबीआई ने दो लाख रुपए के कथित रिश्वत मामले में उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया के एक अधिकारी को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार किया गया अधिकारी उपमुख्यमंत्री का विशेष कर्तव्य अधिकारी (ओएसडी) बताया जा रहा है। मामले में सीबीआई ने बताया कि गिरफ्तार अधिकारी का नाम गोपाल कृष्ण माधव है, जिसे जीएसटी संबंधित मामले में कथित रूप से दो लाख रुपए रिश्वत लेते देर रात को गिरफ्तार किया गया। इस मामले में उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने ट्वीट कर कहा कि मुझे पता चला है कि सीबीआई ने एक जीएसटी इन्स्पेक्टर को रिश्वत लेते हुए गिरफ्तार किया है। यह अधिकारी मेरे ऑफिस में बतौर ओएसडी भी तैनात था। सीबीआई को उसे तुरंत सख्त से सख्त सजा दिलानी चाहिए। ऐसे कई भ्रष्टाचारी अधिकारी मैंने खुद पिछले 5 साल में पकड़वाए हैं।

31-01-2020
नरेंद्र मोदी का बयान, कहा-सीएए पर हमने कुछ गलत नहीं किया,रक्षात्मक होने की जरूरत नहीं

नई दिल्ली। संसद में हुई एनडीए की बैठक में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नागरिकता कानून को लेकर बड़ा बयान दिया है। उन्होंने कहा कि नागरिकता कानून पर हमने कुछ गलत नहीं किया, हमें फ्रंट फुट पर रहना चाहिए। रक्षात्मक होने की कोई जरूरत नहीं है। इसके साथ ही पीएम मोदी ने कहा कि मुस्लिम भी इस देश के उतने ही नागरिक हैं, जितने बाक़ी लोग हैं। उनका भी उतना ही हक और कर्तव्य है जितना बाकी नागरिकों का है। एनडीए बैठक में सर्वसम्मति से एक प्रस्ताव पारित किया गया। प्रस्ताव में पीएम मोदी के नेतृत्व में फिर से विश्वास जताते हुए कहा गया कि एनडीए चट्टान की तरह उनके पीछे खड़ा है। प्रस्ताव में कहा गया कि नागरिकता कानून के ज़रिए महात्मा गांधी के सपने को साकार किया गया। इस प्रस्ताव को केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान ने पेश किया था। प्रस्ताव में बोडो समझौता, धारा 370, नागरिकता कानून और करतारपुर का ज़िक्र किया गया।

बता दें कि नागरिकता कानून को लेकर बीते दिनों में भाजपा ने जनसंपर्क अभियान चलाया। देशभर में बीजेपी के नेताओं ने जनता से संपर्क स्थापित किया और ये समझाने की कोशिश की कि सीएए नागरिकता देने का कानून है, इसमें किसी की भी नागरिकता लेने का प्रावधान नहीं है। खुद अमित शाह गृहमंत्री ने कई रैलियों को संबोधित किया। उन्होंने विपक्ष को इस कानून पर बहस करने की चुनौती दी। दिल्ली चुनाव में भी इस मुद्दे को भुनाने की कोशिश हो रही है।
वहीं विपक्ष इस कानून को संविधान के खिलाफ बताकर सरकार को घेर रही है। देश के कई हिस्सों में इसको लेकर अभी भी विरोध प्रदर्शन जारी है। खासकर दिल्ली का शाहीन बाग सुर्खियों में है जहां एक महीने ज्यादा समय से नागरिकता कानून के खिलाफ विरोध प्रदर्शन जारी है। जैसे जैसे समय बीत रहा है दिल्ली के शाहीन बाग का प्रदर्शन भी चुनाव का मुद्दा बनता जा रहा है। 

14-01-2020
दिल्ली विधानसभा में अकेले मैदान में उतरी लोजपा, जारी की प्रत्याशियों की पहली लिस्ट

नई दिल्ली। लोक जनशक्ति पार्टी ने दिल्ली विधानसभा चुनाव के लिए उम्मीदवारों की पहली लिस्ट जारी कर दी है। पहली लिस्ट में 15 सीटों पर उम्मीदवारों के नामों का ऐलान किया है। दिल्ली की 70 विधानसभा सीटों पर 8 फरवरी को मतदान होना है। लोजपा एनडीए की सहयोगी है, बिहार में पार्टी जदयू और भाजपा के साथ सरकार में है तो केंद्र में लोजपा के रामविलास पासवान केंद्रीय मंत्री हैं। दिल्ली चुनाव में लोजपा ने भाजपा से अलग होकर लड़ने का फैसला किया है।
लोक जनशक्ति पार्टी ने जिन 15 सीटों पर कैंडिडेट के नाम का ऐलान किया है, उनमें सदर बाजार विधानसभा सीट से राजीव कुमार शर्मा, मुस्तफाबाद से अनील कुमार गुप्ता, मोतीनगर से महेश दूबे, नरेला(सुरक्षित) से अमरेश कुमार, देवली से सुनील तंवर, मादीपुर से पूनम राणा को टिकट दिया गया है। लोजपा ने अजीत कुमार को किराणी, कमलदेव राय को त्रिनगर, शिवेंद्र मिश्रा को शालीमार बाग, शंकर मिश्रा को वजीरपुर, सुमित्रा पासवान को मटियाला महल, अरविंद कुमार झा को संगम विहार, राम कुमार लांबा को नजफगढ़, रतन कुमार शर्मा को उत्तमनगर और नमह को लक्ष्मीनगर विधानसभा सीट से उम्मीदवार बनाया गया है। दिल्ली विधानसभा चुनाव के लिए नामांकन पत्र दाखिल करने की प्रक्रिया मंगलवार (14 जनवरी) से शुरू हो गई है। हालांकि अभी आप, कांग्रेस, भाजपा जैसे बड़े दलों ने उम्मीदवारों के नामों का ऐलान नहींं किया है। दिल्ली में सभी 70 सीटों पर एक चरण में आठ फरवरी को मतदान होगा। नतीजे 11 फरवरी को आएंगे। नामांकन दाखिल करने की आखिरी तारीख 21 जनवरी है।

 

 

Advertise, Call Now - +91 76111 07804